Jitu Soni : जीतू सोनी को इंदौर क्राइम ब्रांच ने गुजरात से किया गिरफ्तार, 3 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर | Mon,


इंदौर लाने पर जीतू सोनी को मेडिकल के लिए एमवाय अस्‍पताल ले जाया गया। इसके बाद उसे जिला कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे तीन जुलाई तक पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया है।इंदौर लाने पर जीतू सोनी को मेडिकल के लिए एमवाय अस्‍पताल ले जाया गया। इसके बाद उसे जिला कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे तीन जुलाई तक पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया है।Jitu Soni : इंदौर। इंदौर। सात महीने से फरार मोस्ट वांटेड अपराधी जीतू सोनी को इंदौर क्राइम ब्रांच ने शनिवार रात गिरफ्तार कर लिया। उसकी गिरफ्तारी पर एक लाख साठ हज़ार रुपए का इनाम घोषित था। डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र के मुताबिक जीतू उर्फ जितेंद्र सोनी पर शहर के ज्यादातर थानों में मानव तस्करी, दुष्कर्म, अपहरण, धोखाधड़ी, अवैध वसूली के 45 से ज्यादा केस दर्ज हैं। तत्कालीन कांग्रेस सरकार के समय यानी 31 नवंबर को पुलिस ने पहली बार उसके होटल माय होम सहित अन्य ठिकानों पर छापा मारा थ। तब जीतू सोनी तो भाग गया लेकिन उसका बेटा अमित सोनी पकड़ा गया।

इंदौर लाने पर जीतू सोनी को मेडिकल के लिए एमवाय अस्‍पताल ले जाया गया। इसके बाद उसे जिला कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे तीन जुलाई तक पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया है।

पुलिस ने देर शाम मीडिया को जीतू सोनी की गिरफ्तारी के बारे में विस्‍तृत जानकारी दी। इस दौरान बताया गया कि जीतू सोनी को उसके पैतृक गांव धारग्नि तहसील चलाला जिला अमरेली गुजरात से गिरफ्तार किया गया।चार दिन पूर्व क्राइम ब्रांच की टीम गुजरात के अमरेली से उसके बड़े भाई महेंद्र को पकड़ कर लाई। तब जीतू सोनी राजकोट स्थित एक फार्म हाउस से बेटे विक्की सोनी व भतीजे जिग्नेश सोनी को लेकर भाग गया। शुक्रवार को दोबारा लोकेशन निकाली गई ओर छह टीमों ने अलग अलग जगहों पर छापे मारे। इस बार भागने का मौका नहीं दिया ओर जीतू को पकड़ लिया।

इसके पहले क्राइम ब्रांच ने जीतू सोनी के भाई महेंद्र को राजकोट से गिरफ्तार किया था। उससे जानकारी मिली थी कि जीतू फरारी के बाद नेपाल और पश्चिम बंगाल में भी रहा था। पुलिस तीन अलग-अलग गाड़ियां लेकर उसे पकड़ने पहुंची थी। इस दौरान एक गाड़ी के कांच भी फूट गए, जिससे आशंका जताई जा रही है कि जीतू सोनी को पकड़ने के दौरान उसे छिपाने वालों ने पुलिस से विवाद भी किया। जीतू सोनी को किस तरह पकड़ा गया और इसकी गिरफ्तारी से जुड़ी सारी जानकारी इंदौर पुलिस ने शाम को प्रेस वार्ता कर दी।