एक दीप जलाएं


एक दीपक देश के नाम हम सब एक है , हम सब एक साथ ही

उन रोगियों के आत्मविश्वास के लिए
तिमिर हटाने, प्रकाश के लिए
एक दीप जलाएं

सैनिकों के जीवन आस के लिए
सेवा कर्मियों के उत्साह के लिए
एक दीप जलाएं

देश की रक्षा के लिए
अपनों की सुरक्षा के लिए
एक दीप जलाएं

उस अंधेरे आकाश के लिए
इस महामारी विनाश के लिए
एक दीप जलाएं.. एक दीप जलाएं..

कवित्री सुश्री तृप्ति श्रीवास बैतूल

Multapi samachar की ओर से विनम्र निवेदनआज सभी दीपक जलाएं रात 9:00 बजे 9 मिनट के लिए

घर से बाहर निकले तो सरकारी योजनाओं के लाभ से किया जाएगा वंचित


मुलतापी समाचार. मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: लगातार समझाइस के बावजूद भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने ग्रामीणों में जागरूकता नहीं आ रही है! लोग अभी भी बेवजह सड़कों पर घूमते नजर आते हैं! जिसे देखते हुए दमोह जिले के कुम्हारी ग्राम पंचायत ने अनावश्यक और फालतू घूमते पाए जाने वालों पर सभी सरकारी योजनाओं से वंचित करने का फैसला लिया है!

दमोह जिले के पटेरा जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत कुम्हारी पंचायत ने एक फरमान सुनाया! सचिव विजय खंपरिया द्वारा आदेश दिया गया है कि यदि ग्राम पंचायत में कोई फालतू घूमते हुए या बैठे हुए पाया जाता है तो उसकी फोटो सार्वजनिक करके उसकी बीपीएल पर्ची या किसी भी सरकारी योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा! उसे सभी सरकारी योजनाओं से वंचित कर दिया जाएगा! वही ग्राम पंचायत के इस फैसले की ग्रामीणों ने सराहना भी की है!

मुलतापी समाचार

ताप्ती सरोवर में डूबी महिला मौत


ताप्ती सरोवर से महिला का शव पानी से निकालकर शिनाख्त करते हुए पुलिस विभाग मुलताई

मुलतापी समाचार

मुलताई, शुक्रवार सुबह मुलताई के ताप्ती तालाब में वाचनालय के करीब सुबह एक महिला का शव देखा गया, जिसे नगर पालिका के कर्मचारियों द्वारा निकाला गया, मृत महिला की शिनाख्त सरी पति मंगरया कुमरे उम्र लगभग 33 वर्ष निवासी उमरिया के रूप में हुई। 

       प्राप्त जानकारी अनुसार लगभग यह महिला अपने पति सर अलग रह रही थी, ओर उसके पति ने कुछ महीने पहले उसके कहीं चले जाने की सूचना आमला थाने में भी दी थी, उसके पति के अनुसार वह मानसिक रूप से भी बीमार थी, जो बिना बताए कई बार घर से जा चुकी है। 

         प्राप्त जानकारी अनुसार यह महिला मुलताई में काम की तलाश में आई थी जो ताप्ती वार्ड में रहकर मजदूरी करती थी, महेश राजपूत ने बताया कि वह एक दिन पहले ही अपने घर जाने का कहकर निकली थी। वह ताप्ती तालाब कैसे पहुची क्यो डूबी इसके बारे में कोई जानकारी नही मिल पाई और न ही उसके पास से कोई सुसाइड नोट मिला।