आदिवासी अंचल में शिक्षा की अलख जागते शिक्षक – संजू बारंगे निवासी ग्राम चौथिया, मुलताई और लक्ष्मण मौरशिया


चौथिया निवासी शिक्षक संजू बारंगे
शिक्षक लक्ष्मण मौरशिया

होशंगाबाद- जिले की सिवनी-मालवा तहसील के गांव झिरनापूरा के प्राथमिक शाला में पदस्थ संजू बारंगे और लक्ष्मण मौरशिया ने स्कूल में बच्चों की उपस्थिति कम होती देख उन्हें आगामी परीक्षा पर ध्यान देते हुए पढ़ने के लिए ढोल पीटकर गाँव में घरों घर जाकर समझाइश दी…जिसका परिणाम यह रहा स्कूल में बच्चों की उपस्थिति बढ़ने लगी हैं…लोकल न्यूज़ चैनल द्वारा गांव वाले से पूछने पर बताया गया की बच्चे स्कूल में न जाकर मछली पकड़ने और इधर उधर घूमते है जसका असर उनके वार्षिक परिणाम पर पड़ता है अब दिन प्रतिदिन बच्चों की उपस्थिति में वृद्धि हुई हैं साथ ही गांव वालो ने शिक्षकों की इस मुहिम को बच्चों के लिए हितकारी बताया है

आदिवासी बच्चों की स्कूल में ऊपस्थित बढ़ाने और अच्छे परिणाम से उनका भविष्य सवरने के लिए समय समय पर ढोल पीटकर गाँव वालों को जागरूक किया जाता हैं … ऐसे शिक्षा शिक्षाप्रणाली और शिक्षक की देश को आवश्यकता हैं । समाज ऐसे गुरुवर को सत-सत नमन करता हैं ।

समाज ऐसे गुरुवर को सत-सत नमन करता हैं ।

राजेश बारंगे पंवार

भोपाल-10 साल के बेटे मयंक ने हादसे की शिकार अपनी मां के सभी अंगों को दान करने का फैसला किया


मुल्तानी समाचार भोपाल

भोपाल-मासूम मयंक छवानी ने शनिवार को भारी मन से हादसे का शिकार हुई अपनी मां के सभी अंगों को दान करने का फैसला किया है i लालघाटी हलालपुर निवासी 10 साल के मयंक के पिता भीषम छवानी की 7 साल पहले 8 जनवरी 2013 को ब्लड प्रेशर लो हो जाने की वजह से मौत हो गई थीi मयंक के इस फैसले का पूरे परिवार नेभीगी आंखों से स्वागत किया हैi हमीदिया अस्पताल में शनिवार को मयंक की मां दिशा छवानी के सभी अंगो को निकाल कर अलग अलग लोगों में ट्रांसप्लांट किया जाएगा iशाम को दिशा का अंतिम संस्कार होगा i

इंदौर- सीएए के विरोध में 75 साल के कम्युनिस्ट नेता ने गीता भवन चौराहे पर खुद को आग लगाई 90 % परसेंट झुलसे


मुल्तापी समाचार 25 -1 -2020. इंदौर , सीएए और एन आर सी के विरोध में 75 साल के माकपा नेता रमेश प्रजापति ने शुक्रवार शाम गीता भवन चौराहे पर खुद को आग लगा ली i उन्हें एमवाई अस्पताल में भर्ती कराया गया है i 90% झुलसने के कारण उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है i उनकी जेब से सीएए और एनआरसी विरोधी पर्चे भी मिले हैंi. . तुकोगंज टीआई निर्मल श्रीवास ने बताया -रमेश प्रजापति शुक्रवार शाम गीता भवन चौराहा स्थित एक ऑटोमोबाइल शोरूम के पास पहुंचे और बोतल में भरा केरोसीन अपने ऊपर उड़ेल कर आग लगा ली i उन्हें लपटों में घिरा देख लोग सकते में आ गए i घटनास्थल के पास रहने वाले डीएसपी सुनील तालान ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी i तुकोगंज थाने के वीर जवान वहां पहुंचे और लोगों की सहायता से प्रजापति की आग को बुझा कर उन्हें एमवाई अस्पताल पहुंचाया i. … .. .. कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव छोटेलाल सरावत और कैलाश लिंबूदिया भी मौके पर पहुंचेi उन्होंने बताया कि प्रजापति रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी थेi वे कई दिनों से सी ए ए और एन आर सी के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे इसी के चलते उन्होंने यह कदम उठाया वहीं पुलिस का कहना है कि प्रजापति का बयान नहीं हो सका अतः यह पता नहीं चल सका कि उन्होंने ये कदम क्यों उठायाi. यूथ कांग्रेस अध्यक्ष रमीज खान के अनुसार प्रजापति ने खुद को आग लगाने से पहले सीएए के खिलाफ नारे लगाए थेi वही बेटे दीपक का कहना है कि घटना को राजनीतिक रंग ना दिया जाए आग लगने का कारण अभी पता नहीं है i