भीषण सड़क हादसा दुनावा छिंदवाड़ा हाईवे पर दो की मौत


कार और बाइक की भिड़ंत में उड़े परखच्चे

मुलतापी समाचार

आशीष पवार, दुनावा

छिंदवाड़ा नेशनल हाइवे पर दुनावा के पास हुआ हादसा , जिसमे बाइक दुनावा की ओर से मुलताई जा रहा था और कार सवार मुलताई की ओर से आने वाली कार ने दुनावा के पास भिड़ंत हो गई।

दुनावा रिन घाट पर कार से भीषण हादसा जिसमे बाइक चालाक बंटी देशमुख एंव सुदामा कौशिक की मौत दोनों दुनावा निवासी है और वे अपनी मोटर साइकल से मुलताई जा रहे थे एंव मुलताई से तेज रफ़्तार से आ रही कार पहले रोड के साईड से लगी रेलिंग से टकराई और फिर मोटर साईकिल को चपेट में ले लिए जिससे दोनों दुनावा निवासी को काफी गंभीर चोटे आई एंव उनकी दुखद म्रत्यु हो गई कार चालाक भी घायल है।

बंटी देशमुख ओर साथी सुदामा कौशिक की सड़क दुर्घटना में मौत

ओझो से परेशान नपा कचरा वाहन चालको ने सौपा कलेक्टर एसपी को ज्ञापन


बैतूल:- नगर पालिका परिषद बैतूल कचरा संग्रहण वाहन चालक मीत भाटिया जी ने बताया शहर का कचरा संग्रहण कर जब गाड़िया ट्रेचिंग ग्राउंड मे जाती है, वहा ओझा समाज के कुछ लोग पुरूष/महिलाए जबरदस्ती गाड़ीयो पर चढ़कर कचरा बिनने लगते है समय का विलम्ब न हो इसलिए चालक द्वारा मना करने पर अभद्र भाषा का प्रयोग करते है। एव ओझा समाज की महिलाए कपड़े फाड़कर थाने मे अभद्रता करने की धमकी देती है। जिससे नपा वाहन चालको मे भय का माहौल बना हुआ है

जिसको लेकर आज वाहन चालको द्वारा कार्यालय कलेक्टर, एसपी,नपा सीएमओ,एव कोतवाली में ज्ञापन दिया एव कोई बखेड़ा खड़ा होने से पहले इस सब पर रोक लगाने की मांग की।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

प्रेमी के चक्कर में मां ने एक वर्ष की मासूम बच्ची की हत्या


हत्या कर तालाब में फेंकने वाली महिला (मॉ) एवं प्रेमी को तलैया पुलिस ने किया गिरफ्तार

9 माह के मासूम बच्ची का शव बड़े तालाब में तैरता हुआ मिला

एक कदम सतर्कता एवं स्वच्छता की ओर

मुलतापी समाचार एवं वेब चैनल

भोपाल : थाना तलैया क्षेत्र में दिनांक 18-09-2020 दिन शुक्रवार को 09 माह की मासूम बच्ची का शव बडे तालाब में तैरते हुये दिखा। वहॉ डियूटी कर रहे नगर निगम के गौताखार को बच्ची का शव बडे तालाब के पानी में शीतला माता मंदिर के पास तैरता हुआ दिखाई दिया, गोताखोर ने तत्काल इसकी सूचना थाना तलैया पुलिस को दी, उक्त सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर थाना तलैया प्रभारी डी0 पी0 सिंह स्वयं हमराह बल के साथ मौके पर पुहंचे एवं मर्ग कायम कर मामलें की जॉच शुरू की, जॉच के दौरान मृतिका बच्ची का फोटोग्राफ व सूचना तैयार कर शहर के सभी थानों में एवं सोशल मीडिया, प्रिन्ट मीडिया, इलेक्ट्रानिक मीडिया को इस सनसनी खेज घटना से अवगत कराकर प्रचार प्रसार कराया गया, जिस पर से अज्ञात मृतिका बच्ची के संबंध में थाना प्रभारी के दूरभाष पर उनि वीरेन्द्र सेन रायसेन ने बताया कि औबदुल्लागंज क्षेत्र दो दिन पहले एक महिला व बच्ची गुमी हुई है आप तस्दीक करा ले, जिसके बाद थाना प्रभारी तलैया भोपाल द्वारा त्वरित बिना देर किये औबदुल्लागंज थाने से संपर्क किया, जहॉ पर थाना के मोहर्रिर द्वारा बताया गया कि एक महिला व बच्ची 16-09-2020 को गुमी हुई है जिसकी रिपोर्ट गुमशुदा महिला व बच्ची के पति जीतेन्द्र चौरसिया निवासी रेल्वेकालोनी औबदुल्लागंज द्वारा दर्ज कराई थी उसके बाद थाना प्रभारी द्वारा गुमशुदा के ससुराल व मायके पक्ष के दोनो तरफ के लोगो को दिखाये, जिनके द्वारा मृतिका बच्ची को अपनी नातिनी के रूप में पहचाना, जिसका नाम शान्वी उम्र-09 माह के रूप में बताया तथा लडकी के पिता रघुनन्दन ने बताया कि दिनांक 17-09-20 को 01-00 बजे दिन में मोहल्ले का शिवम कुशवाह नाम का लडका मेरी बेटी सोनम व नातिनी को अपने साथ भगा कर ले गया है। दिनांक 20-09-2020 को मृतिका बच्ची का पोस्टमार्टम कराया गया जिसमें मृतिका की मौत मुंदी चोट व तालाब के पानी में डूबने से होना पाई गई है जिस पर थाना तलैया में अप.क्र. 801/20 धारा 302,34 भादवि का प्रकरण आरोपी मॉ सोनम चौरसिया व उसके प्रेमी शिवम कुशवाह के विरूद्ध पंजीबद्ध किया गया। मामला सनसनीखेज होने से वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में तत्काल पुलिस टीम तैयार कर आरोपियों की तलाश हेतु संभावित स्थानों पर रवाना किया गया। दि 21-09-2020 टीम को मुखबिर द्वारा सूचना ‍मिली की हत्या के दोनो आरोपी महिला सौनम चौरसिया व उसका प्रेमी शिवम कुश्वाह हलालपुर बस स्टेण्ड के पास भागने की फिराक में खडे है, पुलिस टीम द्वारा दविश दी गई जिन्हे घेराबंदी कर पकडकर अपनी अभिरक्षा में लेकर थाने लाये, पूछताछ पर अपना नाम (1) श्रीमती सोनम पत्नि जितेन्द्र चौरसिया उम्र-23 साल निवासी-वार्ड नं.13 रेल्वे कालोनी औबदुल्लागंज (2) शिवम कुशवाह पिता बाबूलाल उम्र-22 साल निवासी-गल्ला मण्डी के सामने आरा मशीन के पास, कोतवाली रायसेन का होना बताया जो जुर्म स्वीकार करने पर अप.क्र. 801/20 धारा 302, 34 भादवि में गिरफ्तार किया गया।मासूम बच्ची शानवी उम्र-01साल की निर्मम हत्या करने पर आरोपी के विरूद्ध अपराध में धारा 75 जेजे एक्ट का इजाफा किया गया, जिन्हे माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जाता है।

गिरफ्तार आरोपी/आरोपिया-

(1) सोनम पत्नि जितेन्द्र चौरसिया उम्र-23 साल निवासी-वार्ड नं. 13 रेल्वे कालोनी औबदुल्लागंज।

(2) शिवम कुशवाह पिता बाबूलाल उम्र-22 साल निवासी-गल्लामण्डी के सामने आरामशीन के पास, कोवताली रायसेन।

सराहनीय भूमिका- थानाप्रभारी तलैया डी.पी.सिंह, उनि अंसार खान, उनि वीरेन्द्र सेन (कोतवाली) प्रआर शैलेन्द्रसिंह, मनोज चौबे, आर उमेश कटारे, आर प्रवीण चतुर्वेदी, आर अनिल, मआर सलोनी की सराहनीय भूमिका रही ।

मध्य प्रदेश के अन्नदाता को एक रुपया मिला फसल बीमा का मुआवजा


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

भोपाल: मध्य प्रदेश के किसान वैसे भी काफी परेशान हैं अब उसे फसल के नुकसान की भरपाई के लिए उसे उम्मीद थी कि पुराने बीमे की रकम आएगी तो राहत मिलेगी, लेकिन कई जगह जब किसानों के अकाउंट में रकम आई तो उनके होश उड़ गए। किसी इलाके में किसान को ₹1 मिला तो किसी इलाके में 11 रूपए। इतना कम पैसा आने पर अन्नदाता आक्रोशित है। साथ ही कांग्रेस को बैठे-बिठाए एक मुद्दा मिल गया है। कांग्रेस ने इसे लेकर विरोध तेज कर दिया है। कांग्रेस इस मुद्दे को जमीन पर उतारने की तैयारी कर रही है।

मध्य प्रदेश के 22 लाख अन्नदाताओं को शिवराज सिंह चौहान ने पिछले साल के नुकसान की बीमे की राशि उनके खाते में ट्रांसफर की। इस कार्यक्रम में उनके साथ उज्जैन में कृषि मंत्री कमल पटेल और वरिष्ठ अफसर भी मौजूद थे। लेकिन किसानों के अकाउंट में जब पैसा पहुंचा तो वह खुश होने के बजाय और नाराज हो गए। एक तरफ अतिवृष्टि से फसल बर्बाद ऊपर से बीमे की रकम के नाम पर 1 रुपए खाते में आया। बैतूल जिले में किसान के खाते में 92 रुपए आए।

कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि यह बीमा कंपनी की गलती है। समीक्षा बैठक में निर्देश जारी किए गए थे कि किसानों का कोई भी क्लेम 2 हजार रुपए से कम का नहीं बनेगा। अगर किसानों को 2-4 रुपए का बीमा आया है तो गलत है। इस पर जांच होगी।

अब जब कम से कम 2 हजार रुपए किसानों के खाते में डालने के निर्देश है तो एक रुपए से लेकर 100 रुपए तक की रकम कैसे पहुंची यह बड़ा सवाल है।

मुलतापी समाचार

मगरमच्छ ने एक किशोरी को बनाया अपना शिकार


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

मुरैना: मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के अंबाह थाना क्षेत्र में चंबल नदी में पानी पीने गई एक किशोरी को मगरमच्छ ने अपना शिकार बना लिया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार किशोरी निकिता सखवार (15) कल अपने चचेरे भाई और बुआ के साथ चंबल पर लकड़ी एकत्रित करने गई थी। जब उसे प्यास लगी तो वह चंबल नदी में पानी पीने गई जैसे ही उसने पानी पीने का प्रयास किया तभी अचानक मगरमच्छ ने उस पर हमला कर दिया और उसे खींच कर नदी में ले गया। पुलिस और परिजनों ने करीब 6 घंटे तक उसकी तलाश की लेकिन उसका कोई पता नहीं चल सका है। पुलिस के अनुसार आज फिर से तलाशी अभियान चालू किया जाएगा।

मुलतापी समाचार

इंदौर से मुंबई जा रही बस में लगी आग ,बाल बाल बचे यात्री


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

धामनोद धार मध्य प्रदेश: रविवार सोमवार की दरमियानी रात तकरीबन 11:00 बजे इंदौर से मुंबई की ओर जा रही निजी ट्रैवल्स की बस क्रमांक 04 पीए 3778 दूधी तिराहे पर मधुबन होटल के सामने स्पीड ब्रेकर पार कर जैसे ही आगे बढ़ी वैसे ही उसमें तेज धमाका हुआ और आग लग गई। इसके बाद यात्री घबराकर उठ गए और सावधानी से अपने सामान सहित बस से नीचे उतर गए । इसके बाद बस ऊंची लपटों के साथ जलने लगी। घटना की सूचना मिलते ही दमकल की गाड़ियां और धामनोद पुलिस तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे और आग पर काबू पाया। गनीमत रही कि किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई और ना ही किसी के सामान का नुकसान हुआ।

मुलतापी समाचार

जर्नलिस्ट वेलफेयर स्कीम, आर्थिक सहायता


साथियों, नमस्कार.

पत्रकारों की असमय मृत्यु , गंभीर रूप से घायल होने या फिर गंभीर रूप से बीमार होने पर आर्थिक सहायता

केंद्र सरकार ने लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को मजबूती प्रदान करने के लिए ‘पत्रकार वेलफेयर स्कीम‘ में संशोधन कर दिया है। यह देशभर के सभी पत्रकारों के लिए लागू हो गया है। … यदि किसी जर्नलिस्ट का निधन हो जाता है या फिर वह विकलांग हो जाता है, तो इस स्कीम के तहत केंद्र सरकार उसके आश्रितों को 5 लाख रुपए की सहायता देगी।

इस समूह में हम सभी देश के पत्रकार शामिल हैं. ऐसे में मेरी आप सभी से विनती है कि आप अपने-अपने प्रदेशों के पत्रकारों के बीच यह सूचना अवश्य पहुंचाने का कार्य करें कि केंद्र सरकार की ओर से सूचना प्रसारण मंत्रालय के अधीन जर्नलिस्ट वेलफेयर स्कीम नामक एक योजना है. जिसमें कि पत्रकारों की असमय मृत्यु , गंभीर रूप से घायल होने या फिर गंभीर रूप से बीमार होने पर आर्थिक सहायता का प्रावधान है.

जब भी कोई आवेदन आता है तो एक कमेटी उस पर निर्णय करती है. जिसके आधार पर संबंधित पत्रकार या उनके परिवार को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है. यह सहायता अधिकतम ₹5 Lakh तक की होती है.

हमारा प्रयास है कि इस योजना के तहत देश भर के गांव तालुका स्तर तक के पत्रकारों को भी आर्थिक सहायता हासिल हो. जो भी वास्तविक जरूरतमंद पत्रकार हो उनके परिजनों को सहायता मिलनी चाहिए. सरकार की ओर से भी इसमें कोई बाधा नहीं है. वास्तविक जरूरतमंदों को सहायता देने के लिए इस योजना में प्रावधान है.

अधिक जानकारी के लिए – http://pib.nic.in/prs/JWSguidelinesEnglish.pdf?Sel=17&PSel=2 इस लिंक पर जा सकते हैं।अथवामहानिदेशक (मीडिया एवं संचार), प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो, ‘ए’ विंग, शास्त्री भवन, नई दिल्ली -110001 से भी संपर्क किया जा सकता है।जिन पत्रकारों या उनके परिजनों को सहायता चाहिए, वे विहित फॉर्म पर अपने आवेदन दिए गए पते पर भेज सकते हैं। तीन पृष्ठों के इस फॉर्म का नमूना प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (पत्र सूचना ब्यूरो) PIB की वेबसाइट pib.nic.in से डाउनलोड कर सकते है।

केंद्र सरकार ने लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को मजबूती प्रदान करने के लिए ‘पत्रकार वेलफेयर स्कीम’ में संशोधन कर दिया है। यह देशभर के सभी पत्रकारों के लिए लागू हो गया है। दरअसल केंद्र सरकार ने पत्रकारों के कल्याण के लिए इस स्कीम को 01फरवरी 2013 में लागू किया गया था। अब इसमें 05 मार्च 2019 से संशोधन किया गया है, जिसका फायदा सभी जर्नलिस्ट्स ले सकेंगे। यदि किसी जर्नलिस्ट का निधन हो जाता है या फिर वह विकलांग हो जाता है, तो इस स्कीम के तहत केंद्र सरकार उसके आश्रितों को 5 लाख रुपए की सहायता देगी। वहीं, इलाज के लिए भी पत्रकार को सरकार की ओर से 5 लाख रुपए की सहायता राशि दी जाएगी। इस योजना की पात्रता के लिए एक समिति का गठन भी किया गया है, जिसके संरक्षक केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री होंगे। वहीं, विभाग के सचिव अध्यक्ष, प्रधान महानिदेशक, एएस एंड एएफ, संयुक्त सचिव समिति के सदस्य हैं। वहीं, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के उप सचिव अथवा निदेशक सदस्य संयोजक हैं।

इस समिति का काम होगा कि ये पीड़ित पत्रकार या फिर उनके परिजनों के आवेदन पर विचार करे तथा उसके मुताबिक आर्थिक सहायता देने का फैसला ले। इस योजना के तहत एक अच्छी बात यह है कि इसमें केंद्र या राज्य सरकार से अधिस्वीकृत पत्रकार होने का कोई बंधन नहीं है।

ऐसे में आप अपने-अपने प्रदेशों और सर्किल के सभी पत्रकारों तक यह बात जरूर पहुंचाएं कि अगर किसी पत्रकार की असमय मृत्यु हो जाती है, वह गंभीर रूप से बीमार है या फिर किसी गंभीर दुर्घटना का शिकार हो गए हैं तो आर्थिक सहायता के लिए पीआईबी वेबसाइट पर जर्नलिस्ट वेलफेयर स्कीम के तहत आवेदन करें
धन्यवाद

फॉर्म भरने के लिए सामान्‍य निर्देश

कृपया ऑनलाइन फॉर्म भरना शुरू करने से पहले ध्‍यानपूर्वक निम्‍नलिखित निर्देश पढ़ें।

http://pibaccreditation.nic.in/jws/ApplicationJWS.aspx

1.   सभी तारांकित बिंदु अनिवार्य है। किसी एक को भी खाली छोड़ देने से आवेदन स्‍वीकार नहीं किया जाएगा।

2.   कृपया आवेदक पत्रकार का पूरा नाम भरें।

3.   जन्‍म तिथि वही होनी चाहिए जैसा कि संलग्‍न किए गए दस्‍तावेज़ी प्रमाण में दर्शाई गई है।

4.   आवास के प्रमाण सहित डाक का पूरा पता दें।

5.   सुनिश्‍चित करें कि मोबाइल नं. और ईमेल की प्रविष्‍टि ठीक प्रकार से की गई है, क्‍योंकि यदि आवश्‍यक हुआ तो आपसे संपर्क करने के लिए इनका प्रयोग किया जाएगा।

6.   पत्रकारिता संबंधी कैरियर के आरंभ से लेकर अभी तक के कार्य अनुभव का पूरा ब्‍यौरा दें तथा ऐसे सभी संगठनों के संबंध में कार्यग्रहण की तारीख एवं कार्यभार मुक्‍त होने की तारीख, दोनों की सूचना दें।

7.   संगठन का पूरा नाम और उसमें धारित पदनाम लिखें।

8.   वित्‍तीय सहायता प्राप्‍त करने के लिए उपयुक्‍त कारण का चयन करें; उसके लिए दस्‍तावेज़ी प्रमाण प्रस्‍तुत करें।

9.   मांगी गई वित्‍तीय सहायता के लिए-विविध बिलों की स्‍थिति में सभी बिलों/रसीदों का अलग-अलग बिल संबंधी संक्षिप्‍त विवरण संलग्‍न करें।

10 अन्‍य स्रोतों से  मांगी गई/प्राप्‍त वित्‍तीय सहायता का पूर्ण ब्‍यौरा उपलब्‍ध कराएं।

11  पत्रकार का प्रत्‍यायन संबंधी ब्‍यौरा उपलब्‍ध कराएं जिसमें कार्ड संख्‍या, वैधता और मीडिया संगठन (अथवा फ्रीलांस), जिसकी तरफ से प्रत्‍यायन दिया गया है, का ब्‍यौरा शामिल हो।

12  यदि मीडियाकर्मी सीजीएचएस लाभार्थी था, तो सीजीएचएस सुविधा का लाभ प्राप्‍त न करने के कारण बताएं।

13  पत्रकार की मृत्‍यु/ विकलांगता की स्‍थिति में, परिवार के सदस्‍यों का ब्‍यौरा तथा वेतन आदि सहित रोज़गार का ब्‍यौरा  प्रस्‍तुत करें।

14  अधिदेश प्रपत्र में सभी कॉलम भरें। बैंक खाता संख्‍या और बैंक का एमआईसीआर कोड ध्‍यानपूर्वक भरें।

15  प्रत्‍येक दस्‍तावेज़ के उपयुक्‍त विवरण सहित सभी अपेक्षित दस्‍तावेज़ अपलोड करें। बेहतर होगा कि अपलोड करने से पहले दस्तावेज़ों का इस प्रकार सूचीकरण करें कि उनकी पहचान करना आसान हो जाए।

16  यह देखने के लिए कि फॉर्म पूरी तरह और ठीक प्रकार से भर लिया गया है, आवेदन का पूर्वावलोकन करें और उसके पश्‍चात् सबमिट बटन पर क्‍लिक करें। एक बार सबमिट बटन पर क्‍लिक हो जाने पर आवेदन में संशोधन नहीं किया जा सकता।  

कृपया नोट करें:  आप केवल तभी सबमिट कर पाएंगे जब सभी अनिवार्य बिंदु भर लिए गए हों।

ग्राम सेंदुरजना मे किया पौधे रोपन


पौधे रोपण

मुलतापी समाचार

गुणवंत बाबा समिती ग्राम व अनुसया सेवा संगठन के सदस्य द्वारा सेंदुरजना ग्राम मे सभी के सहयोग से पौधे रोपण कार्य, गुणवन्त आसरम ओर गाव मे चोक चोहराह व ग्राम मे जाने वाली रोड के किनारे पौधे रोपित किये गये व संगठन के सदस्य द्वारा उनहे पालन पोषण का संकल्प लिया ओर सभी को पर्यावरण संरक्षण के बारे मे बताया जिसमे ग्राम को हरियालि युकत बनाने का संकल्प लिया ओर हर शुभ कार्य पर पौधा रोपित करने का संकल्प दिलाया।
संगठन के सदस्य शैलेन्द्र मानकर ने बताया कि नगर मे सभी के सहयोग से ओर भी पौधे का रोपण किया जायेगा ओर सभी को पर्यावरण संरक्षण के लिये संगठन के माध्यम से जगरुक किया जायेगा।
गुणवंत समिती ग्राम सेंदुरजना के सदस्य
सचिन मानकर, राहुल मानकर, नरेश गायकवाड ,गंगाधर मानकर,
ग्रामीण अनुसया सेवा संगठन के सदस्य
शैलेन्द्र मानकर, प्रवीण मानकर सतीश धोटे रमेश मानकर अन्य साथियों सहित

BJP सारनी आमला विधायक योगेश पंडाग्रे कोरोना पॉजिटिव


Multapi Samachar

बैतूल– सितंबर माह के तीसरे सप्ताह में कोरोना संक्रमण ने पूरे जिले में कोहराम मचा दिया है और इसकी तेज रफ्तार दिनोंदिन बढ़ती ही जा रही है। रविवार को खबर लिखे जाने तक जहां कुल 45 कोरोना पाजिटिव मिलने की सूचना है। वहीं इसकी चपेट में रविवार को आमला-सारनी भाजपा विधायक डॉ. योगेश पंडाग्रे के आने की खबर भी मिली है। उल्लेखनीय है कि जिले की पांचों विधानसभाओं के विधायकों के परिवार में कोरोना ने अपनी दस्तक दे दी है। मुलताई विधायक सुखदेव पान्से के पॉजिटिव आने के बाद भैंसदेही विधायक धरमूसिंह व घोड़ाडोंगरी विधायक ब्रम्हा भलावी पाजिटिव मिले, वहीं बैतूल विधायक निलय डागा की धर्मपत्नि कोरोना पॉजिटिव हुई थी। अब आमला-सारनी विधायक डॉ पंडाग्रे की रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। दो दिन पहले विधानसभा जाने के लिए डॉ पंडाग्रे ने टेस्ट करवाया था तो उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। श्री पंडाग्रे के निजी सचिव अर्पण त्रिवेदी ने बताया कि परसों एंटीजन टेस्ट से कराई गई जांच में उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई थी, किंतु शनिवार को उन्हें बुखार आने पर आज रविवार दोबारा ट्रू-नेट मशीन द्वारा कराई जांच में नतीजा पॉजिटिव आया है। विधायक श्री पंडाग्रे की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्होंने स्वयं को होम आइसोलेट करते हुए संपर्क में आए लोगों से जांच करवाने की अपील की है। साथ ही आमजन से इस कोरोन पीक टाइम में विशेष एहतियात बरतने की अपील भी की है। गौरतलब है कि विधायक द्वारा शनिवार को जनपद परिसर में आयोजित वन अधिकार पट्टा वितरण कार्यक्रम में पट्टों का वितरण किया था। उन्होंने फिर रतेड़ा कला पंचायत में एक भूमिपूजन भी किया था और उसके बाद जिला अस्पताल में भी आक्सीजन सप्लाई मशीन की जांच करने पहुंचे थे। 

Betul News खुनी विवाद जमीन को लेकर दो पक्षों में संघर्ष


मुलतापी समाचार

बैैैैैतूल । आठनेर। लालखेड़ी गांव में शनिवार काे जमीन को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। विवाद में जमकर लाठी चलने से 4 लोग जख्मी हो गए। दाे नाम जद सहित 6 आरोपियों पर पुलिस केस दर्ज किया है। वहीं घायलाें काे बैतूल अस्पताल रैफर किया है।

जानकारी के मुताबिक इस हमले में लगभग 7 लोग घायल भी हुए हैं। वहीं किसान द्वारा आठनेर पुलिस को सूचित किया गया है। वहीं घयालों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है जबकि पुलिस अब मामल की जांच सहित आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

थाना प्रभारी डीएस टेकाम ने बताया कि 2018 में फरियादी दीनदयाल सूर्यवंशी के नाम रजिस्ट्री होकर नामांतरण भी हो चुका है। शनिवार काे सोयाबीन काटने आए सातनेर निवासी दीनदयाल सूर्यवंशी किराड़ (70), जुगल किशोर सूर्यवंशी (60), कमल किशोर सूर्यवंशी (40), प्रवीण कुमार सूर्यवंशी (23) पर आरोपी शेख जमील, शेख अमीर सहित 6 लाेगाें ने लाठियों से हमला कर घायल कर दिया।

मोहम्मद यासीन के भांजे शेख जमील और शेख अमीर जमीन बिकने से नाराज थे। उनका आरोप है कि मामा को बहला फुसलाकर जमीन का सौदा किया गया है। वे इसी बात को लेकर शनिवार को चर्चा करने आए थे, तभी दोनों में विवाद हो गया। थाना प्रभारी टेकाम के अनुसार सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

अभी गिरफ्तारियां नहीं हुई है। गंभीर चोट आने पर जुगल किशोर, दीनदयाल, कमल किशोर, प्रवीण को बैतूल अस्पताल में भर्ती कराया है। दो साल पहले हो चुका है 5 एकड़ जमीन का सौदा : बैतूल निवासी मोहम्मद यासीन की लालखेड़ी में 5 एकड़ जमीन थी। इस जमीन का सौदा 2 साल पहले हो चुका था। इसकी रजिस्ट्री व नामांतरण भी हो चुका है। फरियादी इस जमीन पर खेती कर रहे हैं।

सच का प्रवाह