भोपाल में दिग्विजय सिंह के जाते ही खाने के पैकेट बांटना बंद, लोग भूखे लौटे


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

भोपाल: मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी लगातार दावा कर रही है कि वह प्रतिदिन कम से कम 25000 लोगों को भोजन के पैकेट बांट रही है, परंतु आज उस समय कांग्रेस की पोल खुल गई जब दिग्विजय  सिंह अपनी पत्नी अमृता राव सिंह के साथ गरीबों को भोजन के पैकेट बांटने आए! मीडिया की मौजूदगी में उन्होंने करीब 15 मिनट तक लोगों को भोजन के पैकेट वितरित किए! उनके जाते ही भोजन का वितरण भी बंद कर दिया गया!

                     मात्र चार पुरी और एक चम्मच सब्जी के लिए लोग घंटों तेज धूप में लाइन में लगे रहे, और दिग्विजय सिंह निर्धारित समय के 45 मिनट बाद आए! करीब 2 घंटे तक लोग लाइन में लगे रहे

प्रदेश कांग्रेस के द्वारा बैरागढ़ के कम्युनिटी हाल में गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए शनिवार से रसोई शुरू की गई है! सुबह से ही बस्तियों में सूचना दे दी गई थी कि दोपहर में भोजन पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह बाटेंगे! दिग्विजय सिंह के आने के पहले से ही आयोजन स्थल पर लंबी-लंबी कतारें लग गई! दिग्विजय सिंह तय समय से करीब 45 मिनट देरी से यहां पहुंचे! दिग्विजय ने 15 मिनट तक गरीबों को भोजन के पैकेट दिए! इसके बाद वह चले गए! थोड़ी देर बाद आयोजकों ने भोजन वितरण बंद कर दिया और कह दिया कि अब शाम को आना, लोगों को भूखे पेट वापस लौटना पड़ा!

मुलतापी समाचार

कोरोना वायरस कोविड-19-स्वास्थ्य विभाग हेल्थ बुलेटिन


कोरोना वायरस कोविड-19-स्वास्थ्य विभाग हेल्थ बुलेटिन बैतूल दिनांक 04.04.2020

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जीसी चौरसिया ने आज दिनांक 04.04.2020 का हेल्थ बुलेटिन जारी किया है। जो इस प्रकार है:-

बैतूल स्वास्थ्य विभाग हेल्थ बुलेटिन कोरोना वायरस
दिनांक:-04.04.2020
कुल संदिग्ध भर्ती मरीज- 5
अब तक सैंपल लिए गए मरीजों की संख्या – 18
सैंपल भेजे गए मरीजों की संख्या – 18
रिपोर्ट -03
रिपोर्ट परिणाम -03 नेगेटिव, 15 अप्राप्त
रिपोर्ट परिणाम पॉजेटिव -0
जिले में विदेश यात्रा करके आए नागरिकों की संख्या-251
विभाग द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किए गए नागरिकों की संख्या -190
इन्हीं में से होम आइसोलेशन में रखे गए नागरिकों की संख्या-97
होम आइसोलेशन के 14 दिन पूर्ण किए नागरिकों की संख्या -93
251 में से 38 नागरिकों ने विदेश यात्रा की जानकारी दी है जो बैतूल जिले के निवासी हैं किन्तु अन्य स्थानों पर निवासरत हैं जिले में नहीं आए हैं। अन्यत्र 23 नागरिकों की ट्रेसिंग विभाग द्वारा जारी है।
ऐसे नागरिकों से विभाग एवं प्रशासन की अपील है कि स्वयं उपस्थित होकर सहयोग प्रदान करें।
डॉ. चौरसिया ने बताया कि बाहर से यात्रा कर आये व्यक्तियों का सतत् परीक्षण किया जा रहा है एवं कोरोना वायरस से बचाव एवं नियंत्रण संबंधी सलाह दी जा रही है।

मुलतापी समाचार बैतूल

#covid_19 update 04-04-2020


कोरोना बुलेटिन बैतूल

  • कुल  संदिग्ध भर्ती मरीज- 05
  • अब तक सैम्पल लिए मरीजो की संख्या – 18
  • रिपोर्ट- 03
  • रिपोर्ट परिणाम – 03 निगेटिव
  • रिपोर्ट परिणाम पाजिटिव – 00
  • जिले मे विदेश से यात्रा करके आए यात्रियों की संख्या – 251
  • विभाग द्वारा स्वास्थय परीक्षण किए गये नागरिकों की संख्या -190
  • इन्ही  मे से होम आइसोलेशन में रखें गये नागरिकों की संख्या -97
  • होम आइसोलेशन के 14 दिन पूर्ण किए नागरिकों की संख्या -93
  • ट्रेसिंग किये जा रहे यात्रियों की संख्या -23

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

जिला जेल के कैदियों के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग ने बनाई पीपीई किट


कोरोना मरीज के उपचार के दौरान चिकित्साकर्मियों द्वारा पहनी जाती है पीपीई किट

बैतूल: कोरोना के विरूद्ध युद्ध में चिकित्सकों एवं स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए उपयोग की जाने वाली पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट) किट की अब जिले में कमी नहीं रहेगी। स्थानीय जिला जेल के कैदियों द्वारा जिले में ही अब ये किट्स तैयार करना प्रारंभ की गई है। जिसके लिए कैदियों को सिलाई मशीन उपलब्ध कराई गई है। इस किट की सिलाई पर मात्र 20 रूपए लागत आ रही है। किट निर्माण में उपयोग आने वाली सामग्री स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि पीपीई किट तैयार करने के लिए आवश्यक सामग्री नजदीकी जिले छिंदवाड़ा से बुलाई गई है। इस किट को तैयार करने में सांसद श्री डीडी उइके द्वारा प्रदाय की गई सांसद निधि की राशि का उपयोग किया जा रहा है। डॉ. चौरसिया ने बताया कि जिला जेल के बंदियों द्वारा एक पखवाड़े पूर्व मास्क तैयार कर वितरित किए जा चुके हैं।

जिला चिकित्सालय की चिकित्सा अधिकारी डॉ. अंकिता सीते ने बताया कि 30 पीपीई किट कैदी राहुल, बस्तीराम, नितेश, हेमंत एवं गौना के द्वारा सिलवाई गई, जिसकी पैकिंग में रमेश जैन, विजया पोटफोड़े, अलका गलफट, राजेश बोरकड़े द्वारा सहयोग दिया गया।

इसके अलावा जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए कार्य कर रही स्वास्थ्य विभाग की टीम में शामिल खण्ड चिकित्सा अधिकारी शाहपुर डॉ. शैलेन्द्र साहू ने अन्य देशों की कोरोना के विरूद्ध प्रसारित वीडियो क्लिपिंग में डॉक्टर्स को फेस शील्ड पहने देखा तो सोचा कि यह फेस शील्ड स्वयं के बचाव के लिये अत्यंत आवश्यक है जिसे बैतूल जिले में भी होना चाहिये। जब ऑनलाईन एवं स्थानीय बाजार में खोजने पर भी यह उपलब्ध नहीं हुई तो डॉ. साहू द्वारा साड़ी की पैकिंग में से प्लास्टिक शीट निकालकर हेयर बेंड, टेप, इलास्टिक एवं फेविकॉल के सहयोग से कोरोना फाइट में स्वास्थ्य कर्मियों के सेल्फ प्रोटेक्शन (स्वयं के बचाव) के लिये फेस शील्ड का निर्माण किया गया। उनके इस अभिनव प्रयास को सराहा जाकर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा इसे पीपीई किट के साथ सम्मिलित किया गया। जिसे अब समन्वित रूप से बनाया जा रहा है।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

गिरते हुए बाजार में कर ही डालिए निवेश,कोरोना का असर कम होते ही बाजार में आएगा उछाल


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नई दिल्ली: कोरोना ने हेल्थ पर ही नहीं, वेल्थ पर भी प्रहार किया है! शेयर बाजार में लगातार गिरावट हो रही है! विशेषज्ञ उन्हें निराशा के बादल से निकालने की कोशिशों में जुटे है! जानकारों का दावा है कि यह गिरावट स्थाई नहीं है! अर्थव्यवस्था मजबूत है! कोरोना हटते ही बाजार छलांग लगाएगा! अच्छे रिटर्न के लिए निवेशकों को मायूस होने की जगह हर गिरावट को एक अवसर के तौर पर लेना चाहिए! थोड़ा-थोड़ा निवेश एक से दो साल में जबरदस्त रिटर्न देगा!

            लोग घरों से ऑनलाइन ट्रेडिंग कर रहे हैं! दूसरी ओर म्यूचुअल फंड में भी पिछले कुछ सालों में निवेशकों की संख्या तेजी से बढ़ी है! बाजार में लगातार गिरावट से निवेशक विचलित है! उन्हें निराशा से निकालने के लिए बहुत से फंड मैनेजर निवेशकों से ऑनलाइन संपर्क करने लगे है! वह उन्हें प्रोत्साहित कर रहे हैं कि गिरावट घबराकर निकालने के लिए नहीं है! यह गिरावट अर्थव्यवस्था नहीं कोरोना वायरस की वजह से आर्थिक गतिविधियां रुकने के कारण है!

टारगेट कैपिटल के निर्देशक पंकज शर्मा कहते हैं कि बाजार 10 साल पुराने लेवल पर है! अब यहां से रिस्क कम हो गया है! सरकार इंडस्ट्रीज को लेकर जिस तरह से पालिसी ला रही है, उससे कोरोना का कहर रुकते ही बाजार बहुत तेजी से आगे बढ़ेगा! ऐसे में निवेशकों को हर गिरावट में म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहिए! इसके दो तरीके हैं, निवेश को दो हिस्सों में बांट लें! एक हिस्से को 10 हिस्से में बांटे, जब गिरावट दिखे तो 10 में से एक हिस्से का निवेश करते रहे! जिस दिन लगे कि कोरोना का उपाय आ गया, तो दूसरा हिस्सा एक बार में निवेश करें!

मुलतापी समाचार

कल से फ्री मिलेंगे उज्जवला के रसोई गैस सिलेंडर


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: उज्जवला योजना में फ्री रसोई गैस सिलेंडर 5 अप्रैल से मिलना शुरू हो जाएगा! इसके लिए लोगों को पहले रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से ही टंकी की बुकिंग करना जरूरी है! खाते में पैसा आने के बाद ही मुफ्त सिलेंडर लिया जा सकेगा! उज्जवला योजना के तहत सिलेंडर की होम डिलीवरी होगी! सिलेंडर घर आने पर उसका चार्ज देना होगा! उज्जवला योजना के सभी उपभोक्ताओं को 3 महीने अप्रैल मई-जून तक गैस सिलेंडर की रिफिलिंग पूरी तरह से फ्री होगी! गैस सिलेंडर बुक कराने के बाद घर पर सिलेंडर लेते समय उपभोक्ता के पास डायरी व रजिस्टर्ड मोबाइल होना जरूरी है! डायरी में सिलेंडर डिलीवरी की एंट्री अनिवार्य रूप से की जाएगी! उपभोक्ता को इसकी रसीद भी लेना होगी, जिस पर उपभोक्ता के हस्ताक्षर लिए जाएंगे!

lockdown के दौरान एलपीजी गैस उपभोक्ताओं को गैस के दाम कम होने से राहत मिली है! इस माह रसोई गैस सिलेंडर 61 रुपए और व्यवसायिक सिलेंडर के दाम 87 रुपए कम कर दिए गए हैं!

मुलतापी समाचार

भारत में corona संक्रमितो की संख्या 3000 के पार, 90 लोगों की मौत


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने पृथक वार्ड बनाने की घोषणा की है और तेजी से बढ़ रहे मामले वाले इलाकों में त्वरित जांच शुरू की गई है! पिछले 24 घंटे में 8000 से ज्यादा नमूनों की जांच की गई! राज्यों में संक्रमण के 500 से ज्यादा मामले सामने आने के साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या 3000 पार कर गई है और कम से कम 90 लोगों की मौत हो गई है!

महाराष्ट्र तेलंगाना और दिल्ली में कोरोना के कई मामले सामने आए! सरकारी अधिकारी ने बताया कि तबलीगी जमात के लोगों से जुड़े मामलों के कारण यह संख्या बढ़ी है! स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 2 दिनों में तबलीगी जमात के 647 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है! यह लोग असम, अंडमान निकोबार, दिल्ली ,जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा ,झारखंड ,कर्नाटक, महाराष्ट्र ,राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश से हैं!

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अब भी सामुदायिक स्तर पर यह संक्रमण नहीं फैल रहा है, और घबराने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि स्थिति नियंत्रण में है!

विभिन्न राज्यों से मिले नवीनतम आंकड़ों के अनुसार देश भर में अब तक 211 लोग स्वस्थ हो चुके हैं! इस बीच कोरोना वायरस को पराजित करने की देश की ‘सामूहिक शक्ति ‘को प्रदर्शित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देशवासियों से अपील की कि वे रविवार 5 अप्रैल को रात 9:00 बजे अपने घरों की बालकनी में खड़े रहकर मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाएं!

प्रधानमंत्री ने देशवासियों के लिए अपने 11 मिनट से ज्यादा के वीडियो संदेश में लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील भी की! ऐसे संकेत है कि कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार रोकने के उद्देश्य से लागू 21 दिन का देशव्यापी लॉक डाउन 14 अप्रैल के बाद चरणबद्ध तरीके से हटाया जाएगा!

मुलतापी समाचार

5 अप्रैल को शाम 9बजे , 9मिनट के लिए सभी घर के लाइट बंद करे साथ ही अन्य उपकरण चालू रखें , तकनीकी कारण पढ़े


मुलतापी समाचार

सभी भारतवासीयो से जो इस समय देश में कोविड -19 महामारी से लड़ रहा है, इस मुश्किल घड़ी में माननीय प्रधानमंत्री महोदय द्वारा 5अप्रैल को शाम 9बजे , 9मिनट के लिए सभी घर के लाइट बंद करने की अपील की गई और घर के दरवाजे पर रहकर मोमबती,दीपक, टार्च, मोबाइल फ़्लैश लाइट आदि के माध्यम से देश को इस अंधकार से लड़ने के लिए कहा गया है जैसा कि वेदों में भी कहा गया है

“असतो मा सदगमय ॥ तमसो मा ज्योतिर्गमय ॥ मृत्योर्मामृतम् गमय ॥

भावार्थ

असत्य से सत्य की ओर ले चलो । अंधकार से प्रकाश की ओर ले चलो ।। मृत्यु से अमरता की ओर ले चलो ॥

इस प्रकार देश की जनता को उत्साहित करना और सभी आपातकालीन सेवा में कार्यरत लोगो का उत्साह बढ़ाने में सहायक होता है, इस लिए इस अवाहन को पूरा करने में सहयोग करे परन्तु
इसमे विधुत को सुचारू बनाने के लिए एक बड़ी बाधा खड़ी हो सकती है
इस समस्या से लड़ने के लिए देश की 1लाख से भी अधिक विधुत अभियंता व कर्मचारियों कार्यरत है परन्तु ये आम जनता के सहयोग के बिना असम्भव है, इसलिए मुलतापी समाचार के माध्यम से आप लोग से अपील है कि केवल आप अपने घर के केवल लाइट ही बंद करे। अन्य उपकरण जैसे टीवी, फ्रिज, पंखा, कूलर, एसी आदि उपकरण का उपयोग हो रहा हो तो उसे बंद ना करे।

इसका एक तकनीकी कारण है।

पूरे देश मे लगभग 26.8करोड़ घर होंगे जिसमे जिसमे औसतन 10 लाइट होंगे और 10वॉट का एक लाइट भी मान ले तो 100 वॉट का एक घर से लोड रिलीफ मिलेगा जिसके चलते पूरे देश मे से अचानक 268000000×100=26800000000 वॉट का लोड (26800MW) का कम होने के कारण उच्च वोल्टेज हो जायेगा। जिसके कारण उपकरण क्षतिग्रस्त होने की संभावना हो सकती है। इसलिए सभी पाठकों से निवेदन है कि इस कठिन परिस्थितियों में सहयोग करे और केवल लाइट ही बंद करे और देश के माननीय प्रधानमंत्री जी और सभी आपातकालीन सेवा के में सहयोग करे और अपने घर पर रहे।

राजेश गोहिते, बिजली अभियंता

छिंदवाड़ा में कोरोना वायरस का पहला पॉजिटिव मरीज की मौत, इनके पिता भी संक्रमित


84 लोगों को किया संक्रमित, सेम्पल जाँच के लिए भेजा

Multapi Samachar

Coronavirus in Chhindwara

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में कोरोना वायरस से पहली मौत का मामला सामने आया है, इसी के साथ प्रदेध में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 9 हो गया है। जानकारी के मुताबिक ये इंदौर में वाणिज्यकर विभाग में पदस्थ थे, मौत की पुष्टि सिविल सर्जन ने की है। मरीज के पिता भी कोरोना पॉजिटिव हैं, जिनका अस्पताल में इलाज जारी है। इन दोनों के संपर्क में आने वाले 31 लोगों के ब्लड सैंपल लिए जा चुके हैं, वहीं 84 लोगों की सूची तैयार की जा चुकी है। इंदौर से 20 मार्च को छिंदवाड़ा के गुलाबरा आए युवक के आइसोलेट किए जाने के बाद उसके सैंपल जांच के लिए जबलपुर भेजा गया था। जबलपुर से आई रिपोर्ट में युवक कोरोना पॉजीटिव पाया गया और शनिवार सुबह उसने दम तोड़ दिया। हरकत में आए प्रशासनिक अधिकारियों ने तत्काल ही युवक की मुलाकात किन-किन लोगों से हुई और कहां-कहां वह रूका जिसको लेकर सभी परिचित और रिश्तेदारों के ब्लड़ सैंपल लिए गए।

इन सैंपल को जांच के लिए जबलपुर भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। साथ ही एहतियात के तौर पर दो निजी अस्पताल फिलहाल बंद हैं। शहर को कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगातार प्रशासनिक अधिकारी प्रयास कर रहे हैं। इस प्रयास के चलते रोजाना हर आने और जाने वालों से पुलिस कर्मी पूछताछ कर रहे हैं। साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा जिले के अलग-अलग स्थान से शहर में आने वालों की स्केनिंग भी करवाई जा रही है।

गुरुवार को केवलारी निवासी एक युवक संदिग्ध अवस्था में जिला अस्पताल में आईसोलेट होने के बाद उसका सैंपल जबलपुर मेडिकल कॉलेज भेजे गए थे। जहां से देर रात में आई पॉजीटिव रिपोर्ट के बाद हरकत में आए प्रशासनिक अधिकारियों ने शुक्रवार को शहर की सारी दुकानें बंद करवा दी तो वहीं आवाजाही पर पूर्ण रूप से रोक लगा दी।

मेरे इस प्यारे देश में, अभी बहुत कुछ बाकी है! कविता


सहृदय धन्यवाद मेरे प्यारे देश के सभी डॉक्टर नर्स पुलिस फोर्स और मोदी जी को……….

पुष्पा नागले
कविता का शीर्षक- मेरे इस प्यारे देश में, अभी बहुत कुछ बाकी है!

मेरे इस प्यारे देश में, अभी बहुत कुछ बाकी है,
मोदी जी का है यह नारा, स्वच्छ, स्वस्थ हो भारत हमारा
हमको मिलकर इस सपने को साकार कराना बाकी है
मेरे इस प्यारे देश में अभी बहुत कुछ बाकी है

उस मां की व्याकुलता ना पूछो
जो हर बचाव अपनाती है
यह न खाना, वहां न जाना
हमें वह रोज बतलाती हैं,
सुरक्षित रहे उपवन उसका,

कलियों का भविष्य बनाना बाकी है
मेरे इस प्यारे देश में अभी बहुत कुछ बाकी है!
उन नन्हे बच्चों के खेल खिलौने
जिन्हें छूने से वो डरते हैं,
बनना है, बहुत बड़ा उन्हें
रोज वे ऐसा कहते हैं
उनके सपनों को देख उनमें,

अभी पंख लगाना बाकी है
मेरे इस प्यारे देश में, अभी बहुत कुछ बाकी है
रुक गई है कलमे युवा पीढ़ी की,
मन ही मन घबराते हैं,
देख चीन, इटली का हाल वे भी
डरकर सहम से जाते हैं!
है, उनमें कई IAS,IPSअनेकों,

जो देश के रक्षक कहलाते हैं!
उनकी कलमो को चलाकर,

अभी देश बनाना बाकी है!
मेरे इस प्यारे देश में,

अभी बहुत कुछ बाकी है
हाल ना पूछो उन माता-पिता का,
जो बार -बार फोन लगाते हैं,
है ये बीमारी बहुत भयानक,
ये सोच कर डर वे जाते हैं,
जो बच्चे हैं घर से बाहर उनका घर आना बाकी है
मेरे इस प्यारे देश में,

अभी बहुत कुछ बाकी है
है, विनती सब से हाथ जोड़कर
कोई ना घूमे मोदी जी का नियम तोड़कर,
हम सबको मिलकर सुंदर अपनी,

दुनिया बनाना बाकी है
अपने इस प्यारे देश में अभी बहुत कुछ बाकी है……


पुष्पा नागले ग्राम सावंगा मुलताई