कक्षा 11वीं में प्रवेश लेने वाले प्रत्येक विद्यार्थी की काउंसिलिंग होगी


काउंसिलिंग का दो दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित

बैतूल भोपाल–शासकीय शालाओं में कक्षा 11वीं में प्रवेश लेने वाले प्रत्येक छात्र-छात्रा की काउंसिलिंग की जाकर उनकी रूचि और क्षमता के अनुरूप संकाय आवंटित किए जाएंगे। विस्तृत जानकारी देते हुए बताया गया कि एमपी कैरियर मित्र एप के माध्यम से जनवरी 2020 में शासकीय शालाओं में कक्षा 10 में अध्ययनरत समस्त छात्र-छात्राओं का अभिरुचि और अभिक्षमता परीक्षण किया गया था जिसके तहत 90 मिनट का टेस्ट बच्चों का लिया गया, जिससे छात्र-छात्राओं की रूचि और उनकी क्षमता का आंकलन किया जा सके। इसी क्रम में उत्तर वर्ती कार्यक्रम के रूप में मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा mpaspire.com पर शासकीय शालाओं में कक्षा नवी से 12वीं के समस्त छात्र छात्राओं का प्रोफाइल पंजीयन कराया जा रहा है। इस पोर्टल पर छात्र-छात्राओं को अपने कैरियर चुनने के लिए लगभग 550 कैरियर्स, लगभग 21000 कॉलेजेस में 262000 कोर्सेज, लगभग 1150 प्रवेश परीक्षाओं और इसी प्रकार हायर सेकेंडरी उत्तीर्ण करने के पश्चात लगभग 1100 प्रकार की छात्रवृत्तिओं के बारे में एक ही प्लेटफार्म पर जानकारी उपलब्ध होती है।

जिले में 09 एवं 10 जुलाई 2020 को समस्त शासकीय हाई स्कूल एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, प्रत्येक शाला से प्राचार्य एवं दो शिक्षकों को इस संबंध में प्रशिक्षण प्रदान किया गया। यह शिक्षक अपने विद्यालयों में काउंसलर्स का कार्य करेंगे। प्रशिक्षण के दौरान कलेक्टर श्री राकेश सिंह एवं सीईओ जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी द्वारा छात्र छात्राओं को कैरियर के चुनाव में रुचि के साथ क्षमता का ध्यान रखे जाने एवं उन्हें उपलब्ध होने वाले अवसरों के बारे में विस्तार से अवगत करा पाने के लिए आयोजित इस प्रशिक्षण के महत्व को समझने हेतु शिक्षकों और प्राचार्यों से उम्मीद जाहिर की। उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रत्येक छात्र जो संकाय का चयन 11वीं कक्षा में करता है इसमें उसकी रूचि, क्षमता और उसकी वर्तमान परिस्थितियों, आर्थिक आवश्यकताओं का भी ध्यान रखा जाए। उन्होंने प्राचार्यों को निर्देशित किया कि प्रवेश के समय प्रत्येक बच्चे के साथ काउंसलिंग अनिवार्यत: संपादित की जाए। प्रशिक्षण के दौरान प्रत्येक विकासखंड से 2-2 शिक्षकों को मास्टर ट्रेनर के रूप में भोपाल से प्रशिक्षित किया जा चुका है। वर्तमान में दो दिवसीय प्रशिक्षण के माध्यम से प्रत्येक शाला से 2 शिक्षक एवं प्राचार्य प्रशिक्षित किए गए हैं जिसका लाभ निश्चित रूप से छात्र-छात्राओं को कैरियर के चयन करने में होगा।

इस प्रशिक्षण में जिला शिक्षा अधिकारी श्री एलएल सुनारिया द्वारा प्रवेश के समय से ही काउंसलर्स द्वारा बच्चे की प्रोफाइल बना लिए जाने, नियमित रूप से उनकी काउंसलिंग करते रहने का आग्रह शिक्षकों एवं प्राचार्य से किया गया। जिले के अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान श्री संजीव श्रीवास्तव एवं डीपीसी श्री सुबोध शर्मा द्वारा विस्तार से एमपी कैरियर मित्र, एमपी एस्पायर पोर्टल, काउंसलर्स से अपेक्षाएं इत्यादि की बारीकियों के बारे में प्रशिक्षण प्रदान किया गया। प्रशिक्षण अंतर्गत जिले के जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स श्री संजय व्यास एवं श्री विनोद पड़लक के साथ डीईओ कार्यालय से श्री विनोद लिखितकर द्वारा भी सक्रिय सहयोग प्रदान किया गया।

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s