Category Archives: मध्‍यप्रदेश मुख्‍यमंत्री, MP CM ,

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की रिक्त पदों की पूर्ति के अभियान की समीक्षा


मुलतापी समाचार

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड और विभाग स्तर पर रिक्त पदों की भर्ती के लिए की जा रही कार्यवाही की जानकारी अधिकारियों से प्राप्त की। उन्होंने रिक्त पदों की पूर्ति के लिए संचालित अभियान की समीक्षा की। बैठक में जेल, स्वास्थ्य, कृषि, पुलिस विभाग में रिक्त पदों की पूर्ति के संबंध में की जा रही कार्यवाही की जानकारी दी गई।बैठक में बताया गया कि गृह विभाग में आरक्षकों के 6 हजार 800 पदों, स्वास्थ्य विभाग में 2249 पदों और कृषि और किसान कल्याण विभाग में 800 पदों के लिए रिक्रूटमेंट टेस्ट की तैयारी हो गई है। उपयंत्री के ग्रुप 3 रिक्रूटमेंट टेस्ट 52 पदों के लिए हो रहे हैं। इसी तरह ग्रुप-2 एवं सब ग्रुप-4 के रिक्रूटमेंट टेस्ट हो रहे हैं जिनसे 240 पदों की पूर्ति हो सकेगी। जेल प्रहरी के 282 पदों के लिए रिक्रूटमेंट टेस्ट हो रहे हैं। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस और विभिन्न विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

सम्पूर्ण प्रदेश में 16 सितम्बर को मनेगा अन्न उत्सव


प्रदेश के 37 लाख नये हितग्राहियों को होगा राशन वितरण आरंभ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की तैयारियों की समीक्षाऑटो चालकों को हितग्राही सूची में जोड़ने के निर्देश

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 16 सितम्बर का दिन प्रदेश के 37 लाख लोगों के लिए आशा-उत्साह और आनंद का दिन है। इन सभी को पात्रता पर्ची प्रदान कर अन्न उत्सव के अंतर्गत राशन वितरण आरंभ किया जाएगा। कोरोना काल में यह बड़ी राहत है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हितग्राहियों की पात्रता श्रेणी के अंतर्गत ऑटो चालकों को जोड़ने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान 16 सितम्बर को प्रदेश में खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत सम्मिलित हुए 37 लाख नए हितग्राहियों को पात्रता पर्ची और राशन वितरण कार्यक्रम के लिए जारी तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इसके बाद भी जो जरूरतमंद होगा उसे इस अभियान से जोड़ा जाएगा। राज्य सरकार हर गरीब के साथ खड़ी है। कार्यक्रम आयोजन में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा नगरीय निकायों का भी सहयोग लिया जाएगा। बैठक में खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह भी उपस्थित थे।

समन्वय भवन में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहानअन्नपूर्णा योजना के अंतर्गत अन्न उत्सव के नाम से आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम का मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 16 सितम्बर को प्रात: 11.45 बजे भोपाल के समन्वय भवन में शुभारंभ करेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान हितग्राहियों से चर्चा भी करेंगे। प्रदेश के प्रत्येक जिले में आयोजित कार्यक्रम में राज्य के मंत्रीगण, सांसद तथा विधायकगण एक साथ राशन वितरण का शुभारंभ करेंगे। इसके साथ ही सभी ग्राम पंचायतों और वार्डों में भी अन्न उत्सव मनाया जाएगा। राज्यस्तरीय कार्यक्रम और मुख्यमंत्री के उद्बोधन का सीधा प्रसारण दूरदर्शन सहित सभी प्रमुख इलेक्ट्रॉनिक चेनल्स और वेबकॉस्ट के माध्यम से फेसबुक/टि्वटर पर सीधा प्रसारण होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए है कि सभी आयोजन स्थल पर कोरोना से बचाव की सावधानियों का अनिवार्यत: पालन सुनिश्चित किया जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आयोजन में दिव्यांगजन, वृद्धजन, महिलाओं आदि की सुविधा का ध्यान रखने के निर्देश भी दिए।9 जिलों में जुड़े एक लाख से अधिक हितग्राहीबैठक में जानकारी दी गई कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत फेरी वाले, हम्माल, तुलावटी, केश शिल्पी, बीपीएल कार्ड धारक, बीड़ी श्रमिक, साइकिल रिक्शा और हाथ ठेला चालक जैसी 25 श्रेणी के 37 लाख पात्र हितग्राही अन्न उत्सव से लाभान्वित होंगे। प्रदेश में इन्दौर, मुरैना, जबलपुर, भोपाल, ग्वालियर, भिण्ड, छिंदवाड़ा, छतरपुर तथा सागर में एक-एक लाख से अधिक नवीन हितग्राहियों को जोड़ा गया है। प्रदेश में 25 हजार 176 उचित मूल्य दुकानें संचालित हैं। मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित बैठक में अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री फैज अहमद किदवई तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

तकनीकी शिक्षा की छात्राओं और दिव्यांग बच्चों के लिये प्रगति एवं सक्षम छात्रवृत्ति योजना


नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन कर सकेंगे आवेदन

Multapi Samachar

MP मध्‍यप्रदेश भोपाल। छात्राओं को तकनीकी शिक्षा के माध्यम से सशक्त करने तथा विशेष रूप से दिव्यांग बच्चों को तकनीकी शिक्षा के लिये प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रगति तथा सक्षम छात्रवृत्ति योजना लागू है। दोनों योजनाओं के तहत 50 हजार रुपये प्रति वर्ष की छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति के लिये अब इच्छुक विद्यार्थी नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

प्रमुख सचिव, तकनीकी शिक्षा श्रीमती देशमुख ने बताया कि प्रगति छात्रवृत्ति योजना के तहत स्नातक तथा डिप्लोमा करने वाली प्रथम तथा द्वितीय वर्ष की छात्राएँ, जिनकी वार्षिक पारिवारिक आय 8 लाख से कम हो, छात्रवृत्ति के लिये आवेदन कर सकती हैं। प्रगति छात्रवृत्ति योजना के तहत प्रतिवर्ष 10 हजार 500 छात्रवृत्ति दिये जाने का प्रावधान है, जिसमें 5 हजार स्नातक स्तर के तथा 5 हजार छात्रवृत्ति डिप्लोमा की छात्राओं को दिया जायेगा। प्रगति छात्रवृत्ति योजना के तहत 50 हजार रुपये प्रतिवर्ष दिये जायेंगे।सक्षम छात्रवृत्ति योजना के तहत विशेष रूप से दिव्यांग बच्चे, जो 40 प्रतिशत विकलांगता के साथ तकनीकी शिक्षा की पढ़ाई कर रहे हैं, उन्हें इस छात्रवृत्ति का लाभ मिलेगा। आठ लाख रुपये से कम वार्षिक पारिवारिक आय वाले प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्र इस योजना के तहत 50 हजार रुपये प्रतिवर्ष छात्रवृत्ति के लिये आवेदन कर सकते हैं।

प्रदेश में 16 सितम्बर से जनकल्याण पखवाड़ा AWW में बटेगा दुध


प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्म दिवस पर आँगनबाडिय़ों में होगा दुग्ध वितरण : मुख्यमंत्री श्री चौहान

पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस 25 सितम्बर तक जनकल्याण कार्यक्रमों की श्रृंखला

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में 16 सितम्बर से जनकल्याण के कार्यक्रमों की श्रृंखला प्रारंभ हो रही है। यह श्रृंखला पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस 25 सितम्बर तक निरंतर चलेगी।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 16 सितम्बर को मध्यप्रदेश के करीब 37 लाख ऐसे गरीब भाई-बहनों को राशन का वितरण शुरु किया जा रहा है, जिनके पास पात्रता पर्ची नहीं है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री श्री मोदी का जन्म दिवस है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने सदैव गरीब वर्ग के कल्याण को प्राथमिकता दी है। इस नाते उनके जन्म दिवस पर प्रदेश के सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में बच्चों को पोषण आहार के साथ ही दूध का वितरण भी प्रारंभ किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 18 सितम्बर को प्रदेश के 20 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा योजना की राशि 4600 करोड़ रूपये खातों में अंतरित की जायेगी। कोरोना के संकट और हाल ही में हुई अतिवर्षा की परिस्थितियों में किसानों को मिल रही यह राशि उनके लिए राहतकारी होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 19 सितम्बर को वनाधिकार के पट्टे पात्र आदिवासी भाईयों-बहनों को प्रदान किए जाएंगे। इसके साथ ग्रामीण क्षेत्र में रेहड़ी वाले, फल बेचने वाले, खिलौने बेचने वाले और अन्य स्ट्रीट वेंडर्स को 10 हजार रुपये की ब्याज मुक्त ऋण राशि का वितरण किया जाएगा। इसी क्रम में 20 सितम्बर को संबल योजना के हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कार्य भी किया जाएगा। प्रदेश में 21 सितम्बर को स्व-सहायता समूहों को मजबूत बनाने का नया अभियान शुरु हो रहा है। इसके अंतर्गत अलग-अलग स्व-सहायता समूहों के खाते में 150 करोड़ रुपये की राशि जमा कराई जाएगी। मेधावी विद्यार्थियों को लेपटॉप के लिए राशि वितरण का कार्य 22 सितम्बर को किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 23 सितम्बर को प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान योजना के हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा। इसके अलावा किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्ज देने के लिए सहकारी बैंकों को 800 करोड़ रुपये की राशि दी जा रही है। एकात्म मानववाद के प्रणेता एवं समाज में आर्थिक रूप से सबसे कमजोर तबके के कल्याण का विचार देने वाले पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितम्बर के अवसर पर राज्य सरकार द्वारा बिजली के बिलों में दी गई रियायत के कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।जनकल्याण कार्यक्रम

16 सितम्बर- पात्रता पर्ची एवं खाद्यन्न वितरण।

17 सितम्बर- आँगनवाड़ी केन्द्रों में दुग्ध वितरण आरंभ।

18 सितम्बर- फसल बीमा योजना के 4600 करोड़ रूपये किसानों के खाते में अंतरण।19 सितम्बर- वनाधिकार पट्टों का वितरण तथा पथ विक्रेताओं ऋण राशि वितरण।

20 सितम्बर- संबल योजना के हितग्राहियों के लिए कार्यक्रम।

21 सितम्बर- स्व-सहायता समूहों के खातों में 150 करोड़ रुपये जमा करना।

22 सितम्बर- मेधावी विद्यार्थियों को लेपटॉप वितरण।

23 सितम्बर- प्रधानमंत्री किसान योजना के हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड।

25 सितम्बर- बिजली बिलों में रियायत।

नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह का बयान


चावल पर हो रही राजनीती को लेकर कहा

चावल वाला विषय है उसमें माननीय मुख्यमंत्री ने बहुत ही सख्त कार्रवाई की है मिलर के खिलाफ f.i.r. हुई है। पूरी जांच के आदेश दिए गए हैं। सरकार अपने स्तर पर जो भी कर सकती हैं वह सारी की सारी कार्रवाई सरकार के द्वारा की गई है। सरकार ने गंभीरता से पूरे विषय को लिया है और भी जो होगा उस पर आवश्यक कार्रवाई जरूर की जाएगी।

किसानों को खाद्य उपलब्ध करवाने को लेकर कहा

पिछली कांग्रेस सरकार ने 2-2 साल पुराना खाद बीज किसानों को उपलब्ध करवाया है। कांग्रेस के समय खाद को लेकर मसला होता था पूरे प्रदेश में नकली खाद बेचा जाता था नकली खाद न बिके इसलिए प्रधानमंत्री जी ने यूरिया कोटेड खाद्य शुरू की। जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार आई है तभी से खाद को लेकर शासन की तरफ से कोई भी शिकायत नहीं आई है

कर्जमाफी पर कमलनाथ सरकार पर लगाया आरोप
कमलनाथ की सरकार ने कर्ज माफी के नाम पर को ऑपरेटिव सोसाइटी के ऊपर बोझ डाल दिया था। अगर माननीय मुख्यमंत्री शिवराज नहीं होते तो किसानों को खाद बीज मिलता ही नहीं इसलिए कांग्रेस को इस मामले में नैतिक रूप से बोलने का कोई अधिकार नहीं है।

नगरीय निकाय चुनाव पर कहा

अधिकांश स्थानों पर आरक्षण की प्रक्रिया चल रही है कोशिश हम लोगों की यही है कि दिसंबर जनवरी तक नगरीय निकाय के चुनाव संपन्न हो जाएं।

किसान आत्म हत्या पर कहा

किसान के बेटे ने कल बयान दिया है जिसका वीडियो सभी ने देखा होगा उसके बेटे ने कहा है की उसके पिता का स्वास्थ ठीक नहीं रहता था, उसका चार बार ऑपरेशन भी हो चुका है।वह परेशान रहते थे इसलिए उन्होंने आत्महत्या की है। फसल खराब होने के कारण उन्होंने आत्महत्या नहीं की है। किसान के बेटे ने स्वयं इस बात को कहा है। कांग्रेस जबरदस्ती इसे फसल से जोड़कर आत्महत्या बताना चाहती है मेरा यही कहना है राजनीति के अनेक मुद्दे हैं परंतु किसी की मौत पर राजनीति नहीं करना चाहिए।

आगामी विधानसभा सत्र में कांग्रेस की तैयारियों को लेकर कहा

विपक्ष अपनी रचनात्मक भूमिका निभाएं हम स्वागत करते हैं। विरोधी सवाल करेंगे सरकार पूरा जवाब देगी सिर्फ आरोप ही लगाना है यह नहीं होना चाहिए सरकार पूरी तरह जवाब देने को तैयार है।

अवैध कब्ज़ों पर कहा

जहां पर भी कब्जे की शिकायत होती है वहां पर नगरीय निकाय संबंधित विभाग कार्यवाही करता है।

गौशाला पर कहा

गोशाला के लिए कांग्रेस ने कोई काम नही किया है। सिर्फ अखबार बाजी की है। जो मनरेगा का पैसा भारत सरकार से आता है उस मनरेगा के पैसे से एक ब्लॉक में एक गौशाला का प्रस्ताव केंद्र सरकार की तरफ से था चुनाव के समय कांग्रेस ने कहा था कि हम हर ग्राम पंचायत में गौशाला खोलेंगे। कांग्रेस वादे से अलग हो गई। भारतीय जनता पार्टी ने मध्य प्रदेश में देश की सबसे बड़ी गौशाला बनाई है। मध्यप्रदेश में गोकशी ना हो इसको लेकर भी हमने सख्त कानून मध्य प्रदेश में बनाया था पिछले 16 साल में मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा गोकशी कांग्रेस के समय में हुई है इसलिए यह नाटक करना कांग्रेस बंद करें क्योंकि जनता यह जानती है कि गो का संरक्षक कौन है।

मेट्रो प्रोजेक्ट पर कहा

अब मेट्रो प्रोजेक्ट में भारत सरकार के चेयरमैन होंगे 5 प्रतिनिधि भारत सरकार के तथा पांच राज्य सरकार के होंगे। एम.डी. राज्य सरकार की ओर से होंगे। इसमें सब टेक्निकल एक्सपर्ट ज्यादातर होंगे। इसलिए माननीय मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा है की यह काम तेजी से आगे बढ़े तथा अगस्त 2023 तक भोपाल और इंदौर में मेट्रो शुरू हो जाएगी।

स्मार्ट सिटी पर कहा

स्मार्ट सिटी की योजना माननीय प्रधानमंत्री मोदी ने देश में प्रारंभ की है। कांग्रेस के समय ऐसी कोई योजना होती ही नहीं थी मध्य प्रदेश के सात शहरों को स्मार्ट सिटी के लिए चयन किया उन सभी शहरों में तेजी से काम भारतीय जनता पार्टी चलवा रही है कांग्रेस की सरकार में स्मार्ट सिटी के काम बंद कर दिए गए थे। स्मार्ट सिटी का पैसा दूसरी जगह ट्रांसफर किया गया था। इस कारण से मध्यप्रदेश में स्मार्ट सिटी के काम प्रभावित हुए अब हम लोग तेजी से काम कर रहे हैं।

MP सरकार का आदेश- बसें चलाओ, बस मालिक- पहले टैक्स माफ हो


Bus in Madhya Pradesh : सरकार ने कहा- बसें चलाओ, ऑपरेटर बोले- पहले टैक्स माफ हो
Bus transportation in Madhya Pradesh : सरकार ने 50 फीसद यात्री संख्या के साथ बसें चलाने के निर्देश दिए हैं।

Bus transportation in Madhya Pradesh

BUS IN MADHYA PRADESH

Multapi Samachar

भोपाल । बस ऑपरेटर और सरकार के बीच चल रही खींचतान के बावजूद भोपाल समेत प्रदेशभर में यात्री बस सेवा चालू नहीं हो पाई है। ये बसें मंगलवार से सड़कों पर उतरनी थीं, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। अब आम यात्री परेशान हैं। बुधवार से भी बस सेवा चालू होना संभव नहीं है। दरअसल, सरकार ने 50 फीसद यात्री संख्या के साथ बसें चलाने के निर्देश दिए हैं। इस पर बस ऑपरेटरों का कहना है कि उन्हें पहले ही करोड़ों रुपये का नुकसान हो चुका है। बसें चलाईं तो आगे और अधिक नुकसान होगा। इसलिए सरकार पहले अप्रैल से जून तक का परमिट टैक्स माफ करे, साथ ही जुलाई से अक्टूबर तक की टैक्स माफी का आश्वासन दे। इसके अलावा यात्रियों की आधी संख्या के साथ बसें चलाने पर होने वाले नुकसान की भरपाई (प्रति बस के हिसाब से 5 हजार रुपये) अदा करे। ये तीन मांगें पूरी होने के बाद ही बसें चलाएंगे। बता दें कि बस ऑपरेटर पूर्व में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से लेकर परिवहन विभाग के अधिकारियों तक से मुलाकात कर चुके हैं। कोई हल नहीं निकला है, इसलिए वे बसें चलाने के लिए तैयार नहीं हैं। प्रदेश में लॉकडाउन के बाद से ही बसें बंद हैं।

हर महीने 65 करोड़ रुपये परमिट टैक्स देते थे

बस ऑपरेटरों का कहना है कि प्रदेश में 35 हजार बसें हैं। बस मालिक हर महीने 65 करोड़ रुपये टैक्स चुकाते हैं, जो कि लॉकडाउन की वजह से नहीं चुका पाए हैं। अप्रैल से जून के बीच तीन माह का टैक्स माफ करने की फाइल सरकार के पास लंबित है, जिस पर निर्णय नहीं होने से ऑपरेटर ज्यादा नाराज हैं।

कोरोना योद्घा में शामिल करने पर अड़े

इधर बस ड्राइवर, कंडक्टर व अन्य कर्मचारियों का कहना है कि बसें चलाईं तो कई तरह के यात्री बैठेंगे। संक्रमित यात्री बस में बैठ गए तो कोरोना संक्रमण से मुश्किलें बढ़ जाएंगी। इसलिए सरकार उन्हें कोरोना कल्याण योजना में शामिल करे, तब वे बसों पर सेवाएं दे सकेंगे।

शहर में सिटी बसें चलाने पर भी निर्णय नहीं

भोपाल में सिटी बसों का संचालन कब से होगा, यह भी मंगलवार शाम तक तय नहीं हो पाया है। अधिकारियों का कहना है कि वरिष्ठ स्तर से किसी तरह की कोई गाइडलाइन नहीं मिली है, इसलिए हमारी तरफ से बसें नहीं चला सकेंगे। जब गाइडलाइन आएगी, तब बसों का संचालन करेंगे। वैसे बसें चलाने के लिए तैयारी कर रहे हैं।

आरटीओ दफ्तर में शुरू हुईं तैयारियां

इधर, आरटीओ दफ्तर में मंगलवार को कामकाज तो कुछ नहीं हुआ, लेकिन तैयारियां जरूर चालू हो गईं। अधिकारियों का कहना है कि 50 फीसद उपस्थिति के साथ कार्यालय में कामकाज कराना है, इसलिए उसी हिसाब से व्यवस्थाएं कर रहे हैं। जल्दी ही काम भी चालू करेंगे।

जब तक सरकार मांगें नहीं मान लेती, तब तक बसें नहीं चलाएंगे। इस पर प्रदेश के सभी बस ऑपरेटरों की सहमति बन चुकी है। सभी को नुकसान हुआ है। सरकार को इसकी भरपाई करनी चाहिए, लेकिन कोई रियायत अभी तक नहीं मिली है। – गोविंद शर्मा, अध्यक्ष प्राइम रूट बस ऑनर्स एसोसिएशन मप्र

रक्षाबंधन पर बाहर से आ रहे व्यक्तियों की जाँच सुनिश्चित करायें कलेक्टर : मुख्यमंत्री श्री चौहान


कोरेंटाइन सेन्टरों की व्यवस्था पर निगरानी रखें

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से की कोरोना की समीक्षा करने का ओदश्‍


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरेंटाइन सेन्टर्स पर भोजन, पानी तथा स्वच्छता की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की जाये, जिससे यहाँ भर्ती लोगों को शिकायत का मौका न मिले। उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन पर बाहर से आनेवाले लोगों की स्क्रीनिंग की पुख्ता व्यवस्था सभी जिला कलेक्टर सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस प्रकार की सतर्कता रखी जाये, जिससे किसी भी जिले में लॉकडाउन की स्थिति अब न बने। मुख्यमंत्री श्री चौहान रविवार को चिरायु अस्पताल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे।

MP CM शिवराज सिंह की तीसरी कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव, अस्पताल से नहीं होगी छुट्टी


Multapi Samachar

भोपाल। कोरोना  संक्रमण (Corona Infection) के चलते मुख्यमंत्री शिवराज (CM Shivraj) 25 जुलाई से भोपाल (Bhopal) के चिरायु अस्पताल (Chirayu Hospital) में भर्ती है। डॉक्टर्स (Doctors) के संरक्षण में उनका उपचार जारी है। लक्षण न दिखाने पर कल मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई थी कि आज रक्षाबंधन (Rakshabandhan) के दिन उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है। उन्होंने कल अपनी तीसरी सैम्पल जांच के लिए दिए, लेकिन उनकी तीसरी रिपोर्ट (Third Samprk Report) भी पॉजिटिव आई है। ऐसे में उन्हें कुछ दिन और अपना उपचार अस्पताल में करवाना होगा। 

दरअसल कल अपने स्वास्थ्य की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया था कि “आज अस्पताल में मेरा नौंवा दिन है। मैं स्वस्थ हूं, कोरोना का कोई लक्षण नहीं है। सुबह सैम्पल RT-PCR टेस्ट के लिए लिया गया है। रिपोर्ट निगेटिव आई तो कल अस्पताल से छुट्टी मिल जायेगी।” लेकिन उनकी तीसरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इस कारण उन्हें अभी कुछ दिन और अस्पताल में रहना पड़ सकता है। मुख्यमंत्री के इससे पहले भी एक बार और सैम्पल लिए गए थे उसमे भी उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

बतादें कैबिनेट मंत्री अरविंद भदौरिया (Cabinet Minister Arvind Bhadoriya) के समपर्क में आने के बाद मुख्यमंत्री ने 24 जुलाई को एहतियात के तौर पर अपनी कोरोना की जांच करवाई थी। 25 जुलाई को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद उन्हें भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। वें अस्पताल से ही अपने सारे काम कर रहें है और प्रदेश पर नज़र बनाए हुए है। वहीं मंत्रियों और अधिकारियों के साथ वें वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए लगातार संपर्क में भी है।

mp: Unlock-3 आज प्रदेश में 808 नए केस मिले, संक्रमितों का आंकड़ा 32,614 पर पहुंचा, भोपाल, इंदौर और जबलपुर, बैतूल में फिर कोरोना के पेसेंट बढें


ईद पर मस्जिदें सूनी रहीं

  • मुख्यमंत्री ने ईद की बधाई दी, बोले त्यौहार मनाएं, लेकिन कोरोना से सावधान रहें
  • भोपाल में 168 और इंदौर में 120 नए केस सामने आए, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा पॉजिटिव

Multapi Samachar

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की मस्जिदों में आज (शनिवार) पांच-पांच लोगों ने ही ईद की नमाज अदा की। मस्जिदें सूनी रहीं। लोगों ने घर पर ही ईद की नमाज अदा कर एक-दूसरे को फोन पर बधाई दीं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ईद उल अजहा पर प्रदेश के सभी मुस्लिम भाई-बहनों को मुबारकबाद दी। इधर, प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। भोपाल में 168, जबलपुर में 125 और इंदौर में 120 नए केस मिले। यहां पर कल अपेक्षा नए केस बढ़ गए हैं। अब प्रदेश में इन दोनों के आंकड़े मिलने के बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 32,614 पर पहुंच गया है। शनिवार देर रात जारी रिपोर्ट के बाद 808 नए केस सामने आए।

शिवराज ने ईद की बधाई देते हुए कहा- कोरोना से सावधान रहें
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा- ‘मेरे सभी मुस्लिम भाई-बहनों को ईद उल अज़हा की बहुत-बहुत मुबारकबाद। त्योहार सानंद मनाएं, लेकिन कोरोना से सावधान रहें। साफ-सफाई का ध्यान रखें और घरों में ही नमाज अता करें। बधाई, शुभकामनाएं।

यहां 10 से अधिक नए मामले आए

भोपाल में 168, इंदौर में 120, जबलपुर में 125, ग्वालियर में 52, बड़वानी में 40, नीमच में 30, खरगौन में 23, विदिशा में 20, राजगढ़ में 19, सीहोर में 18, शिवपुरी में 16, रतलाम में 15, खंडवा और उज्जैन में 13-13, सागर और कटनी में 11, दमोह और होशंगाबाद में 10-10 नए केस सामने आए।

कोरोना अपडेट्स…
भोपाल में फिर 168 नए केस आए
भोपाल में शुक्रवार को 166 संक्रमित मिले थे, जबकि शनिवार सुबह इनकी संख्या 168 हो गई है। राजधानी में 10 दिन का संपूर्ण लॉकडाउन का आज 8वां दिन है, लेकिन कोरोना की रफ्तार कम होने की जगह बढ़ती जा रही है। अब यहां पर 6697 कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। अब तक संक्रमण से 181 लोगों की जान जा चुकी है।

इंदौर जिले में 120 मामले नए
इंदौर जिले में कोरोना संक्रमण के 120 नए मामले आए हैं। अब तक कुल 138076 जांच रिपोर्ट आ चुकी हैं। इनमें शुक्रवार को 1897 सैंपलों में से 120 कोरोना संक्रमित मिले। संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 7448 हो गई है। मृतकों की संख्या 312 हो गई है।

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा भी कोरोना संक्रमित निकले
कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद यहां चिरायु अस्पताल में भर्ती हो गए हैं। शर्मा ने कल देर रात ट्वीट के जरिए कहा कि वे कोरोना संक्रमित निकले हैं और अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। शर्मा ने उनके संपर्क में आए लोगों से जांच कराने का अनुरोध किया है। चिरायु अस्पताल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पिछले शनिवार से भर्ती हैं। इसके अलावा राज्य के मंत्री अरविंद भदौरिया, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत और अनेक विधायक कोरोना संक्रमण के चलते यहां अस्पताल में भर्ती हैं। राज्य के इंदौर निवासी मंत्री तुलसीराम सिलावट और एक अन्य मंत्री राम खेलावन भी कोरोना संक्रमण के शिकार होने के चलते इलाज करवा रहे हैं।

बैतूल में आज 11 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव, संख्या पहुंची 248

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में 11 लोगों की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है । जिससे जिले में अब 248 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। जिसमें से 64 केस एक्टिव है।

जिले के अन्य ब्लॉकों में कोरोना के मरीजो के मिलने से फिर मचा हड़कंप रक्षाबंधन के पावन पर्व पर कोरोना के लगातार केस बढ़ने से लोगों में दहशत का माहौल है। जिले के शाहपुर के पतवापुर में 1 मरीज, बारहवीं में 1 मरीज , मुलताई के हेटी में 3 मरीज , आमला के रेलवे कॉलोनी में 3 मरीज, पाथाखेड़ा में 1, प्रभातपट्टन के हिवरखेड़ में 1, रानीपुर में 1 मरीज के मिलने से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया है। इन सभी मरीजो को मिलाकर आज जिले में कुल 11 मरीजो की रिपोर्ट पॉजिटिव है। जिन्हें 108 की सहायता से ब्लाकों में बने कोविड़ सेंटरों में भर्ती कराया जा रहा है साथ ही आज घोड़ाडोंगरी के कोविड़ सेंटर से कोरोना मुक्त होकर सोनी परिवार अपने घर पहुचा है एक ही परिवार के 3 लोग कोरोना से ग्रसित हुए थे। जो आज स्वस्थ होकर सुरक्षित अपने घर पहुचे है।

शिवपुरी में 16 नए पॉजिटिव मिले
शिवपुरी जिले में 16 नए पॉजिटिव मिलने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 303 तक पहुंच गई है। इसमें से 257 मरीज अब तक स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं इस बीमारी से अब तक दो लोग जान गवां चुके हैं।

हरदा में सात नए मामले
हरदा जिले में 7 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। सक्रिय मरीजों की संख्या 29 तक पहुंच गयी। वहीं, अब तक 167 मरीज़ स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। 6 मरीजों की मृत्यु हो चुकी हैं।

नीमच में 30 नए मरीज मिले
नीमच में 30 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 736 हो गई है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार नए मामलों में से 15 व्यक्ति नीमच, 1 जावद, 1 ग्राम बावल,1 विशनया और अंबा का है। 11 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है।

सीहोर में कोरोना से एक महिला की मौत, 18 नए केस
सीहोर जिले में कोरोना से एक महिला की मौत हो गई, जिसके बाद इस बीमारी से जिले में मरने वालों की संख्या 10 तक पहुंच गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया के अनुसार जिले के इछावर के दशहरा मैदान वार्ड नंबर 11 में रहने वाली एक महिला का 28 जुलाई को कोरोना संक्रमण का सैंपल लिया था। जिसकी पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। उसे जिला चिकित्सालय लाया गया, जहां उसकी मृत्यु हो गयी। जिले में अब तक कोरोना से 10 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। आज कुल 18 नए केस सामने आए।

MP CM शिवराज सिंह चौहान कोरोना पॉजिटिव, कहा मुझसे संपर्क मेेंं आये लोग कोरोना टेस्‍ट जरूर करायें


लिखा- मैंने बचने का हर संभव प्रयास किया

Multapi Samachar

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान लखनउ से आने के बाद बैठक करते हुए बैैठक में बैतूल जिले के सांसद डीडी उइके जी,आमला क्षेत्र के विधायक पंडागरे जी, बैतूल पूर्व सांसद हेमंत खंडेलवाल एवंं मुलताई राजा पवार उपस्थि‍त हुए थे।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, COVID-19 का समय पर इलाज होता है तो व्यक्ति बिल्कुल ठीक हो जाता है. मैं 25 मार्च से प्रत्येक शाम को कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक करता रहा हूं. मैं यथासंभव अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से कोरोना की समीक्षा करने का प्रयास करूंगा.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा, मेरी अनुपस्थिति में अब यह बैठक गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरी विकास एवं प्रशासन मंत्री, भूपेंद्र सिंह, स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री, विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. पीआर चौधरी करेंगे. मैं खुद भी इलाज के दौरान प्रदेश में COVID-19 नियंत्रण के हरसंभव प्रयास करता रहूंगा.

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है. कमलनाथ ने एक ट्वी में लिखा, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली. ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

बता दें, मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण में तेजी देखी जा रही है. खासकर भोपाल में हालात चिंताजनक हैं. इसे देखते हुए राजधानी भोपाल में 24 जुलाई की रात से लॉकडाउन लगाया गया है. सरकार की ओर से जारी गाइडलाइंस के मुताबिक लॉकडाउन शुक्रवार रात 8 बजे से शुरू होकर 4 अगस्त की सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा. इसमें जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी गतिविधियों पर पाबंदी रहेगी.

मुलतापी समाचार