शाजापुर – कालापीपल परीक्षा केंद्र पर फूल माला पहनाकर स्वास्थ्यकर्मियों का किया सम्मान…


कालापीपल बोर्ड परिक्षा के समापन पर स्वास्थकर्मीयों को फूल माला से सम्मानित किया गया परीक्षाकेंद्रों पर अपनी ड्यूटी दे रहे नर्सिंग स्टाफ चेतना सिंह व शुभम उपाध्याय का शिक्षकों द्वारा फूल माला पहना कर सम्मान किया वही देखा जाए तो कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर तन मन और धन से अपना फर्ज निभा रहे स्वास्थ्यकर्मियों को कर्तव्यनिष्ठा के चलते आम जनमानस में उनकी उत्कृष्ट छवि बन गई है हम सभी कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते घरों में दुबके बैठे हुए हैं जबकि हम सुरक्षित रहें इसलिए अपनी जान की बाजी लगाकर अपनी ड्युटी ईमानदारी से निभा रहे हैं समाज में कोरोना वायरस के प्रति लोगों में जागरूकता भी फैला रहे हैं…

कालापीपल से ब्रजमोहन परमार की रिपोर्ट

बैतूल युवाओं ने जरूरतमंद लोगों को किए मास्क वितरण


बैतूल :- जैसा कि हम सभी जानते है इस समय भारत में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है, पर लोग बेपरवाह घूम रहे है, ना कोई मास्क लगाते है ना अपना बचाओ करते है। यही बात ध्यान में रखते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए प्रखंड छेत्र के बडोरा में युवाओं के सहयोग से 500 मास्क वितरण करवाए गए व सभी को कोरोना वायरस से बचाव के लिए जागरूक किया गया। इस कार्य में आदर्श अग्निहोत्री द्वारा मास्क बनाए गए व बैतूल शहर के युवाओं निक्की राजपूत, सागर करकरे, राजवीर सरले,अमृत काले, पीयूष सोलंकी, राहुल सिंह राजपूत, अक्षय चौहान, रोहित नायर, राहुल पावर, आशीष कोडले, पवन यादव, लक्की यादव, आदित्य सेन, आदि का साहियोग प्राप्त हुआ एवं मास्क बनाने की सामग्री संजय लौट द्वारा दी गई।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

1.20 लाख की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त ने जपं सीईओ को पकड़ा


Tikamgarh News : टीकमगढ़। निर्माण कार्यों के भुगतान और जांच निपटाने के एवज में रिश्वत लेना निवाड़ी जनपद पंचायत सीईओ को भारी पड़ गया। ग्राम पंचायत सरपंच पति द्वारा जैसे ही रिश्वत की राशि सीईओ को दी गई। वैसे ही लोकायुक्त पुलिस ने बंगले पर पहुंचकर हाथ धुला लिए। लोकायुक्त की इस कार्रवाई से पंचायत विभाग में हड़कंप मचा रहा।

गौरतलब है कि जनपद पंचायत निवाड़ी अंतर्गत ग्राम पंचायत टेहरका के सरपंच पति ग्यादीन अहिरवार द्वारा ग्राम पंचायत में निर्माण कार्य कराए गए थे। ग्राम पंचायत टेहरका में एक वर्ष में कराए गए मनरेगा योजना अंतर्गत कार्यो के भुगतान और पंचायत की जांच निपटाने के एवज में जनपद पंचायत सीईओ हर्ष कुमार खरे द्वारा चार लाख रिश्वत की मांगी गई थी। इस बात की शिकायत ग्यादीन ने सागर लोकायुक्त से की थी। शिकायत के बाद लोकायुक्त पुलिस ने पुष्टि की और फिर कैमिकल लगे हुए 1.20लाख रुपए आवेदक को थमा दिए।

मंगलवार को जैसे ही यह रुपए आवेदक ग्यादीन अहिरवार ने सीईओ हर्ष कुमार खरे को उनके बंगले पर थमाए। वैसे ही लोकायुक्त पुलिस की टीम वहां पहुंच गई। लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वत लेते हुए ट्रेप कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी। इस दौरान लोकायुक्त टीआई मंजू सिंह सहित अन्य मौजूद रहे

Sushant Singh Rajput Suicide: सुशांत के परिवार को दोहरा गम, अब सदमे में भाभी ने तोड़ा दम


बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के सुसाइड (Suicide) के गम को उनकी भाभी सुधा देवी (Sudha Devi) बर्दाश्त नहीं कर सकीं। सदमे में उनकी मौत हो गई। उनकी मौत ठीक उस वक्‍त हुई, जब मुंबई में सुशांत का अंतिम संस्‍कार (Funeral) संपन्‍न हो रहा था। सुधा देवी ने देवर की मौत की खबर मिलने के बाद से खाना-पीना त्याग दिया था। वे सुशांत सिंह राजपूत के पैतृक गांव पूर्णिया के मलडीहा में रहती थीं।

सुशांत ने किया सुसाइड, बिहार में रोते दिखे लोग

विदित हो कि सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में सुसाइड कर लिया था। इसके बाद पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई है। बिहार के पूर्णिया स्थित उनके पैतृक गांव मलडीहा तथा पटना के राजीव नगर इलाके में लोगों काे गम में रोते हुए भी देखा जा रहा है। इन दोनों जगहों से सुशांत के बचपन की यादें जुड़ीं हैं। उनके खगडि़या स्थित ननिहाल में भी मातम का माहौल है।

गहरे सदमे में चले गए पिता, भाभी की हो गई मौत

सुशांत की मौत की खबर मिलने के बाद पटना में रहने वाले उनके पिता केके सिंह (KK Singh) गहरे सदमे में चले गए तो पूर्णिया के पैतृक गांव में चचेरी भाभी सुधा देवी भी अवाक रह गईं। खबर सुनकर बीते कुछ समय से बीमार चल रहीं सुधा देवी की हालत बिगड़ गई। सदमें में वे बार-बार बेहोश होने लगीं। स्‍वजनों ने उन्हें सांत्‍वना दी तथा चिकित्सक को भी दिखाया, लेकिन उनपर कोई असर नहीं पड़ा। होश में आते ही वे सुशांत के बारे में पूछतीं कि वह ठीक है कि नहीं। फिर, घर पर जब लोगों की भीड़ देखतीं तो बेहोश हो जातीं थीं। देर शाम तक उनकी मौत हो गई।

भाई बोले- पहले सुशांत की मौत, अब पत्‍नी भी चली गई

सुधा देवी के पति व सुशांत के चचेरे भाई अमरेंद्र सिह (Amrendra Singh) ने बताया कि सोमवार सुबह से सुधा देवी की तबीयत ज्यादा खराब होने लगी थी। शाम पांच बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। शोकाकुल अमरेंद्र सिंह ने रोते हुए कहा कि पहले भाई ने साथ छोड़ा, अब पत्नी भी चलीं गईं। अब वे किसके सहारे जिंदा रहेंगे।

उधर, सोमवार को सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह पटना से मुंबई गए, जहां बेटे का शव देखकर वे फफक कर रोने लगे। उनके साथ गए सुशांत के चचेरे भाई व बिहार के छातापुर से विधायक नीरज सिंह बबलू (Niraj Singh Bablu) सहित अन्‍य लोगों ने उन्‍हें संभाला। इसके बाद सुशांत का अंतिम संस्‍कार मुंबई में ही संपन्‍न हुआ।

पैतृक गांव में लोग पूछ रहे सवाल: आखिर किसकी लगी नजर? 

इस बीच अपनी माटी के लाल को खोने के गम में पूरा मलडीहा गांव (Maldiha Village) मातमी सन्नाटे में डूबा हुआ है। सभी मूक जुबान से आंखों-आंखों से ही एक दूसरे से एक ही सवाल पूछते दिख रहे हैं कि आखिर हमारे गुलशन (सुशांत का निक नेम) को यह किसकी नजर लग गई। गांव के लोग सुशांत को गुलशन के नाम से ही पुकारते थे। उनकी मौत से सभी की आंखें नम हैं। मलडीहा गांव में सुशांत की मौत का सदमा तो उनकी भाभी की मौत से और गहरा हो गया है।

Transfer in Madhya Pradesh : राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले


प्रदेश सरकार ने सोमवार को देर रात 14 राज्य प्रशासनिक और ग्रामीण विकास सेवा के अधिकारियों के तबादले कर दिए। इसमें भोपाल विकास प्राधिकरण का मुख्य कार्यपालन अधिकारी बुद्धेश कुमार वैद्य को बनाया गया है।

वहीं, अंजू पवन भदौरिया को यहां से हटाकर मध्य प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रानिक्स डेवलपमेंट कार्पोरेशन का विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी बनाया है। अशोक नगर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी चंद्रशेखर शुक्ला अब अपर कलेक्टर भोपाल होंगे। भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी डॉ. अभय अरविंद बेडेकर को इंदौर का अपर कलेक्टर बनाया है।

किसे कहां से कहां किया पदस्थ

नाम– वर्तमान पदस्थापना — नवीन पदस्थापना

कैलाश वानखेड़े– अपर कलेक्टर इंदौर– अपर कलेक्टर बुरहानपुर

Transfer in Madhya Pradesh : राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले

Transfer in Madhya Pradesh : राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले

Updated:Tue, 16 Jun 2020 05:39 AM (IST)Transfer in Madhya Pradesh : भोपाल विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी बनाए गए बुद्धेश कुमार वैद्य।null

Transfer in Madhya Pradesh : भोपाल । प्रदेश सरकार ने सोमवार को देर रात 14 राज्य प्रशासनिक और ग्रामीण विकास सेवा के अधिकारियों के तबादले कर दिए। इसमें भोपाल विकास प्राधिकरण का मुख्य कार्यपालन अधिकारी बुद्धेश कुमार वैद्य को बनाया गया है।

वहीं, अंजू पवन भदौरिया को यहां से हटाकर मध्य प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रानिक्स डेवलपमेंट कार्पोरेशन का विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी बनाया है। अशोक नगर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी चंद्रशेखर शुक्ला अब अपर कलेक्टर भोपाल होंगे। भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी डॉ. अभय अरविंद बेडेकर को इंदौर का अपर कलेक्टर बनाया है।

किसे कहां से कहां किया पदस्थ

नाम– वर्तमान पदस्थापना — नवीन पदस्थापना

कैलाश वानखेड़े– अपर कलेक्टर इंदौर– अपर कलेक्टर बुरहानपुरnull

सरोधन सिंह– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अनूपपुर– अपर कलेक्टर अनूपपुर

प्रदीप जैन– मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्मार्ट सिटी उज्जैन– मुख्य महाप्रबंधक सड़क विकास निगम, भोपाल

मिलिंद कुमार नागदेवे– अपर कलेक्टर शहडोल– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अनूपपुर

राजकुमार खत्री– उप सचिव राजस्व– उप सचिव राज्य निर्वाचन आयोग

कृष्ण कुमार रावत– संयुक्त कलेक्टर सीहोर– उपायुक्त राजस्व रीवा

अतेंद्र सिंह गुर्जर– अपर कलेक्टर भोपाल– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दतिया

भगवान सिंह जाटव– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दतिया– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अशोक नगर

नीलेश परीख– संयुक्त आयुक्त विकास भोपाल– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत गुना

पीसी शर्मा– संयुक्त आयुक्त विकास रीवा– मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत रायसेन