All posts by रामकुमार दाबड़े

पत्रकार

COVID-19: कोरोना का कोहराम देखते हुए पूरे 57 घंटे का कर्फ्यू लागू, सिर्फ दूध और दवा की दुकानें खुली रहेंगी..


गुजरात के अहमदाबाद शहर में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए शुक्रवार से निगम सीमा के तहत 57 घंटे का सप्ताहांत कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया है। इस बीच, एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए, गुजरात सरकार ने 23 नवंबर को राज्य में माध्यमिक स्कूल और कॉलेज खोलने के अपने फैसले को रोक दिया है। सीएम विजय रूपाणी ने कहा कि फिलहाल कुल लॉकडाउन लगाने का कोई इरादा नहीं है।

अधिकारियों ने कहा कि कर्फ्यू शुक्रवार (20 नवंबर) को अहमदाबाद शहर में रात 9 बजे से शुरू होगा, जो सोमवार (23) को सुबह छह बजे तक जारी रहेगा। अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव कुमार गुप्ता ने कहा कि इस ‘पूर्ण कर्फ्यू’ के दौरान केवल दूध और दवा की दुकानें खुली रहेंगी।

गुप्ता को गुजरात सरकार द्वारा विशेष अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है और उनका काम अहमदाबाद नगरपालिका के कोरोना वायरस संक्रमण के कामकाज की निगरानी करना है। गुप्ता ने शाम को घोषणा की कि शुक्रवार (20 नवंबर) से अगले आदेश तक, रात के कर्फ्यू सुबह 9 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू रहेंगे। हालांकि, कुछ घंटों बाद, गुप्ता ने कहा कि शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक ‘पूर्ण कर्फ्यू’ लागू किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि शहर में सोमवार रात 9 बजे से रात का कर्फ्यू प्रभावी रहेगा।

एक्टर विजय राज पर लगा छेड़छाड़ का आरोप, पुलिस ने किया गिरफ्तार


बॉलीवुड एक्टर विजय राज को पुलिस ने महाराष्ट्र के गोंदिया जिले से गिरफ्तार किया है। विजय पर फिल्म की महिला क्रू मेंबर के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगा है।हालांकि बाद में विजय को जमानत मिल गई। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि सोमवार को महिला ने पुलिस में अभिनेता के खिलाफ छेड़छाड़ की शिकायत की थी।

महिला ने आरोप लगाया कि राज ने सोमवार को मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में फिल्म ‘शेरनी की शूटिंग के दौरान उनसे छेड़छाड़ की। उन्होंने बताया कि अभिनेता के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। राज को गोंदिया के एक होटल से गिरफ्तार किया गया जहां क्रू सदस्य ठहरे हुए हैं।

इस साल बिना मास्क के रावण को भी दशहरा ग्राउंड में एंट्री नहीं मिली।


बैतूल प्रशासन द्वारा स्टेडियम में होने वाले रावण दहन के पुतलो के होने वाले आयोजन की संख्या 2100 कर दी है

इस साल बिना मास्क के रावण को भी दशहरा ग्राउंड में एंट्री नहीं मिली। प्रशासन के नियमों का पालन करना अनिवार्य है। बिना बैज.मास्क के स्टेडियम में एंट्री नही दी जायेगी।10 साल से कम और 65 साल से ज़्यादा उम्र वालों को अनुमति नहीं है ।multapisamchar

प्रतिमाओंं की स्थापना की, मंदिरों में सोशल डिस्टेंस के बैनर लगाए


नवरात्र के पहले दिन शनिवार को शहर के दुर्गा मंदिरों में रौनक रही, वहीं शहर में 100 से अधिक जगहों पर दुर्गा पंडालों में देवी की प्रतिमाएं स्थापित की गईं। एक दिन पहले शुक्रवार रात से ही प्रतिमाएं लाने का सिलसिला चालू हो गया था। मंदिरों में भी भक्तों की भीड़ देखने को मिली हालांकि एहतियात के तौर पर हिदायत वाले बैनर भी लगाए गए थे। सुबह से ही देवी प्रतिमाओं को जल चढ़ाने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती रही।
गंज के माता-मंदिर मे सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। मंदिर पर जगह-जगह बैनर लगाए गए थे। इनमें कोरोना को लेकर स्पष्ट हिदायतें थी।
कोठी बाजार दुर्गा मंदिर में हुए कीर्तन, परिसर में विराजीं मां दुर्गा
कोठी बाजार के बेहद पुराने दुर्गा मंदिर में दिन भर कीर्तन चलते रहे। महिलाओं ने दिन भर भजन गाए। हालांकि मंदिर प्रबंधन ने बेहद कम संख्या में महिलाओं को एकत्रित होने संबंधी निर्देश दिए थे इस कारण संख्या कम रही। मंदिर परिसर में ही देवी प्रतिमा की स्थापना भी की गई।

मंदिरों में यह लिखे मिलेे निर्देश

  • मंदिर में प्रवेश करने वाले व्यक्ति मास्क लगाकर ही मंदिर में प्रवेश करें।
  • हैंड सैनिटाइजर का उपयोग जरूर करें।
  • सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखें। अन्य लोगों से 6 फीट की दूरी बनाए रखें।
  • कोरोना से संबंधित शासन के दिशा- निर्देशों का ध्यान रखें।

SDM शशि मिश्रा बाल बाल बचे


सागर/बंडा—- एसडीएम शशि मिश्रा सड़क हादसे में बाल-बाल बची ड्राइवर घायल
बण्डा : अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बण्डा के वाहन बोलोरो गाड़ी की ट्रक से टक्कर हो जाने से बण्डा SDM शशि मिश्रा बाल-बाल बची। वहीं उनके वाहन चालक दिलीप की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना बण्डा से शाहगढ़ रोड पर रुरावन गाँव की बताई जा रही है….

सागर म प्र

सम्पूर्ण बैतूल जिले में प्रत्येक रविवार पूरी तरह लॉक डाउन रहेगा


बैतूल। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राकेश सिंह

बैतूल। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राकेश सिंह ने कोविड-19 के दृष्टिगत बैतूल जिले की सम्पूर्ण सीमा में स्थित समस्त नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक रविवार को पूर्णत: लॉकडाउन रखे जाने के निर्देश दिए हैं।
लॉकडाउन के दौरान रविवार के दिवस में नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सभी तरह की दुकानें (मेडिकल स्टोर को छोडक़र) पूरी तरह से बंद रहेंगी।

आपात चिकित्सा कारणों को छोडक़र सभी व्यक्तियों का अपने घरों से निकलना पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा।
बैतूल जिले की सीमा के अंदर सभी नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में माल वाहनों को छोडक़र आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।
प्रात: 6 बजे से प्रात: 8 बजे तक समाचार पत्रों एवं दूध की मात्र डोर-टू-डोर डिलेवरी की अनुमति रहेगी।

सभी तरह के शासकीय एवं अशासकीय प्रतिष्ठान (हॉस्पिटल, चिकित्सालय एवं क्लीनिक को छोडक़र) पूरी तरह बंद रहेंगे।
बैतूल जिले की सीमाओं में किसी भी तरह के ऐसे दो पहिया या चार पहिया यात्री वाहन जिन्हें बैतूल जिले के किसी नगर या ग्राम में आना है, का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा, परन्तु ऐसे वाहन जो हाईवे के माध्यम से मात्र सडक़ पर ही रहेंगे एवं आगामी जिले में प्रवेश करेंगे, वे समुचित प्रमाण पत्र एवं जानकारी देते हुए आवागमन कर सकेंगे। इसी प्रकार अंतर्जिला एवं अंतर्राज्यीय माल वाहन तथा रेल्वे से माल के परिवहन एवं आने-जाने में पूर्णत: छूट रहेगी।
रेल्वे से यात्रा कर बैतूल जिले में आने वाले यात्रियों को रेल्वे स्टेशन से जिले की सीमा में अन्य शहर या ग्राम में यात्रा करने के लिए मेडिकल टीम से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य होगा।

रविवार एवं अन्य दिवस के लिए

सभी नागरिकों के लिए यह अनिवार्य है कि वे आगामी आदेश तक पूर्व आदेशों की निरंतरता के क्रम में एक-दूसरे से भौतिक दूरी

(छ: फीट) का पालन करे।
प्रत्येक दुकानदार, प्रतिष्ठान स्वामी उनके ग्राहकों के बीच भौतिक दूरी (छ: फीट) का अनिवार्यत: पूर्वानुसार पालन कराते रहेंगे एवं इसके लिए उत्तरदायी रहेंगे।

सार्वजनिक स्थलों पर आम नागरिकों द्वारा फेस मास्क, फेस कव्हर अनिवार्यत: लगाया जावेगा तथा भौतिक दूरी (छ: फीट) का पालन किया जाता रहेगा।

पड़ोसी राज्यों एवं अन्य राज्यों से आने वाले प्रत्येक नागरिक के लिए यह अनिवार्य है कि वे सर्वप्रथम जिले में स्थापित चिकित्सालयों/फीवर क्लीनिक में अपनी जांच कराएं एवं चिकित्सकीय परामर्श अनुसार ही अपने निवास स्थान पर प्रस्थान करें। यदि उन्हें क्वारेंटाइन में रहने हेतु या सेम्पल देने हेतु कहा जाता है तो इनका पूर्णत: पालन करना होगा।
जिले की महाराष्ट्र राज्य से लगी सीमाओं पर चेकिंग नाके स्थापित किये जाकर मेडिकल परीक्षण किया जाएगा।
सभी नागरिकों को कोविड-19 के प्रबंधन हेतु राष्ट्रीय निर्देशों का अनिवार्यत: पालन करना होगा एवं पूर्व में कलेक्टर कार्यालय द्वारा जारी किए गए विभिन्न एसओपी भी पूर्वानुसार पूर्णत: लागू रहेंगे।

जिले के समस्त इंसिडेंट कमाण्डर इन निर्देशों को लागू करने के लिए पूर्णत: उत्तरदायी रहेंगे एवं उनके क्षेत्राधिकार से समस्त शासकीय अधिकारी-कर्मचारी उनके नियंत्रण में कार्य करेंगे।

कलेक्टर का यह आदेश आमजनता को संबोधित है एवं एकपक्षीय पारित किया गया है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 तथा एपिडेमिक एक्ट 1897 के तहत मप्र शासन द्वारा जारी किए गए विनियम दिनांक 23 मार्च 2020 की कंडिका 10 के अंतर्गत भारतीय दण्ड संहिता की धारा 187, 188, 269, 270, 271 के अंतर्गत दंडनीय है एवं उल्लंघनकर्ता के विरूद्ध इन धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

यह आदेश 10 जुलाई 2020 से आगामी आदेश पर्यन्त प्रभावशील रहेगा।

Multapi Samachar