जिले में कोरोना 200 के पार , लापरवाही का भुगतना पड़ सकता है खामियाजा


जिले में कोरोना 200 के पार, आज फिर 9 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव, लापरवाही का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है पूरे जिले को।

जिले में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 206 हो चुकी है।

जिले में कोरोना संक्रमण का कहर कम होने का नाम नही ले रहा है। प्रतिदिन जिलें में लगभग पांच से दस लोगों के संक्रमित होने की खबर की पुष्टि होती आ रही है। इस प्रकार से जिले में अब तक कुल 206 लोगों के संक्रमितों और तीसरी मौत की पुष्टि हो गई है।

लॉकडाउन के बीच रविवार को जिले में 9 अन्य लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जिससे अब तक जिले में कुल 206 लोग कोरोना संक्रमित, 149 लोग स्वस्थ, एक्टिव केस 54 है

बैतूल जिले में कहाँ-कहाँ कोरोना का कहर

आज बढ़े 9 नए पॉजिटिव

57 वर्षीय शिवाजी वार्ड बैतूल निवासी पुरुष(पॉजिटिव का प्राथमिक संपर्क ),
28 वर्षीय कुप्पा निवासी युवक,
28 वर्षीय सारणी घोड़ाडोंगरी निवासी युवक(ग्वालियर से लौटा),
25 वर्षीय साकादेही सेहरा बैतूल निवासी युवक (उस्मानाबाद महाराष्ट्र से लौटा ),
44 वर्षीय प्रताप वार्ड टिकारी बैतूल निवासी पुरुष(पुणे से लौटा ),
30 वर्षीय गौनापुर निवासी युवक(पॉजिटिव का प्राथमिक संपर्क ),
63 वर्षीय गौठाना बैतूल निवासी महिला(पॉजिटिव की प्राथमिक संपर्क ),
10 वर्षीय बालिका मुलताई (पॉजिटिव की प्राथमिक संपर्क ),
28 वर्षीय भीमपुर निवासी युवक (ग्वालियर से लौटा )

बैतूल के जज एवं उनके बड़े बेटे की फूड प्वाइजनिंग से मौत


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

भोपाल: मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी और उनके बड़े बेटे की मृत्यु हो गई। पुलिस को संदेह है कि उनके खाने में फूड प्वाइजनिंग हुई है। पुलिस ने एडीए के आवास को सील कर दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।वह कटनी जिले के रहने वाले थे उनका अंतिम संस्कार कटनी में किया जाएगा।

बताया जा रहा है कि चार-पांच दिन पहले एडीजे और उनके दोनों बेटों की तबीयत अचानक खराब हो गई । तीनों ने घर पर ही भोजन किया था। डॉक्टर ने बताया कि तीनों फूड प्वाइजनिंग के शिकार हुए हैं। घर पर ही प्राथमिक उपचार के बाद छोटे बेटे की तबीयत ठीक हो गई परंतु एडीशनल डिस्ट्रिक्ट जज श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी एवं उनके बड़े बेटे अभियान राज त्रिपाठी की हालत बिगड़ती चली गई। इसके बाद दोनों को शनिवार को नागपुर के एलेक्सिस अस्पताल ले जाया जा रहा था कि रास्ते में बड़े बेटे की मौत हो गई और अस्पताल में एडिशनल डिस्ट्रिक्ट जज श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी की भी मौत हो गई।

एडिशनल एसपी श्रद्धा जोशी के मुताबिक फूड प्वाइजनिंग के बाद एडीजे और उनके बेटे को 23 जुलाई को पाढर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां हालत बिगड़ने पर नागपुर रेफर किया गया। एएसपी के मुताबिक परिवार ने 20 जुलाई की रात में जो भोजन किया था, उसके बाद तबीयत बिगड़ी।

पुलिस को संदेह है कि मजिस्ट्रेट परिवार ने जो चपातियां खाई थी उससे फूड प्वाइजनिंग हुई है। क्योंकि पत्नी ने चपातियां नहीं खाई थी। उन्होंने चावल खाया था। जिसके कारण वे पाइजनिंग का शिकार नहीं हुई।

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: बिना मास्क लगाए युवक ने पुलिस को देखा तो बांध लिया पत्नी का पेटीकोट


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: रविवार सुबह जिले के बांदकपुर में पुलिस ने जब बिना मास्क लगाए घूम रहे एक युवक को रोका तो घबराहट में युवक ने झोले में रखा पत्नी का पेटीकोट ही अपने चेहरे पर बांध लिया।

प्रदेश के अन्य हिस्सों की तरह दमोह जिले की पुलिस भी सोशल डिस्टेंसिंग और लोगों को चेहरे पर मास्क लगाने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से मैदान में उतरी हुई है। रविवार सुबह जिले के बांदकपुर कस्बे में पुलिस के जवान मास्क चेक कर रहे थे, उसी दौरान एक युवक बिना मास्क लगाए दिखा तो पुलिस ने उससे जैसे ही बिना मास्क के घूमने की वजह पूछी तो युवक घबरा गया। उसने जल्दी से अपने बैग में हाथ डाला और पत्नी के लिए खरीदा गया पेटीकोट बाहर निकाल कर उसे ही चेहरे पर बांध लिया। युवक को ऐसा करते देख पुलिसकर्मी भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए। इसके बाद पुलिस ने उसे रेडीमेड मास्क लगाने की सलाह दी।

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

MP CM शिवराज सिंह चौहान कोरोना पॉजिटिव, कहा मुझसे संपर्क मेेंं आये लोग कोरोना टेस्‍ट जरूर करायें


लिखा- मैंने बचने का हर संभव प्रयास किया

Multapi Samachar

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान लखनउ से आने के बाद बैठक करते हुए बैैठक में बैतूल जिले के सांसद डीडी उइके जी,आमला क्षेत्र के विधायक पंडागरे जी, बैतूल पूर्व सांसद हेमंत खंडेलवाल एवंं मुलताई राजा पवार उपस्थि‍त हुए थे।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, COVID-19 का समय पर इलाज होता है तो व्यक्ति बिल्कुल ठीक हो जाता है. मैं 25 मार्च से प्रत्येक शाम को कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक करता रहा हूं. मैं यथासंभव अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से कोरोना की समीक्षा करने का प्रयास करूंगा.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा, मेरी अनुपस्थिति में अब यह बैठक गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरी विकास एवं प्रशासन मंत्री, भूपेंद्र सिंह, स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री, विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. पीआर चौधरी करेंगे. मैं खुद भी इलाज के दौरान प्रदेश में COVID-19 नियंत्रण के हरसंभव प्रयास करता रहूंगा.

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है. कमलनाथ ने एक ट्वी में लिखा, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली. ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

बता दें, मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण में तेजी देखी जा रही है. खासकर भोपाल में हालात चिंताजनक हैं. इसे देखते हुए राजधानी भोपाल में 24 जुलाई की रात से लॉकडाउन लगाया गया है. सरकार की ओर से जारी गाइडलाइंस के मुताबिक लॉकडाउन शुक्रवार रात 8 बजे से शुरू होकर 4 अगस्त की सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा. इसमें जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी गतिविधियों पर पाबंदी रहेगी.

मुलतापी समाचार