कलेक्टर कार्यालय में प्रदर्शन करते हुए राज्यपाल के नाम कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौपा


मुलतापी समाचार (राहुल सारोडे)

मध्य प्रदेश में राजभवन द्वारा IUMS इंटीग्रेटेड यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट सिस्टम ( एकीकृत विश्वविद्यालय प्रबंध प्रणाली) लागू किये जाने के विरुद्ध आज अभाविप ने जिला केंद्र पर कलेक्टर कार्यालय में प्रदर्शन करते हुए राज्यपाल के नाम कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौपा। प्रदर्शन में

जिला संयोजक निलेश गिरी गोस्वामी ने बताया की IUMS लागू होने का अर्थ है शिक्षा का व्यापारीकरण जो मध्यप्रदेश के विद्यार्थियों के हित मे नही
नगर मंत्री अंकित हरोड़े ने बताया कि
सभी विश्वविद्यालयों का नियंत्रण किसी एक विश्वविद्यालय के पास रहेगा तो एकाधिकार की समस्या रहेगी।
नगर सह मंत्री आयुषी अतुलकर ने बताया कि
IUMS राष्ट्रीय शिक्षा नीति की इस मूल भावना के विपरीत है।
जिले के अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे। इन सभी विषयों को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने ज्ञापन दिया साथ ही अगर IUMS निरस्त नहीं किया गया तो विद्यार्थी परिषद उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगी।

घोड़ाडोंगरी को मिली 8 स्पेशल ट्रेनों की सौगात, 21 अक्टूबर से चालू होंंगी


Multapi Samachar

बैतूल। रेलवे ने अक्टूबर महीने में आगामी त्योहार सीजन को देखते हुए 196 जोड़ी यानी 392 स्पेशल ट्रेनें चलाने का ऐलान किया है. इन्हें फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के नाम से चलाया जाएगा. इन ट्रेनों में से घोड़ाडोंगरी को 8 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन की सौगात मिली है. ये ट्रेनें 21 अक्टूबर से घोड़ाडोंगरी रेलवे स्टेशन पर रुकेंगी, इससे घोड़ाडोंगरी क्षेत्र के यात्रियों को सुविधा मिलेगी.

घोड़ाडोंगरी में 08237 कोरबा -अमृतसर छत्तीसगढ़ फेस्टिवल स्पेशल एक्सप्रेस, 08238 अमृतसर- कोरबा छत्तीसगढ़ फेस्टिवल स्पेशल एक्सप्रेस का स्टॉपेज दिया गया है, जो सप्ताह में तीन-तीन दिन चलेगी.

वहीं 02577 दरभंगा मैसूर बागमती फेस्टिवल स्पेशल और 02578 मैसूर दरभंगा बागमती फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन, यह ट्रेन सप्ताह में एक-एक दिन चलेगी. जिसमें 02577 प्रति बुधवार, 02578 प्रति रविवार को घोड़ाडोंगरी आएगी.

02521 बरौनी एर्नाकुलम फेस्टिवल स्पेशल, 02522 एर्नाकुलम बरौनी फेस्टिवल स्पेशल और 02511 गोरखपुर त्रिवेंद्रम राप्तीसागर फेस्टिवल स्पेशल सहित 02512 त्रिवेंद्रम गोरखपुर राप्तीसागर फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन को भी घोड़ाडोंगरी में स्टॉपेज दिया गया है.

घोड़ाडोंगरी में वर्तमान में रुक रही 10 ट्रेनें

कोरोना के चलते रेलवे ने नियमित ट्रेनों का संचालन बंद रखा गया है. इसी के चलते यात्रियों की सुविधाओं के लिए रेलवे कोविड-19 स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर रही है. इन ट्रेनों में से वर्तमान में घोड़ाडोंगरी रेलवे स्टेशन पर 10 ट्रेनें रुक रही हैं. 8 नई फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के स्टॉपेज मिलने से अब घोड़ाडोंगरी में कुल 18 स्पेशल ट्रेनों का स्टॉपेज रहेगा, जिससे घोड़ाडोंगरी के यात्रियों को सुविधा मिलेगी.

बाल संस्कार शाला का शुभारंभ, ड सिखायेंगे आध्‍यात्‍म


मुलतापी समाचार

मुलताई । प्रभात पटटन वि.ख.के ग्राम गरव्हा मे गायत्री परिवार बैतुल के मार्गदर्शन मे बच्चो को अध्यात्म से जोडने और आत्मविश्वास बढाने हेतू बच्चो को सुसंस्कारित करने हेतु बाल संस्कार शाला का शुभारंभ किया गया । कार्यक्रम का सुभारंभ ब्लॉक के गायत्री परिवार के सभी वरिष्ठ अतिथियो की उपस्थिति मे मा गायत्री देवी के छाया चित्र समीप दीप प्रज्वलित कर किया । इस दौरान गायत्री परिवार के हिवरखेड से श्री सुभाष कुम्भारे , वायगाव से श्री श्रावण धोटे , और गरव्हा से सहादेव बर्डे ( शिक्षक) पंजाबराव बर्डे ( शिक्षक ) भोजराज जी पटेल श्री भोपते जी( शिक्षक ) ने कार्यक्रम मे शामिल होकर कार्यक्रम का सुभारंभ किया । कार्यक्रम मे बच्चो के हौसले बुलंद करने व उन्हे संस्कारित बनाने के उद्देश्य से संस्कार शाला का शुभारंभ किया गया कार्यक्रम का सफल संचालन श्री सुभाष कुम्भारे ने करते हुए सभी बच्चो को संस्कार शाला मे होने वाले क्रियाकलाओ जैसे ( योग, प्राणायाम, ध्यान, रोचक कहानीया, मंच संचालन, शिक्षाप्रद प्रेरणादायी जानकारीया,)और फायदे बताये। श्री श्रावण धोटे ने बाल संस्कार शाला वायगाव साईखेडा और सहनगाव बघोडा मे चल रही गतिविधियो की विस्तृत जानकारी दी ।

बाल संस्कार शाला गरव्हा के शिक्षक श्री बर्डे ने सभी बच्चो को प्रति रविवार संस्कार शाला मे आने की अपील की और उन्हे आश्वासन दिया कि उन्हे संस्कारित बनाने के उद्देश्य से संस्कार शाला चालु की गई है कार्यक्रम मे दर्जनो बालक बालिकाओ ने बढ चढ कर भाग लिया और कार्यक्रम का आनंद उठाया ।

मुलताई रेलवे स्टेशन पर लॉकडाउन के बाद 20 अक्टूबर से रुकेगी समता और छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस


31 अक्‍टूबर से दक्षिण एक्‍सप्रेस या गोंडवाना एक्‍सप्रेस दो मे से एक जल्‍द रूकने की संभावना है।

तीसरी ट्रेन 31 अक्‍टूबर एक और ट्रेन जल्‍द रूकने की संभावना

इस माह तीन ट्रेेेने जल्‍द रूकने लगेंंगी

मुलतापी समाचार

Railway News

कोरोना महामारी के चलते ट्रेन सेवा बंद हो गई थी। अब धीरे धीरे ट्रेन सेवाएं शुरू की जा रही है। जिसके चलते 20 अक्टूबर से नगर के रेलवे स्टेशन पर समता और छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस रुकेंगी। जिससे दो ट्रेनों से यात्रा करने की सुविधा मिलेगी। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए 24 मार्च से ट्रेनों की आवाजाही बंद हो गई थी। जिससे रेल यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। दो महीने पहले रेलवे ने कुछ चुनिंदा ट्रेनों को शुरू किया था। मुलताई स्टेशन पर इन ट्रेनों का स्टॉपेज नहीं होने से क्षेत्र के लोगों को इसका लाभ नहीं मिल रहा था। हाल ही में रेलवे ने स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। जिसमें निजामुद्दीन से विशाखापटनम तक चलने वाली समता एक्सप्रेस और बिलासपुर से अमृतसर तक चलने वाली छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को शामिल किया है। इन दोनों ट्रेनों का पहले से ही मुलताई स्टेशन पर स्टॉपेज है।

उपस्टेशन प्रबंधक द्वारा दी गई जानकारी

इस स्थिति में अब दोनों ट्रेनों से यात्रा करने की सुविधा नगर सहित क्षेत्रवासियों को मिलेगी। उपस्टेशन प्रबंधक अरविंद तिवारी ने बताया 20 अक्टूबर की रात 12.45 बजे विशाखापटनम से निजामुद्दीन जाने वाली समता एक्सप्रेस मुलताई स्टेशन पर रुकेगी।

ट्रेन नं. में बदालव

नया गाडी नं.02887 विशाखापटनम से निजामुद्दीन जाने वाली समता एक्सप्रेस का रहेगा और निजामुद्दीन से विशाखापटनम आने वाली समता एक्सप्रेस का गाडी नं. 2888 रहेगा

http://www.indianrail.gov.in/enquiry/TBIS/TrainBetweenImportantStations.html?locale=en

छत्‍तीसगढ़ एक्‍सप्रेस का गाडी नं. पूर्वत: ही रहेगा जो 08237 एवंं 08238 में कोई बदलाव नही किया गया है

31 अक्‍टूबर से दक्षिण एक्‍सप्रेस या गोंडवाना एक्‍सप्रेस दो मे से एक जल्‍द रूकने की संभावना है।

यह ट्रेन पूर्ववत निर्धारित टाइम टेबल के अनुसार सप्ताह में पांच दिन चलेगी। प्रतिदिन चलने वाली छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस सप्ताह में तीन दिन चलेगी। 20 अक्टूबर को रात 12.20 बजे मुलताई स्टेशन पर पहुंचेगी। दोनों ट्रेनों के लिए रिजर्वेशन भी शुरू हो गए है।

वरिष्ठ पत्रकार और समाजसेवी रामकिशोर पवार को पितृ शोक


मुलतापी समाचार बैतूल की ओर से विनम्र श्रद्धांजलि

बैतूल पाथाखेड़ा सारणी– वरिष्ठ पत्रकार, समाजसेवी और क्षत्रिय पवार समाज संगठन जिला बैतूल के उपाध्यक्ष रामकिशोर पवार पत्रकार जी, श्यामकिशोर पवार, नंदकिशोर पवार, ब्रजकिशोर पवार के पूज्य बापूजी श्री दयाराम जी भोभाट पवार वन विभाग से सेवानिवृत्त का देहांत उनके निज निवास पाथाखेड़ा में आज रात्रि में लगभग 8.30 बजे हो गया है।
दिवंगत आत्मा की शांति व भोभाट परिवार पर जो पहाड़ सा दुःख पड़ा है, परमपिता परमेश्वर व मातारानी दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करें एवं अपने श्रीचरणों में मृतात्मा को स्थान प्रदान करें। उनकी अंतिम यात्रा उनके निज निवास स्थान आजाद नगर पाथाखेड़ा से सोमवार प्रातः 10.30 बजे निकाली जाएगी। सभी बंधुओं से निवेदन है कि उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करें व अंतिम यात्रा में शामिल होवें।

सरपंच-सचिव ने मिलकर किया लाखों का भ्रष्‍टाचार,तीन दिन में कार्रवाई की मांग


बैतूल। चिचोली तहसील की ग्राम पंचायत चूनागोंसाई में लाखों का भ्रष्टाचार हुआ है। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने जिला पंचायत के अधिकारियों सहित जिला मुख्यालय पहुंचकर कलेक्टर से भी की, लेकिन आज तक दोषी सरपंच-सचिव पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इस मामले में एक बार फिर ग्रामीणों ने कलेक्टर से फोन पर चर्चा कर चूनागोंसाई के प्रभारी सचिव अशोक उईके, ग्राम प्रधान सुकवंती उइके को तत्काल पद से हटाने और एफआईआर दर्ज करने की मांग की। कलेक्टर ने ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए 3 दिन में दोषी सरपंच-सचिव पर कार्रवाई करने की बात कही है। ग्रामीणों ने बताया कि सरपंच, सचिव ने बिना निर्माण कार्य कराए राशि निकाल ली। जिसकी जांच में सरकारी धन का गबन किया जाना पाया गया है। इसके बाद भी जिला पंचायत और जनपद पंचायत कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। ग्रामीणों ने मांग है कि जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए।

छत्‍तीसगढ- जंगल में गुम हो गई थी बच्ची, पुलिस ने टार्च की रोशनी में खोज निकाला


जगदलपुर। Bastar News: 

मुलतापी समाचार

बस्तर के घनघोर जंगल किसी जटिल भूलभुलैया की तरह हैं। यहां रात के अंधेरे में यदि कोई गुम हो जाए तो बाहर निकल पाना बेहद मुश्किल होता है। यह जंगल इंसान को भ्रम में डाल देते हैं। जंगल के अंदर एक तो जानवरों का डर होता है, दूसरा यहां की पगडंडियों में नक्सलियों के बिछाए लैंड माइन्स भी मौजूद हैं, जिनपर पैर पड़ते ही विष्फोट हो सकता है। इसके अलावा कई तरह के खतरनाक ट्रैपर भी यहां नक्सली और शिकारी लगा कर रखते हैं।

एक मासूम बच्ची खेलते- खेलते शाम के वक्त जंगल के अंदर चली गई और फिर वहां गुम हो गई। जब पुलिस को इसकी सूचना मिली तो एक स्पेशल टीम बनाकर जंगल के अंदर बच्ची कीे खोज शुरू की गई। आखिरकार आधी रात टॉर्च की रौशनी के शहारे पुलिस ने जंगलों के बीच से बच्ची को सकुशल ढ़ूंढ निकाला।

कोतवाली थाना क्षेत्र के ग्राम आसना छेपरागुड़ा निवासी बैशाखू की सात वर्षीय बच्ची शनिवार शाम को गुम हो गई थी। इसकी सूचना मिलने पर एसपी दीपक झा ने टीआइ एमन साहू के नेतृत्व में टीम गठित कर रात में ही सर्च आपरेशन चलाने को कहा। पुलिस ने टार्च की रोशनी में आधे घंटे में बच्ची को आसना जंगल में झाड़ियों के बीच से खोज निकाला।

बताया गया है कि बैशाखू की मासूम बेटी गुड्डी अपने दोस्तों के साथ जंगल की ओर खेलने गई थी। सभी बच्चे शाम ढलने के बाद घर लौट आए पर गुड्डी का पता नहीं चला। परिजनों ने इसकी सूचना डायल 112 को दी। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और बालिका को तलाशकर परिजनों के सुपुर्द किया।