Betul जज के पूरे परिवार को खत्म करनेे की थी साजिस महिला मित्र, छह गिरफ्तार

महिला मित्र ने लियेे रूपयों का मामला सामने आया

तांत्रिक बाबा द्वारा आटा अभिमंत्रित कर

जज और उनके बेटे की हत्या में महिला समेत छह गिरफ्तार – तांत्रिक से अभिमंत्रित कराने आटा मांगा और मिला दिया जहर।

Multapi Samachar

Betul News : बैतूल। बैतूल में पदस्थ रहे अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (एडीजे) महेन्द्र कुमार त्रिपाठी और उनके पुत्र अभिनयराज की मौत का मामला हत्या में बदल गया है। जज की महिला मित्र उनके पूरे परिवार को मौत के घाट उतारना चाहती थी, लेकिन छोटा बेटा आशीषराज त्रिपाठी और पत्नी बच गए। पुलिस ने बुधवार को पूरे मामले का राजफाश कर दिवंगत एडीजे की महिला मित्र और वारदात में मददगार बने उसके पांच साथियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बैतूल की पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने बताया रीवा जिले की मूल निवासी छिंदवाड़ा में रह रही एनजीओ संचालिका संध्या सिंह से एडीजे त्रिपाठी के 10 वर्ष से संबंध थे और उसका उनके घर भी आना-जाना था।कुछ दिनों से एडीजे परिवार को अधिक समय दे रहे थे, जिससे संध्या स्वयं को अकेला महसूस करने लगी।

कुछ लेनदेन को लेकर भी दोनों के बीच कटुता बढ़ गई थी। इससे नाराज होकर 44 संध्या ने एडीजे और उनके परिवार को खत्म करने की साजिश रची।

इस तरह दिया झांसा

संध्या ने एडीजे को घर-परिवार में कलह खत्म करने और समृद्धि लाने का झांसा दिया और एक तांत्रिक द्वारा आटा अभिमंत्रित कर देने की बात बताई।

इसके लिए एडीजे राजी हो गए और घर से करीब आधा किलो आटा लेकर संध्या के घर 18 जुलाई को छिंदवाड़ा गए। दो दिन बाद 20 जुलाई को संध्या स्वयं कार से बैतूल आईं और सर्किट हाउस के पास एडीजे को आटा देकर उनके घर में रखे आटे में मिलाकर उसकी रोटियां खाने की सलाह दी।

इस पर त्रिपाठी ने घर में रखे आटे में उसे मिला दिया और उससे बनी रोटियां खाने के बाद उनकी और दोनों बेटों की हालत बिगड़ गई। 21 जुलाई से 23 जुलाई तक वे घर में ही उपचार कराते रहे, लेकिन जब स्थिति गंभीर हुई तो देर शाम एडीजे और उनके बड़े बेटे को पाढर के स्थानीय अस्पताल में भर्ती किया गया।

25 जुलाई को हालत बिगड़ने पर पिता-पुत्र को नागपुर अस्पताल रेफर किया, जहां दोनों की मौत हो गई। इन्हें किया गिरफ्तार पुलिस ने त्रिपाठी व बेटे की हत्या के आरोप में संध्या पति संतोष सिंह, उसके ड्राइवर संजूू, सहयोगी देवीलाल चंद्रवंशी, मुबीन खान, कमल और बाबा उर्फ रामदयाल सभी निवासी छिंदवाड़ा को गिरफ्तार किया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s