15000 की सैलरी वाला नौकर कर चुका है एक अरब से ज्यादा की कर चुका है रजिस्ट्री


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

इंदौर: फीनिक्स देवकान जमीन घोटाले में गिरफ्तार ₹15000 महीने का नौकर निकला! वह अभी तक एक अरब से ज्यादा की रजिस्ट्री कर चुका है! उसके साइन और अंगूठे से 600 से ज्यादा रजिस्ट्री हो चुकी हैं! लसूड़िया थाना टीआई संतोष दूधी के अनुसार आरोपित भूमाफिया चंपू उर्फ रितेश निवासी तिलक नगर को सोमवार रात गिरफ्तार किया था! आरोपित ने रिता शुक्ला, अर्चना जैन ,समीक्षा जैन, सृष्टि जैन, सिंपलता जैन को रजिस्ट्री तो कर दी लेकिन मौके पर प्लाट नहीं था! पूछताछ में रजत ने बताया कि वह चंपू की पत्नी योगिता की मेहंदी कंपनी में मार्केटिंग करता था! वर्ष 2012 में चंपू ने ₹15000 महीने की नौकरी पर रख लिया! कुछ समय बाद फिनिक्स देवकान में डायरेक्टर बना दिया ! उसके हस्ताक्षर और अंगूठे से 600 रजिस्ट्री हो गई! जमीन के सौदे चंपू चिराग और नीलेश उसे रजिस्ट्रार ऑफिस जाने का बोल देते थे ! इसके बदले ₹15000 महीने मिलता था!

टीआई के अनुसार फिनिक्स देवकान के कुल 9 केस दर्ज हैं! रजत को सभी मामलों में आरोपित बना औपचारिक गिरफ्तारी दर्शा दी है! उसके बयानों के आधार पर रितेश के भाई नीलेश अजमेरा उसकी पत्नी सोनाली और चिराग शाह को भी आरोपित बना दिया! नीलेश एन आर आई है! विदेश भागने की आशंका में लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया है!

ये है राम मंदिर ट्रस्ट के 15 सदस्यों की वो जानकारी, जो जानना जरूरी है.


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लोकसभा में राम मंदिर ट्रस्ट के बारे में घोषणा की थी। इसके 4 घंटे बाद ट्रस्ट से जुड़े 15 सदस्यों के बारे में जानकारी सामने आई। अयोध्या विवाद में हिंदू पक्ष के मुख्य वकील रहे 92 वर्षीय के. पाराशरण को ट्रस्टी बनाया गया है। उनके अलावा एक शंकराचार्य समेत 5 सदस्य धर्मगुरु ट्रस्ट में शामिल हैं। अयोध्या के पूर्व शाही परिवार के राजा विमलेंद्र प्रताप मिश्रा, अयोध्या के ही होम्योपैथी डॉक्टर अनिल मिश्रा और कलेक्टर को ट्रस्टी बनाया गया है।
पहले कहा जा रहा था कि चार शंकराचार्यों को इस ट्रस्ट में शामिल किया जाएगा, लेकिन सरकार ने ट्रस्ट में सिर्फ प्रयागराज के ज्योतिषपीठाधीश्वर स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज को शामिल किया गया है।
ट्रस्ट में निर्मोही अखाड़े को भी जगह दी गई है, लेकिन अखाड़े के महंत दिनेंद्र दास को ट्रस्ट की मीटिंग में वोटिंग का अधिकार नहीं होगा।
ये होंगे ट्रस्टी
1. के पाराशरण: सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील हैं। इन्होंने अयोध्या मामले में 9 साल हिंदू पक्ष की पैरवी की। इंदिरा गांधी और राजीव गांधी सरकार में अटॉर्नी जनरल रहे। पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित।
2. जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वतीजी महाराज (प्रयागराज): बद्रीनाथ स्थित ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य। हालांकि, इनके शंकराचार्य बनाए जाने पर विवाद भी रहा। ज्योतिष मठ की शंकराचार्य की पदवी को लेकर द्वारका पीठ के शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने हाईकोर्ट में केस दाखिल किया था।
3. जगतगुरु मध्वाचार्य स्वामी विश्व प्रसन्नतीर्थ जी महाराज: कर्नाटक के उडुपी स्थित पेजावर मठ के 33वें पीठाधीश्वर हैं। दिसंबर 2019 में पेजावर मठ के पीठाधीश्वर स्वामी विश्वेशतीर्थ के निधन के बाद पदवी संभाली।
4. युगपुरुष परमानंद जी महाराज: अखंड आश्रम हरिद्वार के प्रमुख। वेदांत पर 150 से ज्यादा किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं। इन्होंने साल 2000 में संयुक्त राष्ट्र में आध्यात्मिक नेताओं के शिखर सम्मेलन को संबोधित किया था।
5. स्वामी गोविंद देव गिरि जी महाराज: महाराष्ट्र के अहमद नगर में 1950 में जन्म हुआ। रामायण, श्रीमद्भगवद्गीता, महाभारत और अन्य पौराणिक ग्रंथों का देश-विदेश में प्रवचन करते हैं। स्वामी गोविंद देव महाराष्ट्र के विख्यात आध्यात्मिक गुरु पांडुरंग शास्त्री अठावले के शिष्य हैं।
6. विमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्रा: अयोध्या राजपरिवार के वंशज। रामायण मेला संरक्षक समिति के सदस्य और समाजसेवी। 2009 में बसपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा, हारे। इसके बाद कभी राजनीति में नहीं आए।
7. डॉ. अनिल मिश्र, होम्पयोपैथिक डॉक्टर: मूलरूप से अंबेडकरनगर निवासी अनिल अयोध्या के प्रसिद्ध होम्योपैथी डॉक्टर हैं। वे होम्योपैथी मेडिसिन बोर्ड के रजिस्ट्रार हैं। मिश्रा ने 1992 में राम मंदिर आंदोलन में पूर्व सांसद विनय कटियार के साथ महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। अभी संघ के अवध प्रांत के प्रांत कार्यवाह भी हैं।
8. श्री कामेश्वर चौपाल, पटना (एससी सदस्य): संघ ने कामेश्वर को पहले कारसेवक का दर्जा दिया है। उन्होंने 1989 में राम मंदिर में शिलान्यास की पहली ईंट रखी थी। राम मंदिर आंदोलन में सक्रिय भूमिका और दलित होने के नाते उन्हें यह मौका दिया गया। 1991 में रामविलास पासवान के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ा।
9. बोर्ड ऑफ ट्रस्टी द्वारा नामित एक ट्रस्टी, जो हिंदू धर्म का हो।
10. बोर्ड ऑफ ट्रस्टी द्वारा नामित एक ट्रस्टी, जो हिंदू धर्म का हो।
11. महंत दिनेंद्र दास: अयोध्या के निर्मोही अखाड़े के अयोध्या बैठक के प्रमुख। ट्रस्ट की बैठकों में उन्हें वोटिंग का अधिकार नहीं होगा।
12. केंद्र सरकार द्वारा नामित एक प्रतिनिधि, जो हिंदू धर्म का होगा और केंद्र सरकार के अंतर्गत भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) का अफसर होगा। यह व्यक्ति भारत सरकार के संयुक्त सचिव के पद से नीचे नहीं होगा। यह एक पदेन सदस्य होगा।
13. राज्य सरकार द्वारा नामित एक प्रतिनिधि, जो हिंदू धर्म का होगा और उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) का अफसर होगा। यह व्यक्ति राज्य सरकार के सचिव के पद से नीचे नहीं होगा। यह एक पदेन सदस्य होगा।
14. अयोध्या जिले के कलेक्टर पदेन ट्रस्टी होंगे। वे हिंदू धर्म को मानने वाले होंगे। अगर किसी कारण से मौजूदा कलेक्टर हिंदू धर्म के नहीं हैं, तो अयोध्या के एडिशनल कलेक्टर (हिंदू धर्म) पदेन सदस्य होंगे।
15. राम मंदिर विकास और प्रशासन से जुड़े मामलों के चेयरमैन की नियुक्ति ट्रस्टियों का बोर्ड करेगा। उनका हिंदू होना जरूरी है।
नियम: जो ट्रस्टी हैं उनकी ओर से (सीरियल नंबर 2 से 8 तक के) 15 दिन में सहमति मिल जानी चाहिए। ट्रस्टी नंबर 1 इस दौरान ट्रस्ट स्थापित कर अपनी सहमति दे चुका होगा। उसे सीरियल नंबर 2 से सीरियल नंबर 8 तक के सदस्यों की तरफ से ट्रस्ट बनने के 15 दिन के अंदर सहमति ले लेनी होगी।
ट्रस्ट क्यों बनाया गया है
a) अयोध्या में रामजन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनाने और सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मंदिर निर्माण में आने वाली सभी बाधाओं को दूर करने के लिए।
b) बड़ी पार्किंग, श्रद्धालुओं के लिए सारी सुविधा, सुरक्षा के लिए अलग से जगह, परिक्रमा के लिए सही इंतजाम करने होंगे। श्रद्धालुओं के लिए सभी तरह की सुविधाएं जैसे- अन्नक्षेत्र, किचन, गौशाला, प्रदर्शनी, म्यूजियम और सराय का इंतजाम करना होगा।
(c) कानूनी रूप से ट्रस्ट श्रद्धालुओं की सुविधाओं और मंदिर निर्माण के लिए पैसे और अन्य महत्वपूर्ण चल-अचल संपत्तियों को खरीदने, दान लेने या किसी दूसरे तरीके से इन चीजों को इकठ्ठा करेंगे। उसकी देखरेख का इंतजाम करेंगे।

शिवा पवार मुलतापी समाचार

बैतूल कृषि उपज मंडी में मक्का की रही अधिक आवक, आज के भाव दर


कृषि मंडी फाइल फोटो

मुलतापी समाचार

अनाज के भाव दर आज के

बैतूल। कृषि उपज मंडी में उपज की आवक में खासी कमी आई है। शुक्रवार को सभी तरह की उपज की मात्र 6512 बोरे आवक हुई। आज सोयाबीन 749 बोरे आई, जिसका न्यूनतम दाम 3001 और उच्चतम दाम 4101 रुपए रहा। चने की आवक 45 बोरे हुई जिसके दाम 3200 और 3586 रुपए रहे। थोक में आने वाली मक्का की आज मात्र 4948 बोरे आवक हुई। इसके दाम 1402 से 1752 रुपए रहे। गेहूं 761 बोरे आया और इसके दाम 2010 से 2190 रुपए रहे।

यह जानकारी मुलतापी समाचार के संवाददाता अखिलेश पवार बैतूल न्यूज़ नेटवर्क से प्राप्त हुई है।

वनवृत्त बैतूल में समस्या निवारण शिविर 07 फरवरी को


बैतूल: मण्डलाधिकारी पश्चिम बैतूल सामान्य वनमंडल श्री मयंक चांदीवाल से प्राप्त जानकारी के अनुसार वनवृत्त बैतूल के वन कर्मचारियों की, उनकी सेवा संबंधित शिकायतों/समस्याओं के निराकरण के लिए अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (संयुक्त वन प्रबंधन) मप्र भोपाल की अध्यक्षता में समस्या निवारण शिविर 07 फरवरी 2020 को प्रात: 11 बजे से आयोजित किया जाएगा।

श्री चांदीवाल ने वनवृत्त के समस्त वन कर्मचारियों से उनकी सेवा संबंधित समस्या का लिखित आवेदन 07 फरवरी को प्रात: 11 बजे तक वृत्त कार्यालय बैतूल में प्रस्तुत करने की अपेक्षा की है। उन्होंने बताया कि जिन कर्मचारियों की समस्या जिला स्तर की होगी, उनका निराकरण वृत्त/वनमंडल कार्यालय स्तर से तथा जो समस्या मुख्यालय स्तर की होगी, उसका निराकरण मुख्यालय स्तर से किया जायेगा।

शिवा पवार मुलतापी समाचार

नेताओं को हमारे यहां का कल्चर नहीं मालूम :शास्त्री


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

हटा: चंडी जी मंदिर हटा में चल रही श्री देवी भागवत कथा के छठवें दिन पंडित नरेंद्र शास्त्री महाराज ने जगदंबा की महिमा सुनाते हुए कहा कि मां सृष्टि की जननी है! मां पहली गुरु है जो हमें सब कुछ सिखाती हैं! उन्होंने कहा पत्नी वह है जो हमें पतन और पाप से बचाती है!

रावण और बाली दोनों ने अपनी पत्नियों की बात नहीं मानी तो उनका नाश हो गया! ग्रहणी ही घर को मंदिर ,स्वर्ग और बैकुंठ बनाती है ! यदि नारी बिगड़ गई तो विनाश संभव है! धर्मपति पत्नी वह है जो अपने पति को धर्म की ओर ले जाए! आजकल धर्मपत्नी नहीं है वाइफ बन गई है!

उन्होंने कहा हमारे दुख कारण हम स्वयं हैं! आज हमारे देश के ग्रंथों पर विदेशी यूनिवर्सिटी रिसर्च कर रही है! जो हमारे संत हजारों वर्षों पहले लिख गए थे आज वह बातें सत्य हो रही हैं! लेकिन फिर भी हमारे देश के लोग पाश्चात्य संस्कृति अपना रहे हैं! उन्होंने कहा हिंदुस्तान में रहकर बच्ची हिंदी नहीं जानते! हमारे देश के नेताओं को हमारे यहां का कल्चर नहीं मालूम! हमारे यहां बिना पढ़े लिखे मंत्री बन जाते हैं !

स्वच्छता रथ द्वारा विद्यार्थीयो को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया


शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैतूल

बैतूल: नगर पालिका परिषद द्वारा आज दिनांक 05/02/2020 को मेरा घर है मेरा मध्यप्रदेश में स्वच्छता रथ द्वारा शासकीय महारानी लक्ष्मी बाई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैतूल,शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गंज बैतूल एव शासकीय सुभाष उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैतूल में विद्यार्थियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया गया।

शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैतूल
शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गंज बैतूल
शासकीय सुभाष उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैतूल

शिवा पवार मुलतापी समाचार

बालकों के संरक्षण अधिनियम पर जिला स्तरीय कार्यशाला आयोजित


बैतूल : जिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बुधवार 05 फरवरी को समेकित बाल संरक्षण योजनांतर्गत लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु जिला स्तरीय कार्यशाला होटल आईसी-इन में आयोजित की गई। कार्यशाला की अध्यक्षता विधायक बैतूल श्री निलय डागा ने की। कार्यशाला में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एमएल त्यागी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुश्री श्रद्धा जोशी, राज्य बाल संरक्षण आयोग के पूर्व सदस्य श्री विभांशु जोशी, जिला कार्यक्रम अधिकारी व जिला बाल संरक्षण अधिकारी श्री बीएल विश्नोई सहित विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

कार्यशाला में विधायक श्री निलय डागा द्वारा बालकों को गुड-टच एवं बेड-टच के बारे में जागरूक किए जाने हेतु अधिनियम का व्यापक प्रचार-प्रसार किए जाने की दृष्टि से जिले के समस्त विद्यालयों में विशेष अभियान चलाये जाने का सुझाव दिया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुश्री श्रद्धा जोशी ने पॉक्सो एक्ट के क्रियान्वयन में आने वाली चुनौतियों से निपटने के संबंध में पुलिस विभाग द्वारा इस अधिनियम को पूर्ण संवेदनशीलता के साथ लागू करने एवं महिला बाल विकास विभाग के साथ समन्वय स्थापित करते हुए प्राप्त सूचना एवं प्रकरणों पर त्वरित कार्रवाई करने एवं अन्य जानकारी दी। सीईओ जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी द्वारा बालकों के साथ होने वाले विभिन्न अपराधों के प्रति जागरूकता के संबंध में जानकारी दी गई।

कार्यशाला में जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री विश्नोई द्वारा लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 के उद्देश्य, महत्व एवं अधिनियम की आवश्यकता पर विस्तृत जानकारी दी गई। इस दौरान बाल कल्याण समिति बैतूल, किशोर न्याय बोर्ड बैतूल के सदस्य, पुलिस विभाग, महिला बाल विकास, शिक्षा, चिकित्सा विभाग, अशासकीय संस्था, जिला बाल संरक्षण ईकाई, चाइल्ड लाइन के सदस्यों को मास्टर ट्रेनर एवं विषय विशेषज्ञ श्री विभांशु जोशी द्वारा अधिनियम के प्रावधानों एवं उसके क्रियान्वयन, प्रक्रिया के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यशाला का संचालन वन स्टॉप सेंटर बैतूल की प्रशासक सुश्री अनामिका तिवारी द्वारा किया गया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बीएल विश्नोई ने बताया कि विधायक श्री निलय डागा द्वारा दिये गये सुझाव को तत्काल क्रियान्वित करते हुए जिले में संचालित सतपुड़ा वैली पब्लिक स्कूल बैतूल में जागरूकता अभियान का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम में राज्य बाल संरक्षण आयोग के पूर्व सदस्य श्री विभांशु जोशी द्वारा लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 तथा बच्चों को गुड-टच एवं बेड-टच के बारे में जानकारी दी गई। स्कूल की डायरेक्टर श्रीमती दीपाली निलय डागा द्वारा बच्चों से अपील की गई कि कभी भी उक्त संबंध में बिना किसी भय के अपने शिक्षक, अभिभावक को तत्काल सूचित करते हुए स्वयं के जागरूक होने का परिचय दें।

शिवा पवार मुलतापी समाचार

मेनिट में रक्तदान शिविर का आयोजन में 121 यूनिट रिकार्ड किया कायम


शरद सिंह कुमरे समाजसेवक ओर उनकी टीम रक्त दान करते हुए मेनिट परिसर भोपाल

आज तक 600 से अधिक रक्तदान औऱ जागरूकता शिविरों का आयोजन

121 छात्रों ने रक्तदान किया जिसमें छात्राओं ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया

सभी साथियों के सहयोग से मेनिट में रक्तदान शिविर का आयोजन बहुत अच्छे से हुआ।छात्रों को क्लीन, ग्रीन,इकोफ्रेंडली, सेफ और आदर्श संस्थान बनाने के लिए सुझाव दिया गया।सभी छात्रों ने भी सकारात्मक सहयोग देने के लिए सहमति जताई।121 छात्रों ने रक्तदान किया जिसमें छात्राओं ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।सभी साधुवाद के पात्र हैं।


सभी सदस्यों को सूचित किया जाता है कि किसी भी जरूरत मंद को खून की आवश्यकता हो तो पर्यावरण बचाओ आंदोलन निःस्वार्थ सहयोग करेगा।पराक्रम जनसेवी संस्थान ने आज तक 600 से अधिक रक्तदान औऱ जागरूकता शिविरों का आयोजन कर चुका है इसलिए हमारे अनुशंसा से जरूरत पड़ने पर किसी भी व्यक्ति को ब्लड बैंक से प्राथमिकता से सहयोग किया जाता है।चूंकि पर्यावरण बचाओ आंदोलन मानवता और पृथ्वी के पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य करने के बड़े उद्देश्य के लिए आगे बढ़ रहा है इसलिए इसके माध्यम से पीड़ित मानवता के अलावा पृथ्वी के अन्य जीवों के हित को भी ध्यान में रखकर कार्य किया जाएगा।सभी कार्य पर्यावरण बचाओ आंदोलन के माध्यम से ही किये जाएंगे।
जय भारत ,जय पर्यावरण
शरद सिंह कुमरे
9303119212,9406533671

इंदौर के युवक को मृत्यु का भय दिखाकर सोने का हार ठगने वाले तांत्रिक को उज्जैन पुलिस ने गिरफ्तार किया


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

इंदौर : इंदौर के बिचोली मरदाना के अजय चौहान और उसकी मां को घर के सदस्य की मृत्यु का भय दिखाकर 7 तोला वजनी सोने का हार ठगने वाले तांत्रिक को उज्जैन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया! आरोपी के साथ उसके बेटे और अन्य साथियों को भी पकड़ा है ! आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह कई साल से लोगों को अंधविश्वास के नाम पर डराता आ रहा है ! ठगी के पैसों से इंदौर में तीन मकान एवं चार पांच दुकानें भी किराए पर दे रखी हैं !

नानाखेड़ा थाने पर सीएसपी ऋतु केवरे और टीआई मनीष मिश्र ने तांत्रिक भैरूनाथ और उसके बेटे अजय कालबेलिया निवासी कुंदन नगर इंदौर और साथी विजय नाथ कालबेलिया निवासी सादलपुर धार के बारे में खुलासा किया! उन्होंने बताया कि तांत्रिक ने फरियादी के परिवार को पूजन के लिए बुलाया था! और फिर साथियों के माध्यम से 7 तोले का हार लेकर फरार हो गया था! तीनों आरोपियों से हार भी जप्त कर लिया गया!

मनोज कुमार अग्रवाल मुलतापी समाचार

नोवल कोरोना वायरस (एन-कॉव) की रोकथाम एवं नियंत्रण


बैतूल:मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.सी. चौरसिया ने बताया कि शासन द्वारा दिये गये निर्देशानुसार चीन के हुबई राज्य के वुहान शहर में एक नये प्रकार के कोरोना वायरस से निमोनिया के प्रकरण पाये गये हैं। कोरोना वायरस से सामान्य सर्दी-खांसी, गंभीर श्वसन संक्रमण जैसी बीमारियां होती है। इसमें मनुष्य से मनुष्य में संक्रमण फैलने की संभावना होती हैं। इस संबंध में वरिष्ठ कार्यालय से चिकित्सकों तथा स्वास्थ्य कर्मियों की जागरूकता हेतु एडवाइजरी जारी की गई है।

डॉ. जी.सी. चौरसिया ने इस संबंध में जिला अस्पताल एवं समस्त विकासखण्डों के खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश जारी किये हैं। डॉ. चौरसिया ने यह भी बताया कि कोरोना वायरस से चिन्हित एक भी मरीज अभी जिले में नहीं पाया गया है। अत: सजग रहें, किन्तु अनावश्यक भयभीत न हों तथा अफवाहों पर ध्यान न दें।

बीमारी के लक्षण

गंभीर श्वसन संक्रमण से पीडि़त भर्ती मरीज जिसे खांसी व बुखार की तकलीफ रही है, तथा जिसका कारण स्पष्ट न हो रहा हो के लक्षणों में तेज बुखार (38 डिग्री सेल्सियस से अधिक), खांसी, गले में खराश, सांस फूलना आदि लक्षण प्रकट होने के 14 दिन के भीतर चीन के हुबई राज्य के वुहान शहर की यात्रा की हो, कोई स्वास्थ्य कर्मी जो गंभीर श्वसन के मरीज के संक्रमण में आया हो चाहे उसका यात्रा इतिहास न हो, मरीज जिसमें असामान्य तथा असंभावित लक्षण प्रकट हो रहे हो व संभव इंलाज के बाद भी हालत में सुधार नहीं हो रहा हो व कारण स्पष्ट न हो पा रहा हो तथा जिसका यात्रा इतिहास भी न हो। वह व्यक्ति जिसमें गंभीर श्वसन संक्रमण के लक्षण प्रकट हो तथा लक्षण प्रकट होने के भीतर वह किसी कन्फर्म केस के संपर्क में आया हो, किसी प्रकरण को रिपोर्ट करने वाले अस्पताल गया हो किसी रिपोर्ट करने वाले देश से आये हुए जानवर के सीधे संपर्क में आया हो।

सावधानियां

डॉ. चौरसिया ने कहा कि संक्रमण में सावधानी रखें। खांसते-छींकते समय मुंह पर रूमाल या कपड़ा लगायें, हाथ को आंख, नाक व मुंह में न लगाऐं, अनावश्यक किसी से हाथ न मिलाऐं एवं भीड़ वाले स्थानों पर अधिक समय तक न रूकें, संभावित संक्रमित रोगी के संपर्क में न आएं , गले न लगाएं ,हाथों को साबुन से स्वच्छ पानी से धोएं , अधिक मात्रा में तरल पदार्थ एवं पौष्टिक आहार का सेवन करें , मास्क का उपयोग करें तथा किसी भी प्रकार के लक्षण दिखाई देने या संक्रमण की स्थिति में तत्काल जिला चिकित्सालय या नजदीकी स्वास्थ्य संस्थाओं में संपर्क करें। सावधानी एवं सतर्कता से बचाव आसान हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु प्रदेश का नोवल कोरोना वायरस कंट्रोल रूम, दूरभाष टोल फ्री नबंर 104 , प्रतिदिन प्रात: 8 बजे से साय: काल 8 बजे तक, कमला नेहरू अस्पताल, हमीदिया अस्पताल के पास, भोपाल में स्थापित किया गया है।

शिवा पवार मुलतापी समाचार