Category Archives: हत्या

प्रदेश में रुक-रुककर बारिश होने की संभावना, मौसम विभाग ने बुधवार से शुक्रवार बारिश होने की आसंका जताई, देखे किन शहरों में होगी अधिक बारिश


भोपाल Weather Alert। बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम के कारण दक्षिणी मप्र में भी बरसात का सिलसिला शुरू हो गया है। इसी क्रम में मंगलवार को इंदौर में 18 मिमी. बरसात हुई। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बुधवार से शुक्रवार तक भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, जबलपुर संभाग में रुक-रुककर बारिश होने की संभावना है। इस दौरान कहीं-कहीं तेज बौछारें भी पड़ सकती हैं।

बंगाल की खाड़ी में बना है गहरा अवदाब का क्षेत्र

मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना गहरा अवदाब का क्षेत्र तेलंगाना के खम्मम के पास पहुंचकर अवदाब में तब्दील हो गया है। इस सिस्टम के बुधवार को गहरा कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित होकर पश्चिम,उत्तर-पश्चिम की दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है। इससे दो-तीन दिन तक दक्षिणी मप्र में बरसात होगी।

इंदौर, भोपाल, जबलपुर और होशंगाबाद संभागों में बारिश की संभावना

विशेषकर भोपाल, इंदौर, जबलपुर, होशंगाबाद संभाग में कई स्थानों पर बुधवार से लेकर शुक्रवार तक बारिश होने की संभावना है। इसी क्रम में मंगलवार को भोपाल में बादल छाए रहे। गरज-चमक की स्थिति भी बनी। इंदौर में मंगलवार को सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक 18 मिमी. बरसात हुई।

इंदौर के भवरकुआ पास खंडहर के अंदर खुन से लथपथ मिली बच्ची की इलाज के दौरान मौत


इंदौर में खंडहर के अंदर रक्तरंजिश मिली बच्ची की इलाज के दौरान मौत
इंदौर में बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने भंवरकुआ थाना में किया हंगामा।

चचेरी चाचा ने की घिनौनी  हरकत

इंदौर न्‍यूज

Indore Crime News: 

मुलतापी समाचार

इंदौर । भंवरकुआ थाना क्षेत्र में बुधवार रात खंडहर के अंदर रक्तरंजित हालत में मिली सात साल की मासूम की इलाज के दौरान मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने आरोपित पर हत्या और दुष्कर्म का मामला दर्ज करने की मांग को लेकर घेराव किया। दुष्कर्म की धारा लगने से पहले पुलिस मासूम की रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

जानकारी के मुताबिक बुधवार को वह कई घंटों से घर से लापता थी। उसके दूर के रिश्ते में चाचा लगने वाला युवक उसे बिस्किट दिलवाने के बहाने ले गया और उसे ईंट मारकर घायल कर दिया। आरोपित उसे मरा समझ कर भाग आया। लोगों ने सीसीटीवी कैमरों में उसे बच्ची को ले जाते हुए देखा था। आरोपित को पीट-पीटकर पुलिस के हवाले कर दिया। बच्ची को एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां बुधवार सुबह उसकी मौत हो गई।

एसपी पश्चिम क्षेत्र महेशचंद्र जैन के अनुसार घटना रात साढ़े सात बजे की है। यहां रहने वाली बालिका घर से गायब हो गई थी। अपने स्तर पर तलाशने के बाद स्वजन ने हमें सूचना दी। करीब साढ़े नौ बजे घर से कुछ दूरी पर मौजूद एक खंडहरनुमा मकान में वह घायल अवस्था में पड़ी थी। उसके सिर पर चोट के निशान थे और खून बह रहा था। उसे तत्काल एप्पल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मामले में उसके दूर के रिश्ते में चाचा लगने वाले युवक को हिरासत में लिया गया है। आरोपित की उम्र 20 साल है। वह एक कंपनी में नौकरी करता है।

कॉलेज छात्रा की घर में हत्या या आत्महत्या ? संदेह…


मुलतापी समाचार

बागडोना सलैया गोरा डोंगरी तहसील क्षेत्र के ग्राम सलैया निवासी कॉलेज की छात्रा ने स्वयं पर केरोसिन डालकर आग लगाकर आत्महत्या कर
कर ली जानकारी मिलते ही सारणी पुलिस मौके पर पहुंची और जायजा लिया पुलिस के मुताबिक सलैया निवासी काजल सीता चौबे लाल साहू उम्र 20 वर्ष ने मंगलवार रात को स्वयं पर केरोसिन डालकर आग लगा ली जिससे छात्रा गंभीर रूप से झुलस गई जिसके बाद उसकी मौत हो गई बताया जा रहा है कि मृतिका ने रात्रि 9:00 बजे परिवार के सदस्यों के साथ भोजन किया और वह अपने कमरे में चली गई और उसने केरोसिन डालकर खुद को आग लगा ली पुलिस के अनुसार मृत्तिका कॉलेज की छात्रा है छात्रा द्वारा आत्महत्या क्यों की गई इसका कारण अज्ञात है. एस एस एल फॉरेंसिक जॉच की टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर जायजा लिया मामला इसलिए संदिग्ध लग रहा है क्योंकि युवती की जीभ बाहर निकली हुई दिखाई दे रही थी किसी ने भी उसकी चिल्लाने की आवाज नहीं सुनी।मामला गम्भीर बताया जा रहा है।
मुलतापी समाचार

MP : दो दिन में ढूंढ निकाला पुलिस हत्यारा, शराबी पति ने कर दी पत्नी की हत्या, सबूत मिटाने बॉडी पर लगाया गोबर


आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसे लगा कि उसकी पत्नी बेहोश है इसलिए गोबर लगाया फिर उसने यह भी बताया कि बॉडी को गर्म करने के लिए गोबर लगाया.

Multapi Samachar

मध्य प्रदेश के बैतूल में एक पति द्वारा अपनी पत्नी की हत्या कर उसकी लाश पर गोबर लपेट कर रखने का मामला सामने आया है. आरोपी पति ने पत्नी को मारने के बाद अपने ही घर में उसकी लाश पर गोबर लगा कर रखा था. पुलिस को इसकी जानकारी तब मिली थी जब कुछ ग्रामीणों ने आरोपी के घर से बदबू आने की शिकायत की.

दरअसल, बैतूल के चिचोली थाना के पातरी गांव में 28 अगस्त को एक महिला की लाश मिली थी. इसकी सूचना पुलिस को मिली, तो पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा कि लाश पर गोबर पुता हुआ है. पुलिस ने लाश को बरामद कर पोस्टमार्टम कराया, तो पता चला कि अंदरूनी चोटें होने के कारण और लीवर फट जाने से महिला की मृत्यु हुई है.

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी और सबसे पहले संदेह उसके पति भैयालाल पर हुआ. जांच के दौरान पूछताछ में भैयालाल ने पुलिस को गुमराह किया और कहा कि वह गांव से बाहर चला गया था और नहीं जानता कि उसकी पत्नी की हत्या किसने की है. पता चला कि भैयालाल की शराब पीने की आदत थी, जिसके चलते घर में हमेशा विवाद होता था और उसके तीन बच्चे भी घर से कहीं और बाहर रहने चले गए थे. वह अपनी पत्नी से अक्सर झगड़ा करता रहता था.

जब पुलिस ने आरोपी भैयालाल से कड़ी पूछताछ की, तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया. टीआई दीपक पाराशर का कहना है कि भैयालाल की पत्नी, जिसकी उम्र चालीस साल है उससे 26 अगस्त की रात को लड़ाई हुई थी. विवाद इतना बढ़ा कि भैयालाल ने डंडे से पत्नी पर ताबड़तोड़ वार कर दिए और पत्नी की तुरंत ही मौके पर मौत हो गई.

इसके बाद आरोपी पति भैयालाल ने पत्नी के मृत शरीर को गोबर से ढंक दिया. आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसे लगा कि उसकी पत्नी बेहोश है इसलिए गोबर लगाया. उसने यह भी बताया कि बॉडी को गर्म करने के लिए गोबर लगाया था. पुलिस का मानना है कि आरोपी ने साक्ष्य छिपाने के लिए गोबर का इस्तेमाल किया था. आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है.

Crime news : ग्राइंडर मशीन से किए पति के टुकड़े टुकड़े, अब कोर्ट ने लेस्बियन पत्नी और सभी आरोपियों को भेजा रिमांड पर


Multapi Samachar

राजस्थान के जोधपुर में एक सनसनीखेज मामले का खुलासा (rajasthan jodhpur murder case )हुआ है। यहां एक लेस्बियन ( lesbian) पत्नी ने कृषि विभाग (agriculture department) के एएओ चरण सिंह अपने पति की नृसंश हत्या कर दी है। हत्या करने के बाद पति चरण सिंह के शव को इलेक्ट्रॉनिक ग्राइडर से किए टुकड़े करवाकर उसे नाले में फिंकवा दिया था।

हाइलाइट्स:

  • अपने पति की नृसंश हत्या करने वाली लेस्बियन पत्नी सालियाँ और एक परिचित को कोर्ट ने भेजा 5 दिन के रिमांड पर
  • समलैंगिक सम्बंध के चलते ससुराल नहीं जाना चाहती थी पत्नी सीमा
  • लगातार दबाव और सामाजिक मर्यादा के चलते उठाया कदम
  • पुलिस ने किया ग्राइंडर और अन्य सामान किया बरामद

जोधपुर
जोधपुर में समलैंगिक संबंध के चलते ससुराल नहीं जाने चाहत में एक पत्नी ने पति की हत्या की साजिश रच दी। कृषि विभाग के एएओ चरण सिंह की पत्नी सीमा ने आपकी बहनों और एक परिचित के साथ मिलकर चरण सिंह की हत्या कर, शव के टुकड़े-टुकड़े कर नाले में फेंक दिया था। इस नृसंश हत्या के चारों आरोपियों को अब बनाड़ थाना पुलिस ने महानगर मजिस्ट्रेट संख्या 5 के समक्ष पेश किया है। पुलिस ने कोर्ट के समक्ष अर्जी देते हुए बताया कि अभी तक हत्या में प्रयुक्त गए सामान को बरामद करना बाकी है। इसके चलते 5 दिन के पुलिस अभिरक्षा की आवश्यकता है, जिसे स्वीकार करते हुए कोर्ट ने सभी चारों आरोपियों को 5 दिन की पुलिस रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया।

ऐसी रची थी साजिश
मिली जानकारी के अनुसार कृषि विभाग के एएओ चरण सिंह की पत्नी सीमा व सालियां बबीता व प्रियंका और एक परिचित भींयाराम जाट ने मिलकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद उसके शव को बाथरूम में ले जाकर इलेक्ट्रॉनिक ग्राइंडर के जरिए टुकड़े-टुकड़े कर दिए थे और उन्हें नाले में फेंक दिया था।इसके बाद शव के टुकड़े नगर निगम के ट्रीटमेंट प्लांट में फेंके गए थे, जिसके बाद शहर सनसनी फैल गई।

पत्नी को गौना करवाकर अपने घर ले जाना चाहता था ससुराल
दरअसल चरण सिंह की पत्नी सीमा की महिला के साथ समलैंगिक संबंध थे। जिनके चलते वह ससुराल नहीं जाना चाहती थी। चरण सिंह के विवाह को लंबा समय हो गया था, लेकिन गौना होना बाकी था। जिसको लेकर चरण सिंह अपनी पत्नी पर लगातार दबाव बना रहा था और सामाजिक मर्यादा के चलते वह अपने समलैंगिक संबंधों के बारे में किसी को बता नहीं पाई और उसने वह कदम उठा लिया जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता।

पुलिस ने किया ग्राइंडर और अन्य सामान बरामद
बनाड़ थाना अधिकारी अशोक आंजना ने बताया की हत्या में प्रयुक्त किए गए ग्राइंडर और अन्य सामान बरामद कर लिए गए हैं। लेकिन वाहन बरामद करना बाकी है। इसके अलावा कुछ और सामान बरामद करने हैं। जिसको लेकर आज पुलिस ने रिमांड मांगा था और कोर्ट के चारों आरोपियों को पुलिस अभिरक्षा में पुलिस को सौंप दिया। पुलिस अब रिमांड के जरिए केस के सभी पहलूओं तक पहुंचना चाहेंगी, ताकि इस केस से जुड़े सभी राज सामने आ सके।

मुलतापी समाचार

खेत में मिले युवक युवती के शव,  लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे


मूलतापी समाचार

गोंडी घोघरा में युवक युवती की हत्या,पुलिस पंहुची मौके पर

बैतूल-  आठनेर थानाक्षेत्र के ग्राम गोंडी घोघरा  में खेत पर युवक युवती का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई युवक युवती की हत्या धारदार हथियार से की गई है आठनेर पुलिस मौके पर पँहुच गई है और मामले की जांच कर रही है |

एडिशनल एसपी श्रद्धा जोशी ने बताया कि सूचना मिली थी कि एक खेत पर युवक युवती के शव पड़े है युवक युवती लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे युवक कोरकू और युवती गोंड जाती की है दोनों की हत्या की गई है बैतूल से टीम रवाना की गई है ।

Betul जज के पूरे परिवार को खत्म करनेे की थी साजिस महिला मित्र, छह गिरफ्तार


महिला मित्र ने लियेे रूपयों का मामला सामने आया

तांत्रिक बाबा द्वारा आटा अभिमंत्रित कर

जज और उनके बेटे की हत्या में महिला समेत छह गिरफ्तार – तांत्रिक से अभिमंत्रित कराने आटा मांगा और मिला दिया जहर।

Multapi Samachar

Betul News : बैतूल। बैतूल में पदस्थ रहे अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (एडीजे) महेन्द्र कुमार त्रिपाठी और उनके पुत्र अभिनयराज की मौत का मामला हत्या में बदल गया है। जज की महिला मित्र उनके पूरे परिवार को मौत के घाट उतारना चाहती थी, लेकिन छोटा बेटा आशीषराज त्रिपाठी और पत्नी बच गए। पुलिस ने बुधवार को पूरे मामले का राजफाश कर दिवंगत एडीजे की महिला मित्र और वारदात में मददगार बने उसके पांच साथियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बैतूल की पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने बताया रीवा जिले की मूल निवासी छिंदवाड़ा में रह रही एनजीओ संचालिका संध्या सिंह से एडीजे त्रिपाठी के 10 वर्ष से संबंध थे और उसका उनके घर भी आना-जाना था।कुछ दिनों से एडीजे परिवार को अधिक समय दे रहे थे, जिससे संध्या स्वयं को अकेला महसूस करने लगी।

कुछ लेनदेन को लेकर भी दोनों के बीच कटुता बढ़ गई थी। इससे नाराज होकर 44 संध्या ने एडीजे और उनके परिवार को खत्म करने की साजिश रची।

इस तरह दिया झांसा

संध्या ने एडीजे को घर-परिवार में कलह खत्म करने और समृद्धि लाने का झांसा दिया और एक तांत्रिक द्वारा आटा अभिमंत्रित कर देने की बात बताई।

इसके लिए एडीजे राजी हो गए और घर से करीब आधा किलो आटा लेकर संध्या के घर 18 जुलाई को छिंदवाड़ा गए। दो दिन बाद 20 जुलाई को संध्या स्वयं कार से बैतूल आईं और सर्किट हाउस के पास एडीजे को आटा देकर उनके घर में रखे आटे में मिलाकर उसकी रोटियां खाने की सलाह दी।

इस पर त्रिपाठी ने घर में रखे आटे में उसे मिला दिया और उससे बनी रोटियां खाने के बाद उनकी और दोनों बेटों की हालत बिगड़ गई। 21 जुलाई से 23 जुलाई तक वे घर में ही उपचार कराते रहे, लेकिन जब स्थिति गंभीर हुई तो देर शाम एडीजे और उनके बड़े बेटे को पाढर के स्थानीय अस्पताल में भर्ती किया गया।

25 जुलाई को हालत बिगड़ने पर पिता-पुत्र को नागपुर अस्पताल रेफर किया, जहां दोनों की मौत हो गई। इन्हें किया गिरफ्तार पुलिस ने त्रिपाठी व बेटे की हत्या के आरोप में संध्या पति संतोष सिंह, उसके ड्राइवर संजूू, सहयोगी देवीलाल चंद्रवंशी, मुबीन खान, कमल और बाबा उर्फ रामदयाल सभी निवासी छिंदवाड़ा को गिरफ्तार किया है।

पाच दिन से लापता महाराष्ट्र के युवक का सड़ा गला शव MP में मिला


महाराष्ट्र के धनोड़ी वरुड निवासी युवक का सोमगढ घाट में मिला सड़ा गला शव

महाराष्ट्र के धनोड़ी वरुड निवासी युवक का सोमगढ घाट मध्‍यप्रदेश में मिला सड़ा गला शव

चार दिन से लापता था युवक

Multapi samachar

मुलताई।       महाराष्ट्र के वरुड तहसील के ग्राम धनोडी निवासी युवक का सड़ा गला शव प्रभातपट्टन ब्लाक के ग्राम सोमगढ़ के पास घाट क्षेत्र में मार्ग की पुलिया के नीचे पड़ा मिला है। युवक बीते 24 जुलाई से घर से लापता था। युवक की गुमशुदगी की रिपोर्ट महाराष्ट्र के शेंदुरजना घाट के पुलिस थाने में परिजनों ने दर्ज कराई थी। प्रभातपट्टन पुलिस सहायता केंद्र में पदस्थ प्रधान आरक्षक अशोक आठवले ने बताया सोमवार को मार्ग से आने जाने वाले ग्रामीणों को सोमगढ़ के पास सात मोड़ की पुलिया पर से बदबू आने लगी तो उन्होंने पुलिया से नीचे झांक कर देखा जहां एक व्यक्ति का शव पड़ा दिखा तो पुलिस को सूचना दी। वही युवक के लापता होने के बाद उसके परिजन भी खोजबीन कर रहे थे। खोजबीन करते हुए मृतक का भाई राहुल गायकी भी 

प्रभातपट्टन से सोमगढ़ जाने वाले मार्ग से गुजरा तो उसे भी पुलिया के पास बदबू आई। तो उसने पुलिया के नीचे झांक कर देखा तो सड़ा गला शव देखने पर वह ग्रामीणों के साथ शव के पास पहुंचा और कपड़े चप्पल से मृतक की शिनाख्त कर बताया कि मृतक उसका भाई विक्रम पिता उत्तमराव गायकी 28 साल निवासी ग्राम धनोडी है। जो 24 जुलाई को संतरे का बगीचा देखकर आता हूं कहकर घर से निकला था । लेकिन घर वापस नहीं लौटा। राहुल गायकी की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम किया है। युवक की मौत किन परिस्थितियों में हुई पुलिस इसकी जांच कर रही है। 

प्रथम दृष्टया हत्या का मामला 

लापता युवक का सड़ा गला शव मिलने के मामले में पुलिस  प्रथम दृष्टया हत्या का मामला मान रही हैं। युवक का सिर बुरी तरह कुचला हुआ है। शव को जंगल में पुलिया के नीचे गड्ढे में फेका गया है। फिलहाल पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। पुलिस परिजनों के बयान लेने के साथ मृतक युवक के मोबाइल के काल डिटेल खंगाल रही है। मृतक अविवाहित हैं इस स्थिति में पुलिस प्रेम प्रसंग के मामले सहित अन्य बिंदुओं पर जांच कर रही है।

MP Betul के जज की मौत का बडा खुलासा: फूड पॉइजनिंग से नहीं, जहर से हुई मौत, जादू टोना की बात सामने आने पर आटा देने वाली महिला को रीवा से किया अरेस्ट


बैतूल एडीजे की मौत फूड पॉइजनिंग से नहीं, जहर से हुई; तंत्र-मंत्र की बात सामने आने पर आटा देने वाली महिला को रीवा से किया अरेस्ट

मुलतापी समाचार

बैतूल अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश महेंद्र त्रिपाठी (नीली टी शर्ट में) अपने परिवार के साथ। त्रिपाठी के परिवार में दो बेटे और दो बेटियां थीं।
  1. पुलिस ने महिला समेत पांच लोगों को हिरासत में लिया, इस महिला ने ही जज को आटा दिया था, कहा था- इसे घर के आटे में मिला देना
  2. 20 जुलाई को एडीजे और उनके दो बेटों की खाना खाने के बाद तबीयत बिगड़ी थी, 25 जुलाई को एडीजे और बड़े बेटे की मौत हो गई थी

Betul MP मध्य प्रदेश के बैतूल डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के एडीजे महेंद्र त्रिपाठी और उनके बेटे अभियान राज की मौत जहर से हुई है। पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में इसका खुलासा हो गया है। ये पता नहीं चला है कि जहर कौन सा था? लेकिन, पुलिस सूत्रों का कहना है कि जिसने भी आटे में जहर मिलाकर दिया, उसकी साजिश पूरे परिवार को खत्म करने की थी।

किस्मत से एडीजे की पत्नी ने उस दिन रोटी नहीं खाई और छोटे बेटे को दो रोटी खाने के बाद उल्टी हो गई इसलिए वे बच गए। 20 जुलाई को त्रिपाठी और उनके दो बेटों को फूड पॉइजनिंग की शिकायत होने पर बैतूल के अस्पताल में भर्ती कराया था।

रीवा की महिला से होगी पूछताछ
मामले में पूछताछ के लिए रीवा निवासी एक महिला को बैतूल लाया गया है। पुलिस ने 5 संदिग्धों को भी हिरासत में लिया है। इस महिला ने ही जज को आटानुमा कुछ दिया था और कहा था कि इसे घर के आटे में मिला देना। घटना के बाद से ही महिला का फोन बंद आ रहा था। 25 जुलाई को एडीजे त्रिपाठी और उनके बेटे की मौत हो गई थी। पुलिस ने अस्पताल में एडीजे के बयान लिए थे। उनसे किसी पर शक होने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि आटे की जांच जरूर करा लेना।

महिला ने संकट टालने के लिए आटा दिया गया
शुरुआती जांच में सामने आया कि 19 जुलाई की दोपहर में एडीजी की संध्या नाम की महिला से मुलाकात हुई। उसी दौरान उन्हें आने वाले संकट को टालने के लिए आटा दिया गया था। 20 जुलाई को त्रिपाठी के घर में पत्नी को छोड़कर परिवार के बाकी सदस्यों ने इसी आटे से बनी रोटी खाई थी। छोटे बेटे को तत्काल उल्टी हो जाने से उस पर असर नहीं हुआ। इधर, 20 जुलाई के बाद से रीवा की मूल निवासी महिला का फोन बंद आ रहा था। 25 जुलाई को उसने जैसे ही फोन ऑन किया, पुलिस को उसकी लोकेशन रीवा में मिली। स्थानीय पुलिस की टीम ने देर रात महिला को ढूंढ़ निकाला।

महिला की कार से सामान निकालती बैतूल पुलिस। कार में तंत्र-मंत्र का सामान और इसी से जुड़ी हुईं किताबें बरामद हुई हैं।

महिला की कार में मिली तंत्र-मंत्र की किताबें और सामान
सूत्रों के मुताबिक, रीवा से महिला को देर रात कार समेत बैतूल लाया गया। कार में रखे बैग और अन्य सामान को पुलिस ने जब्त कर लिया है। पर्स से पुलिस ने तंत्र-मंत्र की सामग्री भी जब्त की है। सूत्रों का कहना है कि परिवार के सदस्य अभी भी कुछ छिपा रहे हैं। घर में ऐसा क्या था कि एडीजे महिला के चक्कर में आ गए।

छोटे बेटे आशीष राज का कहना है कि संध्या सिंह नामक महिला ने पापा को आटा दिया था, जिसकी रोटी खाने के बाद उन तीनों की तबीयत बिगड़ी। संध्या सिंह पिछले 10 सालों से उनके पापा के संपर्क में थी। कई तरीकों से उनके परिवार को खत्म करने की पहले भी साजिश रच चुकी है। संध्या सिंह ने पापा से कहा था कि यह आटा अपने घर के आटे में मिला दीजिए। इससे सबका स्वास्थ्य अच्छा होगा और समृद्धि होगी।

अस्पताल से महिला को फोन लगा रहे थे एडीजे
अस्पताल सूत्रों के मुताबिक, एडीजे अस्पताल से महिला को बार-बार फोन लगा रहे थे। उससे वे पूछ रहे थे कि आखिर कौन-सी चीज खाने को दी है। उसका नाम बता दो, ताकि डॉक्टर उसका एंटीडाेज दे सकें। लेकिन, दूसरी ओर से महिला बार-बार उनका फोन काट दे रही थी।

जब महिला ने कुछ नहीं बताया तो उसके ड्राइवर को फोन लगाया
एडीजे तीन दिन बैतूल अस्पताल में भर्ती रहे। दो दिन तक वे फोन लगाकर महिला से आटे के बारे में पूछते रहे। जब महिला ने फोन उठाना बंद कर दिया तो उन्होंने उसके ड्राइवर को फोन लगाकर जानकारी लेनी चाही। सूत्रों का कहना है कि एडीजे ने ड्राइवर से यहां तक कहा था कि भगवान की खातिर उससे पूछकर बता दो कि आटे में क्या मिला है।

एडीजे से मिलने आती थी महिला
सूत्रों के अनुसार, एडीजे इस महिला से करीब 10 साल से ज्यादा समय से परिचित थे। दो साल उनके बैतूल में तैनाती के हो चुके थे। इस बीच, कई बार महिला मिलने आई। उसके बारे में कई बातें सामने आ रहीं है। कोई उसे सिंगरौली का तो कोई छिंदवाड़ा का रहने वाला बता रहा। ये भी कहा जा रहा है कि महिला का पति उससे अलग रहता है। महिला एनजीओ और कपड़े का व्यवसाय करती है। हालांकि, अभी ये स्पष्ट नहीं हो पाया है कि महिला किस तरह जज के संपर्क में आई थी।

एडीजे महेंद्र त्रिपाठी की मौत के मामले में पुलिस ये जानने की कोशिश कर रही है कि आखिर ऐसी कौन सी वजह थी कि महिला जज के पूरे परिवार को खत्म करना चाह रही थी।

बैतूल के वकीलों की चर्चा के अनुसार, एडीजे उन जजों से नाखुश थे, जो अन्य राज्य के निवासी हैं। बीते कुछ दिन से उनका आध्यात्म की तरफ ज्यादा झुकाव हो गया था। बातचीत भी वे आध्यात्म की ज्यादा करने लगे थे। एडीजे का बड़ा बेटा कुछ दिन पहले ही इंदौर से बैतूल आया था।

लेन-देन की जांच चल रही है
सूत्रों का कहना है कि एडीजे के खाते में बड़ी रकम ट्रांसफर होने की बात सामने आई। महिला के खाते में भी काफी पैसा जमा हुआ है। इसकी जांच चल रही है। सूत्रों से ये भी पता चला है कि महिला की लाइफस्टाइल हाई सोसायटी जैसी है। आशंका जताई जा रही है कि इस मामले में कई बड़े लोगों का हाथ भी हो सकता है।

Multapi Samachar

जनपद सदस्‍य के भाई की घर में घुसकर दिन दहाडे हत्‍या, दिल दहलानेे वाली तस्‍वीर


बैतूल। चोपना थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक गांव में अज्ञात आरोपियों ने दिन दहाड़े घर में घुसकर युवक की हत्या कर दी। इस हत्या की घटना से पूरे गांव में सनसनी फैल गई। जानकारी लगते ही सारनी एसडीओपी और चोपना थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और जायजा लिया।

सारनी एसडीओपी अभयराम चौधरी ने बताया कि चोपना के बिष्णुपुर में अज्ञात 3 आरोपियों ने दिन दहाड़े घर में घुसकर महादेव पिता हलदर उम्र 40 की हत्या कर दी। वारदात के समय मृतक घर में सो रहा था। दोपहर को अज्ञात तीन लोग नकाब पहनकर घर पहुंचे। उन्होंने युवक महादेव पर कुल्हाड़ी, फावड़े से हमला कर उसकी हत्या कर दी। हत्या से घर में मौजूद लोगों में चीख पुकार मच गई। घटना के बाद से ही अरोपी मौके से भाग निकले।

जानकारी लगते ही दल-बल के साथ पुलिस मौके पर पहुंची और घटना का जायजा लेते हुए मर्ग कायम किया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया और अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला पंजीबद्ध कर जांच शुरू कर दी है। एसडीओपी श्री चौधरी ने बताया कि शीघ्र ही आरोपियों का सुराग लगाकर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।