महिला एवं बाल विकास विभाग ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 1 लाख 65 हजार 600 रूपए की एक दिन के वेतन राशि दी


डीपीओ बीएल विश्नोई जी और साथी सहयोगी टीम द्वारा बैतुल नगर में नागरिकों को हस्तनिर्मित माक्स वितरण करते हुए

MP Betul Fights Corona covid 19

मुलतापी समाचार

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग श्री बीएल विश्नोई से प्राप्त जानकारी के अनुसार विभाग के समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा कोविड-19 बीमारी में सहायता हेतु मुख्यमंत्री राहत कोष में एक दिन का वेतन 1 लाख 65 हजार 600 रूपए की राशि प्रदान की गई।

साथ ही कोरोना संक्रमण से बचने के लिए महिला एवं बाल विकास कार्यालय बैतूल की ओर से पोषण अभियान अंतर्गत RTE के तहत 3 से 6 वर्ष की आयु वर्गके बच्‍चों को मिलने वाले नाश्‍ता और गर्म पका भोजन व्‍यवस्‍था प्रभावित होने के कारण रेडी-टू-ईट का वितरण घर घर जाकर किया एवं कोविड 19 के बचाव के लिए स्वंय के द्वारा मास्क बनाकर वितरण करनेे की व्‍यवस्‍था की गई है और साथ ही इस तपती गर्मी में आंगनवाडी केन्‍द्राेें पर पक्षियों के लिए की दाने पानी की व्यवस्था की जा रही है।

इन्हे गांवों व शहर में जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। उनसे यह अपील भी की जा रही है कि मास्क लगाकर ही रहें। महिला एवं बाल विकास कार्यालय के जिला कार्यक्रम अधिकारी बीएल विश्‍नोई जी ने बताया कि संस्थान की ओर से 10 हजार से अधिक मास्क वितरित किए जा चुंके है। इसके लिए मास्क की सिलाई का काम स्‍वयं आंगनवाडी कार्यकता द्वारा किलया गया है। जैसे जैसे मास्क तैयार होते जा रहे हैं उनका वितरण भी किया जा रहा है। यदि अधिक मास्क की जरूरत रही तो और मास्क भी सिलाकर वितरित किए जाएंगे। जिसमें जिला अधि‍कारी विश्‍नोई जी एवं एकीकृत बाल विकास परियोजना बैतूल की ओर से अधिकारी कल्‍पना जोनथन, एवं ब्लाक की समस्त परियोजनों में आंगनवाडी कार्यकता द्वारा मास्क बनाकर बांटेे गये।

शहर में प्रतियोगी परीक्षा के लिये निःशुल्क ऑनलाइन क्लास प्रारम्भ


मध्यप्रदेश के प्रत्येक वे सभी बच्चे जुड़ सकते है जिन्हें इस लोकडॉन में तैयारी करने में दिक्कतों सामना करना पड़ रहा हो , पैसों का आदि वजह से समस्याए हो रही हो वे ऑनलाइन क्लास जॉइन कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते है

बस स्मार्ट फोन होना चाहिये हाथों में ओर दिल मे पढ़ाई करने की लगन आपको मंजिल तक पहुंचा सकती है मेरे दोस्तों

मुलतापी समाचार

ज्ञान / शिक्षा का दान सर्वश्रेष्ठ दान
सिहोर- शहर में प्रतियोगी परीक्षा के छात्रों को एस सी आई कोचिंग संचालक वल्लभी सिंह एवं श्री दीपक सिंह (सोनू सर)के दुवारा पूर्णतः निशुल्क शिक्षा प्रदान की जा रही है ।कोरोना संकट के इस दौर में चारो तरफ के लोगो को घर मे रहना अत्यंत आवश्यक है। ऐसी परिस्थिति में विद्यार्थियों का शिक्षा प्राप्त कर पाना एवं जारी अत्यंत कठिन हो गया है । जहाँ एक तरफ सरकार का आदेश का पालन करना है वही दूसरी तरफ विद्यार्थियों के ऊपर उनको भविष्य को लेकर डर की स्तिथि निर्मित हो रही है ।
इन परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सीहोर नगर के एक समाज सेवी दंपत्ति श्रीमती वल्लभी दीपक सिंह एवं एडवोकेट श्री दीपक सिंह दुवारा एक रास्ता निकाला कि विद्यार्थी अपने घर रहकर ही मोबाइल कर माध्यम से शिक्षा प्राप्त कर सके। श्री दीपक सिंह जी दुवारा यह कार्य पूर्ण रूप से निशुल्क किया जा रहा है ।
इस प्रकार के कार्य पूर्व में भी श्री सिह दुवारा सम्पन्न किए जा चुके है।जिनके बजह से श्री सिंह को कई समाज सेवी संस्थाओं दुवारा सम्मानित किया जा चुका है ।
वर्तमान में श्री दीपक सिंह के दुवारा दिए जाने वाली फ्री ऑनलाइन क्लास का नगर के साथ साथ अन्य राज्यो के विद्यार्थी लाभ उठा रहे है ।
श्री मति वल्लभी सिंह ( संचालक एस. सी .आई .)एवं एडवोकेट श्री दीपक सिंह की सभी विद्यार्थियों से अपील है कि जो भी विद्यार्थि शिक्षा ग्रहण करना चाहते है वह संस्थान में सपर्क करे उसे पूर्णतः निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जायेगी।
श्री दीपक सिंह के पढ़ाये गये विद्यार्थियों में कई छात्रों में से कई छात्रों ने मध्यप्रदेश में टॉप किया है जिसमे बबली मालवीय एवम नेहा आजाद ने विगत आयोजित हुई वर्ग 1 और वर्ग 2 में मध्यप्रदेश में टॉप 10 में स्थान प्राप्त किया है।

मुलतापी समाचर

नवीन जैसवाल, सीहोर, न्यूज़ रिपोर्ट

एमपी के हर जिले में बनेगी कोरोना रोकथाम की रणनीति


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

भोपाल: प्रदेश में बढ़ते कोरोना के प्रकोप को देखते हुए शिवराज सरकार ने जिलेवार रणनीति बनाने का फैसला लिया है! मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना पर नियंत्रण की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की! उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना की स्थिति में निरंतर सुधार हो रहा है! नए प्रकरणों में निरंतर कमी आ रही है! कोरोना संकट को शीघ्र समाप्त करने के लिए अब हर शहर व जिले की परिस्थिति को देखते हुए रणनीति बनाई जा रही है!

अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि 28 अप्रैल की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में कुल 3942 सैंपल में से 223 ही positive आए! भोपाल की स्थिति में भी सुधार हुआ है ! यहां की 2030 सैंपल में से 30 positive आए हैं ! इसी प्रकार उज्जैन और जबलपुर की स्थिति में भी उल्लेखनीय सुधार है! उज्जैन के 225 में से चार पॉजिटिव व जबलपुर के 222 सैंपल में से एक पाजीटेब आया है! ग्वालियर के 225 टेस्ट में से कोई भी पॉजिटिव नहीं आया है!

बैठक में सीएम को जानकारी दी गई कि प्रदेश में कोरोना से बचाव एवं इलाज के लिए पर्याप्त चिकित्सा सामग्री एवं उत्कृष्ट उपचार की सुविधा उपलब्ध है! हमारे पास पर्याप्त टेस्टिंग kits, पीपीई किड्स, एवं मास्क उपलब्ध है ! मंगलवार से अरविंदो हॉस्पिटल में और आरडी गार्डी अस्पताल में टेस्टिंग चालू हो गई है ! रोजाना लगभग 2,000 टेस्ट किए जा रहे हैं!

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

Corona vividh 19 की लड़ाई में हेमंत आगे : कलेक्टर ने दिखाई दृढ़ता, संकट प्रबंध समिति में सांसद-विधायक सदस्य नहीं


बैतूल। देश-प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते केन्द्र से लेकर प्रदेश की सभी सरकारें अलर्ट पर है एवं इस महामारी के निदान के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। 

मध्यप्रदेश वर्तमान समय में देश में कोरोना पॉजीटिव मरीजों की संख्या के मामले में चौथे नंबर पर है। केन्द्र सरकार ने 25 मार्च से देशभर में लॉकडाउन घोषित किया था। मप्र शासन ने लॉकडाउन के दौरान आने वाली समस्याओं और व्यवस्थाएं बनाए रखने के लिए हर जिले में जिला संकट प्रबंध समूह का गठन किया था। मप्र शासन गृह मंत्रालय के पत्र क्रमांक 43/2020 दिनांक 3 अप्रैल 2020 के अनुसार इस समिति का गठन हुआ और बाद में इसका पुनर्गठन हुआ। मप्र के लगभग सभी जिलों में इस समिति में स्थानीय सांसद एवं विधायकों को सदस्य के रूप में शामिल किया गया था, लेकिन बैतूल जिले की स्थिति अलग है। 

बैतूल जिले की संकट प्रबंध समिति में कलेक्टर राकेश सिंह अध्यक्ष एवं शासकीय अधिकारियों में सदस्य एसपी, सीएमओ, सिविल सर्जन, सीएमएचओ, जिपं सीईओ एवं होमगार्ड कमांडेंट तथा अशासकीय सदस्यों में शुरू में पूर्व विधायक हेमंत खंडेलवाल, पूर्व बैंक प्रशासक अरूण गोठी एवं भारतभारती शाला समिति के सचिव मोहन नागर को सदस्य बनाया गया था और बाद में डॉ. राजेन्द्र देशमुख एवं ब्रजआशीष पांडे को जोड़ा गया था।

बैतूल संसदीय क्षेत्र अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित है, वहीं घोड़ाडोंगरी और भैंसदेही विधानसभा सीट भी इसी अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए रिजर्व है। आमला विधानसभा सीट अनुसूचित जाति तथा बैतूल एवं मुलताई सीट अनारक्षित है। इस तरह से बैतूल जिले के जनप्रतिनिधियों में अनुसूचित जनजाति वर्ग से भाजपा सांसद डीडी उइके एवं इसी जनजाति से विधायकों में कांग्रेस के ब्रह्मा भलावी एवं धरमू सिंह है। अनुसूचित जाति वर्ग से आमला से भाजपा के डॉ. योगेश पंडाग्रे विधायक निर्वाचित हुए है तथा बैतूल और मुलताई विधानसभा सीट से कांग्रेस के ही निलय डागा और सुखदेव पांसे विधायक है। इस तरह से अनुसूचित जनजाति वर्ग से तीन एवं अनसूचित जाति वर्ग से एक जनप्रतिनिधि है। 

बैतूल जिला संकट प्रबंध समूह में किसी भी निर्वाचित जनप्रतिनिधि (सांसद एवं विधायकगण) को सदस्य ना बनाए जाने को लेकर राजनैतिक, प्रशासनिक एवं सामाजिक क्षेत्रों में आश्चर्य व्यक्त किया जा रहा है और कई क्षेत्रों से विरोध के स्वर भी उठे है कि जब सभी जिलों में इस महत्वपूर्ण समिति में जिले के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को शामिल किया गया है तो बैतूल समिति में शामिल नहीं किए जाने का क्या कारण है। जब समिति में चार अशासकीय सदस्य राजनैतिक दलों से है, तो इन राजनैतिक दलों की तरफ से निर्वाचित सांसद और विधायकों को शामिल क्यों नहीं किया गया। 

खबरवाणी को मिली जानकारी के अनुसार इस संबंध में बैतूल के जुझारू कांग्रेस विधायक निलय डागा प्रशासन के सामने अपना विरोध दर्ज करा चुके है। इसके अलावा भाजपा के कई सदस्यों ने भी मीडिया के माध्यम से यह बात उठाई है। संकट प्रबंध समिति में सांसद-विधायकों को तो शामिल नहीं किया गया, लेकिन इन्हें लॉकडाउन की अवधि 25 मार्च से आज दिनांक तक मात्र दो बार प्रशासन द्वारा बैठक बुलाकर असंतोष कम करने का प्रयास जरूर किया गया, जिसमें पहले बैठक 10 अप्रैल को और दूसरी बैठक कल 27 अप्रैल को बुलाई गई थी। पहली बैठक में सांसद और चार विधायक उपस्थित रहे। सिर्फ भैंसदेही के विधायक धरमूसिंह अनुपस्थित रहे। कल की बैठक में मुलताई विधायक सुखदेव पांसे अनुपस्थित रहे। खबरवाणी को मिली जानकारी के अनुसार कल की बैठक में बैतूल के विधायक निलय डागा ने कहा कि मै विपक्षी दल का विधायक हूं, इसलिए भले ही मुझे समिति का सदस्य ना बनाया जाए, लेकिन कम से कम सत्तारूढ़ भाजपा के सांसद और विधायक को तो समिति में शामिल करें। 

वहीं जिला संकट प्रबंध समूह की लॉकडाउन के बाद से अभी तक 12 से 15 अधिकृत बैठके हो चुकी है, जिसमें हर बैठक में अशासकीय सदस्य हेमंत खंडेलवाल, अरूण गोठी और मोहन नागर उपस्थित रहे और इन बैठकों में ही यह निर्णय लिए गए कि किस तरह से लॉकडाउन की अवधि के दौरान विभिन्न सामग्रियों की दुकाने खोलने और उसके लिए समयावधि तय की जाए और इन बैठकों का जनसंपर्क विभाग के माध्यम से अधिकृत समाचार भी समय-समय पर जारी हुआ। 

इस तरह से कई बार यह मामला उठने के बावजूद संकट प्रबंध समिति में सांसद, विधायकों को सदस्य नहीं बनाए जाने को लेकर राजनैतिक क्षेत्र में यह चर्चा हो रही है कि पूर्व विधायक हेमंत खंडेलवाल एक बार फिर भाजपा के प्रदेश में सत्ता संभालने के बाद जिले में सबसे शक्तिशाली नेता के रूप में सामने आए है और प्रशासन भी उनकी बात को नजरअंदाज नहीं कर पा रहा है, क्योंकि जब भाजपा के वर्तमान जनप्रतिनिधि और पूर्व जनप्रतिनिधि एक साथ उपस्थित रहकर प्रशासन के सामने कोई बात रखते है, तो उस समय अधिकांश बात सिर्फ पूर्व विधायक हेमंत खंडेलवाल ही तथ्यों के साथ पक्ष रखते है और बाकी जनप्रतिनिधि और प्रशासन उनकी बात ध्यान से सुनते है।

इसलिए माना जा रहा है कि संकट प्रबंध समिति के गठन में भी हेमंत खंडेलवाल के अनुसार ही सदस्यों का चयन किया गया है, क्योंकि जिस तरह से समिति में कांग्रेस नेता अरूण गोठी को शामिल किया गया है, उसके लिए जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनील शर्मा से सलाह लेने की जगह पूर्व मंत्री सुखदेव पांसे से राय ली गई थी। ऐसी जानकारी सूत्रों के माध्यम से प्राप्त हुई है और इसीलिए निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को समिति का सदस्य नहीं बनाया गया है और ऐसा लगता है कि अब इन जनप्रतिनिधियों को सदस्य बनाया भी नहीं जाएगा। 

प्रशासनिक हल्कों में इसे संवेदनशील कलेक्टर एवं प्रशासनिक क्षमता के धनी राकेश सिंह की दृढ़ इच्छाशक्ति निरूपित की जा रही है, जिन्होंने विरोधों और दबावों के बावजूद इस समिति में जनप्रतिनिधियों को शामिल करना उचित नहीं समझा। इस संबंध में बताया जा रहा है कि कलेक्टर राकेश सिंह ने एक जनप्रतिनिधि को कहा कि मै आप लोगों से मिलने वाले सुझावों का दिन-प्रतिदिन पालन करवा रहा हूं। 

अच्‍छी खबर- बैतूल के मरीज की चौथी रिपोर्ट आई नेगेटिव, बैतूल जिला ग्रीन जोन शामिल


ताजा खबर: भैसदेही के एकमात्र कोरोना मरीज हुआ ठीक, रिपोर्ट आयी नेगेटिव,जिला ग्रीन जोन में शामिल

मुलतापी समाचार

बैतूल – मुलतापी समाचार बैतूल जिले के लिए आज राहत की बड़ी खबर आई है। एकमात्र कोरोना पॉजिटिव शख्स की रिपोर्ट नेगेटिव आ गयी है। इसके साथ ही जिला अब कोरोना की ग्रीन ज़ोन श्रेणी में आ गया है।

मुख्‍य जिला चिकित्‍सा अधिकारी डॉ. जी. सी. चौरसि‍ि‍या ने बताया कि भैसदेही के एकमात्र कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है। उसका कोरेण्टाइन काल भी दो तीन दिन शेष है। एक अन्य सैंपल के बाद आने वाली रिपोर्ट पश्चात उन्हें घर भेज दिया जाएगा। उनके परिजनों का भी कोरेण्टाइन अब पूरा होने वाला है। उन्होंने कहा कि निसंदेह यह राहत की खबर है। आज आयी चार रिपोर्ट्स में चारो सैम्पल नेगेटिव आये है। इनमें एक घोड़ाडोंगरी इलाके, एक कंपनी गार्डन, एक मोती वार्ड और एक भैसदेही का सैंपल था जिनकी रिपोर्ट मिल गयी है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने भी इसके लिए प्रेस नोट जारी कर रिपोर्ट के नेगेटिव आने की तस्दीक की है। आपको बता दे कि भैसदेही में पाए गए मरीज की यह चौथी सैम्पल की रिपोर्ट है।इसके पहले भेजे गए सैम्पल की रिपोर्ट प्राप्त नही हो सकी थी।

सफाई कर्मचारियों का पुष्प वर्षा कर सम्मान किया


मुलतापी समाचार


मुलताई। भारतवासियों द्वारा पूरे देश में चल रहे लॉक्डाउन के समय अपनी जान जोखिम में डालकर सेवा दे रहे सभी स्वास्थ्यकर्मी पुलिसकर्मी एवं सफ़ाई कर्मचारियों का सम्मान किया किया जा रहा है जिसके चलते आज अनुसया सेवा संगठन द्वारा अनुसया मंदिर के सामने पुष्प वर्षा कर मंदिर के पुजारी मुन्नालाल साहू द्वारा अपनी शादी की सालगिरह पर श्री फल देकर नपा कर्मचारियों का सम्मान किया जो इस संकट की घड़ी में देश की व हमारी सेवा कर रहे है येसे पालन कर्ताओ का सम्मान करना उनका स्वाग्त करना समाज के सभी वर्ग का दाइत्व बनता है
अनुसया सेवा संगठन सभी से अपील करता है की इस कोरोना महामारी से बचने के लिए सभी अपने घर में ही रहे और शासन प्रशासन का सहयोग करे और मास्क लगाए सुरक्षित रहे
अनुसया सेवा संगठन के कार्यकर्ता :- कृष्णा साहू,रितिक जोशी, राजेश साहू, महेश छिपने,पवन साहू आदि उपस्तिथ

मशहूर बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का निधन


Irfan khan

लम्‍बे समय से लड़ रहे थे कैंसर से जंग

मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का निधन बुधवार को हो गया.  अभिनेता इरफान खान को मंगलवार को पेट के संक्रमण के बाद शहर के एक अस्पताल की आईसीयू में भर्ती कराया गया था. उनके प्रवक्ता ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए बताया था कि 53 वर्षीय अभिनेता को कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. खान की 2018 में कैंसर की बीमारी का इलाज हुआ था.

खान की 95 वर्षीय मां सईदा बेगम की तीन दिन पहले जयपुर में मृत्यु हो गई थी. अभिनेता कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगाये गये लॉकडाउन के कारण अपनी मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाये थे. कैंसर की बीमारी से निजात पाने के बाद 2019 में वापसी करते हुए अभिनेता ने ‘‘अंग्रेजी मीडियम’’ फिल्म की शूटिंग की थी.

COVID-19: महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या 9000 के पार, जानें अपने राज्य का हाल


स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry ) के मुताबिक पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के संक्रमण से 51 लोगों की मौत हुई है और संक्रमण के 1,594 नए मामले सामने आए हैं.

देश में अब तक 31,408 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं.

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर लगातार जारी है. भारत में कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण से मरने वालों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 937 हो गई और संक्रमितों की तादाद 31,408 पर पहुंच गई. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry ) के मुताबिक पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के संक्रमण से 51 लोगों की मौत हुई है और संक्रमण के 1,594 नए मामले सामने आए हैं. देश में अब तक 7,026 मरीज ठीक हो चुके हैं और 22,010 मरीजों का अभी अस्पतालों में इलाज चल रहा है.

सोमवार शाम से अब तक कुल 51 मरीजों की जान गई है, जिनमें से 27 की मौत महाराष्ट्र में, 11 की गुजरात में, सात रिपीट सात की मध्य प्रदेश में, पांच की राजस्थान में और एक की मौत जम्मू- कश्मीर में हुई हैं. देश में कोविड-19 से हुई 937 मौतों में से सबसे ज्यादा 369 लोगों की जान महाराष्ट्र में गई है. इसके बाद गुजरात में 162, मध्य प्रदेश में 113, दिल्ली में 54, राजस्थान में 46, आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश में 31-31 मरीजों की मौत हुई है. तेलंगाना में 26 लोगों की मृत्यु हुई है. तमिलनाडु में 24 तो पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में 20-20 मरीजों ने संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया है. बीमारी से पंजाब में 18, जम्मू कश्मीर में सात, केरल में चार और झारखंड तथा हरियाणा में तीन-तीन लोगों की मौत हुई है. मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, बिहार में दो मरीजों ने दम तोड़ा है जबकि मेघालय, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा और असम में एक-एक मरीज की मौत हुई है.

मंत्रालय के मंगलवार की शाम को जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में सबसे ज्यादा कोरोना के केस महाराष्ट्र में हैं जहां 8,590 लोग कोविड-19 से संक्रमित हैं. इसके बाद गुजरात में 3,548, दिल्ली में 3,108, मध्य प्रदेश में 2,368, राजस्थान में 2,262, उत्तर प्रदेश में 2,043 और तमिलनाडु में 1,937 लोग संक्रमित हैं. आंध्र प्रदेश में कोविड-19 के मामलों की संख्या 1,259 और तेलंगाना में 1,004 हो गई है। पश्चिम बंगाल में मामलों की संख्या 697, जम्मू-कश्मीर में 546, कर्नाटक में 520, केरल में 482, बिहार में 346 और पंजाब में 313 हो गई है. हरियाणा में कोरोना वायरस के 296 मामले सामने आए हैं, जबकि ओडिशा में 118 मामले हैं. झारखंड में 103 और उत्तराखंड में 51 लोग वायरस से संक्रमित हुए हैं.

खुल गए बाबा केदारनाथ धाम के कपाट


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

केदारनाथ: भगवान केदारनाथ धाम के कपाट आज सुबह मेष लग्न में, ग्रीष्म काल के लिए खोल दिए गए! अब अगले 6 महीने तक बाबा केदारनाथ धाम में पूजा-अर्चना होगी! सुबह 6:10 पर कपाट खुलने के बाद पहली पूजा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नाम से की गई!

मंदिर को 10 कुंटल फूलों से भव्य तरीके से सजाया गया! अभी केवल मंदिर के कपाट खोले गए हैं, ताकि पुजारी बाबा की विधि विधान से पूजा अर्चना कर सकें! कोरोना वायरस के चलते जिला प्रशासन ने आम लोगों को केदारनाथ धाम के दर्शन करने की इजाजत नहीं दी है! फिलहाल 16 सदस्यों को ही पूजा करने की इजाजत दी गई है!

उत्तराखंड सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बाबा केदार के कपाट खुलने पर भक्तों को बधाई दी है! उन्होंने कहा, “बाबा केदार हम सभी पर अपना आशीर्वाद बनाए रखें! बाबा केदार के आशीर्वाद से हम कोरोना की इस वैश्विक महामारी को हराने मैं जरूर कामयाब होंगे! कोरोना के कारण इस बार आमजन दर्शन नहीं कर सकेंगे! हम सभी के मन में बाबा केदार के लिए अपार श्रद्धा है! बाबा केदार अपने भक्तों पर सदा कृपा बनाए रखें, यही प्रार्थना है!

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

अमेरिका में कोहराम, न्यूयॉर्क सिटी हुई तबाह


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

वाशिंगटन: कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप अमेरिका में चरम पर है! यहां पर 24 घंटे में 2200 से ज्यादा मौतें हुई है, जबकि महामारी से पीड़ित लोगों की संख्या 10 लाख के पार पहुंच चुकी है !

वाशिंगटन स्थित जॉन हापकिंस यूनिवर्सिटी द्वारा बुधवार को जारी किए गए नवीनतम आंकड़े के मुताबिक अमेरिका में कोविड – 19 से 10 लाख 12 हजार 582 लोग संक्रमित हैं! जबकि महामारी की चपेट में आने से कुल 58 हजार 355 लोगों की मौत हो चुकी है! अभी भी हजारों लोग गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती हैं! जबकि 1 लाख 15 हजार 936 कोरोना मरीज जानलेवा वायरस से छुटकारा पा चुके हैं!

न्यूयॉर्क सिटी कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है! यहां अब तक 17 हजार 682 कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की मौत हुई है! बताया जा रहा है कि न्यूयॉर्क में स्थिति को संभालना मुश्किल हो रहा है! शहर के कुछ अस्पतालों में लाशों को रखने के लिए मुर्दाघर में भी जगह नहीं बची है!

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल