भीमपुर सीईओ को मिला कारण बताओं नोटिस

जनपद में पदस्त बाबू सरेश सिंह और रामकिशन गोपचे ने कार्यपालन अधिकारी की करवाई किरकिरी

Multapi Samachar

Betul News । बैतूल जिले की भीमपुर जनपद सीईओ को कारण बताओ नोटिस मिलने से हड़कम मचा हुआ है। यह नोटिस 19 अगस्त को मिला था। इस मामले में 21 अगस्त को सीईओ की जिला पंचायत सीईओ के पास परेड भी हो गई है। मामला लक्कड़जाम पंचायत में हुए लाखों रुपए के घोटाले का है। इसके लिए सीईओ जिम्मेदार नहीं है, क्योंकि उन्हें आए एक साल भी नहीं हुआ है। इस घोटाले के पीछे जनपद के कुछ बाबुओं का हाथ है और इन्हें के। पुराने कर्मो के कारण सीईओ की किरकिरी हो गई। बताते हैं कि जनपद में बड़े बाबू के नाम से प्रसिद्द सरेश सिंह व रामकिसन गोपचे ने पूरा खेल किया है। ये दोनों जनपद में काफी दिनों से जमे हैं। इनकी निशानदेही पर जनपद की लक्कड़ जाम पंचायत में बड़ा गोलमाल हुआ है। उक्त मामले को लेकर सरपंच को हटाने की मांग हुई है। इसके लिए जिला पंचायत सीईओ श्री त्यागी ने भीमपुर की कार्यपालन अधिकारी कंचन वास्केल को पंचायत में सरकारी योजना का बंटाढार करने वालों पर कार्यवाही करने के आदेश मिला था। उनसे जिला पंचायत ने प्रस्ताव भी मांगा था जो नहीं दिया, इसलिए उन्हें जिला पंचायत सीईओ ने नोटिस दे दिया है। बताया जाता है कि भीमपुर जनपत में पदस्त ,, सरेष सिंह जो कि पंचायतों में ब्याज का कारोबार करते है, दूसराकिसन गोपचे जो शौचालय योजना को पलीता लगाकर जिला प्रशाशन को कटघरे में खड़ा कर चुके हैं, इन दोनों ने सीईओ को गुमराह कर सरपंच पर कार्यवाही नहीं होने दी और मामला भोपाल जा पहुंचा और भीमपुर सीईओ कंचन वास्केल को आरोपियों पर कार्यवाही नहीं करने की वजह ग्रामीण विकास विभाग के आदेश पर जिला पंचायत सीईओ एमएल त्यागी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
गौरतलब रहे कि पंचायत में जितने भी कार्य हुए सभी में भारी अनिमित्ताए हुई जिसका जांच में खुलासा हुआ है। सरकारी धन को दुरुपयोग करने के मामले में सरपंच-सचिव से राशि वसूली करने या आदेश हुआ है।
सूत्र बताते हैं कि उक्त कार्य में एक ठेकेदार के इसारे में सरपंच कार्य करते थे यहां तक कि पंचायत की चेक बुक,रिकार्ड सालों से ठेकेदार के पास रहता था,जो अपनी मन मर्जी से सरपंच-सचिव की सील लगाकर राशि निकलता रहा है लेकिन गाज सरपंच पर गिरी है।
बताया तो यहां तक जाता है कि जनपत में पदस्त सरेश सिंह पंचायतों में बैठकर भारी भरकम राशि ब्याज में चलाता रहा है,वही राम किसन गोपचे द्वारा भी प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान को पलीता लगाकर और शौचालयों में भारी अनिमित्ताए करने की लिखित शिकायत हुई है। खबर के साथ सीईओ को जारी हुआ नोटिस भी आपके सामने मौजूद है
सनद रहे कि जनपत सीईओ को सरेश और रामकिसन गोपचे द्वारा गुमराह किया जाना बताया जा रहा है। हम तो कहना चाहते हैं सीईओ जनतद में दो सांप हैं जिनका विष आपकी सेहद के लिए हानिकारक सिद्ध हो रहा है,इन पर लगाम लगाइए ।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s