मुलताई में हुए दो सड़क हादसे मरीजो की हालत गंभीर


बाइक सवार की आमने सामने की टक्कर में लक्ष्मन मुलताई स्वस्थ केंद्र में इलाज के बाद बेहोस हो गया जिशे डॉ ने तुरन्त किस बड़े हॉस्पिटल में लेजाने को कहा

Multapi Samachar

मुलताई । सामुदायिक स्वास्थकेन्द्र मुलताई में आज शाम में सड़क दुर्घटना में घायल मरीजों का इलाज कर रेफर किया गया जिसमें लक्ष्मण धुर्वे पिता शंकरलाल धुर्वे खरपोड़ा निवाशी वाले का प्रवीन पिता पन्ना लाल निवाशी डेहरगाव बैतूल का परमंडल रोड़ पर बहुत जमकर आमने सामने की टक्कर में दोनों बाइक सवार के गभीर रूप से घायल हो गए डॉ पलभ जी ने बताया बाइक की अधिक स्पीड में टकराने के कारण बाइक सवार के सरो में गंभीर चोट आई है

दूसरी बाईक दुर्घटना पंकज धुर्वे हॉस्पिटल लाया गया जिसने तीन लोगों को टक्कर मार घायल किया


वही दूसरी दुर्घटना रायआमल के पास सड़क हादसा हो गया जिसमे तीन लोग गम्भीर रूप से घायल हो गए। सड़क हादसे की खबर ऑटो अमुलेन्स को मिलते ही घटना स्थल से घायल दो बाइक सवार ओर महिला को मुलताई सरकारी अस्पताल लेकर आये , जहाँ इनका इलाज किया गया.। मिली जानकारी अनुसार पंकज धुर्वे पिता श्यामू धुर्वे निवाशी तायखेड़ा उम्र 22 वर्षीय ओर साथी मूलचंद पवार पिता कारूलाल पवार उम्र 23 वर्षीय, निवाशी जूनापानी ने द्वारका बाई पति भोजराज राय आमला निवाशी अपने खेत से निकलकर रोड पर आए ही थे कि पीछे से बाइक सवार पंकज ने नसे में धुत होने के कारण बाइक भिड़ा दी जिसमे पंकज ओर मूलचंद की बाई टांगे बूरी तरह से टूट गयी वही द्वारका बाई कई घण्टो तक बेहोस रही उन्हें अंदरुनी चोट आई हैं। जिन्हें डॉ ने इलाज कर बैतूल रेफर कर दिया।

उज्जैन में शराब के नशे में एएसआई ने मचाया हंगामा, निलंबित


यातायात थाने में पदस्थ एक एएसआई ने गुरुवार को शराब के नशे में पुलिस ऑफिसर्स मेस के समीप जमकर हंगामा मचाया। लोगों ने इसकी जानकारी डॉयल 100 पर दी। इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और उसे माधवनगर थाने ले गई। वहां भी उसने हंगामा किया। उसका कहना था कि उसकी पत्नी चार माह से बीमार है।

छुट्टी नहीं मिलने के कारण वह पत्नी को समय नहीं दे पा रहा है। आखिरकार पुलिस ने उसका मेडिकल करवाया और घर छोड़ दिया। पुलिस अधीक्षक मनोजसिंह ने एएसआई को निलंबित कर दिया है। एएसआई योगेश पांडे यातायात थाने में पदस्थ है। गुरुवार को वह शराब के नशे में पुलिस ऑफिसर्स मेस के समीप हंगामा कर रहा था।

इस पर कुछ लोगों ने फोन कर डॉयल 100 पर इसकी सूचना दी थी। इस पर डीएसपी एचएन बाथम व टीम मौके पर पहुंची और एएसआई को माधनगर थाने भेज दिया। थाने पर भी एएसआई ने काफी देर तक हंगामा किया। इस दौरान वह चार बार थाने से निकलकर जाने भी लगा। इस पर उसे पुलिसकर्मी पकड़कर थाने में लेकर आते रहे। बाद में उसे अस्पताल ले जाकर मेडिकल करवाया गया। शिकायत मिलने पर एसपी मनोजसिंह ने उसे निलंबित कर दिया

परेशान हूं…

एएसआई पांडे का कहना था कि उसकी पत्नी चार माह से बीमार है। लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी करने के कारण वह पत्नी को समय नहीं दे पा रहा है। इस कारण काफी परेशान हो गया है।