चीन में वापस आया कोरोना वायरस, शी जिनपिंग ने लगाया मार्सल लॉ


बीजिंग। भारत जैसे देशों के लिए बहुत बड़ी चेतावनी है। चेतावनी यह कि जब कोरोना चीन में दोबारा भड़क सकता है तो फिर यहां भी भड़क सकता है। इसलिए एक बार कोरोना नियंत्रित हो जाये तो फिर लापरवाह नहीं हो जाना चाहिए। वरना ये दूसरे शहरों या प्रदेशों में पनप सकता है। चीन ने दावा किया था कि उसने कोरोना पर पूरी तरह नियंत्रण कर लिया है। लेकिन खबर आयी है कि चीन के नॉर्थ ईस्ट शुलान में कोरोना इतनी तेजी से भड़का कि चीन की शी जिनपिंग सरकार को न केवल वहां लॉक डाउन लगाना पड़ा बल्कि मार्शल लॉ भी लगाना पड़ा है।

चीन ने उत्तर कोरिया की सीमा से लगते अपने एक शहर में रविवार को 11 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद मार्शल लॉ लागू कर दिया।

शहर में घातक वायरस के फिर से तेजी से फैलने का भय पैदा हो गया है। सरकारी ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने खबर दी है कि वे लॉन्ड्रीवुमन के संपर्क में आने के बाद ये लोग कोरोना से संक्रमित हुए।

सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के जिलिन प्रांतीय समिति के सचिव बाईन चाओलू ने कहा कि शुलान शहर को सर्वाधिक खतरे के स्तर के एहतियात की जरूरतों के मुताबिक, मार्शल लॉ लगाना चाहिए। बाईन ने कहा कि शुलान में क्लस्टर संक्रमण से लोगों की जिंदगी को काफी खतरा हो सकता है। शुलान में शनिवार से स्थानीय समुदायों और गांवों में लॉकडाउन जारी है।

चीन में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 14 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक कोविड-19 के केंद्र में रहे राज्य हुबेई में सामने आया है। इसके बाद देश में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 82,901 हो गई हैं, जिनमें से 4,630 लोगो की मौत हो चुकी है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने रविवार को बताया कि नए मामलों में 12 लोग देश में ही संक्रमित हुए हैं, जिनमें से एक व्यक्ति हुबेई प्रांत में संक्रमित पाया गया है।

हुबेई में पिछले 35 दिन से संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया था। यह संक्रमण सबसे पहले इसी प्रांत में फैलना शुरू हुआ था। एनएचसी ने बताया कि संक्रमण के 14 नए मामले शनिवार को सामने आए। इसके अलावा 20 ऐसे लोग भी संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें संक्रमण के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे है। ऐसे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 794 हो गई है, जिनमें लक्षण दिखाई नहीं दे रहे है। सरकारी संवाद समिति ‘शिन्हुआ’ ने बताया कि चीन में इस संक्रमण से 4,633 लोग मारे गए हैं। अमेरिका स्थित ‘जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी’ ने बताया कि वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस से 40 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं और 2,79,311 लोगों की मौत हो चुकी है।

अब घर बैठे ही दर्ज कर सकते हैं एफ आईआर


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

भोपाल: मध्यप्रदेश में रहने वाले लोगों को अब पुलिस थानों में जाकर एफआईआर दर्ज कराने की आवश्यकता नहीं होगी। एमपी पुलिस ने अब एफआईआर दर्ज कराने के लिए एक नई योजना शुरू की है। आपको अब सिर्फ एक फोन कॉल करना होगा, इसके बाद पुलिस न केवल आपके घर आकर आपकी समस्या सुनेगी, बल्कि आपकी शिकायत भी दर्ज करेगी। एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस एफ आई आर की कॉपी भी आपके घर पहुंचा कर जाएगी। मध्य प्रदेश पुलिस ने “डायल 100- FIR आपके द्वार” नाम से एक योजना शुरू की है।

इस योजना के तहत अपनी शिकायत को दर्ज कराने के लिए शिकायतकर्ता को सिर्फ 100 नंबर डायल करना होगा। यह नंबर पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना देनी है। पुलिस कंट्रोल रूम आपके काल से संबंधित सूचना तत्काल संबंधित पुलिस स्टेशन को देगा। वहीं पुलिस स्टेशन में ड्यूटी ऑफिसर के पद पर तैनात अधिकारी तत्काल आपके काल के लिए एक पुलिस अधिकारी को तैनात कर देंगे। एफआईआर दर्ज होने के बाद वह आपको एफआईआर की कॉपी भी मुहैया कराएगा।

मध्य प्रदेश पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार फिलहाल इस योजना के पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत की गई है। पायलट प्रोजेक्ट के तहत, मध्य प्रदेश के जोन मुख्यालय से दो पुलिस स्टेशन का चयन किया गया है। इनमें एक पुलिस स्टेशन शहरी इलाके का है, वही दूसरा पुलिस स्टेशन ग्रामीण इलाके का है। इस योजना के तहत जिन पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है, उन्हें लैपटॉप सहित दूसरे जरूरी उपकरण भी उपलब्ध कराए गए हैं।

मुलतापी समाचार हटा

ईरान ने अपने ही जहाज को मार गिराया, दर्जनों की मौत


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

ईरान: ईरान ने ओमान की खाड़ी में सैन्य अभ्यास के दौरान बड़ी गलती कर दी, जिसमें ईरान को अपने ही 19 नाविकों की जान गवानी पड़ी। दरअसल ओमान की खाड़ी में ईरान ने गलती से अपने ही एक जहाज पर मिसाइल दाग दी। जिसमें ईरान के 19 नाविकों की मौत हो गई है और 15 अन्य घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि इस सैन्य अभ्यास में ईरानी नौसेना के दो जहाज शामिल थे। इसी दौरान उसने सैन्य उपकरण ले जाने वाले कोणार्क नाम के अपने ही एक जहाज पर विशाल दाग दी।

बता दें कि समुद्री सीमाओं को लेकर ईरान और अमेरिका के बीच इन दोनों तनातनी चल रही है। जिसे लेकर ईरान लगातार सैन्य अभ्यास कर रहा है। जिससे वक्त आने पर वह अमेरिका को जवाब दे सके। लेकिन रविवार को ईरान ने बड़ी गलती कर दी और अपने ही जहाज पर मिसाइल दाग दी।

मुलतापी समाचार हटा

12 मई से चलेंगी ट्रेनें, किराए में नहीं मिलेगी कोई छूट


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नई दिल्ली: रविवार को भारतीय रेल विभाग ने कहा है कि 12 मई से चरणबद्ध तरीके से यात्री ट्रेनें शुरू की जाएंगी। हालांकि इस दौरान ट्रेन के किराए में किसी प्रकार की छूट नहीं दी जाएगी।

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के लिए 11 मई यानी आज शाम 4:00 बजे से टिकट की बुकिंग शुरू होगी। भारतीय रेलवे के मुताबिक़ लॉक डाउन के दौरान चलने वाली ट्रेनों का टिकट ऑनलाइन ही बुक करना होगा।

इसके अलावा किसी को भी प्लेटफार्म टिकट नहीं मिलेगा और ना ही कोई काउंटर टिकट जारी होगा। ऐसे में स्टेशन तक यात्री के साथ जाने वाले लोग स्टेशन के अंदर प्रवेश नहीं पा सकेंगे।

इन विशेष ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को किराए में किसी भी प्रकार की कोई छूट नहीं मिलेगी। चाहे वह सीनियर सिटीजन, दिव्यांग या महिला यात्री ही क्यों ना हो।

12 मई से चलने वाली ट्रेनों का किराया राजधानी के कराई के बराबर होगा। टिकट की कीमत महंगी इसलिए रखी गई है ताकि जरूरतमंद लोग ही सफर कर सकें और ज्यादा भीड़ ना हो।

यात्रा के दौरान इन ट्रेनों का स्टापेज भी काफी कम स्टेशनों पर होगा।

मुलतापी समाचार हटा

यूरोप की तर्ज पर बदलेगा ट्रांसपोर्ट सिस्टम, जेब पर पड़ेगा भारी


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और कई क्षेत्रों के विशेषज्ञ कह चुके हैं कि अब हमें कोरोना के साथ जीने की आदत डालनी होगी। इस बीच केंद्र और राज्य सरकारों ने मौजूदा ट्रांसपोर्ट सिस्टम को बदलने की तैयारी शुरू कर दी है।

जिस नये सिस्टम की बात हो रही है वह काफी हद तक यूरोप की तर्ज पर रहेगा। बसों में आधी सीटें खत्म होगी तो वहीं ट्रेन और मेट्रो के फेरे सात गुने बढ़ जाएंगे। मेट्रो कोच या ट्रेन की एक बोगी में सोशल डिस्टेंसिंग के चलते यात्रियों की संख्या आधी होगी। तो वहीं साइकिल को सबसे ज्यादा तवज्जो मिलेगी।

केंद्र सरकार के ट्रांसपोर्ट, रेलवे, वित्त, शहरी विकास, स्वास्थ्य और गृह मंत्रालय के अधिकारियों की टीम विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों के साथ मिलकर इस प्रोजेक्ट पर काम कर रही है। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि अब जो सिस्टम बनेगा, वह यूरोप की तरह नजर आएगा। इनका जीवन काल भी लंबा रहेगा। हर एक वाहन में हैंड वास, सैनिटाइजर, फेस मास्क और दस्ताने आदि की व्यवस्था की जाएगी। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि राज्य में नई व्यवस्था के तहत 52 सीट वाली बस में अब सिर्फ 25 यात्री ही बैठ सकेंगे।

ऐसी स्थिति में यात्रियों को दोगुना किराया देना पड़ सकता है। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के अध्यक्ष कुलतरण सिंह अटवाल और झारखंड बस मालिक एसोसिएशन के सचिव किशोर मंत्री भी कह चुके हैं कि इस बाबत बस मालिकों के साथ चर्चा हो रही है। हम चाहते हैं कि सभी राज्यों में कोरोना से बचाव वाला एक समान ट्रांसपोर्ट सिस्टम लागू हो। अब परिवहन सेक्टर में कई बड़े बदलाव देखने मिल सकते हैं।

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

बिजली बिल भुगतान हेतु जिले के सभी वितरण केन्द्रों के काउंटर चालू


बैतूल – मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड बैतूल द्वारा जिले में सभी उपभोक्ताओं के बिजली बिल भुगतान हेतु सभी 30 वितरण केन्द्रों के बिजली बिल भुगतान हेतु काउंटर चालू कर दिए गए हैं। बिजली बिल भुगतान काउंटर में सोशल डिस्टेंसिंग हेतु पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। इसके अतिरिक्त उपभोक्ताओं के लिए पानी एवं साबुन का भी इंतजाम किया गया है।

बैतूल जिला मुख्यालय पर भग्गूढाना स्थित वितरण कंपनी के कार्यालय, लिंक रोड दक्षिण संभाग कैम्पस स्थित एटीपी मशीन, इसके अतिरिक्त नागरिक बैंक में भी विद्युत उपभोक्ता बिल का भुगतान कर सकते हैं। इसी प्रकार आमला शहर एटीपी मुलताई (शहर), शाहपुर एवं सारनी में भी बिल का भुगतान काउंटर के साथ-साथ एटीपी मशीन द्वारा भी किया जा सकता है। उपरोक्त शहरों के अतिरिक्त सभी ग्रामीण वितरण केन्द्र में बिल भुगतान काउंटर भी पूर्व की तरह यथावत् चालू कर दिए गए हैं।

बिल भुगतान काउंटर के अतिरिक्त कम्पनी की वेबसाइट portal.mpcz.in पर भी नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, कैश कार्ड द्वारा भुगतान किया जा सकता है। ऑनलाइन भुगतान हेतु अन्य विकल्प जैसे उपाय एप, पेटीएम, फोन-पे एवं गूगल-पे आदि पर सभी ऑनलाइन भुगतान किया जा सकता है। विद्युत वितरण कंपनी द्वारा सभी उपभोक्ताओं से बिजली बिलों का भुगतान तय समय पर करने की अपील की गई है।

मुलतापी समाचार बैतूल