होम क्वारेंटाइन किए गए लोग घरों से बाहर न निकलें हो सकती है एक साल की सजा


कलेक्टर ने दिए सघन निगरानी के निर्देश

बैतूल – कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राकेश सिंह ने होम क्वारेंटाइन किए लोगों निर्देश दिये हैं कि वे क्वारेंटाइन अवधि में घरों से बाहर न निकलें. यदि ऐसा करते पाए जाते हैं तो संबंधित के विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 (ब) तथा अन्य अधिनियमों के तहत पुलिस में प्रकरण दर्ज कराया जाएगा, जिसमें उल्लंघनकर्ता को एक साल तक की सजा हो सकती है.

कलेक्टर ने जिले के समस्त इंसिडेंट कमांडर्स एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे सघन निरीक्षण कर यह सुनिश्चित करें कोई भी संस्थागत अथवा होम क्वारेंटाइन व्यक्ति क्वारेंटाइन नियमों का उल्लंघन न करे एवं क्वारेंटाइन स्थल से बाहर न निकले. यदि कोई उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो उसके विरुद्ध तत्काल नियमानुसार कार्रवाई की जाए।

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल 9584390839

जम्मू कश्मीर: वैष्णो देवी धाम में रोज बन रहा मुस्लिमों के लिए खाना


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

कटरा: पवित्र रमजान के महीने में कटरा के एक क्वारंटीन सेंटर में ठहराये गये मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने सहरी और इफ्तारी का विशेष प्रबंध किया है। श्राइन बोर्ड ने इस क्वारंटीन सेंटर में मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए अब ईद पर भी विशेष पकवान बनाने की बात चल रही है।

कटरा प्रशासन के कहने पर श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने बस स्टैंड के पास बने आशीर्वाद भवन को क्वारंटीन केंद्र बनाकर वहां करीब 600 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की है। श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने कहा कि इस क्वारंटीन सेंटर में ठहराये गये मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए पवित्र रमजान के महीने में सहरी और इफ्तारी के हिसाब से खाना दिए जाने की उचित व्यवस्था की है।

बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार के मुताबिक बोर्ड न केवल समय पर इन मुस्लिम समुदाय के लोगों को सहरी और इफ्तारी के लिए खाना मुहैया करवा रहा है, बल्कि इन लोगों को यह खाना सही समय पर बांटा जाता है। बोर्ड के सीईओ के मुताबिक मुस्लिम समुदाय की आस्थाओं का ध्यान रखते हुए बोर्ड ने अपनी रसोई और खाने के मेनू में फेरबदल किया है। इसके साथ ही बोर्ड सोशल डिस्टेंसिंग जैसे प्रोटोकॉल का ध्यान रख समय पर मुस्लिम समुदाय के लोगों को सहरी और इफ्तारी दे रहा है।

मुलतापी समाचार

बैतूल जिले में तीन नये मरीज और मिले बढ़कर हुए 16


बैतूल – घोड़ाडोंगरी क्षेत्र में तीन नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

सिवनपाठ गांव में पिता पुत्री एवं शोभापुर गांव में एक महिला की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव

20 मई को सभी मुंबई से आए थे घोडाडोंगरी

सिवनपाठ गांव में शुक्रवार को जिस महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

आज उसके पति और पुत्र की भी रिपोर्ट आई पॉजिटिव

सभी 20 मई से घोडाडोंगरी के एससी हॉस्टल के क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे गए हैं

फुटपाथ पर खाना बांटते बांटते नीलम से हुआ प्यार, फिर दोनों की हुई शादी


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

कानपुर: कानपुर के बुध आश्रम में नीलम से शादी रचाने वाले अनिल ने शायद सपने में भी नहीं सोचा होगा कि लाकडाउन में वह फुटपाथ पर जिस नीलम को भिखारियों के साथ खाने के पैकेट बांट रहा है वह 1 दिन उसके गले में वरमाला पहनाएगा।

नीलम के पिता नहीं है ,मां पैरालिसिस से पीड़ित हैं। भाई और भाभी ने मारपीट कर नीलम को घर से भगा दिया था। नीलम के पास गुजारा करने के लिए कुछ नहीं था, इसलिए वह लाकटाउन में खाना लेने के लिए फुटपाथ पर भिखारियों के साथ लाइन में बैठती थी। अनिल अपने मालिक के साथ रोज सब को खाना देने आता था। इसी दौरान अनिल को जब नीलम की मजबूरियों का पता चला तो उसे उससे प्यार हो गया। फिर क्या भिखारी की लाइन से निकलकर नीलम सात जन्मों के लिए उसकी हमसफर बन गई। अनिल एक प्रॉपर्टी डीलर के यहां ड्राइवर है । उसका अपना घर है, माता-पिता भाई सब है। जबकि नीलम की जिंदगी फुटपाथ पर भीख मांग कर चलती थी। उसे तो यह उम्मीद ही नहीं थी कि कोई उससे भी शादी कर सकता है।

इस शादी को कराने में अनिल के मालिक ललिता प्रसाद का सबसे बड़ा योगदान रहा। अनिल जब दिन में खाना बांट कर आता था तो उससे नीलम के बारे में बातें करता। ललिता भी उसकी भावना समझ गए। उसके बाद ललिता प्रसाद ने उसके पिता को शादी के लिए राजी किया, और दोनों की शादी करा दी। ललिता प्रसाद का कहना है कि अनिल खाना बांटने हमारे साथ जाता था, फिर उसे उस लड़की से लगाव हो गया। मुझसे इस बारे में चर्चा की तो मैंने इसे रात में भी खाना देने को कहा।फिर अनिल खुद खाना बनाकर देने जाने लगा। उसके बाद मैंने अनिल के पिता को राजी किया सिर्फ दोनों की शादी करवा दी। भगवान की कृपा से दोनों बेटा बेटी खुश है।

मुलतापी समाचार

सूरत के सैलून में PPE किट पहनकर काटे जाते हैं बाल, पहले से करवाना होती है बुकिंग


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

गुजरात सूरत:गुजरात के सूरत में एक यूनिसेक्स सैलून कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए ग्राहकों से सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ कई और नियमों का पालन किया जाता है। किसी भी कस्टमर को दुकान में सीधा आने की अनुमति नहीं है। अगर आपको अपने बाल कटवाने या फिर कुछ करवाना है तो आपको उसके लिए पहले अपॉइंटमेंट लेनी होगी।

रिफ्लेक्शंस यूनिसेक्स सैलून के क्रिएटिव हेड अवनी सराफ ने बताया कि हम सभी दिशा निर्देशों का पालन कर रहे हैं। अब हम सिर्फ अपार्टमेंट के आधार पर काम कर रहे हैं और अगर कोई कस्टमर आता है तो तब उन्हें हम वापस भेज देते हैं ताकि सैलून में भीड़ इकट्ठी न हो। हम रूम में आने वाले हर कस्टमर के आने और जाने पर सैनिटाइजर से उसके हाथ साफ करवाते हैं।

उन्होंने कहाकि हम सैलून में शोषण डिस्टेंसिंग बनाए रखते हैं । सभी कर्मचारी अपनी ड्यूटी करते समय पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट पीपीई किट पहनते हैं। सैलून में कुर्सियों के इस्तेमाल के बाद उन्हें सैनिटाइज किया जाता है। इतना ही नहीं उस किट को स्टेरलाइज करते हैं जिसका इस्तेमाल ग्राहक के लिए किया जाता है।

मुलतापी समाचार बैतूल

जबलपुर में तेजी से बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

जबलपुर: जबलपुर में शुक्रवार को मेडिकल कॉलेज अस्पताल के वायरोलॉजी लैब से जारी 196 सैंपल की रिपोर्ट में कोरोना के 5 नए मरीज सामने आए। इस प्रकार जिले में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 199 पहुंच गया है। जबलपुर में अब तक कोरोना से 9 लोगों की मौत हो चुकी है, और 116 लोग स्वस्थ होकर लौट चुके हैं। फिलहाल यहां कोरोना के 74 एक्टिव केस है।

सुख सागर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती एक कोरोना मरीज के रिपीट सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव तथा 19 मई को एल्गिन अस्पताल में जन्म ली लड़की की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। जबकि इसकी मां कोरोना वायरस से संक्रमित है। कोरोना नेगेटिव लाडली कोरोना पॉजिटिव मां के साथ मेडिकल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। जानकारी के मुताबिक कोरोनावायरस से संक्रमित मिला पुलिस का जवान जयप्रकाश आधारताल क्षेत्र का निवासी है तथा गुरुवार तक गोरखपुर थाना क्षेत्र में ड्यूटी पर रहकर रामपुर तथा होम साइंस कॉलेज रोड स्थित निजी चिकित्सक से सर्दी व बुखार का इलाज कराया था। निजी चिकित्सक की सलाह पर उसने गुरुवार को ही कोरोना की जांच के लिए सैंपल दिया था और शुक्रवार को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

इधर साउथ मिलोनीगंज निवासी 52 साल का इलेक्ट्रिशियन कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया। इलेक्ट्रीशियन अपने भाई के साथ पिता का इलाज कराने विक्टोरिया अस्पताल गया था। हालांकि लाक डाउन के बाद से उसने इलेक्ट्रिशियन का काम कहीं नहीं किया जिससे राहत की सांस ली जा रही है।

मुलतापी समाचार बैतूल

जिले में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 13


जिले में एक दिन में 6 और एक दिन में 4 मरीज बढ़ने से कोरोना पॉजिटिव की संख्या 13 पहुंची, जिसमे 12 एक्टिव केस। 

बैतूल – जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या निरंतर बढ़ते जा रही है। जिसमे वर्तमान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 13 तक पहुँच चुकी है। वर्तमान में 22 मई को ही जिले के अलग-अलग स्थानों पर 4 कोरोना के मरीज मिले हैं। सबसे पहले नागपुर से भैंसदेही लौटे युवक से जिले में कोरोना का दौर जारी हुआ था और अब वर्तमान में नए 12 केस जिले में मिले हैं जो सभी मुंबई से ही जिले में लौटे है।

जिलें में कोरोना के बड़ते कदम

(1) 06-04-2020 जाम मोहल्ला, भैंसदेही
(2) 15-05-2020 ग्राम तारा, शाहपुर। (3) 15-05-2020 ग्राम तारा, शाहपुर 
(4) 19-05-2020 शोभापुर, रतनपुर, घोडाडोंगरी (5) 19-05-2020 शोभापुर, रतनपुर, घोडाडोंगरी
(6) 19-05-2020 शोभापुर, रतनपुर, घोडाडोंगरी (7) 19-05-2020 शोभापुर, रतनपुर, घोडाडोंगरी
(8) 19-05-2020 कतिया कोयलारी, घोड़ाड़ोंगरी  (9) 19-05-2020 कतिया कोयलारी, घोड़ाड़ोंगरी 
(10) 22-05-2020 हनुमान मोहल्ला, आठनेर  (11) 22-05-2020 ग्राम हिवरा,आठनेर 
(12) 22-05-2020 सिवनपाट, घोड़ाडोंगरी  (13) 22-05-2020 मोखामाल, शाहपुर 

जिले में महाराष्ट्र से लाैटे लाेगाें के कारण काेराेना पॉजिटिव का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। शुक्रवार को चार नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं ये सभी मुंबई से लाैटकर आए हैं। जिले में अब तक कुल 13 लाेग पॉजिटिव मिले हैं इनमें से 12 ताे मुंबई से लाैटे हैं। वहीं सबसे पहला केस भैंसदेही का युवक भी नागपुर से लाैटकर आया था। जाे अब ठीक हाे चुका है। वर्तमान में जिले में 12 एक्टिव केस हैं।

मुंबई से लौटी आठनेर की नर्स, हिवरा गांव का युवक, सिवनपाट घोड़ाडोंगरी और मोखामाल शाहपुर की दो महिलाएं भी पॉजिटिव मिली हैं। इस कारण शुक्रवार काे हिवरा, आठनेर, मोखामाल को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया है। सिवनपाट को कंटेनमेंट घोषित नहीं किया है। कलेक्टर श्री राकेश सिंह ने बताया कि महिला सिवनपाट पहुंची ही नहीं वह घोड़ाडोंगरी में क्वारेंटाइन थी इसलिए सिवनपाट काे छाेड़ दिया है। नर्स व युवक काे आठनेर के सेंटर और  माेखामाल की महिला काे शाहपुर शिफ्ट कर दिया है।

संपर्क में आए चार लोग क्वारेंटाइन, भेजे सैंपल

आठनेर और हिवरा के दो कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए मुलताई और प्रभातपट्टन ब्लॉक के चार लोगों के सैंपल लिए गए हैं। प्रभातपट्टन प्रभारी बीएमओ डॉ. पल्लव अमृतफले ने बताया पॉजिटिव नर्स जिस वाहन से आई आई थी उसके ड्राइवर के साथ ही ब्लॉक की एक अन्य युवती भी उसके संपर्क में आई थी। ड्राइवर और युवती को क्वारेंटाइन कर सैंपल जांच के लिए भेजे हैं।

जिले के हेल्थबुलेट 22 मई तक

कुल भेजे गए सैंपल की संख्या-551,
पॉजिटिव सैंपल संख्या-13,
नेगेटिव सैंपल संख्या-439,
रिपोर्ट अप्राप्त-94