जय किसान फसल ऋण माफी


जय किसान फसल ऋण माफी योजनांतर्गत मासोद में 13 फरवरी एवं चिखलीकलां में 14 फरवरी को किसान सम्मेलन का आयोजन

उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री केपी भगत से प्राप्त जानकारी के अनुसार जय किसान फसल ऋण माफी योजनांतर्गत विकासखण्ड प्रभापट्टन के ग्राम मासोद में 13 फरवरी एवं विकासखण्ड मुलताई के ग्राम चिखलीकला में 14 फरवरी को किसान सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। सम्मेलन में प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे द्वारा किसानों को फसल कर्ज माफी प्रमाण पत्र एवं किसान सम्मान पत्र वितरित किए जाएंगे। इन सम्मेलनों में जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के प्रशासक श्री अरूण गोठी, जनपद अध्यक्ष प्रभात पट्टन एवं मुलताई तथा सभापति कृषि समिति प्रभात पट्टन एवं मुलताई द्वारा भी किसानों को प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे।

श्री भगत ने बताया कि जय किसान फसल ऋण माफी योजनान्तर्गत द्वितीय चरण में तहसील मुलताई के सहकारी बैंकों के 2155 किसानों के 13.558 करोड़ एवं राष्ट्रीयकृत बैंकों के 1206 किसानों के 8.947 करोड़ कुल 3361 किसानों के 22.506 करोड़ का ऋण माफ किया गया है।

बैतूल को मिली इंडियन कॉफी हाउस की सौगात


पीएचई मंत्री श्री सुखदेव पांसे, सांसद श्री उइके, विधायक श्री डागा एवं श्री सिरसाम ने किया शुभारंभ

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे सहित सांसद श्री डीडी उइके, बैतूल विधायक श्री निलय डागा एवं भैंसदेही विधायक श्री धरमूसिंह सिरसाम ने बुधवार को जिले की पुलिस लाइन में इंडियन कॉफी हाउस का शुभारंभ किया। इस अवसर पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के प्रशासक श्री अरूण गोठी, जिला योजना समिति सदस्य एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री सुनील शर्मा सहित कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक, पुलिस अधीक्षक श्री कार्तिकेयन के. एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक व पुलिस स्टाफ मौजूद थे।

उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री पांसे ने कहा कि बैतूल शहर को एक ख्यातिपूर्ण नाम इंडियन कॉफी हाउस की सौगात मिली है। यह प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के निर्देशानुसार संभव हुआ है। यहां लोगों को स्वच्छ एवं स्वास्थ्यवर्धक भोजन एवं नाश्ता उपलब्ध हो सकेगा, यह बैतूलवासियों के लिए एक अच्छा विश्वसनीय स्थान मिला है। उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक श्री कार्तिकेयन के. ने अपने कार्यकाल में पुलिस वेलफेयर के लिए अच्छे कार्य किए हैं। श्री पांसे पुलिस ग्राउण्ड में वॉकिंग ट्रेक निर्माण हेतु एक लाख रूपए की राशि प्रदान करने की भी इस दौरान घोषणा की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद श्री डीडी उइके ने कहा कि यह बैतूल के लिए बड़ी सौगात है कि यहां लोगों को अच्छा भोजन एवं नाश्ता उपलब्ध हो सकेगा। विधायक श्री निलय डागा एवं श्री धरमूसिंह सिरसाम ने इसे बैतूल के लिए बड़ी उपलब्धि बताया। विधायक श्री निलय डागा ने पुलिस ग्राउण्ड में वॉकिंग ट्रेक निर्माण के लिए आवश्यक सहयोग राशि प्रदान करने की भी घोषणा की। इसके पूर्व द इंडियन कॉफी वर्कर्स को-ऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड के अध्यक्ष श्री ओ.के. राजगोपालन ने कहा कि इंडियन कॉफी हाउस सभी जिलेवासियों के लिए अपनी सेवाएं देगा। यहां पुलिसकर्मियों के लिए 30 प्रतिशत् डिस्काउंट दिया जाएगा। कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक ने इस दौरान समस्त शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों से भी अपने परिवार सहित इंडियन कॉफी हाउस की सेवाएं लेने का आह्वान किया। पुलिस अधीक्षक श्री कार्तिकेयन के. ने इस दौरान कहा कि उनका कार्यकाल में पुलिस वेलफेयर के लिए बेहतर सेवाएं देने के लिए प्रयास किए गए हैं। कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक श्री कार्तिकेयन के. का स्थानांतरण होने पर उन्हें भावभीनी बिदाई भी दी गई।

इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री साकेत मालवीय, वन मंडलाधिकारी श्री पुनीत गोयल, सीईओ जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती श्रद्धा जोशी सहित पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

मुलतापी समाचार

गौवंश तस्करों के तार मप्र से महाराष्ट्र तक


फोटो मुलतापी समाचार के सौजन्य से – गौवंश तस्कर

जिलें की मुलताई तहसील के ग्राम हेटी में एक बार फिर गौ तस्करी का मामला सामने आया है, मामला उजागर करने में गांव के युवाओं की पहल रंग लाई है। गांव के जागरूक युवा चंदू सरोदे व साथीयों के द्वारा गौवंश तस्करी करते 2 तस्करों को धर दबोचा जो गौवंश को निर्दयतापूर्वक मारते पीटते ले जा रहे थे। तस्करों से पूछताछ की तो संदेहजनक उत्तर दिया गया, उनके द्वारा बताया गया कि समरतढाना गांव से इन्हें पट्टन के पास घाना गांव ले जाया जा रहा है।

चौकाने वाली बात तो यह है कि वहाँ से इन गौवंशों को गाड़ियों में भरकर जंगल के रास्ते से महाराष्ट्र के कत्लखाने में ले जाया जाता है जहाँ उन्हें मारकर उनका माँस बेचा जाता है।

मुलतापी समाचार

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने राइट टू वाटर पर आयोजित राष्ट्रीय जल सम्मेलन का शुभारंभ किया


मेरा स्वप्न है हर व्यक्ति को शुद्ध जल घर पर मिले

पानी की उपलब्धता समाज और सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि पानी की उपलब्धता समाज और सरकार के सामने आने वाले समय में सबसे बड़ी चुनौती है। सब मिलकर ही इसका मुकाबला कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि मेरा स्वप्न है कि हर व्यक्ति को शुद्ध जल उसके घर पर मिले यह स्वप्न सबका हो तो जरूर इसमें सफल होंगे श्री नाथ मंगलवार को मिंटो हॉल में जलाधिकार कानून को लेकर मध्यप्रदेश सरकार और जल-जन जोड़ो आंदोलन द्वारा संयुक्त रूप रूप से आयोजित राष्ट्रीय जल सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस अधिवेशन में 25 राज्य के जल और पर्यावरण से जुड़े समाजसेवी, विशेषज्ञ भाग ले रहे हैं। अधिवेशन में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रस्तावित राइट टू वाटर विषय पर विमर्श होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सोच के अभाव, लापरवाही के कारण जल संकट बढ़ रहा है जो आगे चलकर और भी गंभीर होने वाला है। श्री नाथ ने कहा कि 1982 में हुए पृथ्वी सम्मेलन में मैंने इस मुद्दे को अंतर्राष्ट्रीय मंच पर उठाया था कि पर्यावरण, जंगल तभी तक सुरक्षित और जीवित है जब तक हमारे पास पानी है। इसलिए पानी बचाने, जल स्त्रोतों को संरक्षित करने का काम सबसे पहले करना होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि आज हमारे 65 बाँध, 165 रिजर्व वायर सूखे की चपट में हैं। स्थानीय निकाय नागरिकों को 2 से 4 दिन में पानी उपलब्ध करवा पा रहे हैं। भविष्य में यह संकट गहराएगा। इसकी चिंता हमें आज से करना होगी। उन्होंने कहा कि हमारे पर्यावरण विद और जल संरक्षण के क्षेत्र में समर्पित भाव से काम करने वाले स्वयंसेवियों को इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाना होगी। उन्होंने कहा कि हम लोगों ने मिलकर इसकी आज से चिंता नहीं की तो आने वाली पीढ़ी हमें माफ नहीं करेगी।

श्री नाथ ने कहा कि राइट टू वाटर कानून लाने का हमारा मकसद है कि जहाँ पानी को बचाने के प्रति लोगों में जागरूकता है आए और वे सरकार के साथ संरक्षण के लिए सहभागी बनें। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों से मेरी अपेक्षा है कि वे इस कानून को व्यवहारिक और प्रभावी बनाने अपने महत्वपूर्ण सुझाव दें। भविष्य में भी लोगों की पानी की जरूरत पूरी होती रहे इस पर विचार कर ऐसे उपाय सुझाए जिस पर बेहतर ढंग से अमल हो सके। श्री नाथ ने कहा कि आज जल संरक्षण और भू-जल स्तर में वृद्धि करने की कई नई तकनीक आ गई हैं। इन आधुनिक तकनीकों को भी हम जाने और इनका उपयोग जल को बचाने से लेकर उसे आम आदमी तक पहुँचाने के लिए करें।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के नेतृत्व में यह सरकार पर्याप्त पानी, पहुँच में पानी और पीने योग्य पानी का कानूनी अधिकार देने जा रही है। ऐसा अधिकार देने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य होगा।

श्री पांसे ने कहा कि वर्षा की एक-एक बूंद को सहेजने से लेकर उसे घर तक पहुँचाने के प्रत्येक पहलू का समावेश जल अधिकार कानून में रहेगा। पानी की रिसाक्लिंग, वाटर रिचार्जिंग उसका वितरण एवं उपयोग भी इस कानून के दायरे में आयेगा। वर्तमान में प्रदेश की 72 प्रतिशत आबादी, 55000 गाँवों की 01 लाख 28 हजार बसाहटों में निवास करती है। गाँवों की 98 प्रतिशत पेयजल व्यवस्था भू-जल पर आधारित है। इसीलिये गिरता हुआ भू-जल स्तर प्रतिवर्ष जल संकट को बढ़ा रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप आने वाले पाँच सालों में हम प्रदेश के प्रत्येक घर में नल के माध्यम से 55 लीटर प्रति व्यक्ति शुद्ध एवं स्वच्छ जल पहुँचायें। श्री पांसे ने कहा कि मुझे विश्वास है कि आज राइट टू वाटर विषय पर हो रहे मंथन से निश्चित ही बेहतर निष्कर्ष निकलेंगे।

जल पुरुष मैग्सेसे पुरस्कार प्राप्त प्रो. राजेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ को बधाई दी कि उन्होंने जल अधिकार कानून बनाने की पहल कर पूरे देश को यह सोचने पर मजबूर किया है कि वे जल संरक्षण और इसके बेहतर उपयोग के लिए काम करें। सभी राज्य सरकारों को मध्यप्रदेश की इस पहल का अनुसरण करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जलाधिकार कानून बनाने की पहल करके मुख्यमंत्री ने समाज में विश्वास पैदाकर उनके अंदर मालिकाना हक का भाव जाग्रत किया है कि जल संसाधन हमारा है और हमारे लिए है। यह एक अवसर है जब हम सब मिलकर जल का उपयोग अनुशासित होकर करें।
इस मौके पर मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहन्ती, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री संजय शुक्ला एवं देश भर से आए जल एवं पर्यावरण विशेषज्ञ उपस्थित थे।

राष्ट्रीय जल सम्मेलन में मुख्यमंत्री का राइट टू हेल्थ कानून बनाने पर अभिनंदन

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ का राष्ट्रीय जल अधिवेशन में तरुण भारत संघ की ओर से राइट टू हेल्थ कानून बनाने की पहल करने और मध्यप्रदेश को देश का पहला राज्य बनाने के लिए अभिनंदन पत्र भेंट किया।

अभिनंदन पत्र में कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ की दूरदर्शी सोच के कारण 2020 में जल सुरक्षा अधिनियम बनाने की पहल की है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पर्यावरण संरक्षण को लेकर उनके विचारों पर अमल की दिशा में एक अद्भुत कदम है। देश के वन एवं पर्यावरण मंत्री के रूप में उन्होंने अरावली पर्वत को अवैध अतिक्रमण और खनन से रोकने के लिए जो अधिसूचना जारी की थी वह पर्यावरण के प्रति उनकी गहरी निष्ठा को अभिव्यक्त करता है।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

दिल्ली का दंगल हुआ आप का


चुनाव आयोग ने 70 सीटों पर परिणाम घोषित किए, AAP 62 पर जीती, बीजेपी को सिर्फ 08 ।

दिल्ली विधानसभा चुनाव का परिणाम

दिल्ली की विधानसभा में पहली बार 5 मुस्लिम और 8 महिला चेहरे दिखाई देंगे। अब तक के 8 विधानसभा चुनाव में यह तादाद सबसे ज्यादा है। 2015 में बनी पिछली विधानसभा में 6 महिला और 4 मुस्लिम चेहरे थे। मुस्लिम चेहरों में बल्लीमारान से इमरान हुसैन, मटिया महल से शोएब इकबाल, मुस्तफाबाद से हाजी यूनुस, ओखला से अमानतुल्लाह और सीलमपुर से अब्दुल रहमान इस बार विधानसभा में दिखाई देंगे। वहीं राजकुमारी ढिल्लो, आतिशी, राखी बिड़लान, भावना गौड़, प्रमिला टोकस, धनवती चंदेला, प्रीति तोमर और वंदना कुमारी महिला विधायक होंगी।

पीएम मोदी ने दी बधाई, केजरीवाल बोले- शुक्रिया सर..मिलकर करेंगे काम – दिल्ली विधानसभा चुनाव में जबरदस्त जीत हासिल करने के बाद अरविंद केजरीवाल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बधाई दी है। जवाब में केजरीवाल ने भी उन्हें शुक्रिया कहते हुए दिल्ली को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने के लिए उनसे सहयोग की उम्मीद जताई। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘बहुत-बहुत धन्यवाद सर। हमारे कैपिटल सिटी को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने के लिए मैं केंद्र के साथ मिलकर काम करने की उम्मीद करता हूं।

राहुल ने केजरीवाल को दी बधाई – कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की जीत पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बधाई दी है। राहुल ने ट्वीट कर कहा, ‘केजरीवाल और आप को दिल्ली विधानसभा चुनाव जीतने पर बधाई और मेरी शुभकामनाएं।’

जीत के बाद केजरीवाल पहुंचे हनुमान के द्वार – दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने के बाद आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल अपनी पत्नी सुनीता, मनीष सिसोदिया समेत पार्टी के कई दिग्गज नेताओं व सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ कनॉट प्लेस के हनुमान मंदिर पहुंचे। यहां पहुंच कर उन्होंने मंदिर में पूजा-अर्चना कर मत्था टेका।

मुलतापी समाचार