दो मृत और एक संदिग्ध की रिपोर्ट आई निगेटिव


जिले में कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए जहां प्रशासन चिंता ग्रस्त है तो वहीं आम लोगों में भी डर की स्थिति बनी हुई है बीते दिनों बैतूल जिले में कोरोना संदिग्धों के सैंपल लेने के तत्काल बाद जहां 2 लोगों की मौत होने के बाद पूरे जिले में दहशत का माहौल उत्पन्न हो गया था। 
जिला अस्पताल के सीएमएचओ डॉ जीसी चौरसिया ने बताया है कि गोवा से अपने गांव धामन्या भैसदेही लौटे 17 वर्षीय युवक और टिकारी में रहने वाले 40 वर्षीय व्यक्ति की भी मौत हुई थी। जिसमें दोनों ही लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे जिनकी रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है। इसके अलावा शहर के लोहिया वार्ड में रहने वाले 58 वर्षीय व्यक्ति की भी कोरोना सैंपल रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है।
मुलताई तहसील के ग्राम हेटी खापा की रहने वाली 60 वर्षीय वृद्ध महिला को शनिवार जिला अस्पताल में भर्ती कराया गई थी और लक्षणों के आधार पर महिला का सैंपल भी लिया गया था। जिसकी शनिवार शाम को ही मौत हो गई थी। इस महिला की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।
बैतूल जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 38 है। जिसमें से 34 लोग स्वस्थ होकर अपने घर चले गए हैं जबकि जिले में केवल 4 कोरोना केस एक्टिव है। और अब तक जिले में कोरोना से कोई मौत नही है। जिससे बैतूल जिले में कोरोना वायरस का रिकवरी रेट बढ़कर 89.5% हो गई है।

स्वामी प्रज्ञानंद ब्रह्मलीन, सोमवार को कटंगी में दी जाएगी समाधि


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

जबलपुर: अंतरराष्ट्रीय प्रज्ञा मिशन के संस्थापक महामंडलेश्वर स्वामी प्रज्ञानंद महाराज शनिवार की शाम दिल्ली स्थित आश्रम में ब्रह्मलीन हो गए। सोमवार को कटंगी स्थित प्रज्ञा धाम में संतो के द्वारा समाधि दी जाएगी।

स्वामी प्रज्ञानंद की शिष्या शादी विभानंद ने बताया कि स्वामी जी ने शनिवार को दैनिक चर्या के साथ ही सुबह नाश्ता और दोपहर में भोजन किया और विश्राम में चले गए। शाम को सेवक जब उनके कमरे में गया तो उन्होंने कोई हरकत नहीं की। बताया जा रहा है कि सोते समय उन्हें हृदयाघात हुआ। सड़क मार्ग से प्रज्ञानंद का पार्थिव शरीर रविवार को दिल्ली से कटंगी लाया जाएगा। जिसके बाद संतों द्वारा अभिषेक किया जाएगा। सोमवार को सुबह 11:00 बजे प्रज्ञा धाम कटंगी में समाधि दी जाएगी।

कटंगी में 3 सितंबर 1945 को जन्मे महामंडलेश्वर प्रज्ञानंद महाराज के शिष्य कई देशों में हैं। 75 देशों में उन्होंने भारतीय संस्कृति की पताका लहराई। प्रारंभ में शिक्षकीय कार्य करते हुए गायत्री परिवार के श्रीराम शर्मा आचार्य जी से जुड़े रहे। 30 वर्ष में वे सन्यास मार्ग में बढ़ते हुए कई देशों की यात्राएं की। साउथ अमेरिका के श्रीनाम में आज भी शाम 7:00 बजे रेडियो और टेलीविजन में गायत्री संध्या होती है। जिसे महाराज जी ने शुरू किया था।

मुलतापी समाचार

आज 26 तवा डैम के पास मिला शेर का पग मार्क


बैतूल घोड़ाडोंगरी| सतपुड़ा टाइगर रिजर्व से भटक कर बैतूल की सीमा मैं शेर की लोकेशन आज सुबह बादलपुर के 26 तवा डैम के पास मिलने की खबर है। क्षेत्र के भाजपा नेता राजेंद्र वर्मा ने बताया की आज सुबह 26 तवा डैम के पास गीली रेत पर ग्रामीणों को शेर के पग मार्क मिले है। इसी क्षेत्र में आज 10 किलोमीटर की रेंज मैं विचरण कर रहे शेर कि कल रात की लोकेशन चोपना रेस्ट हाउस के पीछे पाई गई थी। सिर की लोकेशन के मामले में वन विभाग के अधिकारी कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे हैं। वन विभाग के अधिकारी साह से पूछने पर इतना कहा कि st-r की टीम लगातार शेर की लोकेशन पर निगरानी बनाए हुए है शेर 8 10 किलोमीटर की रेंज में मूवमेंट कर रहा है। शेर के पग मार्क के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने इसकी पुष्टि तो नहीं की। लेकिन यह जरूर कहा कि क्योंकि यहां बारिश हुई है और शेर इसी क्षेत्र में है इसलिए तक मार्क मिलना संभव है। आज सुबह शेर की लोकेशन 26 तवा डैम बादलपुर के पास मिलने से गांव वालों में दहशत का माहौल है।

सलैया को सील करने की तैयारी तहसीलदार टीआई सीईओ पहुंचे सलैया


 बैतूल घोड़ाडोंगरी। सलैया ग्राम निवासी 29 वर्षीय  युवक को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रशासन की टीम ने गांव में डेरा डाल दिया है। तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा, टीआई महेंद्र सिंह चौहान और सीईओ दानिश अहमद खान ने शासकीय अमले के साथ युवक के घर मोहल्ले सहित पूरे गांव का निरीक्षण किया। मोनिका विश्वकर्मा ने बताया कि सलैया गांव निवासी 29 वर्षीय युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद कलेक्टर द्वारा गांव को कंटेंटमेंट घोषित किया  जाएगा। अतः इसकी पूर्व तैयारी हेतु सलैया गांव का निरीक्षण किया है। उन्होंने बताया कि फिलहाल गांव वालों को घर में रहने की सलाह दी गई है। और आगे की कार्यवाही कलेक्टर के अगले आदेश के बाद में की जाएगी।

पुलिस मुख्यालय खुद कराना चाहता है भर्ती, उम्मीदवारों ने कहा-पीईबी ही कराए परीक्षा


भोपाल :-उप निरीक्षक स्तर के 1500 और सिपाही स्तर के 15 हजार पुलिस कर्मियों की भर्ती पर विवाद खड़ा हो गया है। पुलिस मुख्यालय यह भर्ती खुद कराने पर अड़ गया है। इसके लिए प्रस्ताव भी राज्य सरकार को भेज दिया है। जबकि उम्मीदवार हर बार की तरह इस बार भी प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) से भर्ती कराने की मांग कर रहे हैं।

कई छात्र संगठनों ने इस मांग को लेकर ज्ञापन भी सौंपे हैं। यह भर्ती प्रक्रिया अप्रैल से शुरू होनी थी, लेकिन लॉकडाउन की वजह से टल गई थी। अब लॉकडाउन में रियायतों के बाद यह प्रक्रिया फिर शुरू होगी। यह भर्ती प्रक्रिया प्रदेश में करीब तीन साल बाद हो रही है। प्रदेश में आखिरी बार पुलिस की भर्ती साल 2017 में हुई थी।

तब से किसी न किसी कारण से यह भर्ती प्रक्रिया टलती रही। इस साल जनवरी में उप निरीक्षक के डेढ़ हजार और सिपाही के पंद्रह हजार पदों पर भर्ती की पूरी तैयारी हो गई थी। यह भर्ती हर बार की तरह इस बार भी पीईबी से होनी थी, लेकिन इसी बीच पुलिस मुख्यालय की चयन शाखा ने भर्ती नियम बनाकर यह परीक्षा खुद ही कराने का प्रस्ताव राज्य शासन को भेज दिया है।

हालांकि जब तक राज्य शासन इस संबंध में कोई निर्णय लेता तब तक कोरोना का संक्रमण फैल गया और लॉकडाउन की वजह से पूरी प्रक्रिया एक बार फिर अधर में लटक गई। अब लॉकडाउन में रियायतें मिलने के साथ ही इस प्रस्ताव पर फिर कार्यवाही शुरू होने के आसार हैं। भर्ती परीक्षा जल्द हो सके इसके लिए मप्र युवा बेरोजगार संघ आगे आया है।

संघ के दिनेश चौहान, रवींद्र सिंह परिहार, रजनीश पांडे ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को ज्ञापन भेजा है। इसमें उन्होंने मांग की है कि परीक्षा जल्द से जल्द आयोजित की जानी चाहिए। परीक्षा पीईबी को ही लेनी चाहिए।

सेंधवा में गुटखा पाउच से भरा ट्रक पकड़ाया


सेंधवा में पुलिस ने गुटखा पाउच से भरा एक ट्रक पकड़ा है। उधर नीमच में 8 नए कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज मिले हैं। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के 2817 सक्रिय केस हैं। अभी तक 7377 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और इससे 447 लोगों की मौत हो चुकी है। मध्य प्रदेश में अब तक कुल 10,614 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं।

सेंधवा में गुटखा पाउच से भरा ट्रक पकड़ाया

सेंधवा में गुटखा पाउच से भरा एक ट्रक पकड़ाया है। जानकारी के मुताबिक ट्रक कर्नाटक से बड़वानी जा रहा था। ग्रामीण थाना पुलिस ने ट्रक को पकड़ा और दस्तावेज की जांच की। जानकारी के मुताबिक ट्रक से सेंधवा में 60 बोरी खाली की गई इसके बाद यह माल खाली करने बड़वानी की ओर जा रहा था।

मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में परीक्षा की जगह होगा मासिक मूल्यांकन


null

मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में परीक्षा की जगह होगा मासिक मूल्यांकन

मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में परीक्षा की जगह होगा मासिक मूल्यांकन

भोपाल | कोरोना के संक्रमण और लॉकडाउन के कारण पढ़ाई का पूरा सिस्टम ही बिगड़ गया है। पढ़ाई का सिस्टम कब तक बिगड़ा रहेगा अभी कुछ कहा नहीं जा सकता। इस साल पहली से लेकर कॉलेज तक के बच्चों की पढ़ाई ठप है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई कराई जा रही है, लेकिन उसकी हकीकत भगवान ही जाने। ऐसे में स्कूल शिक्षा विभाग ऐसी योजना बना रहा है कि जब स्कूल ही नहीं खुले हैं और पढ़ाई नहीं हुई तो बच्चों की तिमाही और छमाही परीक्षा कैसे ली जाएगी। इसलिए अब सरकारी स्कूलों के बच्चों का मासिक मूल्यांकन होगा।

उल्लेखनीय है कि हर साल एक अप्रैल से स्कूलों में शिक्षण सत्र शुरू हो जाता है, जो 22 अप्रैल तक जारी रहता है। इसके बाद गर्मियों की छुट्टी शुरू हो जाती है। 16 जून से फिर स्कूल खुल जाते हैं। इस वर्ष कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण स्कूल नहीं खुले और आगे भी स्कूल खुलने पर अभी तक कोई निर्णय नहीं हुआ है। ऐसे में न तो बच्चों के एडमिशन नहीं और न ही पढ़ाई हुई। ऐसी स्थिति देखकर स्कूल शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन कक्षाएं शुरू की हैं। लॉकडाउन के कारण स्कूल नहीं खुले। इस कारण बच्चों का कोर्स पूरा नहीं हो पाया। ऐसे में तिमाही व छमाही परीक्षाएं कराना स्कूलों में मुश्किल होगा। वहीं ऑनलाइन कक्षाओं का फायदा बच्चे कितना उठा पा रहे हैं, इसका अंदाजा भी मासिक मूल्यांकन से लगाया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग इस संबंध में जल्द ही मूल्यांकन संबंधी कार्ययोजना बनाकर जारी करेगा। मासिक मूल्यांकन के अंकों को प्रोग्रेस रिपोर्ट कार्ड में भी शामिल किया जाएगा।

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जहां पहली से आठवीं कक्षा के लिए शैक्षणिक रेडियो कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। वहीं 9वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थयों के लिए डिजिटल लर्निंग प्रोग्राम (डिजिलेप) के तहत और दूरदर्शन के माध्यम से सभी विषयों की पढ़ाई कराई जा रही है। इसके साथ ही वाट्सएप ग्रुप केमाध्यम से ऑनलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही हैं। इसमें शिक्षक विद्यार्थियों को दिया गया कार्य (असाइनमेंट) भी दे रहे हैं। विद्यार्थियों को इन असाइनमेंट को बनाकर रखना है, जब स्कूल खुलेंगे तो उनके असाइनमेंट की जांचकर उन्हें अंक भी दिए जाएंगे। विद्यार्थियों को सभी विषयों में प्रोजेक्ट भी दिए जाएंगे। खासतौर पर 10वीं व 12वीं के विद्यार्थियों को प्रोजेक्ट वर्क दिए जाएंगे।

इंदौर के सराफा थाने में गिरफ्तारी देने पहुंचे कांग्रेस विधायक और अध्यक्ष


इंदौर। कांग्रेस विधायक और इंदौर शहर कांग्रेस अध्यक्ष अपने खिलाफ दर्ज हुए केस के बाद रविवार सुबह गिरफ्तारी देने पहुंचे। इस दौरान सराफा थाना पुलिस ने विधायक संजय शुक्ला, विशाल पटेल और विनय बाकलीवाल को गिरफ्तार करने के बजाए कोर्ट का नोटिस दे दिया। अब 29 तारीख को उन्हें कोर्ट में पेश होना होगा। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी भी सराफा थाने में गिरफ्तारी देने पहुंचेंगे। गौरतलब है कि शनिवार को बिना अनुमति राजवाड़ा पर धरना देने के मामले में सराफा थाना पुलिस ने कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी, विशाल पटेल, संजय शुक्ला और शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। पुलिस के अनुसार राजवाड़ा क्षेत्र कोरोना के अतिसंवेदनशील क्षेत्र में आता है। यहां प्रदर्शन, धरना, रैली पर प्रतिबंध है। इसके बावजूद धरना प्रदर्शन किया गया।

यह है मामला

शुक्रवार को पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर का जन्मदिन मनाने के लिए कमला नेहरू नगर में राशन वितरण कार्यक्रम रखा था। आयोजन में भारी भीड़ उमड़ी। न शारीरिक दूरी का ध्यान रखा गया और न ही अन्य सावधानी रखी गई। इसी के विरोध में कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी, संजय शुक्ला और विशाल पटेल शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के साथ शनिवार सुबह 11 बजे राजवाड़ा पर अहिल्या प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे। इनकी मांग थी कि गुप्ता पर धारा 279, 270 और 271 में मामला दर्ज किया जाए|

धरने से नेताओं को उठाने के लिए एसडीएम राकेश शर्मा पहुंचे और नेताओं से धरना खत्म करने को कहा, लेकिन नेताओं ने इन्कार कर दिया। जमीन पर बैठे कांग्रेस नेताओं से बात करने के लिए एसडीएम उनके सामने जमीन पर घुटनों के बल खड़े हो गए। बात करते हुए एसडीएम ने हाथ जोड़कर धरना खत्म करने की बात भी कही, लेकिन कांग्रेस नेता नहीं माने। दो घंटे तक धरने पर बैठने की घोषणा के अनुसार दोपहर 1 बजे ही नेताओं ने धरना खत्म किया। इस मामले एसडीएम और सीएसपी को हटा दिया गया।

101 मीटर की चुनरी से करेंगे मां ताप्ती का श्रृंगार


बैतूल। हिंदू उत्सव समिति के तत्वावधान में कोरोना महामारी के नाश के लिए कोलगांव ताप्ती घाट पर 27 जून को ताप्ती जन्मोत्सव के अवसर पर 101 मीटर की चुनरी से मां ताप्ती का श्रृंगार किया जाएगा। समिति अध्यक्ष रश्मि रमेश गुगनानी ने बताया कि इस अवसर पर मां ताप्ती का विधि विधान से पूजन कर दुग्ध अभिषेक किया जाएगा। समाजसेवी रमेश गुगनानी ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना के समूल नाश के लिए मां ताप्ती से प्रार्थना भी समिति के लोग करेंगे। यह कार्यक्रम सुबह 9 बजे से प्रारंभ किया जाएगा।

असमंजस में विपक्ष, कौन होगा विधायक दल का नेता


भोपाल। मध्य प्रदेश में सरकार में रहते कांग्रेस जिस तरह प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर किसी एक नेता का नाम तय नहीं कर पाई थी, उसी तरह अब सत्ता गंवाने पर नेता प्रतिपक्ष तय नहीं कर पा रही है। सरकार बनाते समय विधायक दल ने कमल नाथ को अपना नेता चुना था और वे मुख्यमंत्री बने थे, लेकिन सरकार गिरने के बाद पार्टी विपक्ष में आ गई और आज तक विधानसभा सचिवालय को नेता प्रतिपक्ष की सूचना नहीं दे गई है।

दरअसल, नेता प्रतिपक्ष को लेकर पार्टी में संशय की स्थिति बनी हुई है, क्योंकि कुछ दिन पहले पार्टी के वरिष्ठ विधायक डॉ. गोविंद सिंह की इस पद पर ताजपोशी होते-होते रह गई थी और मामला टल गया। बताया जा रहा है कि मानसून सत्र के पहले नेता प्रतिपक्ष की ताजपोशी जरूरी है।

कमल नाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद जिस तरह प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) अध्यक्ष को लेकर पार्टी में सवा साल तक जद्दोजहद चलती रही थी, उसी तरह अब सरकार गिरने के बाद पार्टी के लिए नेता प्रतिपक्ष का पद हो गया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के लिए लगातार मांग करते रहे थे, लेकिन पार्टी इस पर फैसला ही नहीं कर पाई।