यह लक्षण हैं तो समझे बच्चे के पेट में कीड़े हैं। पता लगते ही उपचार जरूरी


मुल्तापी समाचार शहडोल।

छोटे बच्चों के पेट में अक्सर कि वे होने की समस्या हो जाती है। पेट में कीड़े होने के कारण जहां बच्चे पीठ दर्द के काम हर समय होते रहते हैं वहीं इससे उनके शारीरिक और मानसिक विकास में बाधा पहुंचती है।बच्चों में कीड़े होने पर अलग-अलग लक्षण दिखाई देते हैं क्योंकि पेट में होने वाले कीड़े कई प्रकार के होते हैं पेट में पाए जाने वाले यह वार में या क्रमी प्रजनन क्रिया के बाद आंखों में अंडे देते हैं।इनके बढ़ जाने से शिशु का पाचन और स्वास्थ्य प्रभावित होता है और उसमें कई तरह के लक्षण नजर आते हैं।

पेट के कीड़ों का उपचार

डॉ कपिल मिश्रा ने बताया कि बच्चों या बड़ों की हाथ में कीड़े पड़ गए हो तो कच्चे आम की गुठली का सेवन करने से कीड़े मल के रास्ते बाहर निकल जाते हैं। इसके लिए कच्चे आम की गुठली का चूर्ण दही या पानी के साथ सुबह-शाम सेवन करें । इसके नियमित सेवन से कुछ दिनों में ही आपके कि वे बाहर निकल जाएंगे।अनार के छिलकों को सुखाकर उसका चूर्ण बना लीजिए। यह चूर्ण दिन में तीन बार एक एक चम्मच लीजिए। कुछ दिनों तक इसका सेवन करने से पेट के लिए पूरी तरह से नष्ट हो जाते हैं।

मुलतापी समाचार न्यूज़ नेटवर्क

मनोज कुमार अग्रवाल 20 _०२_२०

अभिषेक पारधी की JEE Mains में देश में 67वीं रैंक , छत्तीसगढ़ में प्रथम


IISC बंगलोर द्वारा आयोजित किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना परीक्षा 2019 उत्तीर्ण

होमी जहागीर भाभा संस्थान मुम्बई द्वारा आयोजित ओलंपियाड परीक्षा 2019 उत्तीर्ण, IIT genius में all india में 7 वी रैंक

मुलतापी समाचार न्यूज़ नेटवर्क


दुर्ग। अभिषेक पारधी की उपलब्धियों को देखकर कोई भी दांतों तले उंगली दबाए बिना नहीं रह सकता।

पिता जयसिंह पारधी एवं माता विमलेश पारधी के सुपुत्र अभिषेक पारधी मूलतः वारासिवनी जिला बालाघाट म प्र निवासी हैं। वर्तमान में आप न्यू आदर्श नगर दुर्ग में निवासरत हैं।

अभिषेक पारधी ने NTA द्वारा आयोजित JEE Mains 2020 में 99.9923468 परसेंटाइल के साथ all india में 67 रैंक वीं के साथ छत्तीसगढ़ में प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

अभिषेक पारधी कक्षा 12 वीं में अध्ययनरत है और IISC बंगलोर द्वारा आयोजित किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना परीक्षा 2019 उत्तीर्ण किया है। साथ ही होमी जहागीर भाभा संस्थान मुम्बई द्वारा आयोजित रसायन शास्त्र एवं भौतिकी शास्त्र की ओलंपियाड परीक्षा 2019 भी उत्तीर्ण कर लिया है।

अपनी इसी प्रतिभा के कारण अभिषेक पारधी को कोटा की एक ख्यातनाम कोचिंग द्वारा निशुल्क कोचिंग प्रदान की जा रही है।

आपने प्राइवेट कोचिंग संस्थान से भिलाई में अध्ययनरत रहते हुए IIT genius में all india में 7 वी रैंक हासिल की है।आप कक्षा 10 वी में MGM स्कूल से मेरिट में उत्तीर्ण हुये थे। आपके पिता जयसिंह पारधी डाक विभाग में सहायक अधिक्षक के पद पर कार्यरत है।

भोपाल, गुलाब बुवाड़े तीन-तीन मुख्यमंत्रियों और कई मंत्रियों के निज सचिव- निज सहायक रहें


बैतूल,छिंदवाड़ा,बालाघाट,
सिवनी हर जिले से आप तक पहुंचते हैं समाज सदस्य

Multapi samachar

Bhopal : आपकी कार्यशैली इतनी प्रभावी व कारगर होती है कि हर राजनीतिक दल आपकी सेवाएं लेने हेतु लालायित रहते हैं
भोपाल। गुलाब बुवाड़ेजी भोपाल तीन -तीन मुख्यमंत्रियों और कई मंत्रियों के निज सचिव और निज सहायक रह चुके हैं।
आपने अपनी सेवाओं से क्षेत्र और समाज के विकास की जो राह प्रशस्त की वह किसी जनप्रतिनिधि से कमतर नहीं है।
क्षेत्र में कॉलेज-स्कूल खुलवाने , पति-पत्नी का एक स्थान पर स्थानांतरण करने, छत्तीसगढ़ से मध्य प्रदेश और मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ में आने जाने वालों को अपने गृह राज्य में स्थानांतरित करने से लेकर शासकीय योजनाओं का अधिकतम समाज सदस्यों को कैसे लाभ दिलाना हो,और कैसे लाभ दिलाया जाए आपने न केवल बताया है अपितु उसका समाज सदस्यों को लाभ भी दिलाया है।
वल्लभ भवन (मंत्रालय) से संबंधित किसी भी विभाग की नस्ती हो या उससे संबंधित समाज सदस्य का कार्य, आप सदैव सहयोग के लिए तत्पर रहते हैं और काम करवा कर ही राहत की सांस लेते हैं।
बैतूल,छिंदवाड़ा,बालाघाट,सिवनी
हर जिले से आप तक समाज सदस्य पहुंचते हैं। समाज के जन प्रतिनिधि तक आपके परिचय से लाभ उठाते देखें जा सकते हैं।
आपकी कार्यशैली इतनी प्रभावी व कारगर होती है कि हर राजनीतिक दल आपकी सेवाएं लेने हेतु लालायित रहते हैं। आपकी इस कार्यशैली का लाभ जाने अनजाने समाज को मिलता ही है।

Pratibha केंद्र शासन द्वारा आयोजित निबंध प्रतियोगिता में चयनित कृष्णा डोंगरे


दिल्ली में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी से मिलेंगे कृष्णा डोंगरे

Krishna pawar

Multapi samachar
पांढुर्णा। बड़ चिचोली निवासी जितेंद्र डोंगरे के पुत्र कृष्णा डोंगरे नई दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी जी से मिलेंगे। बातचीत करते हुए कृष्णा डोंगरे ने इस आशय की जानकारी दी।

राम शांति विद्या मंदिर पांढुर्णा में
अध्ययनरत कक्षा 9 के छात्र कृष्णा डोंगरे द्वारा केंद्र शासन द्वारा निर्धारित विषयों पर आयोजित निबंध प्रतियोगिता में भाग लिया गया था। कृष्णा द्वारा अंग्रेजी में लिखे गए निबंध को शाला द्वारा ई-मेल पर प्रेषित किया गया था। निबंध चयनित होने की सूचना भी ई-मेल पर ही प्राप्त हुई थी।
उल्लेखनीय है छिंदवाड़ा से इस निबंध प्रतियोगिता में 5 बच्चे चयनित हुए हैं जिनमें से कृष्णा भी एक सहभागी है।
इन सभी चयनित बच्चों के आने-जाने और भोजन तथा आवास की व्यवस्था मध्यप्रदेश शासन द्वारा की जा रही है। कृष्णा 18 जनवरी को दिल्ली के लिए निकलेगा और 24 जनवरी को वापस आएगा। अपनी लेखन क्षमता के बल पर कृष्णा ने जो मुकाम हासिल किया है उससे पूरा समाज गौरवान्वित हुआ है। एक तरह से राजाभोज की परंपरा को ही कृष्णा ने आगे बढ़ाया है।
multapisamachar@gmail.com

Manmohan Pawar

9753903839

राष्ट्रीय शालेय फुटबॉल प्रतियोगिता में दूसरी बार करेगी अदिति पवार सहभागिता


आंध्र प्रदेश में 12 से 16 जनवरी तक होगी राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता

प्रदेश से चयनित 11 खिलाड़ियों में अदिति भी शामिल

छिंदवाड़ा। कुमारी अदिति पवार दूसरी बार राष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिता में भाग ले रही है। 12 से 16 जनवरी तक आयोजित इस राष्ट्रीय शालेय फुटबॉल प्रतियोगिता में अंडर-19 की बालिकाएं भाग ले रही है।
उल्लेखनीय है फुटबॉल सबसे शक्तिशाली खेल माना जाता है और इसमें दमखम वाले खिलाड़ी ही बेहतर प्रदर्शन कर पाते हैं।
कुमारी अदिति पवार ने अपनी प्रतिभा के बल पर यह मुकाम प्राप्त किया है।

जिलेभर की तरह हटा में निकाली गई साईकिल रेली।


मुलतापी समाचार

फिटइंडिया के तहत शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल से साइकिल रैली निकाली गई एनसीसी ऑफिसर सत्येंद्र सिंह राजपूत ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया इस मौके पर सौरव नेमा एवं दीपक पटवा ने हम फिट तो इंडिया फिट पर जानकारी दी एवं लोगों को फिटनेस एवं स्वच्छता के लिए प्रेरित किया जागरूकता रैली शासकीय स्कूल से प्रारंभ होकर गायत्री शक्तिपीठ तक निकाली गई रैली में 100 युवा एवं सेवाभावी युवा मंडल समिति के सदस्यों ने नारे लगाकर लोगों को जागरूक किया इस अवसर पर एनसीसी प्रभारी ने कहा कि वर्तमान समय में लोग शारीरिक मेहनत नहीं कर पाते जिससे शरीर में स्फूर्ति नहीं रहती ऐसे में शरीर को फिट रखने के लिए आवश्यक है कि लोग रोजाना सुबह से उठकर योग व्यायाम करें रोजाना सुबह-शाम साइकिलिंग करें ताकि शरीर की मांसपेशियों में स्फूर्ति आए जिससे शरीर आपका स्वस्थ बना रहेगा इस मौके पर अशोक चौरसिया दीपक राजपूत राजपूत सोमनाथ शर्मा व्यास आदि युवाओं की उपस्थिति रही

जिलेभर की तरह हटा में भी निकाली साइकिल रैली मुल्ता पी समाचार हटा


Fit इंडिया के तहत शासकीय सेकेंडरी स्कूल से हटा से साइकिल रैली निकाली गई एनसीपी ऑफिसर सत्येंद्र सिंह राजपूत ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया इस मौके पर सौरव नेमा एवं दीपक पटवा ने हम फिट तो इंडिया फिट पर जानकारी दी एवं लोगों को फिटनेस एवं स्वच्छता के लिए प्रेरित किया जागरूकता रैली शासकीय स्कूल से प्रारंभ होकर गायत्री शक्तिपीठ तक निकाली गई रैली में 100 युवाओं एवं सेवाभावी युवा मंडल समिति के सदस्यों ने नारे लगाकर लोगों को जागरूक किया इस अवसर पर एनसीसी प्रभारी ने कहा कि वर्तमान समय में लोग मेहनत नहीं कर पाते जिससे शरीर में स्फूर्ति नहीं रहती ऐसे में शरीर को फिट रखने के लिए आवश्यक है कि अपन लोग रोजाना सुबह से उठकर योग व्यायाम करें रोजाना सुबह-शाम साइकिलिंग करें ताकि शरीर की मांसपेशियों में स्फूर्ति रही जिससे आपका शरीर स्वस्थ बना रहे इस मौके पर अशोक चौरसिया दीपक पटवा सौरभ अग्रवाल माया राजपूत कपिल अग्रवाल विजय पटेल सोमनाथ शर्मा आदि युवाओं की उपस्थिति रही मनोज अग्रवाल हटा

प्रतिभाशाली डॉ अमित हायर सेकेंडरी परीक्षा में पूरे राज्य में तीसरे स्थान पर


गोल्ड मेडल और राज्यपाल अवार्ड द्वारा सम्मानित भी है

एमबीबीएस में गोल्ड मेडलिस्ट और यूनिवर्सिटी टॉपर भी डॉ अमित

Multapi samachar


छिंदवाड़ा। डॉ अमित रहांगडाले पिता श्री अरविंद रहांगडाले सीआईएमएस मेडिकल कॉलेज छिंदवाड़ा में सहायक प्राध्यापक और आर्थोपेडिक सर्जन के पद पर कार्यरत है। आप एमएस ऑर्थोपेडिक्स भी हैं।
वारासिवनी बालाघाट निवासी डॉ अमित रहांगडाले माध्यमिक शिक्षा मंडल की हायर सेकेंडरी परीक्षा में पूरे राज्य में तीसरे स्थान पर आए थे। आपकी इस उपलब्धि पर आपको गोल्ड मेडल और राज्यपाल अवार्ड द्वारा सम्मानित किया गया था।

बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी भोपाल में भी आप एमबीबीएस में गोल्ड मेडलिस्ट है और यूनिवर्सिटी टॉपर भी।आप स्टूडेंट यूनियन जीएमसी के अध्यक्ष भी रहे हैं।

अभी तक आपके द्वारा 5000 से ज्यादा टामा और फ्रेक्चर के सफलतापूर्वक ऑपरेशन किए जा चुके हैं। इसके अलावा आपके द्वारा 250 से ज्यादा हिप और नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की जा चुकी है।

डॉ अमित रहांगडाले युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा के स्रोत है। निश्चित ही उनकी उपलब्धियों से आज की युवा पीढ़ी सबक लेगी।

प्रतिमा पवार महाविद्यालयीन राष्ट्रीय वालीवाल प्रतियोगिता हेतु चयनित


26 से 31 जनवरी के बीच आजमपेठ कडप्पा आंध्र प्रदेश में होगी राष्ट्रीय स्तर बालीवाल प्रतियोगिता

शालेय प्रतियोगिताओं में भी राष्ट्रीय स्तर तक खेल चुकी हैं प्रतिमा डोंगरे

मुलतापी समाचार न्यूज़ नेटवर्क
छिंदवाड़ा। राजमाता सिंधिया कॉलेज छिंदवाड़ा के बीएससी प्रथम वर्ष में अध्ययनरत छात्रा कुमारी प्रतिमा डोंगरे पिता श्री विजय डोंगरे का महाविद्यालयीन राष्ट्रीय वालीबाल प्रतियोगिता में चयन हो गया है। यह प्रतियोगिता आगामी 26 से 31 जनवरी 2020 के बीच आजमपेठ कडप्पा आंध्र प्रदेश में हो रही है।

कुमारी प्रतिमा डोंगरे वॉलीबॉल, बैडमिंटन और दौड़ में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रदर्शन कर चुकी हैं।

उल्लेखनीय है कु प्रतिमा डोंगरे शालेय प्रतियोगिताओं में भी राष्ट्रीय स्तर तक खेल चुकी हैं और अपने गांव उमरानाला स्थित खेल अकादमी के प्रशिक्षक राहुल उरकुड़े और जीतेन्द्र फटिंग के मार्गदर्शन में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं।
स्रोत-खेल प्रशिक्षक राहुल उरकुड़े और जीतेन्द्र फटिंग

multapisamachar@gmail.com

राष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ी अमिशा पवार छिंदवाड़ा


अंतर्राष्ट्रीय सुब्रतो कप में भी खेल चुकी है अमिशा

कक्षा सातवीं से कालेज स्तर तक राष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिता में खेल रही है अमिशा


छिंदवाड़ा। फुटबॉल को सबसे शक्तिशाली खेल माना जाता है और राष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ी कु अमीशा के लिए यह महज एक खेल है।
कु अमीशा जब कक्षा 7 में महारानी लक्ष्मी बाई कन्या विद्यालय छिंदवाड़ा में अध्ययनरत थी तभी मणिपुर इंफाल में आयोजित राष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिता में पहली बार भाग लिया गया था। कक्षा 8 में दूसरी बार मुंबई में कक्षा 9 में पुणे में कक्षा 10 में मणिपुर में कक्षा 11में तमिलनाडु में कक्षा 12 में सुब्रतो कप दिल्ली में भाग लिया गया।

कॉलेज में आने पर प्रथम वर्ष में उड़ीसा कटक में आपके द्वारा भाग लिया गया। अभी आप बीकाम अंतिम वर्ष में अध्यनरत है तथा हाल ही में भुवनेश्वर में आयोजित राष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिता में भाग लिया गया।

फुटबॉल जैसे शक्तिशाली खेल में अमीशा द्वारा शक्ति दिखाकर समाज का गौरव बढ़ाया गया है। “सुख वाड़ा”आपकी उपलब्धि पर बधाई प्रेषित करते हुए