भाजपा पर लगाया सरकार को अस्थिर करने का लगाया आरोप-डॉ सुनीलम


पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम

मुलताई के पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम ने मध्यप्रदेश सरकार को भाजपा द्वारा अस्थिर किये जाने पर टिप्पणी करते हुए कहा कि सिंधिया परिवार ने परिवार के पुराने इतिहास को दोहराने का काम किया है। उन्होंने कहा कि चुनी हुई सरकार को गिराना, किसी भी पार्टी को तोड़ना, विधायकों की खरीद-फरोख्त करना लोकतंत्र की हत्या है। डॉ सुनीलम ने कहा कि ऐसी स्थिति में भाजपा को सरकार बनाने की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में जब भी चुनाव होंगे। मध्यप्रदेश की जनता भाजपा के इन कारनामों का मुंह तोड़ जबाब देगी।

इस्तीफों और सदस्यता का दौर जारी


=ताजा खबर=
महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया।

इस्तीफा की कॉपी

मध्य प्रदेश की सरकार में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह समर्पित सभी 20 मंत्रियों ने दिया इस्तीफा।

आज शाम 6 बजे बीजेपी में शामिल हो सकते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया

सिंधिया समर्पित विधायक

1. महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा। 2. आज ही जॉइन कर सकते हैं बीजेपी। 3. पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कांग्रेस ने महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी से निकाला। 4. बेंगलुरु पहुंचे सभी 19 विधायकों ने ई-मेल के जरिए स्पीकर को इस्तीफा सौंपा। 5.  मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव अक्षय सक्सेना ने सिंधिया समर्थन में आस्था रखते हुए अपने सभी पदों से दिया इस्तीफा।

सिंधिया समर्थक 19 विधायकों ने दिया इस्तीफा देने वालों में 6 मंत्री भी शामिल

इमरती देवी (महिला और बाल विकास मंत्री), प्रद्युम्न सिंह तोमर (खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री), प्रभु राम चौधरी (शिक्षा मंत्री), गोविंद सिंह राजपूत (परिवहन मंत्री), तुलसी सिलावट (स्वास्थ्य मंत्री), महेंद्र सिंह सिसोदिया (मंत्री), भूपेश भदौरिया मेहगांव विधायक, रघुराज सिंह कंसाना मुरैना विधायक, जसपाल सिंह जग्गी अशोक नगर विधायक, बृजेंद्र सिंह यादव मुंगावली विधायक, रक्षा संतराम सिरोलिया भांडेर विधायक, विधायक हरदीप डंग, विधायक मुन्नालाल गोयल, विधायक सुरेश धाकड़ शिवपुरी, विधायक गिरीराज दंडोतिया, विधायक कमलेश जाटव, विधायक जसवंत जाटव।

किसने क्या कहा

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि विधायकों को तोड़ना और सरकार गिराना बीजेपी की नीति है,मध्य प्रदेश में सरकार अब नहीं बचेगी। कांग्रेस विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा कि कांग्रेस की सरकार रहेगी। कांग्रेस विधायक तरुण भनोट ने कहा कि हमारे पास पूरे नंबर है समय आने पर साबित करेंगे।। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा “हैप्पी होली”। कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने कहा हमारे पास नंबर नहीं है हम विपक्ष में बैठेंगे,अगले चुनाव में फिर जीत कर आएंगे। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जनादेश का अपमान किया और अपने निजी स्वार्थ के लिए पार्टी छोड़ी।।

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सिंधिया के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस का आंतरिक मामला है। बीजेपी नेता यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की घर वापसी हुई है।

बीजेपी ज्वाईन, इस्तीफों का दौर जारी

अनूपपुर के कांग्रेस विधायक बिसाहूलाल सिंह ने ज्वाइन की बीजेपी। इंदौर शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद टंडन, इंदौर के पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल को लिखी चिट्ठी सिंधिया समर्पित छह मंत्रियों को मंत्रिमंडल से हटाने की मांग रखी मांग। बेंगलुरु की होटल में रुके सभी विधायकों ने बेंगलुरु डीजीपी से सुरक्षा की मांग की है।

भगवान जागेश्वर नाथ महादेव के साथ श्रद्धालु आज खेलेंगे फूलों की होली


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

बुंदेलखंड के प्रसिद्ध तीर्थ क्षेत्र बांदकपुर में परमा पर जागेश्वर नाथ महादेव के संग फूलों की होली खेलने बड़ी संख्या में श्रद्धालु बांदकपुर धाम पहुंचने लगे हैं! मंदिर में रंगोत्सव का शुभारंभ होलिका दहन की रात्रि से शुरू हो जाता है! परमा को होली का उत्सव संध्या काल से देर रात्रि तक मनाया जाता है! जिसमें भक्तों द्वारा भगवान के दर्शन पूजन के साथ साथ अनोखे अंदाज में फूलों की होली खेली जाती है!

मंदिर ट्रस्ट के प्रबंधक रामकृपाल पाठक ने बताया कि देव श्री जागेश्वर नाथ धाम में शिव भक्तों का लगातार आना जाना रहता है! जागेश्वर नाथ धाम में फूलों की होली के लिए कई प्रकार के फूल जैसे, गुलाब, गेंदा, नौरंगा, बेलपत्र अकौवा टेसू के फूल एकत्रित करने के बाद साईं काल भगवान के साथ सभी श्रद्धालु होली खेलते हैं! साथ ही भगवान को गुलाल अबीर से तिलक लगाने के बाद श्रद्धालु एक दूसरे को तिलक लगाते हैं! यह पर्व आज शाम 5:00 बजे से शुरू होगा!

मुलतापी समाचार

मप्र की राजनीति में आया भूचाल


भोपाल — मध्यप्रदेश की राजनीति में कल बड़ा दिन साबित हुआ कमलनाथ सरकार के 20 मत्रियों ने देर शाम हुई बैठके के बाद इस्तीफे सौप दिये हैं। बताया गया की मंगलवार को मंत्रिमंडल का फिर से गठन होगा। खबर ये भी है की ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट के मंत्रियो ने इस्तीफा नहीं दिया है। इसके बाद सियासी भूचाल चरम पर है देर शाम कमलनाथ सरकार के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा मीडिया के सामने आये और उन्होंने कहा की सरकार को कोई खतरा नहीं है बल्कि सरकार और मजबूती के साथ खड़ी होगी।मुख्यमंत्री कमलनाथ को प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों ने अपने इस्तीफे  सौंप दिए हैं। ये सभी कमलनाथ समर्थक और अन्‍य मंत्री हैं जबकि सिंधिया समर्थक 8 मंत्री बैठक में मौजूद नहीं थे।

मंत्री सज्‍जन सिंह वर्मा ने बताया कि 20 मंत्रियों ने अपने इस्‍तीफे सीएम को सौप दिए है और अब वे अपने अगले निर्णय के लिए स्वतंत्र है। वर्मा ने कहा कि चार बार फ्लोर टेस्‍ट में भाजपा मुंह की खा चुकी है। उन्‍होंने कहा कि सिंधिया कहीं नहीं गए। यह सरकार पूरे पांच साल चलेगी। आज शाम 5 बजे विधायक दल की बैठक बुलाई गई है।