ईमानदार” नहीं चलेगा, “सियासत” के दम पर चलेंगा कार्य,,,,,,,,


गंदगी फैलाने के लिए बुद्धिजीवियों का करे आभार

हॉस्पिटल कॉलोनी पाथाखेड़ा में गंदगी का अंबार

Multapi samachar

पाथाखेड़ा बैतूल जिले का कोयलांचल क्षेत्र पाथाखेड़ा में कोल प्रशासन के द्वारा सफाई के नाम पर खानापूर्ति एरिया हॉस्पिटल पाथाखेड़ा का आया है पुराना रिकॉर्ड जलाने का मामला सामने कोल नगर प्रशासन है मौन ? कट्टर सोच, नफरतों फैलाने की जहालत, बांटने की सियासत, दूर करने की कोशिशें…. किसी गंदी मानसिकता वाली राजनीति से निकला शगल होता तो कंधे झटककर हवा में उड़ा दिया जाता… बात जहां से उठी है, उन को बुद्धिजीवियों की केटेगिरी में रखा जाता है… जहालत से भरे अपने अंदाज को लोगों पर लादने की पैरवी वेस्टन कोलफील्ड्स लिमिटेड पाथाखेडा के हॉस्पिटल कॉलोनी में देख ने को मिली,,,,, जहां स्वच्छता एवं सफाई की कहानी ये कही जाए कि कभीकोयलांचल क्षेत्र के पाथाखेड़ा में अपने नाम का डंका बजाया करता था….
वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड अब क्रम यह है कि एक सपना सा स्वच्छता के नाम पर लगता है,,,, स्वच्छता एवं भ्रष्टाचार में 100 वा स्थान भी मिलना मुश्किल लगता है..अपने करप्शन को छुपाने के लिए एरिया हॉस्पिटल पाथाखेड़ा में आए दिन पुराने रिकॉर्ड जलाए जा रहे हैं…. जीएम कार्यालय के बगल में…. दिनदहाड़े एरिया हॉस्पिटल के स्टाफ द्वारा कोविड आइसोलेशन वार्ड में रखा पुराना रिकॉर्ड एरियाहॉस्पिटलपरिसरपाथाखेड़ा से सटे माइनस क्वार्टर जहां वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के कर्मचारी अपने अपने परिवार के साथ निवास करते हैं कर्मचारियों के परिवार की चिंता करे बगैर…. नोबेल कोरोना वायरस महामारी के बीच एरिया हॉस्पिटल का पुराना रिकॉड
जलाया जारहा है.. ‌‌वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के अधिकारियों द्वारा किसी तरह की जांच एवं कार्यवाही नहीं की जा रही है….सूत्र के हवाले से वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के कुछ भ्रष्टअधिकारियों द्वारा ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने के लिए चंद रुपयों की खातिर कचरा निपटान का फर्जी बिल लगवा कर वेकोलि को चुना लगवाया जा रहा है…. रुपयों की हवस ने वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के अधिकारियों एवं ठेकेदारों को अंधा बना दिया है…. क्षेत्र के हॉस्पिटल कॉलोनी में गंदगी का आलम इस तरह छाया हुआ है…. वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के कर्मचारियों एवं उनके परिवारों की इस कोरोना महामारी के बीच सुध लेने वाला कोई नहीं है…. कोल प्रशासन और सियासत की गंगा में नीति के नाम पर कूटनीति का जो बहाव आया है, उसमें क्षेत्र की बहुत सारी चीज़ें बहने वाली और जिंदगीया महामारी एवं भरी बरसात में बीमारिया कर्मचारियों के दरवाजे पर मंडराते हुए नजर आ रही हैं…. इस वक्त स्वच्छता एवं कोरोना महामारी को नजर अंदाज कर रुपए बनाने की होड़ सी लगी है… अब सियासी फंडे अखबारों के कंधे पर रख दी गई है… चंद लोगों को खुश करने के लिए अपनी आस्थाओं को दांव पर लगा दिया गया है… कथित बुद्धिजीवी बीमारियां फैलाने के लिए आमदा हो चुके हैं…

एक कदम सतर्कता एवं स्वच्छता की ओर

स्वच्छता अभियान के नज़ारे क्या होंगे ?

क्या कोल प्रशासन एवं नगर प्रशासन की ओर से होगी ठोस पहल….?

क्या इस महामारी के बीच वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड कर्मचारी एवं उनके परिवार की लेंगा सुध…?

क्या हॉस्पिटल कॉलोनी पाथाखेड़ा के कर्मचारियों को मिलेगा गंदगी से छुटकारा….?

वैसे वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड पाथाखेडा में कई तरह के करप्शन कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से आए दिन सुनने और देखने को मिलते हैं….

पर………………..?

कोल प्रशासन एवं नगर प्रशासन है मौन….?

सच को सच झूठ को झूठ लिखता हूं इसलिए लोग मैं बुरा लगता हूं ?

डॉ जाकिर शेख सब एडिटर

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s