इंदौर में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज 5.75 लोगों को बांट रहा संक्रमण

Multapi samachar

इंदौर के कोरोना पॉजिटिव मरीज देश के औसत से डेढ़ गुना अधिक लोगों को संक्रमित कर रहे हैं। एक अध्ययन के मुताबिक, इंदौर में एक कोरोना पॉजिटिव 5.75 लोगों को संक्रमित कर रहा है, जबकि देश का औसत 3.7 है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री का विश्लेषण करने पर यह बात सामने आई है। हालांकि अध्ययन जारी है और यह ट्रेंड आगे बदल सकता है।

स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को शहर के 116 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के प्रारंभिक संपर्कों का विश्लेषण किया। इसमें पाया कि इन लोगों के संपर्क में आए 668 लोगों को भी कोरोना संक्रमण हो गया। इस तरह एक पॉजिटिव मरीज ने औसत 5.75 लोगों को संक्रमित किया। यह तस्वीर आंकड़ों के फौरी विश्लेषण से सामने आई है, लेकिन पूरी हकीकत तब सामने आएगी जब सभी पॉजिटिव मरीजों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री पता करने के बाद इसका अध्ययन किया जाएगा।

यह प्रारंभिक रुझान

अध्ययन में शामिल एमजीएम मेडिकल कॉलेज के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के प्रभारी डॉ. सलिल साकल्ले ने बताया कि यह सब प्रारंभिक आकलन है। इससे हम किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते। एक बार स्थिति सामान्य होने के बाद इस पर अध्ययन करेंगे। हाल ही में इंदौर आए भारत सरकार के केंद्रीय दल में शामिल विशेषज्ञ सदस्य और दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के डायरेक्टर प्रोफेसर और कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के प्रमुख डॉ. जुगलकिशोर ने भी पुष्टि की कि इंदौर का यह आंकड़ा राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है। जिला प्रशासन ने एप के जरिए कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का काम शुरू किया है, जिससे पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने वालों की पकड़ आसानी से हो सकेगी। इधर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया का कहना है कि इंदौर में अभी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के आंकड़े स्पष्ट नहीं हैं। हम ज्यादा सैंपलिंग कर रहे हैं इसलिए पॉजिटिव व निगेटिव दोनों मिलेंगे।

हम कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का एक राउंड कर चुके हैं और अब दूसरा राउंड शुरू कर रहे हैं। साथ ही बफर जोन में भी सर्वे किया जा रहा है। यह सब कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग और सैंपल की जांच पर निर्भर करता है। कुछ लोगों ने 10-12 तक तो कुछ ने एक-दो लोगों को ही संक्रमित किया है। हमारी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग हिस्ट्री में कुछ केस ऐसे भी आए हैं जिसमें एक पॉजिटिव मरीज से 13 लोगों तक संक्रमण फैलने की चेन मिली है। – आकाश त्रिपाठी, कमिश्नर

3.7 हो गया राष्ट्रीय औसत देश में कोरोना

संक्रमण शुरू होने से लेकर अब तक कांटेक्ट ट्रेसिंग (एक व्यक्ति कितने व्यक्ति को संक्रमित कर रहा है) दर के तीन आंकड़े सामने आ रहे हैं। मार्च में यह दर 1.7 थी जबकि अप्रैल के शुरुआती दौर में यह 2.3 फीसदी थी। वहीं अब यह बढ़कर 3.7 फीसदी माना जा रहा है। इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज के पीएसएम विभाग ने 3.7 फीसदी के हिसाब से आकलन कर ही इसे डेढ़ गुना माना है। सीएमएचओ ने इसकी पुष्टि की।

इंदौर में यह है कांटेक्ट ट्रेसिंग की बानगी

1. इंदौर के चंदन नगर में पुलिस पर हमला करने वाले नासिर खान को सेंट्रल जेल में रखा। बाद में जांच में वह कोरोना पॉजिटिव निकला। नासिर के साथ रहने वाले कैदियों की जांच हुई तो वे भी संक्रमित पाए गए। साथ ही नासिर के संपर्क में आए दो जेल प्रहरी भी संक्रमित मिले। नासिर ने करीब 10 लोगों में संक्रमण फैला दिया।

2. इंदौर के सैफी होटल में काम करने वाला एक व्यक्ति लॉकडाउन के दौरान खरगोन जिला स्थित अपने गांव बड़गांव के लिए निकला। रास्ते में वो कसरावद में रिश्तेदार के घर ठहर गया। बाद में वह पॉजिटिव पाया गया। उसने कसरावद के रिश्तेदारों और बड़गांव में भी परिवार में संक्रमण फैला दिया। इस पूरी कड़ी में लगभग 10 लोग संक्रमित हो गए।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s