घायल युवक सोना घाटी रेलवे ट्रैक पर मिला, गैैंगमैन ने बचाया


breaking news

बैतूल लगभग रात 9:30 बजे एक युवक सोनाघाटी मलहम जीरी के बीच रेलवे ट्रैक पर पड़े होने की सूचना रेलवे के गैंगमैन द्वारा जीआरपी को दी गई तत्पश्चात जीआरपी पुलिस एवं 100 डायल घटनास्थल पर पहुंची और घायल युवक को 100 डायल की सहायता से जिला चिकित्सालय पहुंचाया गया है

प्राप्त जानकारी के अनुसार घायल व्यक्ति का नाम सत्यम देशमुख पिता तुलसीराम देशमुख उम्र 23 वर्ष निवासी पहाड़ी तहसील बेतूल निवासी बताया जा रहा है युवक के लेफ्ट साइड के पैर का पंजा कटा हूआ अवस्था में मिला जिसे 100 डायल की सहायता से जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया जहां उसका उपचार चल रहा है

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार युवक को ढूंढने के लिए जीआरपी एवं हंड्रेड डायल को काफी पैदल चलकर ढुडा तब जाकर युवक सुनसान जगह के ट्रैक पर मिला

रानी दुर्गावती जी ने 3 बार मालवा के बाज बहादुर और 2 बार अकबर की फ़ौजों को परास्त किया


चंदेलों की बेटी थी, गोंडवाना की रानी थी
चण्डी थी रणचण्डी थी, वह दुर्गावती भवानी थी।

रानी दुर्गावती 496 वीं जयंती पर विशेष

52 में से 51 युद्धों की विजेता, गोंडवाना की महान वीरांगना रानी दुर्गावती जी की 496वीं जयंती पर कोटि-कोटि नमन

रानी दुर्गावती जी ने 3 बार मालवा के बाज बहादुर और 2 बार अकबर की फ़ौजों को परास्त किया था।

Multapi Samachar

अकबर की फौज के खिलाफ हुए अंतिम युद्ध में एक तीर रानी की दाईं आंख में लगा जिसे उन्होंने निकाल फेंका पर एक नुकीला हिस्सा आंख में ही अटक गया। दूसरा तीर गर्दन पर लगा जिसे भी उन्होंने निकाल फेंका। जब बेहोशी छाने लगी तब रानी दुर्गावती जी को लगा कि मुगल उन्हें जीवित पकड़ना चाहते हैं, तो घायलावस्था में ही रानी दुर्गावती जी ने अपने सेनापति आधारसिंह से कहा कि मुझ पर कटारी मारो। आधारसिंह ने ऐसा करने से मना किया, तो रानी दुर्गावती जी ने आधारसिंह को कहा कि “धिक्कार है तुम्हारी वीरता पर जो तुमने मेरे लिए इस अपमान को चुना”

इतना कहकर रानी सा ने कटारी अपनी छाती में घोंपकर शत्रुओं के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

शौर्य और साहस की प्रतिमूर्ति, अमर बलिदानी, गोंडवाना की शासिका महान वीरांगना रानी दुर्गावती की जयंती पर कोटि कोटि प्रणाम।

मनमोहन पंवार , संपादक एवं अध्‍यक्ष

जिला प्रभारी

मुलतापी समाचार

समाजसेवी अधि‍मान्‍य पत्रकार महासंघ

मुलताई -ट्रेन का स्टापेज की मांग को लेकर स्टेशन अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन


Multapi Samachar

मुलताई। मुलताई में ट्रेनों के स्टापेज को लेकर लंबे समय से आंदोलन किए जा रहे हैं, लेकिन हर बार नई ट्रेन का स्टापेज मुलताई में नहीं किया जा रहा है। मुलताई और प्रभातपट्टन तहसील क्षेत्र के लोगों के साथ हो रहे इस अन्याय से आक्रोश बढ़ रहा है। हाल ही में ट्रेन क्रमांक 02591 एवं 02592 गोरखपुर-सिकंदराबाद का स्टापेज मुलताई में नहीं दिया गया है। जनआंदोलन मंच द्वारा इस मामले को लेकर रेल मंत्री एवं सांसद बैतूल के नाम एक ज्ञापन रेलवे स्टेशन अधीक्षक मुलताई को सौंपकर ट्रेन का स्टापेज मुलताई में करने की मांग की है।

ज्ञापन में कहा गया है कि जिले के लगभग हर रेलवे स्टेशन पर जिस ट्रेन का स्टापेज दिया जा रहा है, उसे मुलताई में रोकने से परहेज किया जा रहा है। कोविड 19 गोरखपुर-सिकंदराबाद ट्रेन का स्टापेज मुलताई से 25 किमी दूर आमला, 50 किमी दूर बैतूल एवं घोड़ाडोंगरी में दिया गया है। जन आंदोलन मंच के सदस्य रवि यादव, अनिल सोनी, महेश पाठक, रजनीश गिरे, कृष्णा दरवाई ने बताया कि मुलताई स्टेशन पर लॉक डाउन के दौरान एक भी ट्रेन नहीं रोकी गई। पिछले 7 माह से मुलताई का व्यापार पूरी तरह से ठप हो गया है। मुलताई के व्यापारी एवं किसान वर्ग को जरूरी कार्य से नागपुर एवं भोपाल आना-जाना होता है। अब नई ट्रेन का स्टापेज भी मुलताई में नहीं दिया जा रहा है।

ट्रेन नहीं रूकी तो शुरू होगा आंदोलनः

जन आंदोलन मंच के सदस्य महेश पाठक ने कहा कि यदि गोरखपुर-सिकंदराबाद ट्रेन का स्टापेज मुलताई में नहीं किया गया तो आंदोलन शुरू किया जाएगा। इसके पूर्व भी जन आंदोलन मंच द्वारा कई बार ट्रेनों के स्टापेज की मांग को लेकर आंदोलन किया जा चुका है।

ज्ञापन में कहा गया है कि जिले के लगभग हर रेलवे स्टेशन पर जिस ट्रेन का स्टापेज दिया जा रहा है, उसे मुलताई में रोकने से परहेज किया जा रहा है। कोविड 19 गोरखपुर-सिकंदराबाद ट्रेन का स्टापेज मुलताई से 25 किमी दूर आमला, 50 किमी दूर बैतूल एवं घोड़ाडोंगरी में दिया गया है। जन आंदोलन मंच के सदस्य रवि यादव, अनिल सोनी, महेश पाठक, रजनीश गिरे, कृष्णा दरवाई ने बताया कि मुलताई स्टेशन पर लॉक डाउन के दौरान एक भी ट्रेन नहीं रोकी गई। पिछले 7 माह से मुलताई का व्यापार पूरी तरह से ठप हो गया है। मुलताई के व्यापारी एवं किसान वर्ग को जरूरी कार्य से नागपुर एवं भोपाल आना-जाना होता है। अब नई ट्रेन का स्टापेज भी मुलताई में नहीं दिया जा रहा है।

ट्रेन नहीं रूकी तो शुरू होगा आंदोलनः

जन आंदोलन मंच के सदस्य महेश पाठक ने कहा कि यदि गोरखपुर-सिकंदराबाद ट्रेन का स्टापेज मुलताई में नहीं किया गया तो आंदोलन शुरू किया जाएगा। इसके पूर्व भी जन आंदोलन मंच द्वारा कई बार ट्रेनों के स्टापेज की मांग को लेकर आंदोलन किया जा चुका है।

अनियंत्रित होकर ट्रेक्टर गिरा खंती में, एक की मौत


आठनेर, बैतूल – बैतूल जिले के आठनेर क्षेत्र में बुधवार को हुए सड़क हादसे में ट्रैक्टर पर सवार एक युवक की मौत हो गई । जहाँ भैंसदेही मार्ग पर स्थित ज्वाला पेट्रोल पंप के समीप कल्टीवेटर सहित ट्रेक्टर खंती में गिर गया। जिसमें ट्रेक्टर चालक मौके से फरार हो गया जबकि ट्रैक्टर पर सवार एक अन्य व्यक्ति की मौत हुई हो गई है । प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक कृषि कार्य हेतु अपने खेत जा रहे ट्रेक्टर में पेट्रोल पंप से डीजल भरवाने के बाद कुछ दूरी पर जाकर अचानक  अनियंत्रित होकर कल्टीवेटर सहित ट्रेक्टर पलट गया।  मृतक युवक की पहचान विकेश 25 वर्षीय निवासी धामोरी के रूप में पहचान हुई है। थाना प्रभारी डीएस टेकाम ने बताया की धामोरी निवासी जयपाल माटे का ट्रेक्टर किराये पर मृतक के खेत जा रहा था तभी अचानक ट्रेक्टर रोड से खंती में जा गिरा जिसमें सवार की मौत हो गई । मृतक को आठनेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भवन लाया गया जहां डाक्टरों ने मृत घोषित किया पुलिस मामले की जांच कर रही है।

युवती को अगवा करने का प्रयास, बचाने आई मां की पिटाई


खेत में फसल कटाई के दौरान युवती को अगवा करने का प्रयास किया 4 युवकों पर कार्यवाहीं

मुलतापी सामाचार

घोड़ाडोंगरी। घोड़ाडोंगरी तहसील के ग्राम बर्रीढाना में खेत में फसल कटाई का काम कर रही एक युवती का 4 युवकों ने अपहरण करने का प्रयास किया। बेटी के चीखने पर उसकी मां बचाने आई तो युवकों ने दोनों की लाठियों से पिटाई कर दी।

ग्रामीणों ने घायल मां बेटी को घोड़ाडोंगरी अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को सूचना दी। घोड़ाडोंगरी पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर दोनों के बयान दर्ज कर शून्य पर मामला कायम कर आगे की कार्रवाई के लिए डायरी चोपना थाना पुलिस को भेज दी है।

पीड़ित युवती ने बताया कि वह अपने खेत में काम कर रही थी इसी दौरान गांव के ही 4 युवक आए और जबरदस्ती उठा कर ले जाने लगे। पुकार सुनकर मां आई तो मुझे छोड़ दिया और फिर मां और मेरी लाठियों से पिटाई करना शुरू कर दी।

घोडाडोंगरी पुलिस चौकी के एएसआई बीडी मिश्रा ने बताया कि बर्रीढाना गांव के 4 लोगों पर मां-बेटी ने अपहरण करने का प्रयास किया और मारपीट के बयान दिए हैं। घटनास्थल चोपना थाना क्षेत्र का होने से शून्य पर मामला दर्ज कर डायरी चोपना पुलिस को भेज दी है।

राहुल सारोडे

न्यूज़ एडीटर