दिव्यानी और चंचल ने एक बार फिर साबित कर दिया कि बेटियाँ, बेटो से कम नही।


जहाँ दो सगी बहनों ने हिन्दू रीति रिवाज से किया अपनी माँ का अन्तिम संस्कार

जहाँ बेटियों ने नम आंखों से दी अपनी मां को अंतिम विदाई।

बैतूल जिले के मुलताई तहसील में दो सगी बहनों ने हिन्दू रीति रिवाजों के साथ मोक्ष धाम में अपनी माँ को अंतिम संस्कार के साथ उन्हें बिदाई दी। मुलताई के पटेल वार्ड बीजेपी भवन के सामने श्री राम चन्द्र कड़वे की जीवन धर्मपत्नी श्रीमती रुक्मणी पवार जिनका जन्म 17 फरवरी 1971 को बैतूल बाजार में हुआ था, और 17 मई 2020 को जिस नगर के जिस घर मे जन्म हुआ था उसी घर मे दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। रुक्मणी रामचन्द्र कड़वे अपने पीछे दो बेटियां छोड़ कर चली गईं। बड़ी बेटी दिव्यानी ने कंधे पर मटकी रख मां की चिता की परिक्रमा लगाई वहीं दूसरी बेटी चंचल ने अपनी मां को मुखाग्नि दी। यह नजारा देख उपस्थित सभी लोगों की आंखें छलक गई। साथ ही बेटियों ने आज एक बार फिर साबित कर दिया कि बेटियाँ, बेटों से कम नहीं।

बैतूल से प्रदीप डिगरसे की रिपोर्ट।

जिलें में लॉकडाउन 4.0 की नई व्यवस्था कल से लागू होगी


बैतूल कलेक्टर श्री राकेश सिंह

एक-एक दिन खोली जाएंगीं बाएं एवं दाएं तरफ की दुकानें

दूध एवं फल-सब्जी की होम डिलेवरी/डोर-टू-डोर विक्रय की व्यवस्था पूर्वानुसार रहेगी

खाने-पीने की दुकानें एवं रेस्टोरेंट सिर्फ किचन खोलकर अनुमति उपरांत होम डिलेवरी कर सकेंगे

बैतूल – जिले में प्रभावशील लॉकडाउन के दौरान अब जिले के सभी नगरीय क्षेत्रों में मंगलवार 19 मई से एक दिन बाएं तरफ की एवं एक दिन दाएं हाथ तरफ की दुकानें खोली जाएगीं। बाएं एवं दाएं तरफ का चिन्हांकन सोमवार की रात्रि में ही संबंधित नगरीय निकाय द्वारा कर दिया जाएगा। दुकानें खोलने का यही क्रम आगामी आदेश तक जारी रहेगा।

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राकेश सिंह ने सोमवार को जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समूह की बैठक में विचार-विमर्श उपरांत बताया कि नगरीय क्षेत्रों में दुकानें खोलने का समय प्रात: 10 बजे से सायं 6 बजे तक रहेगा। दूध, फल एवं सब्जी की होम डिलेवरी/डोर-टू-डोर विक्रय की व्यवस्था पूर्वानुसार यथावत रखी गई है। यह बिक्री प्रात: 7 बजे से प्रात: 10 बजे तक की जा सकेगी। कलेक्टर ने बताया कि जिले में सभी खाने-पीने के रेस्टॉरेंट, दुकानें एवं चाय की दुकानें पूरी तरह बंद रखे जाएंगे। खाने-पीने की दुकानें/रेस्टोरेंट संबंधित तहसीलदार से नियमानुसार अनुमति प्राप्त कर मात्र किचन खोलकर खाद्य सामग्री की होम डिलेवरी कर सकेंगे।

ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें खोलने की व्यवस्था पूर्वानुसार ही रहेगी। लॉकडाउन के दौरान अन्य व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी पृथक से उपलब्ध कराई जाएगी।

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल 9584390839

मंदसौर के क्वॉरेंटाइन सेंटर में एक युवक की मौत


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

मंदसौर: मंदसौर में रेवास देवड़ा रोड पर स्थित क्वॉरेंटाइन सेंटर पर एक युवक की मौत हो गई है। युवक के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि अभी नहीं हुई है। इसके चलते सेंटर पर युवक के परिजनों ने हंगामा कर दिया। युवक को अन्य बीमारी होने की आशंका के चलते चिकित्सकों की टीम जांच कर रही है। सीएमएचओ डॉ महेश मालवीय के अनुसार 34 वर्षीय शहनाज पुत्र मोहम्मद इब्राहिम की मौत हुई है। इनका सैंपल 16 मई को जांच हेतु गया है, लेकिन रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। शहनाज 8 मई से सेंटर पर मौजूद है। उसका भाई कोरोना पाज़ीटिव है।

मुलतापी समाचार

विदिशा जिले में सड़क हादसे में एक भाई की मौत, एक गंभीर


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

विदिशा: विदिशा जिले में नेशनल हाईवे 146 कुआं खेड़ी के पास अज्ञात ट्रक की टक्कर से दो सगे भाई गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया गया। इस सड़क दुर्घटना में 25 वर्षीय विजय केवट को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया, जबकि उसके भाई गुलाब की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना रात करीब 2:30 बजे की बताई जा रही है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिला चित्रकूट थाना राजापुर के ग्राम बिहरवा निवासी यह दोनों भाई इंदौर में काम करते थे। बाइक से अपने गांव जा रहे थे पुलिस ने उनके परिजनों को सूचना दे दी है।

मुलतापी समाचार

ग्वालियर मध्य प्रदेश: इमारत में लगी आग ,2 की मौत


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

ग्वालियर: ग्वालियर में 3 मंजिला इमारत में आग लगने से 2 लोगों की मौत हो गई। ग्वालियर शहर में इंदरगंज रोशनी घर रोड पर एक तीन मंजिला इमारत में आग लग गई। जिसमें केदारनाथ गोयल के परिवार के सात लोग फंसे थे। इसमें से दो बच्चों को बचा लिया गया है और 5 लोगों का पता नहीं चला है। फिलहाल 2 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। जानकारी के मुताबिक मकान के नीचे पेंट की दुकान है।

मुलतापी समाचार

देव प्रभाकर शास्त्री दद्दा जी अब हमारे बीच नहीं रहे, आज होगा उनका अंतिम संस्कार


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

कटनी: गृहस्थ संत पंडित देव प्रभाकर शास्त्री दद्दा जी का रविवार रात लगभग 8:30 बजे देवलोक गमन हो गया, वे 81 साल के थे ।दद्दा जी किडनी और लीवर की बीमारी से पीड़ित थे।

देश की कई नामी हस्तियों के आध्यात्मिक गुरु और गृहस्थ संत पंडित देव प्रभाकर शास्त्री दद्दा जी ने 1980 से पार्थिव शिवलिंग निर्माण प्रारंभ किया, इसके बाद इसने अभियान का स्वरुप ले लिया।

दद्दा जी का जन्म अनंत चतुर्दशी के दिन 1939 में कटनी जिले के बहोरीबंद तहसील के ग्राम कूड़ा में हुआ था। उनके पिता का नाम गिरधारी दत्त शास्त्री था। उनकी पत्नी का नाम कुंती देवी था। उनके परिवार में तीन पुत्र दो पुत्रियां नाती, नातिन सहित पूरे भारत में शिष्य है। उनका वर्तमान आश्रम घनश्याम बाग कूड़ा में है। उन्होंने राष्ट्र कल्याण के उद्देश्य से 1980 से जबलपुर से पार्थिव शिवलिंग निर्माण कार्य प्रारंभ किया। उन्होंने अपने जीवन काल में सवा करोड़ शिवलिंग निर्माण के 108 से अधिक आयोजन किए।

पूर्व राज्य मंत्री व विजयराघवगढ़ विधायक संजय पाठक, फिल्म अभिनेता आशुतोष राणा व हास्य कलाकार राजपाल यादव दद्दा जी के अनन्य भक्तों में शामिल हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह उनकी पत्नी साधना सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, अर्चना चिटनिस, रीवा विधायक राजेंद्र शुक्ला, कैलाश विजयवर्गीय, समेत कई विधायक और मंत्री उनके शिष्य रहे हैं।

मुलतापी परिवार की तरफ से दद्दा जी को श्रद्धा सुमन अर्पित

अस्पताल स्टाफ द्वारा किया गया माकडील का अभ्यास।


मुलताई और प्रभात पट्टन के अस्पताल स्टाफ द्वारा कोरोना मरीज को अस्पताल में भर्ती करते समय रखने वाली सतर्कता और सक्रियता पर माकडील का आयोजन किया।

बैतूल – बैतूल जिले में एक साथ दो लोगों के कोरोना पाजिटिव मिलने से एक बार फिर स्वास्थ्य विभाग और प्रसाशन पूर्ण रूप से सक्रिय नजर आ रहा है। वही दूसरी ओर बैतूल जिलें के मुलताई और प्रभातपट्टन क्षेत्र में अस्पताल स्टाफ द्वारा माकडील का अभ्यास किया गया। कि यदि क्षेत्र में कोई कोरोना पाजेटिव मिलता है तो स्वास्थ्य अमला कितनी सतर्कता तथा सक्रियता से उसे भर्ती करता है। जिले में दो कोरोना पाजेटिव मरीज के मिलने से पूरे जिले में हड़कंप मच गया है एैसे में स्वास्थ्य अमला भी अलर्ट मोड पर आ गया है तथा जहां भी कोराना पाजेटिव मरीज मिलता है तो उसे कैसे स्वास्थ्यकर्मी हेंडल करेगे इसके लिए दोनों ही स्थानों पर पूरी तरह अभ्यास किया गया। इस संबन्ध में मुलताई बीएमओ उदयप्रताप सिंह तोमर तथा प्रभात पट्टन प्रभारी बीएमओ पल्लव अमृतफले ने बताया कि कोरोना पाजेटिव मरीज मिलने के अभ्यास के तहत सबसे पहले नकली मरीज बनाकर उसे सेनेटाईज्ड किया गया जिसके बाद ग्लब्ज पहनकर मरीज को एंबूलेंस में रखा गया। अस्पताल स्टाफ द्वारा पीपीई किट पहनकर पूरी सतर्कता के साथ वाहन को भी सेनेटाईज्ड किया गया जिसके बाद आईसुलेट करके मरीज को भर्ती किया गया। इसके बाद मरीज के सेंपल लेकर उसे जांच के लिए भेजे गए हैं। चिकित्सकों ने बताया गया कि वर्तमान में पूरे क्षेत्र में संदिग्ध मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है जिनके लगातार सेंपल लेकर जांच हेतू भेजे जा रहे हैं। उन्होने बताया कि हालांकि प्रभात पट्टन तथा मुलताई क्षेत्र में अभी तक सभी भेजे गए सेंपल की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है लेकिन इसके बावजूद जिले में दो मरीज मिलने से पूरी सतर्कता बरती जा रही है। यदि इस दौरान कोई संदिग्घ मरीज मिलता है तो कैसे स्वास्थ्य अमला पूरी सतर्कता से मरीज को भर्ती करेगा इसके तहत मुलताई और प्रभात पट्टन में माकडील का आयोजन किया गया।

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल 9584390839