जिले में खेतों में पककर खड़ी है गेहूं की फसल नहीं मिल रही कटाई मशीन, प्रशासन को नहीं फिक्र


खेतों में बारूद बनकर खड़ी गेहूं की फसलें,

कृषि विभाग के अफसरों ने नहीं बनाई कोई व्यवस्था, कागजी दावे करने में जुटे अफसर

सांसद और विधायक भी नहीं फिक्रमंद, कमिश्नर से किसानों ने मांगी मदद

मुलतापी समाचार

बैतूल। लॉकडाउन के कारण जिले में गेहूं की फसल कटाई खासी प्रभावित हो रही है। खेतों में सूखकर बारूद जैसी स्थिति में पहुंच चुकी गेहूं की फसल काटने के लिए न तो हार्वेस्टर मिल पा रहे हैं और न ही मजदूर। लगातार बढ़ता तापमान और खेतों में लग रही आग की घटनाओं से किसान दहशत में एक- एक दिन हार्वेस्टर मिलने के इंतजार में काट रहे हैं। हद तो यह है कि जिले के कृषि विभाग ने किसानों को फसल कटाई में मदद करने की न तो अब तक कोई योजना बनाई है और न ही उसे यह पता है कि जिले में कितने हार्वेस्टर हैं और कितने कटाई करने में जुटे हुए हैं। जबकि प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन में भी किसानों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए उन्हें फसल कटाई में पूरा सहयोग देने के लिए प्रशासन को स्पष्ट निर्देश दिए हैं। किसानों की फसल कटाई के लिए अब तक सांसद और विधायकों द्वारा कोई मदद नहीं की गई है जिससे आहत होकर किसानों ने अब नर्मदापुरम संभाग के कमिश्नर से मदद करने की गुहार लगाई है।

जिले में इस बार 2.26 लाख हेक्टेयर से भी अधिक रकबे में गेहूं की फसल की बोवनी हुई है। अब तक करीब 60 प्रतिशत क्षेत्र में ही गेहूं की फसलों की कटाई का काम पूरा हो पाया है। लॉकडाउन के कारण जिले में आसपास के जिलों के अलावा पंजाब, राजस्थान एवं महाराष्ट्र से हार्वेस्टर पहुंच नहीं पाए। जिला प्रशासन ने भी लॉकडाउन के प्रारंभ होने के बाद जिले में हार्वेस्टरों की उपलब्धता के लिए कोई प्रयास नहीं किए, जिससे केवल स्थानीय लोगों के पास मौजूद हार्वेस्टरों पर ही पूरी कटाई की जिम्मेदारी आ गई है।

हार्वेस्टर संचालक जहां अपनी मनमानी पर उतारू हो गए हैं वहीं मनमाना दाम भी वसूलने लगे हैं। किसानों को कटाई का आश्वासन देने के बाद भी 8 से 10 दिन बीत जाने पर उनके खेतों में कटाई करने नहीं पहुंच रहे हैं। ग्राम उमनबेहरा के किसान पंकज चौधरी ने बताया कि अब तक वे एक दर्जन हार्वेस्टर संचालकों से संपर्क कर चुके हैं। सब आश्वासन दे रहे हैं लेकिन कटाई कोई भी नहीं कर रहा है। इटारसी में भी अपने रिश्तेदारों से संपर्क कर वहां से हार्वेस्टर भेजने की गुहार लगाई जा रही है लेकिन कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही है। ग्राम सिंगनवाड़ी के किसान राजीव वर्मा ने बताया कि गेहूं की कटाई के लिए वे भी पिछले 11 दिन से लगातार हार्वेस्टर की तलाश कर रहे हैं लेकिन अब तक नहीं मिल पाया है और फसल खेत में खड़ी हुई है। किसानों की माने तो संकट के इस दौर में कृषि विभाग के अधिकारी लापरवाह बने हुए हैं। कृषि विभाग के मुखिया को यह तक नहीं पता है कि जिले में अब तक कितने क्षेत्र में कटाई हो चुकी है। फसल कटाई के लिए कितने हार्वेस्टर चल रहे हैं और कहां पर किसान एक पखवाड़े से इंतजार कर रहे हैं। यही स्थिति विभाग के मैदानी अमले की भी हो रही है, उनके अनुसार विभाग की ओर से कोई निर्देश ही जारी नहीं किए गए हैं।

डीडीए को किसानों के फोन का इंतजारः ‘नवदुनिया’ ने जब उप संचालक कृषि केपी भगत से जिले में गेहूं की कटाई के संबंध में चर्चा की तो उन्होंने दावा कर दिया कि मात्र 20 प्रतिशत कटाई बाकी है और हार्वेस्टर चल रहे हैं। किसानों को हार्वेस्टर न मिलने के संबंध में उन्होंने यह दावा किया कि आज तक एक भी किसान ने उनसे संपर्क ही नहीं किया। कुल कितने हार्वेस्टर जिले में चल रहे हैं इसके संबंध में उन्होंने कहा कि वे पता करके बता देंगे।

अब तक दो दर्जन खेतों में राख हो गई फसलें: जिले में अब तक दो दर्जन से अधिक खेतों में आग लगने के कारण फसलें राख होने की घटनाएं घटित हो चुकी हैं। किसानों की मानें तो कटाई के लिए न तो मजदूर मिल पा रहे हैं और न ही हार्वेस्टर वाले कटाई करने के लिए तैयार हो रहे हैं। अज्ञात कारणों से आग लगने की घटनाएं हो रही हैं और किसानों के सामने कोई विकल्प ही नहीं है। शाहपुर से सचिन शुक्ला ने बताया कि क्षेत्र में 20 प्रतिशत फसल कटाई अब भी बाकी रह गई है। घोड़ाडोंगरी से विनोद पातरिया ने बताया कि ब्लॉक में 40 प्रतिशत खेतों में फसल खड़ी हुई है, हार्वेस्टर नहीं मिल रहे हैं जिससे किसान हैरान-परेशान हो रहा है। मुलताई से राकेश अग्रवाल ने बताया कि आमला ब्लॉक में 40 प्रतिशत खेतों में फसल लगी हुई है जबकि मुलताई और प्रभातपट्टन ब्लॉक में 30 प्रतिशत कटाई बाकी रह गई है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s