Ram Mandir Bhoomi Pujan: ऐसा है राम मंदिर निर्माण के भूमिपूजन का निमंत्रण पत्र, आपने देखा क्या


स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5अगस्त 2020 राम मंदिर का भूमि पूजन करेंगे

Ram Mandir Bhumi Pujan: राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन होगा और इसकी शुरुआत रक्षाबंधन के दिन से हो चुकी है। जिस वक्त का लोगों को बरसों से इंतजार था उस राम मंदिर की आधारशीला रखी जाने वाली है और स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर का भूमि पूजन करने वाले हैं। इस भव्य आयोजन के लिए कुछ विशेष लोगों का ही निमंत्रण भेजा गया है क्योंकि कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग सबसे महत्वपूर्ण है। ऐसे मेंजिन लोगों को इस आयोजन का निमंत्रण मिला है उनमें अयोध्या जमीन केस में बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी को भी मिला है।

अंसारी को मिले इस Invitation Card की पहली तस्वीर सामने आई है। अगर आपने भी इसे नहीं देखा है तो हम आपके लिए इसकी तस्वीर लेकर आए हैं साथ ही यह भी बताते हैं कि इसमें क्या लिखा है।

ऐसा ही Invitation Card

पीले रंग के पेपर से बने लिफाफे पर हर तरफ श्री राम लिखा हुआ है। साथ ही सबसे ऊपर भगवान राम की तस्वीर वाला श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का लोगो नजर आता है। इसके बाद श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का भूमि पूजन और कार्यारंभ का निमंत्रण दिया गया है। इसके नीचे कार्यक्रम की तिथि लिखी है जो भाद्रपद, कृष्णपक्ष की द्वितीया है जो 5 अगस्त 2020 को है। कार्यक्रम का समय दोपहर 12.30 बजे रखा गया है। इसके नीचे कार्यक्रम स्थल का जिक्र है।

भूमि पूजन के इस कार्यक्रम को लोग घर बैठे देख सकेंगे वहीं कार्यक्रम में 200 लोगों के शामिल होने की बात कही जा रही है। हालांकि, इनमें सरसंघ चालक मोहन भागवत के अलावा यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा नेता उमा भारती के अलावा अन्य कई लोग शामिल हैं। साथ ही आंदोलन में कारसेवा करने वालों के परिजन भी संभवतः इस आयोजन के गवाह बन सकते हैं।

रक्षाबंधन मनाने जा रहा परिवार दुर्घटना का शिकार


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नरसिंहपुर: जबलपुर रक्षाबंधन मनाने जा रहा एक परिवार नरसिंहपुर के पास हादसे का शिकार हो गया। इस हादसे में परिवार के चारों सदस्यों पति पत्नी और दो बच्चों की मौत हो गई। ट्रक के पलट जाने से यह हादसा हुआ। पूरा परिवार ट्रक के ऊपर बैठकर सफर कर रहा था।

गाडरवारा थाना के प्रभारी अखिलेश मिश्रा ने बताया कि देवास के सोनकच्छ के निवासी वीरेंद्र मिजाजी (35) वर्ष अपनी पत्नी पूजा और दो बच्चों के साथ ट्रक के ऊपर सवार होकर जबलपुर ससुराल जा रहे थे। यह ट्रक सोमवार की सुबह अनियंत्रित होकर नादनेर के पास पलट गया। ट्रक में तेल के कंटेनर भरे थे। मिश्रा के अनुसार ट्रक के ऊपर सो रहे परिवार के चारों सदस्य तेल के कंटेनरों में दब गए, जिससे उनकी मौत हो गई। ट्रक के चालक को कोई चोट नहीं आई है।

मुलतापी समाचार

Raksha Bandhan रक्षाबंधन में राखियों बांधतेे भाई की आयु में वृद्धि हेतु मंत्र बोले बहनेेंं


Raksha Bandhan 2020 LIVE Updates: रक्षाबंधन में राखियों के रंग और भाई की राशि का है सीधा संबंध, जानिए क्या करें क्या न करें
Raksha Bandhan 2020 LIVE Updates: पंडित विशाल दयानंद शास्‍त्री बता रहे हैं कि किस राशि के अनुसार कौन से रंग की राखियां अपने भाईयों को बांधें।

रक्षाबंधन की अनोखी परंपराएं

– राजस्थान में ननद अपनी भाभी को विशेष प्रकार की राखी बांधती हैं जिसे लुम्बी कहते हैं।

– महाराष्ट्र में यह त्योहार नारियल पूर्णिमा या श्रावणी के नाम से प्रचलित है।

– तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र और ओडिशा के दक्षिण भारतीय इस पर्व को अवत्तिम कहते हैं।

Multapi Samachar की ओर से सभी देश वासियों को रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकांमनाएं

देशभर में आज भाई बहन का त्योहार यानी रक्षाबंधन मनाया जा रहा है। बहनें शुभ मुहूर्त में अपने भाइयों को राखी बांधेंगी और लंबी उम्र की कामना करेंगी। वहीं भाई बहन की उम्रभर रक्षा करने का वचन देगा।

आज राखी बांधने के शुभ मुहूर्त हैं – सुबह 9 से 10.30 बजे तक शुभ, दोपहर 1.30 से दोपहर 3 बजे तक चंचल, दोपहर 3 से शाम 4.30 बजे तक लाभ, शाम 4.30 से शाम 6 बजे तक अमृत, शाम 7.03 से रात 8.33 बजे तक चंचल। वहीं सुबह 10.50 से 12.30 तक अभिजीत मुहूर्त बताया गया है। भारतीय धर्म ग्रंथों में भी राखी का महत्व बताया गया है।

रक्षाबंधन पर यदि बहनें, अपने भाईयों को उनकी राशि के अनुसार राखियां बांधती हैं, तब इस त्योहार का महत्व और भी ज्यादा बड़ जाता है। पंडित विशाल दयानंद शास्‍त्री बता रहे हैं कि किस राशि के अनुसार कौन से रंग की राखियां अपने भाईयों को बांधें।

राखी बांधते समय बहनें इस मंत्र का उच्चारण करें तो भाई की आयु में वृद्धि होती है

‘येन बद्धो बलि राजा, दानवेन्द्रो महाबल:।

तेन त्वांमनुबध्नामि, रक्षे मा चल मा चल।।

“इन पंक्तियों का अर्थ यही है कि जिस रक्षा सूत्र से महान शक्तिशाली राजा बलि को बांधा गया था उसी सूत्र से मैं आपको बांध रहा हूं। आप अपने वचन से कभी विचलित न होना।

रक्षाबंधन पर बाहर से आ रहे व्यक्तियों की जाँच सुनिश्चित करायें कलेक्टर : मुख्यमंत्री श्री चौहान


कोरेंटाइन सेन्टरों की व्यवस्था पर निगरानी रखें

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से की कोरोना की समीक्षा करने का ओदश्‍


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरेंटाइन सेन्टर्स पर भोजन, पानी तथा स्वच्छता की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की जाये, जिससे यहाँ भर्ती लोगों को शिकायत का मौका न मिले। उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन पर बाहर से आनेवाले लोगों की स्क्रीनिंग की पुख्ता व्यवस्था सभी जिला कलेक्टर सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस प्रकार की सतर्कता रखी जाये, जिससे किसी भी जिले में लॉकडाउन की स्थिति अब न बने। मुख्यमंत्री श्री चौहान रविवार को चिरायु अस्पताल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे।

शिशु के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए जरूरी है स्तनपान


1 से 7 अगस्त 2020 तक विश्व स्तनपान सप्ताह के पर विशेष

स्‍तनपान मां दुध सर्वोतम Breastfeeding is necessary for the mental and physical development of the infant

Betul : स्वास्थ्य विभाग द्वारा 1 से 7 अगस्त 2020 तक विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया जा रहा है । इस वर्ष के लिए मुख्य थीम ‘ ‘ स्वस्थ दुनिया के लिए स्तनपान का समर्थन’ ‘ है । कोरोना महामारी के कारण कोविड -19 के परिप्रेक्ष्य में इन्फेन्ट एण्ड यंग चाइल्ड फीडिंग के लिए डब्ल्यूएचओ के दिशा – निर्देशों पर आधारित प्रशिक्षण तथा कार्य योजना साझा की जाएगी ।

विश्व स्तनपान सप्ताह का मुख्य उद्देश्य सभी माताओं को जागरूक किया जाना है । 6 माह की आयु तक केवल शिशु को स्तनपान ही कराना है । मां का दूध ही शिशु को पूरा पोषण देता है एवं बच्चे के संपूर्ण मानसिक और शारीरिक विकास में सहायक होता है । 6 माह की आयु तक केवल मां का दूध पिलाए जाने से बच्चा बार – बार बीमार नहीं पड़ता और शिशु को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है ।

शिशु के जन्म के पहले घंटे में सिर्फ मां का दूध ही नवजात के लिए जीवन रक्षक बूंद का काम करता है ।

कोविड -19 संक्रमित माताएं भी शिशु को सावधानी के साथ स्तनपान करा सकती हैं । इसके लिए वह मास्क आवश्यक रूप से पहनें । अपने हाथों को साबुन अथवा सेनेटाइजर पानी से साफ करें । इसके उपरांत स्तनपान कराएं।

6 माह तक शिशु को केवल स्तनपान कराएं। जन्म के पहले घंटे में सिर्फ माँ का दूध नवजात के लिए जीवन रक्षक बूंद का कार्य करता है । कोविड-19 माता/संदिग्ध माता भी शिशु को सावधानी से स्तनपान करा सकतीं हैं । कोरोना संक्रमित माँ द्वारा स्तनपान कराना शिशु के लिए पूरी तरह सुरक्षित और लाभकारी है।

Bhopal News कल से खुलेंगा भोपाल के बाज़ार, नई गाइड लाइंस का करना होगा पालन


Bhopal New Market image file

Multapi Samachar

भोपाल। कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की चेन तोड़ने के लिए भोपाल (Bhopal)nजिले में 10 दिन का टोटल लॉकडाउन (Total Lockdown) किया गया है।  जो 4 अगस्त की सुबह 5:00 बजे खत्म हो रहा है। लॉकडाउन खत्म होते ही कंटेनमेंट (Containment) को छोड़कर बाजार (Market) पूरी तरह खुल जाएंगे, लेकिन सिनेमा हॉल (Cinema Hall) और जिन (Gym) पर रोक जारी रहेगी। बाजार को लेकर गाइडलाइन (Guidelines) सोमवार को जारी की जाएगी। 

दरअसल कोरोनावायरस के मामलों को देखते हुए 24 जुलाई की रात से ही लॉक डाउन कर दिया गया था। इस दौरान बाजार पूरी तरह बंद कर दिए गए थे सिर्फ सांची डेयरी और मेडिकल को ही छूट दी गई थी। लॉकडाउन की अवधि 4 अगस्त को सुबह 5:00 बजे से खत्म हो जाएगी, इसके बाद बाजार खुल जाएंगे। लेकिन संक्रमण को देखते हुए प्रशासन नए स्तर से गाइडलाइन पर काम कर रहा है। बताया जा रहा है कि पूर्व की तरह मास्क पूरी तरह अनिवार्य रहेगा। इसके साथ ही दुकान में व्यापारियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। ऐसा नहीं करने पर दुकान को सील किया जाएगा। इसके अलावा कंटेनमेंट में किसी भी तरह की छूट नहीं दी जाएगी। टैक्सी को छूट रहेगी लेकिन बसों को लेकर कल होने वाली बैठक में ही निर्णय लिया जाएगा। होटल रेस्टोरेंट खुल सकेंगे। इसके अलावा उद्योग और निजी कार्यालयों को भी 50 स्टाफ के साथ खोलने की अनुमति दी जा सकती है। सिनेमा जिम और स्विमिंग पूल पर पहले की तरह रोक।

MP CM शिवराज सिंह की तीसरी कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव, अस्पताल से नहीं होगी छुट्टी


Multapi Samachar

भोपाल। कोरोना  संक्रमण (Corona Infection) के चलते मुख्यमंत्री शिवराज (CM Shivraj) 25 जुलाई से भोपाल (Bhopal) के चिरायु अस्पताल (Chirayu Hospital) में भर्ती है। डॉक्टर्स (Doctors) के संरक्षण में उनका उपचार जारी है। लक्षण न दिखाने पर कल मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई थी कि आज रक्षाबंधन (Rakshabandhan) के दिन उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है। उन्होंने कल अपनी तीसरी सैम्पल जांच के लिए दिए, लेकिन उनकी तीसरी रिपोर्ट (Third Samprk Report) भी पॉजिटिव आई है। ऐसे में उन्हें कुछ दिन और अपना उपचार अस्पताल में करवाना होगा। 

दरअसल कल अपने स्वास्थ्य की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया था कि “आज अस्पताल में मेरा नौंवा दिन है। मैं स्वस्थ हूं, कोरोना का कोई लक्षण नहीं है। सुबह सैम्पल RT-PCR टेस्ट के लिए लिया गया है। रिपोर्ट निगेटिव आई तो कल अस्पताल से छुट्टी मिल जायेगी।” लेकिन उनकी तीसरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इस कारण उन्हें अभी कुछ दिन और अस्पताल में रहना पड़ सकता है। मुख्यमंत्री के इससे पहले भी एक बार और सैम्पल लिए गए थे उसमे भी उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

बतादें कैबिनेट मंत्री अरविंद भदौरिया (Cabinet Minister Arvind Bhadoriya) के समपर्क में आने के बाद मुख्यमंत्री ने 24 जुलाई को एहतियात के तौर पर अपनी कोरोना की जांच करवाई थी। 25 जुलाई को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद उन्हें भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। वें अस्पताल से ही अपने सारे काम कर रहें है और प्रदेश पर नज़र बनाए हुए है। वहीं मंत्रियों और अधिकारियों के साथ वें वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए लगातार संपर्क में भी है।

कोरोना हेल्‍थ न्‍यूज: लॉकडाउन के दूसरे दिन रविवार को 10 लोगाें की रिपोर्ट आई पाॅजिटिव, बैतूल के डॉक्टर सामिल


कोरोना हैल्‍थ रिपोर्ट बैतूल
  • बैतूल शहर में बच्चों का डॉक्टर सहित 6, 
  • पाथाखेड़ा में 1, वहीं 
  • आमला 1, 
  • चिचोली में सीहोर से लौटे युवक की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई
  • मुलताई के अम्बेडकर वार्ड में एक व्यक्ति  जो की पूर्व में कोरोना मरीज के संपर्क में  आया था पॉजिटिव आया है । 

जिले में कुल पाॅजिटिव केस 271  हो गए हैं। राहत की बात यह है कि 181 लाेग ठीक होकर घर भी लौट गए हैं। अब एक्टिव केस 74 रह गए हैं।बैतूल शहर के महावीर वार्ड में पाॅजिटिव आया डॉक्टर, जिला अस्पताल में पदस्थ है। आर्यपुरा का डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव : इधर शहर के आर्यपुरा क्षेत्र का एक डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्राइवेट उपचार करने वाला यह डॉक्टर बच्चों का उपचार करता था। लेकिन डॉक्टर महावीर वार्ड में कोरोना पॉजिटिव पाए गए कुछ मरीजों को घर पर बॉटल लगाने गया था। उन मरीजाें की प्राइमरी संपर्क हिस्ट्री में डाॅक्टर के आने के कारण उसका भी सैंपल लिया था। तहसीलदार ओमप्रकाश चोरमा ने बताया आर्यपुरा का एक डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाया गया है। उसके घर के आसपास कंटेंटमेंट एरिया बनाया है। 

अधिकांश पाॅजिटिव दूसरे शहर से लौटने वाले : जिले में अधिकतर मामले बाहर से लौटने वालाें के सामने आ रहे हैं। शहर के टिकारी में पटना से लौटा युवक, महावीर वार्ड में विजयवाड़ा से लौटी महिला संक्रमित निकली।

वहीं पाॅजिटिव के संपर्क में आकर टेलीफाेन कॉलोनी निवासी 40 वर्षीय पुरुष,

पटेल वार्ड निवासी 23 वर्षीय युवक,

पटेल वार्ड निवासी 48 वर्षीय महिला के अलावा

महात्मा फुले वार्ड पाथाखेड़ा की 56 वर्षीय महिला,

हरण्या चिचोली में सीहोर से लौटा 23 वर्षीय युवक पाॅजिटिव पाया गया।


मुलताई में रात में आया पॉजिटिव केस 

– मुलताई नगर के आंबेडकर वार्ड में एक युवक जो पिछले दिनों आये कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क  आया था तथा उसे भोपाल से गाड़ी में लाया था, वह रविवार को देर रात पॉजिटिव पाया गया| मामले की पुष्टि SDM मुलताई द्वारा की गई| 

कोल नगरी की हालत ख़राब
कोविड-19 कोरोना वायरस का संक्रमण दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। कोल नगरी पाथाखेड़ा में अब संक्रमितों की संख्या बढ़कर 34 हो गई है। रविवार सुबह 56 वर्षीय महिला की रिपोर्ट कोरोना वायरस पॉजिटिव आई। इससे पहले भी वार्ड नंबर 31 के इसी परिवार के दो सदस्य पॉजिटिव आए हैं। पाथाखेड़ा क्षेत्र में 26 दिनों के भीतर 34 केस सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। वहीं प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सतत दौरा किया जा रहा है। फेस मास्क, हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करने के निर्देश दिए जा रहे हैं। इसके अलावा पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क वाले लोगों को चिह्नित कर उनके कोरोना सैंपल लिए जा रहे हैं। रविवार को डॉ. मनोज सूर्यवंशी व उनकी टीम द्वारा वार्ड नंबर 35 में संक्रमित व्यक्ति के संपर्क वाले 18 लोगों के कोरोना सैंपल लिए गए।

कलेक्टर ने सीमावर्ती चेकपोस्ट एवं कंटेनमेंट जोन का निरीक्षण किया


पाथाखेड़ा एवं शोभापुर कंटेनमेंट क्षेत्र की व्यवस्थाएं देखीं

बैतूल/कलेक्टर श्री राकेश सिंह ने रविवार को जिले की सीमावर्ती चेकपोस्ट खैरवानी का निरीक्षण किया.इस दौरान उन्होंने यहाँ तैनात टीम को बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी दर्ज करने एवं उन्हें नियमानुसार क्वारेंटाइन करवाने के निर्देश दिये .पाथाखेड़ा एवं शोभापुर कंटेनमेंट क्षेत्र के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने सघन निगरानी दलों के माध्यम से कोरोना पाजिटिव पाए गए लोगों की कांटेक्ट हिस्ट्री पता करने एवं कांटेक्ट में आए लोगों को आवश्यक रूप से होम क्वारेंटाइन करवाने के निर्देश दिये .तहसीलदार घोड़ा डोंगरी श्रीमती मोनिक विश्वकर्मा भी इस दौरान मौजूद थीं .