बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़


अंधेरे में पड़ने को मजबूर बच्चे।

मुलताई – जहाँ एक ओर मध्यप्रदेश शिक्षा विभाग द्वारा बोर्ड कक्षा में पढने वाले बच्चों की परीक्षा ले रहा है, वही दूसरी ओर बिजली विभाग आँख-मिचौली खेलने में व्यस्त होकर परीक्षार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने में कोई कसर नही रख रहा है।

गांव के बच्‍चे अंधेरे में पढने को मजबूर है बाेर्ड परीक्षा चल रही है ब‍िजली विभाग द्वारा लापरवाही बरती जा रही है।

मामला बैतूल जिलें की मुलताई तहसील के आसपास के गांवों का है जहाँ 12 मार्च कल कक्षा दसवीं के गणित विषय का पेपर होना है वही 11 मार्च की रात में बच्चों के साथ बिजली आँख-मिचौली का खेल खेल रही है और करीब एक से देढ़ घंटे तक लगातार बिजली बंद रही। बिजली का बार बार आना जाना बच्चों की पढ़ाई में बाधा उत्पन्न कर रहा है। और बच्चों को अपनी पढ़ाई दिये, मोमबत्ती, टार्च में करनी पड़ रही है। जिससे बच्चों को पढ़ाई करने में भी बहुत तकलीफों का सामना करना पड़ता है।

मुलतापी समाचार बैतूल

MP ज्योतिरादित्य सिंधिया- भाजपा में शामिल होते ही राज्यसभा सीट का तौफा


मुलतापी समाचार

भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने सिंधिया का भारतीय जनता पार्टी में प्रवेश पर स्‍वागत करते हुए कहा कि सिंधिया अपने परिवार में शामिल हुए हैं।

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी ने होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी हैं. आज दोपहर भाजपा में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्यप्रदेश से उम्मीदवार बनाया हैं. इसी के साथ उन्होने केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले को महाराष्ट्र से उम्मीदवार बनाया हैं. भाजपा ने आठ राज्यों के नौ सीटो पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. वहीं दो सीट सहयोगियों के किए छोड़ दिया हैं. 

ज्योतिरादित्य सिंधिया की भाजपा में एंट्री के साथ ही पार्टी में नाराजगी की बात सामने आई है. मध्य प्रदेश बीजेपी के नेता प्रभात झा ने इस बारे में पार्टी आलाकमान को बताया है.

भाजपा द्वारा जारी किए गए सूचि के अनुसार

मध्यप्रदेश:- ज्योतिरादित्य सिंधिया 

राजस्थान:- राजेंद्र गहलोत 

गुजरात:- अभय भरद्वाज, श्रीमती रामिला बेन बारा 

असम:- भुबनेश्वर कलिता, बुस्वजित डाइमरी

महाराष्ट्र:- उदयन राजे भोसले, रामदास अठावले 

झारखंड:- दीपक प्रकाश 

मणिपुर:- लिएसेंबा महाराज 

बिहार:- विवेक ठाकुर

Delhi, Bhopal, MP, Jyotiraditya Scindia : कांग्रेस से इस्‍तीफा देने के बाद उम्‍मीद के अनुसार ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया मंगलवार को विधिवत भारतीय जनपा पार्टी में श‍ामिल हो गए।

सिंधिया बोले कि आज मन व्यथित है और दुखी भी है. जो कांग्रेस पार्टी पहले थी वो आज नहीं रही, उसके तीन मुख्य बिंदु हैं. पहला कि वास्तविकता से इनकार करना, नई विचारधारा और नेतृत्व को मान्यता नहीं मिलना. 2018 में जब MP में सरकार बनी तो एक सपना था, लेकिन वो बिखर चुका है. मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार ने वादे पूरे नहीं किए हैं. कांग्रेस में रहकर जनसेवा नहीं की जा सकती.

Twitter पर छबि देखें

राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष नड्डा ने कहा कि सिंधिया का परिवार हमारे साथ हमेशा रहा है। राजमाता विजयाराजे सिंधिया ने इस पार्टी को खड़ा किया था और अब उनके पौत्र भी हमारे साथ हैं।

नड्डा ने कहा कि सिंधिया का आना बड़ी बात है। भारतीय जनता पार्टी उनके नेतृत्‍व की प्रखरता से वाकिफ है। वे हमारी ही विचारधारा के हैं। उन्‍होंने कहा कि हमारे परिवार का सदस्‍य हमारे बीच लौटा है हम उनका हार्दिक अभिनंदन करते हैं।

राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नारा है सबका साथ सबका विकास। मैं सिंधिया जी को विश्‍वास दिलाता हूं कि उन्‍हें पार्टी की मुख्‍य धारा में काम करने का सौभाग्‍य मिलेगा। इस पार्टी में हर व्‍यक्ति की काबिलियत और सहयोग का स्‍वागत है। पार्टी के विकास में सबका योगदान है। आज का दिन हमारे लिए खुशी का दिन है।

उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि पार्टी को परम वैभव पर ले जाने में राजनीतिक दृष्टी से अस्‍त्र के तौर पर आपका योगदान मिलेगा ऐसा विश्‍वास है।

दो नाबालिग बच्चों की निर्मम हत्या, परिजनों ने शवों को सड़क पर रखकर किया चक्काजाम, हत्‍यारों को बीच सड़क फांसी की सजा की मांग की गई


मुलतापी समाचार

परिजनों द्वारा कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर हागमा नारे लगाए शासन को शाेपा ज्ञापन मांग में कहा बीच चौराहे पर आरोपी को फासी दो या हमको शोप दो

परिजनों द्वारा कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर हागमा नारे लगाए शासन को शाेपा ज्ञापन मांग में कहा बीच चौराहे पर आरोपी को फासी दो या हमको शोप दो

जैसे को तेशी तेसी सजा दो या हमको सौंप दो अग्नि संस्कार कर पुनः पहुंचे परिजन और आक्रोशित जनता बैतूल कलेक्ट्रेट शोपा ज्ञापन, आरोपी बीच चौराहे पर भरी सभा में फाशी दो या हमको शोप दो माग की , कलेक्टर सर ऑफिस न होने पर अन्य अधिकारियों ने परिजनों से बात करी और समझाइश दी न्याय प्रकिया जारी है और बच्चों की मृत्यु करने वालो को सजा जल्द से जल्द सुनाई जाएगी।

दो बच्चों की निर्मम हत्या करने वाले के ख़िलाफ़ परिजन और आक्रोशित लोगों द्वारा बच्चे के शव रख कर किया हाईवे पर चक्का जाम, और जल्द से जल्द फासी दो मांग की बात करते हुए पुलिस अधिकारीयों से

बैतूल। जिले में हत्या और गैंगरेप जैसी वारदाते कम होने का नाम नहीं ले रही है। जिले में घटित तीन बड़ी वारदातों ने जिलेवासियों को दहला दिया है। गत दिनों नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप और खेड़ीसावलीगढ़ के पास हुई युवक की हत्या का मामला शांत भी नहीं हुआ कि जिला मुख्यालय पर फिर दो बच्चों की हत्या कर दी और शव को चिखलार के पास झरने के पानी मेंं ले जाकर डाल दिया। बच्चों की हत्या से आक्रोशित लोगों ने बैतूल, खेड़ी मार्ग स्थित डॉन बास्कों के पास चक्काजाम कर दिया। लगभग देड़ से दो घंटे तक चक्काजाम किया। मौके पर पहुंची एएसपी श्रद्धा जोशी ने आक्रोशित लोगों को समझाईश दी और कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद चक्काजाम खुला। हत्या की घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने दबोच लिया है। इस मामले में दो पुलिस कर्मियों को लाईन हाजिर कर दिया है।  एएसपी श्रीमती जोशी ने बताया कि 9 मार्च होली दहन के दिन सदर बैल बाजार निवासी इंद्रपाल उर्फ गड्डी सलूजा डॉन बास्कों क्षेत्र की एक महिला को बर्तन साफ करने के लिए अपने घर लेकर गया। महिला के साथ उसकी 11 वर्षीय बालिका और 4 वर्षीय बालक गया था। महिला बर्तन घर में साफ कर रही थी और इंद्रपाल दोनों बच्चों को ऑटो में बिठाकर आईस्क्रीम खिलाने के बहाने वह लेकर गया। घंटो बाद दोनों बच्चे और इंद्रपाल वापस नहीं आया। कुछ घंटे बितने के बाद इंद्रपाल तो वापस आ गया, लेकिन बच्चे उसके साथ नहीं थे। महिला ने बच्चों की जानकारी पूछी तो उसने संतोष जनक जवाब नहीं दिया। इसकी शिकायत कोतवाली थाने में दर्ज कराई। शिकायत के आधार पर पुलिस ने इंद्रपाल को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। इस दौरान इंद्रपाल ने अपने एक साथी श्याम उर्फ बारिक पिता राजाराम सरनेकर निवासी गेंदा चौक के साथ मिलकर दोनों बच्चों की हत्या करने की बात कबूल की। पुलिस ने आरोपियों के बताएं गए स्थान पर जाकर दानोंं बच्चों के शव बरामद किए। 

घटना को अंजाम की समीक्षा

पुलिस के मुताबिक होली दहन के दिन आरोपी इंद्रपाल सिंह और श्याम सरनेकर दोनों बच्चों को ऑटो में बैठाया और वह चिखलार लेकर गए। बालिका और बालक की पत्थर मारकर और गला घोटकर हत्या कर दी। शव को झरने के पानी में फेक दिया। शिकायत के बाद जब पुलिस ने आरोपियों से कड़ी पूछताछ की तो उन्होंने हत्या करने की बात कबूल की। मंगलवार 10 मार्च को आरोपी द्वारा बताए गए घटना स्थल पर पुलिस ने पहुंचकर बालिका और बालक के शव को बरामद किया। मंगलवार शाम को जिला अस्पताल में दोनों शव का पोस्टमार्टम किया। शार्ट रिपोर्ट पीएम में दोनों बच्चों की हत्या होने की जानकारी सामने आई है। 

सड़क पर शव रखकर चक्काजाम किया

दो बच्चों की हत्या से आक्रोशित लोगों ने बैतूल-खेड़ीसावलीगढ़ मार्ग डॉन बास्कों के पास सड़क पर दोनों बच्चों के शव रखकर चक्काजाम कर दिया। बुधवार सुबह 9.30 बजे से चक्काजाम किया। लगभग 2 घंटे तक चक्काजाम चलते रहा। सूचना मिलते ही एएसपी श्रीमती जोशी सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। परिजनों की मांग थी कि हत्या करने वाले दोनों आरोपियों को दिन दहाड़े चौक पर फांसी के तख्ते पर लटकाया जाए। एएसपी ने चक्काजाम कर रहे आक्रोशित लोगों को समझाईश दी। इसके बाद मामला शांत हुआ। आरोपी के किसी महिला के साथ अवैध संबंध पुलिस के मुताबिक हत्या के आरोपी इंद्रपाल सिंह के किसी महिला के साथ अवैध संबंध थे। इसकी जानकारी बालिका को थी। बालिका अवैध संबंध में किसी को जानकारी न बता दे, जिसकी वजह से बालिका की हत्या करने की बात सामने आई है। हालांकि पकड़े गए आरोपियों से पुलिस कड़ी पूछताछ कर रही है। पूछताछ पूरी होने के बाद ही घटना के संबंध में और भी जानकारी सामने आएगी। 

दो पुलिस कर्मियों का लाईन अटेच किया

बच्चों के गायब हो जाने की रिपोर्ट दर्ज कराने परिजन कोतवाली गए थे। पुलिस कर्मियों ने इनकी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया और जल्द रिपोर्ट दर्ज नहीं की। परिजनों से अभद्रता की गई। पुलिस की लापरवाही को देखते हुए कोतवाली थाने के प्रधान आरक्षक शेख रफीक कुरैशी और एएसआई भाऊराव गावंडे को तत्काल लाईन हाजिर कर दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। 

दो बच्चों की हत्या कर शव को चिखलार के पास झरने के पानी में फेकने का मामला सामने आया है। दोनों बच्चों के शव को बरामद कर लिया है। आक्रोशित लोगों ने चक्काजाम किया। परिजनों की जो मांगे थी, उन्हें पूरा करने का आश्वासन दिया है। दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिनसे कड़ी पूछताछ कर रही है।  श्रद्धा जोशी, एएसपी बैतूल  

मुलतापी में धूम धाम से मनाई होली, मेघनाथ मेला का आयोजन


मेघनाथ मेला मुल्ताई

मुलताई। मैं होली के पावन अवसर पर हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी होली का त्यौहार मनाया गया जिसमे शहर की जनता ने एक दूसरे को रंग और गुलाल लगाकर शांति और सद्भाव के साथ रंगों त्यौहार मनाया।

इसी के साथ ही कई वर्षों से चली आ रही परंपरा जिसमे मेघनाथ पूजा का विशेष महत्व होता है पूजा पाठ, गल घूमने की परम्परा कई सालो से सनातन धर्म की संस्कृति में समाहित रीति रिवाज आज भी देखी का सकती जिसमे मल्टाई का मेघनाथ मेला एक विशेष स्थान रखता है जिसमे शहर की जनता पूजा पाठ करती है भजन कीर्तन फाग गीतों के आयोजन का आनंद उठाती है और युवाओं का जोश देखते ही बनता

जिसमे गल घूमने के लिए रसा को पकड़ने उसे लेकर घूमने दौड़ने छलांगे लगाना करतब दिखाने का माहौल बनता है

मुल्ताई मेले का वीडियो देखने के लिए लिंक जॉइन करें लाइक करें शेयर करे सब्सक्राइब करें कमेंट करे

महिला दिवस एवं पोषण पखवाड़ा पर नि:शुल्क जांच


घोड़ाडोंगरी (नवदुनिया न्यूज)। विश्व महिला दिवस के उपलक्ष्य में मार्च को बगडोना में मेतराम फ्रैक्चर हॉस्पिटल सारणी के माध्यम से निश्शुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाया जा रहा है। शिविर में सभी प्रकार के हड्डी व मांसपेशियों से संबंधित रोगी अपनी जांच व इलाज करा सकते हैं। शिविर में स्त्री एवं प्रसूति रोग संबंधित जांच परीक्षण भी होगा। वहीं नेत्र रोग, बाल रोग, महिलाओं में सुनने की कमी, नेत्र संबंधित समस्या मोतियाबिंद, शुगर, मधुमेह, बवासीर, वात रोग व त्वचा संबंधित अन्य सभी सामान्य रोग व हड्डी रोगों के विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा जांच व उपचार किया जाएगा। सभी बीमारियों के विशेषज्ञ डॉक्टर भोपाल, होशंगाबाद, पचमढ़ी व अन्य शहरों से आएंगे।

सारनी गुरुद्वारा से दान पेटी चाेरी, थाने में शिकायत


Multapi Samachar

नगर के गुरुद्वारा से बीती रात चाेराें ने दान पेटी चाेरी कर ली। गुरुद्वारा के ज्ञानी ने इसकी रिपाेर्ट दर्ज कराई…

नगर के गुरुद्वारा से बीती रात चाेराें ने दान पेटी चाेरी कर ली। गुरुद्वारा के ज्ञानी ने इसकी रिपाेर्ट दर्ज कराई है। इसके पहले चाेराें ने पाथाखेड़ा के गुरुद्वारा काे अपना निशाना बनाया था। अज्ञात चाेर पुलिस की पकड़ में नहीं आ सके हैं। जानकारी के अनुसार शुक्रवार की रात अज्ञात चोर गुरुद्वारा के पीछे लगे एग्जास्ट फैन के पास की खिड़की को तोड़कर गुरुद्वारा के अंदर घुसे और दान पेटी चोरी कर ले गए। गुरुद्वारा के ज्ञानी ने सुबह देखा ताे दानपेटी चाेरी की लिखित शिकायत सारनी थाने में दी। सिंह सभा के ज्ञानी ने बताया इसके पूर्व पाथाखेड़ा के गुरुद्वारा में भी अज्ञात चोरों ने धावा बोलकर दान पेटी चोरी की थी। पुलिस अब तक अज्ञात चाेराें काे नहीं पकड़ पाई है।