betul लाकडाउन के कारण श्री मेंहदीपुर बालाजी की रथयात्रा स्थगित


मुलतापी समाचार

हनुमान जन्मोत्सव के पावन पर्व पर बैतूल में मनेगा दीप महोत्सव

बैतूल। विगत 8 वर्षो से लगातार श्री मेंहदीपुर बालाजी की भव्य रथयात्रा का आयोजन बैतूल जिले में निरंतर होते आ रहा था, परंतु इस वर्ष लॉकडाउन के कारण समिति द्वारा श्री मेंहदीपुर बालाजी की रथयात्रा का आयोजन स्थगित किया गया है। समिति द्वारा इस वर्ष हनुमान जन्मोत्सव पर रात्रि 9 बजे अपने अपने घरों पर दीप उत्सव मनाने का आयोजन किया जा रहा हैं जिसमें सभी धर्मप्रेमी जनता से निवेदन किया गया है कि वह अपने घर के द्वार पर, बालकनी पर शारीरिक दूरी तथा प्रशासन के नियमों को ध्यान में रखते हुए हनुमान जन्मोत्सव पर श्री बालाजी महाराज का ध्यान कर दीप जलाकर घर में पूजा अर्चना कर हनुमान जन्मोत्सव मनाया जाए। समिति द्वारा बैतूल में संचालित दीनदयाल रसोई में जरूरतमंदों, मजबूरों की सेवा के लिये हनुमान जन्मोत्सव पर 31,000 रूपये दीनदयाल रसोई के सदस्य अतीत पंवार को प्रदान की गई। वहीं दीनदयाल रसोई समिति द्वारा इस वर्ष हनुमान जन्मोत्सव के पावन पर्व पर सभी भक्तों के लिये भोजन की विशेष व्यवस्था की गई हैं जिसमें भोजन में पूड़ी, चने की सब्जी तथा हनुमान जी का भोग स्वरूप बूंदी के पैकेट का वितरण करीब 3,000 लोगों में किया जाएगा।

Betul आबकारी अमले ने एक लाख से ज्यादा राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में भेंट की


Multapi Samachar

बैतूल। जिला आबकारी अधिकारी सुरेन्द्र कुमार उरांव ने बताया कि जिले में पदस्थ आबकारी अमले द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के दृष्टिगत मुख्यमंत्री राहत कोष में एक लाख 4 हजार 210 रुपये की राशि भेंट की गई है। श्री उरांव ने बताया कि जिला आबकारी अधिकारी, एक सहायक जिला आबकारी अधिकारी, 5 आबकारी उप निरीक्षकों द्वारा 5 दिवसों का तथा शेष स्टॉफ द्वारा एक-एक दिन का अपना वेतन कुल राशि 104210 रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष (कोविड 19 राहत फंड) में जमा किया गया है।

Betul जिले की समस्त स्वास्थ्य संस्थाओं में आगामी आदेश तक नि:शुल्‍क पंजीयन


ड्यूटी पर कार्यरत स्टाफ नर्सों को लाने-ले जाने हेतु परिवहन एवं आवासीय व्यवस्था के निर्देश

बैतूल। कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण के संभावित जोखिम को दृष्टिगत रखते हुए जिले की समस्त शासकीय चिकित्सा संस्थाओं में आगामी आदेश तक किसी भी मरीज से कोई पंजीयन शुल्क या अन्य शुल्क नहीं लिया जाएगा। इस संदर्भ में वरिष्ठ कार्यालय से आदेश जारी कर निर्देशित किया गया है। डॉ. चौरसिया ने बताया कि 14 अप्रैल तक देशव्यापी लॉक डाउन किया गया है एवं शासन द्वारा विभिन्ना आदेशों के माध्यम से आम जनता को राहत प्रदान की जा रही है।

बैतूल। सीएमएचओ डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि कोई भी कोरोना पॉजीटिव मरीज यदि जिला चिकित्सालय में भर्ती होता है तो ड्यूटी पर कार्यरत स्टॉफ को आवश्कतानुसार इमरजेंसी की स्थिति में लगातार ड्यूटी करनी पड़ सकती है। जिससे संक्रमण फैलने का अंदेशा रहता है, इस स्थिति में शासन द्वारा आवास, भोजन एवं परिवहन की व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी। कोरोना वायरस कोविड-19 के उपचार हेतु जिला चिकित्सालय एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में ड्यूटी पर कार्यरत स्टाफ नर्सों को ड्यूटी के लिये घर से लाने व घर वापस छोड़ने के निर्देश सम्पूर्ण जिले हेतु जारी किये गए हैं।

तीन सांपो का एक साथ प्रेमालाप करने का विहंगम दृश्य


एक साथ तीन सांपो के प्रेमालाप का  रोमांचकारी दृश्य देखने लगी भीड़

मुलतापी समाचार

बैतूल।  नाग-नागिन के जोड़े को प्रेमालाप करते हुए तो कई बार देखा होगा या खबर पढ़ी होगी  लेकिन तीन सांपो को एक साथ प्रेमालाप करते पहली बार देखा गया और इस दृश्य को जिसने भी देखा वह देखता ही रह गया  मिलानपुर टोल नाके के पास  एक खदान में तीन सांपों के मिलन के इस रोमांचक दृश्य को देखने भीड़ लग गई|

फोरलेन पर बने टोल नाके पास एक खदान है जंहा पानी भरा  रहता है मंगलवार की शाम को यंहा तीन नाग नागिन आपस प्रेमालाप करते नजर आए सांपों का प्रेमालाप लंबे समय तक चलता रहा इस दौरान नाग-नागिन एक दूसरे को आलिंगन करते हुए जमीन से करीब 2 से 3 फुट तक ऊपर  तक खड़े होते दिखाई दिए यह एक अद्भुत नजारा था|

काफी समय के बाद यह तीनों सांप पत्थरो के बीच छिप गए यंहा जमा भीड़ इन सांपो पर पानी डाल डालकर पत्थरों से निकालने की कोशिश कर रहे थे इसी बीच तीनो सांप एक बार फिर बाहर निकले और एक दूसरे से लिपटने लगे तीनो सांपो का यह प्रेमालाप लंबे समय तक चलता रहा|

भैैंसदही संक्रमित युवक के 7 परिजनों के सैंपल लिए, कफ्यू जारी


जिले भर में लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए प्रशासन ने दिए निर्देश

मुलतापी समाचार

भैंसदेही। कलेक्टर राकेश सिंह एवं पुलिस अधीक्षक डीएस भदौरिया ने भैंसदेही पहुंचकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Betul News

भैंसदेही, बैतूल। महाराष्ट्र के रास्ते बैतूल जिले में कोरोना की दस्तक दिलाने वाले भैंसदेही के संक्रमित युवक के 7 परिजनों के अलावा कुल 20 लोगों के स्वास्थ्य की जांच करने के बाद उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है, जबकि 8 मरीज आइसोलेशन में भर्ती किए गए हैं। भैंसदेही के युवक को कारोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद देर रात भैंसदेही में कर्फ्यू लगाने के साथ 3 किमी के क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिया गया है।

कलेक्टर राकेश सिंह एवं पुलिस अधीक्षक डीएस भदौरिया मंगलवार को भैंसदेही पहुंचे और वहां कर्फ्यू की प्रभावशीलता की स्थिति देखी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि यहां कर्फ्यू पूरा सख्ती के साथ लागू किया जाए। कलेक्टर ने बताया कि यहां पाए गए कोरोना पॉजिटिव मरीज के सम्पर्क में आए सात लोगों के सैंपल ले लिए गए हैं एवं उनको क्वारंटाइन में रखा गया है। संक्रमित युवक के संपर्क में आए अन्य लोगों के भी सैंपल लिए जा रहे हैं। प्रशासन संक्रमित युवक को नागपुर से भैंसदेही लाने भैंसदेही से बैतूल लाने और वापस ले जाने वाले वाहन के चालक के भी सैंपल लेकर प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजने की तैयारी कर रहा है।

परिजनों को क्वारंटाइन सेंटर में रखाः भैंसदेही के कोरोना संक्रमित युवक के 7 परिजनों को बालक छात्रावास में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है। सभी के स्वास्थ्य की जांच करने के बाद सैंपल लेकर प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजे गए हैं। प्रशासन ने संक्रमित युवक के घर से सटे घरों के 45 लोगों को निगरानी में रखा है। संक्रमित युवक को भैंसदेही के स्वास्थ्य केंद्र में आइसोलेट किया है जहां डॉक्टरों की टीम और स्टॉफ द्वारा उसके स्वास्थ्य की सतत निगरानी की जा रही है। भैंसदेही बीएमओ एमएस सेवरिया ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को पूरी तरह से खाली कर दिया है। क्षेत्र के सामान्य मरीज उपचार के लिए आठनेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जाएंगे,जबकि प्रसूति के लिए भी महिलाओं को आठनेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा जाएगा।

14 संदिग्धों के लिए सैंपल, 42 की रिपोर्ट आने का इंतजारः सीएमएचओ जीसी चौरसिया ने बताया कि 7 अप्रैल की शाम 7 बजे तक जिले में कुल 14 संदिग्धों के सैंपल लेकर प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजे गए हैं। मंगलवार को एक भी जांच रिपोर्ट प्राप्त नही हुई है। अब तक लिए गए 48 सैंपलों में से 6 की ही रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें 5 निगेटिव पाए गए हैं और एक पॉजिटिव पाया गया है। जिले भर में 20 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है, जबकि होम आइसोलेशन में 2025 लोगों को रखा है। जिले में अब तक स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कुल 25268 लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है।

जिले में सभी प्रकार की दुकानें बंद रहेंगीः जिले के भैंसदेही में एक मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के फलस्वरूप कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी राकेश सिंह ने उक्त मरीज की कान्टेक्ट ट्रेसिंग हिस्ट्री को देखते हुए समूचे जिले में आमजन को शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने नागरिकों से अपेक्षा है कि वे लॉक-डाउन का अच्छी तरह पालन करें तथा एक-दूसरे के संपर्क में न आएं। कलेक्टर ने कहा है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के दृष्टिगत बुधवार से बैतूल नगर सहित समूचे जिले में सभी तरह की दुकानें बंद रखे जाने के आदेश दिए गए हैं। कर्फ्यू प्रभावित भैंसदेही को छोड़कर अन्य स्थानों पर प्रातः 7 बजे से प्रातः 10 बजे के बीच सिर्फ आवश्यक वस्तुओं की होम डिलेवरी की जा सकेगी। भैंसदेही छोड़कर अन्य स्थानों पर दवा दुकानें खुली रखी जा सकेंगी, परंतु इन दुकानों से शारीरिक दूरी मेंटेन करते हुए सिर्फ चिकित्सक के पर्चे पर ही दवाएं क्रय की जा सकेगी। किसी भी स्थान पर हाथठेलों पर सब्जी-फल इत्यादि के विक्रय की अनुमति नहीं होगी। उक्त व्यवस्था आगामी आदेश तक प्रभावशील रहेगी। उन्होंने कहा है कि भैंसदेही में कर्फ्यू पूरी सख्ती से प्रभावशील रहेगा।

ट्रेवल हिस्ट्री तलाश रहा प्रशासनः भैंसदेही के कोरोना संक्रमित युवक को नागपुर से भैंसदेही लाए जाने के लिए भैंसदेही थाना प्रभारी द्वारा अनुमति दी गई थी, लेकिन थाना प्रभारी तरन्नाुम खान ने कोई अनुमति पास जारी करने से ही इन्कार कर दिया है और इसकी स्वयं जांच करने का हवाला दिया है। नागपुर से संक्रमित युवक जिस चार पहिया वाहन में सवार होकर आया था उसे चलाने वाले ड्राइवर से पूरे रास्ते की जानकारी ली जा रही है। इसके अलावा 4 दिन तक युवक घर के बाहर किन लोगों के संपर्क में आया इसकी भी पड़ताल की जा रही है। संक्रमित युवक को जिला अस्पताल तक लाने और वापस ले जाने वाले वाहन चालक एवं स्वास्थ्यकर्मियों का भी पता लगाया जा रहा है।

MP खरगोन में एक ही परिवार के आठ लोग कोरोना पॉजिटिव के बाद हड़कंप


CORONAVIRUS IN KHARGONE :

Multapi Samachar

खरगोन। शहर के सहकार नगर में एक ही परिवार के आठ लोगों में कोरोना का संक्रमण मिलने के बाद प्रशासन हरकत में आया। स्वास्थ्य विभाग ने सभी संक्रमित लोगों को इंदौर रेफर किया है। इनमें 13 से लेकर 75 वर्ष तक के सदस्य शामिल हैं।

49 वर्षीय व्यक्ति में कोरोना संक्रमण पाया गया था

उल्लेखनीय है कि इसी परिवार के एक 49 वर्षीय व्यक्ति में कोरोना संक्रमण पाया गया था। यह व्यक्ति पत्नी के साथ दक्षिण अफ्रीका से दिल्ली मरकज गया था और वहां से खरगोन लौटा था। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने परिवार के अन्य सदस्य और उनके संपर्क में आए लोगों के सैंपल जांच के लिए इंदौर भेजे थे।

कोरोना वायरस से प्रभावित व्यक्तियों की संख्या 12 हो गई

मंगलवार देर शाम रिपोर्ट आई। इनके साथ ही जिले में कोरोना वायरस से प्रभावित व्यक्तियों की संख्या 12 हो गई है। बताया जाता है कि जिस परिवार के आठ लोग संक्रमित पाए गए हैं, उस परिवार में एक महिला की मृत्यु हो चुकी है। जिनकी मृत्यु हुई है, उस महिला की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

सीएमएचओ डॉ. रजनी डावर ने बताया कि परिवार के सभी सदस्यों को इंदौर रेफर किया गया है। सदस्यों के संपर्क में लोगों की जानकारी ली जा रही हैं। क्षेत्र में सर्वे कार्य लगातार किया जा रहा है। गौरतलब है कि जिले में धरगांव में कोरोना संक्रमण से 65 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो चुकी है, जबकि बड़गांव में 42 वर्षीय व्यक्ति और असनगांव के 34 वर्षीय युवक भी कोरोना संक्रमित मिले हैं। उनका इंदौर में इलाज चल रहा है।

मुलतापी समाचार