Skip to content

लॉक-डाउन के दौरान मरीजों को टेलीमेडिसिन से उपचार हेतु 20 चिकित्सकों के मोबाइल नम्बर जारी

टेलीमेडिसिन एक ऐसी व्यवस्था हैं जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञों की वीडियो कोंफ्रेंस के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सेवा प्रदान करते हैं.

Multapi Samachar

टेलीमेडिसिन  एक ऐसी व्यवस्था हैं जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञों की वीडियो कोंफ्रेंस के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सेवा प्रदान करते हैं

जिसका मध्‍यप्रदेेश मेंं टोल फ्री नं. 104, 181 है

बैतूल जिले के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.सी. चौरसिया ने बताया कि टेलीमेडिसिन पद्धति से उपचार की सुविधा मुहैैैैया कराई जा रही ि‍जिसकास्वास्थ्य विभाग बैतूल द्वारा 20 चिकित्सकों की टीम तैयार की गई है जिनके नम्बर जारी किये हैं,

बैतूल जिले की जनता के लिए स्‍वास्‍थ्‍य विभाग द्वारा विशेष टेलीमेडिसिन टीम तैयार की गई है आपनेे ब्‍लाक स्‍तर के डॉ. के फोन नं. पे संंपर्क कर सुझाव लेकर मेडिकल से दवा क्रय ले सकते है। जिससे सामान्‍य बिमार व्‍यक्ति को इलाज मुहैैैैया हो जायेगा और सरल तरिके से कोरोना वायरस के बडते लक्षण से बचनेे केे लिए शासन ने लॉकडॉन ि‍किया हुआ है इस स्‍थिती से उभरने के लिए आमजन को सरल इलाज मिल सके टेलीमेडिसिन अपनाया जा रहा है, जनता से भी अपील की जा रही है कि सर्दी,खांसी सर्दद, जैसी बिमारी के लिए घर से ना निकले अपने क्षेत्रीय डॉ से फोन पर इलाज कराएं ।

बैतूल जिले के मरीज उपचार हेतु इन नम्बरों पर सम्पर्क सकते हैं।

डॉ. एम.आर. बागद्रे मो.नं. 7987004731 बैतूल, डॉ. राहुल शर्मा 8770971307 बैतूल।

डॉ. अरूण अटल 9981873800 भैंसदेही, डॉ. तरूण कुमार 8962247395 भैंसदेही।

डॉ. आकाश गेंदा 9140914746 भीमपुर।

डॉ. तरूण साहू 8236991218 चिचोली

डॉ. व्हीएन झरबड़े 9171568890 घोड़ाडोंगरी, डॉ. स्वीटी सेन 7898740945 घोड़ाडोंगरी।

डॉ. चन्द्रभान ठाकुर 7415523024 मुलताई, डॉ. राजाराम धुर्वे 9407296862 मुलताई।

डॉ. पल्लव अमृत फले 900974966 मुलताई, डॉ. रघुवीर सिंह निगम 7987851859 मुलताई।

डॉ. आकांक्षा जोशी 8349718336 प्रभात पट्टन।

डॉ. मनोज खरे 8518911908 सेहरा, डॉ. पी. तिवारी 9899640234 सेहरा।

डॉ. आशीष गोनांडे 9584575621 सेहरा।

डॉ. विजय सिंह 9424471028 शाहपुर, डॉ. यूपा वर्मा 9009334583 शाहपुर।

डॉ. अक्षय सावातुल 7772966817 शाहपुर, डॉ. एस.के. रघुवंशी 9406622372 शाहपुर।

जाने यह क्‍या है और कैैैैसे काम करता हैैं…….

टेलीमेडिसिन की क्या आवश्यकता हैं ?
भारत वर्ष में चिकित्सा विशेषज्ञों की कमी हैं, चिकित्सा विशेषज्ञों ग्रामीण /अर्ध शहरी क्षेत्रों में जाना नही चाहते हैं, उनकी सेवाए बड़े शहरों तक ही सिमित रह जाती हैं , ग्रामीण /अर्ध शहरी क्षेत्रों के रोगियों को बड़ी बीमारियों के परामर्श के लिए बड़े शहरों में जाना पड़ता हैं, जिससे उनका समय और धन का अधिक व्यय होता हैं, उस समय और धन को बचाने के लिए टेलीमेडिसिन की आवश्यकता हैं.

टेलीमेडिसिन कैसे कार्य करता हैं?

नर्सिगकर्मी/पेरामेडीकलकर्मी/फार्माकर्मी मेडिकल लोज के अनुसार क्लिनिक प्रक्टिस के लिए अधिकृत नही हैं, नर्सिंगकर्मी/पेरामेडिकलकर्मी/फार्माकर्मियों को मेडिकल में स्किल डेवलपमेंट की ट्रेनिग (कार्डियोलोजिस्ट, न्यूरो सर्जन, पीडियाट्रिक्स, ओर्थोपोंडिक्स, गायनोलोजिस्ट, गेस्ट्रोलोजिस्ट) विभागों में ट्रेनिग दिलवाकर उन को ग्रामीण /अर्धशहरी क्षेत्रों में टेलीमेडिसिन सेन्टर खोलकर, ग्रामीण और अर्धशहरी क्षेत्रों में चिकित्सा विशेषज्ञ से विडियो कांफ्रेंस के माध्यम से रोगियों को कंसल्टिंग, दवाईयां, जाँचे, की सुविधा प्रदान करते हैं.

टेलीमेडिसिन के फायदे

स्वास्थय देखभाल की गुणवक्ता में सुधार, चिकिस्ता त्रुटियों को रोकना, स्वास्थ्य देखभाल लागत कम करना, प्रसासनिक दक्षताओ वृद्धि,  कागजी कारवाई घटाना, सस्ती देखभाल के लिए पहुच बढाना…

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s