Category Archives: मध्‍यप्रदेश

कोरोना हेल्थ सेंटर के 3 मरीजों की मौत-मुलताई


मुलताई बना हॉट स्पॉट

स्वास्थ्य विभाग नहीं है अलर्ट

आये दिन बढ़ते जा रही हैं संक्रमितों की संख्या

मुलतापी समाचार

मुलताई। क्षेत्र में लगातार कोरोना का प्रकोप बढ़ते जा रहा है। इस बार तो न सिर्फ कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या ज्यादा है बल्कि इस बार कोरोना के कारण मरने वालो की संख्या भी अब धीरे धीरे बढ़ते जा रही है को अब चिंता बढ़ा रही है।        

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार 10 अप्रेल 2021 को राजीव गांधी वार्ड निवासी 30 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव जो कोविड सेंटर मुलताई भाग कर गया था आज शाम करीब 6 बजे के आस पास उसकी भी मौत हो गयी है।

मुलताई बीएमओ डॉ पल्लव अमृतफुले ने इस बात की पुष्टि की है        

वही आज मंगलवार को मुलताई की ताप्ती वार्ड  से 67 वर्षीय एक मरीज को कोविड सेंटर लाया गया जिस की स्थिति अत्यंत खराब थी जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। वही मुलताई से लगा हुआ ग्राम देवरी से 50 वर्षीय एक कोरोना पॉजिटिव मरीज को कल सोमवार को कोविड सेंटर मुलताई में भर्ती किया गया था उसकी भी स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उसे रेफर कर दिया गया लेकिन उसने यही दम तोड़ दिया।         

कोरोना मरीज की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार के मस्य स्थिति ऐसी हो गयी कि नगर पालिका के कोई कर्मचारी पहुचे न ही उनके परिजन उन्हें हाथ लगाने को तैयार हुए ऐसे में समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कमर्चारियों के साथ मिलकर बीएमओ डॉक्टर पल्लव ने उनका अंतिम संस्कार करवाया। 

गांवों में निःशुल्क स्वास्थ शिविर आयोजित


संस्था की प्रमुख सदस्य Cho माधुरी पवार द्वारा आज ग्राम घोघरी के आगनवाडी में निःशुल्क स्वास्थ्य हेल्थ चेकअप शिविर आयोजन किया, जिसमें गर्भवती महिलाओं, बुर्जग महिलाओं को बीपी, सुगर, बुखार आदि चेक कर इलाज किया गया ओर निःशुल्क दवाइयां वितरित की गयी। cho पवार जी का कहना है कि हमारे हमेसा यहि प्रयास रहता है कि अधिक से अधिक ग्रामीणो कों निःशुल्क उपच्चार दिया जा सके, कोई गंभीर रूप से बीमार न सके जल्द से इलाज ओर दवा प्रदान करूंगी।ग्रामीण जनों को गम्भीर अवस्था में तुरन्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नंदवादी रेफर किया जाने का प्रयास किया जाएगा ।

MP मैं पटवारियो पर शिवराज सरकार हुई सख्त, जारी की हेल्पलाइन नंबर


मुलतापी समाचार

मध्यप्रदेश सरकार पटवारियों के भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है, अब गावं में किसानो से कोई भी पटवारी अगर जमीन नपित करने या नामांतरण के लिए रिश्वत् मांगता है, तो इसे रोकने सरकार द्वारा हेल्पलाइन नंबर : 96305 24516 जारी किया गया है, कोई भी भूमि स्वामी इस नंबर पर पटवारी के विरुद्ध शिकायत दर्ज करा सकते है

महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र के vle कर्मचारियों को 8 माह से नही मिला मानदेय – कलेक्टर को सौपा ज्ञापन


बैतूल के कर्मचारियों को 8 माह से नही मिली तन्खा

जिले में कार्यरत ग्रामस्तरिय vle को प्रोजेक्ट के माध्यम से अभी तक नही मिला मानदेय के तहत आज बैतूल कलेक्टर ऑफिस में संघठन तैयार कर vle द्वारा ज्ञापन सौंपा गया

पंचायती राज एव ग्रामीण विकास विभाग की परियोजना महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र परियोजना में पंचायत स्तर पर केंद्र संचालन हेतु चयनित जिले की 99 पंचयात के VLe ग्रामीण स्तरीय उयदमी को 8 माह से नही मिला मानदेय।

मध्यप्रदेश पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग एवं सीएससी ई-गवर्नेस इंडिया लिमिटेड के माध्यम से बैतूल जिले के सभी जनपदो की चयनित 99 ग्राम पंचायतो में ग्राम पंचायत भवन से ग्राम पंचायत के डिजिटलाइजेसन एवं ग्राम पंचायत स्तर पर आमजनो को G2G, G2B, B2C,G2C सेवाए उपलब्ध कराये जाने हेतु 99 VLE का चयन किया गया था |
वर्तमान मे महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र (CSC 2.0) परियोजना अंतर्गत सभी ग्राम पंचायतो से चयनित VLE अपनी सेवाए विगत 8 माह (जुलाई – अगस्त 2020) से पुरी निष्ठा और ज़िम्मेदारी से प्रदान कर रहे है |

सभी VLE के द्वारा शासन की “ आयुष्मान आपके द्वार “ योजना मे भी जिले की विभिन्न ग्राम पंचायतों मे निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाकर हितग्राहियो को लाभ प्रदान कर रहे हैं, किन्तु विगत 8 माह से मानदेय न मिलने के कारण हमारे सामने रोजी-रोटी व परिवार पालने का सकंट उत्पन्न हो रहा हैं | कर्मचारियों में मानदेय न मिलने के कारण रोष व्याप्त है।

Betul नए कलेक्टर होंगे मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस के बेटे IAS अफसर अमनवीर सिंह


इससे पहले सतना में नगर निगम आयुक्त पदस्थ रहें।

सतना नगर निगम के नवागत आयुक्त 2013 बैच के आईएएस अफसर अमनवीर सिंह बैस

Ias अमनवीर सिंह बेस ने पदभार समहलते ही पूछा ऐसा सवाल , अधिकारियों के उड़गये होस । सतना नगर की समस्या पर पूछे कई सवाल, जिनमे रोड की समस्या प्रमुख थी कि रोड में इतने गड्ढ़े क्यों, अधिकारीयो में हड़बड़ाहट मच गयीं थी । देने लगे थे उलटे पुल्टे सवाल।

मप्र CM – बैतूल और नीमच के कलेक्टर पर गिरी गाज, गुना-निवाड़ी के एसपी भी हटाए गये


Breaking news

Multapi samachar

सीएम की आज हुई वीसी के बाद दो कलेक्टर और दो एसपी पर गिरी गाज, अभी हो रहे हैं हटाने के आदेश खबर सूत्रों के हवाले से प्राप्त

जिले के लोव पर्दशन के कारण बैतूल कलेक्टर हटाये गए,

कार्य मे लापरवाही बरतने के कारण, 11 माह के कार्यकाल में ही हटा दिए गए ,

बीजेपी जनप्रतिनिधियों की नाराजगी भी बन है शक्ति प्रमुख वहज

सीएम की कलेक्टर, कमिश्नर कॉन्फ्रेंस के बाद बैतूल कलेक्टर राकेश सिंह और नीमच कलेक्टर जितेंद्र सिंह राजे पर गाज गिरी है और इनके हटाने के आदेश जारी हो रहे हैं। इसी प्रकार
निवाड़ी एसपी वाहिनी सिंह और गुना एसपी राजेश सिंह भी हटाए जा रहे है। गुना सीएसपी टीएस बघेल भी हटाए जा रहे है। बताया गया है कि कार्य में लापरवाही के चलते सीएम ने सख़्त एक्शन लिया है।

कमजोर प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की नाराजगी भारी पड़ गई। कलेक्टर-कमिश्नर, आइजी और पुलिस अधीक्षक के साथ वीडियो कांफ्रेंस खत्म होने पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को बैतूल कलेक्टर राकेश सिंह और नीमच कलेक्टर जितेंद्र सिंह राजे को हटाने के निर्देश दे दिए। वहीं, बोहरा धर्म गुरू सैयदना साहब का नाम एफआइआर में शामिल करने पर गुना पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह और नगर पुलिस अधीक्षक नेहा पच्‍चीस‍िया को हटाने का आदेश दिया। निवाड़ी की पुलिस अधीक्षक वाहिनी सिंह को भी हटाने के लिए कहा। इनके तबादला आदेश जारी कर द‍िए गए हैं । राजेश सिंह और वाहिनी सिंह को पुल‍िस मुख्‍यालय में सहायक पुलि‍स महान‍िरीक्षक बनाया गया है जबकि‍ नेहा को भी पुल‍िस मुख्‍यालय में उप पुल‍िस अधीक्षक बनाया गया है।

राज्य निर्वाचन आयोग ने 3 महीने के लिए टाले नगरीय निकाय चुनाव, 20 फरवरी के बाद होंगे चुनाव


मुलतापी समाचार

भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना के फिर से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने नगरीय निकाय और त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों को टाल दिया है। फिलहाल इन चुनावों को टाला गया है । चुनाव कब कराए जाएंगे इस पर राज्य निर्वाचन आयोग 20 फरवरी के बाद निर्णय लेगा। राज्य निर्वाचन आयोग का कहना है कि कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच वर्तमान परिस्थितियों में चुनाव कराना संभव नहीं है।

तीन महीने के लिए टले निकाय चुनाव


राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ से शनिवार को नगरीय निकाय चुनाव और त्रि स्तरीय पंचायत चुनावों को टाले जाने के संबंध में आदेश जारी किया गया । इस आदेश में आयोग ने लिखा है राज्य के कुल 407 नगरीय निकायों में से 307 का कार्यकाल 25 सितंबर 2020 को समाप्त हो गया है और 8 नगरीय निकायों का कार्यकाल जनवरी और फरवरी 2021 में पूरा हो रहा है। त्रिस्तरीय पंचायतों में पंच, सरपंच, जनपद सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्यों का कार्यकाल भी मार्च 2020 में समाप्त हो चुका है । इनके साथ ही 29 नवगठित नगर परिषदों का निर्वाचन भी कराया जाना है। चुनाव आयोग चुनाव कराने के लिए पूरी तरह से तैयार है। राज्य सरकार प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण की स्थिति पर नजर रखे ऱ जब भी आंकड़ों तथा अपनी तैयारी के हिसाब से सरकार ये तय करेगी कि अब चुनाव कराए जा सकते हैं तो राज्य निर्वाचन आयोग को सूचित करे, आयोग तत्काल चुनाव कराने के लिए तैयार है।राज्य निर्वाचन आयोग अध्यक्ष ने ये कहा
राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने जानकारी दी है कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा वर्तमान परिस्थितियों का आंकलन करने के बाद यह पाया गया है कि कोविड-19 के संक्रमण में निरंतर वृद्धि तथा जन-स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिगत स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन प्रक्रिया सम्पादित किये जाने की स्थिति वर्तमान में नहीं है। अत: भारत के संविधान के अनुच्छेद 243-K एवं 243-ZA में प्राप्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए नगरीय निकायों के माह दिसम्बर-2020 एवं जनवरी-2021 में प्रस्तावित आम निर्वाचन, नगर परिषद नरवर जिला शिवपुरी को छोड़कर (माननीय उच्च न्यायालय के निर्णय अनुसार), 20 फरवरी 2021 के बाद कराये जायेंगे। इसी तरह इन्हीं परिस्थितियों के मद्देनजर त्रि-स्तरीय पंचायतों के माह दिसम्बर-2020 एवं जनवरी-2021 में प्रस्तावित आम निर्वाचन माह फरवरी-2021 के बाद कराये जायेंगे।

नवजात बच्चे को मृत घोषित कर पिता द्वारा समशान में दफनाने वक्त जिन्दा हो गया – गंजबासौदा


गंजबासौदा. डॉक्टरों और नर्सों की लापरवाही के मामले सामने आते रहते हैं। लेकिन मध्य प्रदेश के विदिशा जिले से जो घटना देखने को मिली उसने सारी हदें पार कर दीं। जहां नर्स ने इलाज के दौरान नवजात बच्चे को मृत घोषित कर दिया।

परिवार के सदस्य दुखी थे और बच्चे को दफनाने गए। परी तैयार हो गई, गड्ढे को भी खोदा, लेकिन जैसे ही उसने नवजात बच्चे को नीचे रखा, उसके हाथ और पैर हिलने लगे।

नर्स ने बताया कि बच्चे की मौत हो गई हैं, तब मां को नही हुआ यकीन

दरअसल, लापरवाही का यह मामला विदिशा जिले के गंजबासौदा अस्पताल का है। जहां संगीता नाम की महिला की डिलीवरी के बाद बच्चे की तबीयत बिगड़ गई। कुछ घंटों के बाद, नर्स ने बच्चे को मृत बताया और उसे परिवार को सौंप दिया।

प्रसूति को यकीन नहीं था कि उसका बच्चा इस दुनिया में नहीं है। वह इलाज की गुहार लगाती रही, लेकिन उसे मृत घोषित कर दिया।

जब किसी ने भगवान का चमत्कार कहा, तो किसी ने कहा

नवजात के पिता बबलू प्रजापति ने कहा कि मेरे बच्चे को नर्स रानी कुशवाहा ने मृत घोषित कर दिया था। हमने भी सही काम किया और दफन की तैयारी की। लेकिन उस समय, परमेश्वर का ऐसा चमत्कार हुआ कि वह साँस लेने लगा और वह हिलने लगा।

तो हम हैरान थे, कुछ कहने लगे कि यह भगवान का चमत्कार है। लेकिन कुछ ने कहा कि यह सब डॉक्टरों की गलती से किया गया था।

पूरी तरह से स्वस्थ हैं मासूम

अस्पताल की नर्स और स्टाफ की लापरवाही की शिकायत जिला चिकित्सा अधिकारी से की। जिसके बाद इस मामले पर कार्रवाई की गई थी। वहीं, जब बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर महेंद्र बाजोरिया और डॉक्टर अतुल जैन ने बच्चे की जांच की, तो वह सांस ले रहा था। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

PM फसल बीमा योजना एवं आयुष्मान जन जागरूकता बाइक रैली का शुभारंभ- CSC


Csc के माध्यम से आयुष्मान कार्ड ओर फसल बीमा योजना का होंगा संचानल

बैतूल जिले में आयोजित प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एवं आयुष्मान जन जागरूकता बाइक रैली का शुभारंभ जिला पंचायत सीईओ सर त्यागी जी एवं कृषि विभाग अधिकारी श्री भगत सर् द्वारा किया गया l ग्राम पंचायत स्तर पर किसानो को फसल बीमा की सुविधा कॉमन सर्विस सेण्टर के माध्यम दिया जा रहा है | रबी 2020-21 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 2020 है |इसके साथ ही पात्र हितग्राहियों को आयुष्मान पंजीकरण का लाभ कैंप लगाकर पंचायत स्तर पर सीएससी के मध्यम से पंजीयन किया जा रहा है |

सीएससी बैतूल द्वारा आयोजित बाइक रैली में जिला प्रबंधक सीएससी से विशाल झपाटे , कमलेश रघुवंशी उपस्थित रहे साथ ही महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद के जिला प्रभारी जितेंद्र परिहार एवं मनमोहन पवार ब्लॉक प्रभारी ओर ब्लॉक के सभी प्रभारी व सीएससी वीएलई मोना चौरे ,मनीष कुमरे, कमलेश साहू, पिंटू साहू, इरफान खान आदि उपस्थित रहे |

अखिल भारतीय विद्यार्थी द्वारा शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य महोदय को सौंपा ज्ञापन


बैतूल आठनेर आज अखिल_भारतीय_विद्यार्थी_परिषद_ इकाई_आठनेर_जिला बेतूल द्वारा शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य महोदय को ज्ञापन दिया गया नगर मंत्री शीतल सूर्यवंशी  द्वारा ज्ञापन सौंपा गया जिसमें प्रांत कार्यकारिणी सदस्य सौरभ आजाद ने बताया कि बैतूल_जिला आदिवासी बाहुल्य होने के कारण प्रवेश के अंतिम तिथि बढ़ाने एवं सीट वृद्धि होना चाहिए जिससे बचे हुए छात्र एडमिशन ले सके ज्ञापन सौंपने में नगर अध्यक्ष उमेश कुयटे, नगर उपाध्यक्ष प्रीतम जीतपुरे मीडिया प्रमुख ऋषि बामने आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे