Category Archives: ज्ञापन

आष्टा के सैकड़ों ग्रामीणों ने तहसील कार्यालय में प्रदर्शन कर सौपा ज्ञापन


मुलतापी समाचार

प्रभातपट्टन ब्लाक में ग्राम शेरगढ़ के पास वर्धा नदी पर बने डैम की नहर ग्राम आष्टा तक पहुंचाने की मांग को लेकर मंगलवार को आष्टा के सैकड़ों किसानों ने तहसील कार्यालय में प्रदर्शन किया। और मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम हरसिमरन प्रीत कौर को सौंपा। पूर्व जनपद सदस्य रोशन देशमुख,किसान गुलाब देशमुख, भोजराव देशमुख,भीमराव देशमुख, लक्ष्मण गायकवाड,विजय कुमार देशमुख, सहित बड़ी संख्या में आष्टा के किसान मंगलवार दोपहर में तहसील कार्यालय पहुंचे। किसानों के साथ महिलाओं की उपस्थिति रही। किसानों ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपकर बताया ग्राम आष्टा पटवारी हल्का नंबर 103 में लगभग 1173 हेक्टेयर कृषि भूमि को सिंचाई के लिए कोई भी सुविधा नहीं है। इन परिस्थितियों में किसान कृषि भूमि का उपयोग फसल उगाने में नहीं कर पा रहे हैं। वर्धा डैम का निर्माण होने के दौरान ग्राम आष्टा के किसानों को भी डैम का पानी फसलों की सिंचाई के लिए उपलब्ध होने की उम्मीद बंधी थी। नहर के लिए सर्वे के दौरान ग्राम आष्टा का नाम भी सिंचाई सुविधा देने के लिए शामिल किया गया था। लेकिन षड्यंत्र पूर्वक ग्राम आष्टा के किसानों को वर्धा डैम से मिलने वाली सिंचाई सुविधा से वंचित कर दिया है। किसानों ने ग्राम आष्टा तक वर्धा डैम की नहर पहुंचाने की मांग ज्ञापन में की है।

13 जनवरी से धरना प्रदर्शन करने की घोषणा


किसानों ने ज्ञापन में बताया यदि 7 दिन में उनकी मांग को गंभीरता से नहीं लिया जाता है तो 13 जनवरी से ग्राम आष्टा के किसान ग्राम पंचायत भवन के सामने धरना प्रदर्शन प्रारंभ करेंगे। 15 जनवरी तक धरना प्रदर्शन किया जाएगा। उसके बाद भी मांग पूरी नहीं होती है तो 18 जनवरी को ग्राम से गुजरने वाले मुलताई आठनेर मार्ग पर चक्का जाम किया जाएगा। किसानों ने मांग पूरी नहीं होने की स्थिति में उग्र आंदोलन की चेतावनी भी ज्ञापन में दी है।

जन आंदोलन मंच का धरना प्रारंभ, भाजपा नेताओं की सद्बुद्धि के लिए की प्रार्थना


✍️ राहुल सारोडे

मुलताई (मुलतापी न्यजू)। जन आंदोलन मंच ने पूर्व घोषणा के अनुसार शुक्रवार से शहीद स्तंभ परिसर बस स्टैंड पर ट्रेनों के स्टापेज को लेकर धरना प्रदर्शन प्रारंभ कर दिया है।

उपजन मंच के सदस्यों ने शुक्रवार अटल जयंती होने से उनका धरना स्थल पर ही जन्मदिन मनाते हुए भाजपा नेताओं के लिए सद्बुद्धि की प्रार्थना भी की ताकि वे नगर की समस्याओं को समझकर उसके निराकरण का प्रयास कर सकें। प्रथम दिन धरने पर राजरानी परिहार, मोहनसिंह परिहार, अनिल सोनी, महेश शर्मा, टीकाराम मंडले, विनोद बेले, श्रवण वाघमारे, आनंद पांसे, संपतराव, सुदर्शन बर्डे, यादोराव निंबालकर, गुलाब राऊत, संतोष बंगाली, राजेश तायवाड़े, गुड्डु पंवार, अमन बोबड़े, हाजी शमीम खान, विजय पारधे, रजनीश गिरे तथा विजय बारंगे सहित बड़ी संख्या में लोग बैठे। जनमंच के अनिल सोनी सहित अन्य सदस्यों ने बताया कि विगत वर्षों से मुलताई क्षेत्र की जनता भाजपा का सांसद चुन कर भेज रही है, लेकिन पूर्व एवं वर्तमान सांसदों द्वारा नगर की समस्याओं को नजर अंदाज किया गया है। पवित्र नगरी होने के बावजूद यहां प्रमुख ट्रेनों का स्टापेज कराने के लिए सांसदों द्वारा कोई प्रयास नहीं किए गए जिससे पूरे क्षेत्रवासियों को आवागमन के लिए समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।