Tag Archives: दमोह

जन्मदिन के बहाने मलैया का शक्ति प्रदर्शन विरोधी और कांग्रेसी भी रहे उपस्थित


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: विधानसभा में आसन्न उपचुनाव को देखते हुए मध्य प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया ने आज अपने जन्मदिन के बहाने शक्ति प्रदर्शन कर अपनी धमाकेदार वापसी के संकेत दिए हैं।

कांग्रेसी विधायक रहे राहुल सिंह के भाजपा में शामिल होने और विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद इतना तो तय हो गया है कि आगामी कुछ महीनों के भीतर ही दमोह में भी उपचुनाव होगा। इसी उपचुनाव के मद्देनजर कांग्रेस व भाजपा के टिकट के प्रबल दावेदार सक्रिय हो गए हैं। इसी बीच दमोह में 35 वर्षों तक एकछत्र राज करने वाले प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया ने आज अपने जन्मदिन के बहाने आयोजित कार्यक्रम में जोरदार शक्ति प्रदर्शन कर अपनी वापसी के संकेत दिए हैं। राजनीतिक हलकों में जयंत मलैया के जन्मदिन को पुनः चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

इसी बीच आज एक स्थानीय मैरिज गार्डन में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं विशेषकर मलैया समर्थकों ने एक भव्य आयोजन किया। कार्यक्रम भले ही जन्मदिन के रूप में आयोजित किया गया था लेकिन इसका मूल उद्देश्य चुनाव के ठीक पहले शक्ति प्रदर्शन ही रहा है। शक्ति प्रदर्शन के माध्यम से इशारों ही इशारों में यह बताने की कोशिश की गई है कि केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल अपने समर्थक राहुल सिंह लोधी के लिए टिकट दिलवाने में कितनी ही ताकत लगा ले लेकिन जयंत मलैया भी किसी भी कीमत पर पीछे हटने वालों में से नहीं है।

मलैया को जन्मदिन की शुभकामना देने ग्रामीण क्षेत्रों से उनकी काफी समर्थक पहुंचे। तो दूसरी तरफ व्यापारिक ,राजनीतिक, और सामाजिक संगठन के प्रमुख भी बड़ी संख्या में मंच पर दिखे। कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष अजय टंडन भी अपनी पूरी टीम और समर्थकों के साथ मलैया को बधाई देने पहुंचे। तो दूसरी तरफ जयंत मलैया के विरोधी माने जाने वाले और कभी मलैया परिवार पर गंभीर आरोप लगाने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल भी अपनी टीम के साथ मलैया के कार्यक्रम में उपस्थित हुए। उन्होंने फूल माला पहनाकर मलैया को जन्मदिन की शुभकामनाएं तो दी ही साथ ही यह संदेश भी लोगों में चला गया कि राजनीति में दुश्मनी और दोस्ती कभी स्थाई नहीं होती समय के साथ परिभाषा बदल जाती है।

मुलतापी समाचार

दमोह: बिना मास्क लगाए युवक ने पुलिस को देखा तो बांध लिया पत्नी का पेटीकोट


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: रविवार सुबह जिले के बांदकपुर में पुलिस ने जब बिना मास्क लगाए घूम रहे एक युवक को रोका तो घबराहट में युवक ने झोले में रखा पत्नी का पेटीकोट ही अपने चेहरे पर बांध लिया।

प्रदेश के अन्य हिस्सों की तरह दमोह जिले की पुलिस भी सोशल डिस्टेंसिंग और लोगों को चेहरे पर मास्क लगाने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से मैदान में उतरी हुई है। रविवार सुबह जिले के बांदकपुर कस्बे में पुलिस के जवान मास्क चेक कर रहे थे, उसी दौरान एक युवक बिना मास्क लगाए दिखा तो पुलिस ने उससे जैसे ही बिना मास्क के घूमने की वजह पूछी तो युवक घबरा गया। उसने जल्दी से अपने बैग में हाथ डाला और पत्नी के लिए खरीदा गया पेटीकोट बाहर निकाल कर उसे ही चेहरे पर बांध लिया। युवक को ऐसा करते देख पुलिसकर्मी भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए। इसके बाद पुलिस ने उसे रेडीमेड मास्क लगाने की सलाह दी।

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: क्वॉरेंटाइन सेंटर में टिफिन बना कर देने वाली महिला पाज़ीटिव


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: दमोह जिले में कोरोनावायरस अभी तक श्रमिक मजदूरों के पलायन से आया था लेकिन अब दमोह शहर की महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया जा रहा है कि यह महिला क्वॉरेंटाइन सेंटर में काम करती थी। इसके अलावा लोगों को टिफिन बना कर भी देती थी। आज जिले से आई रिपोर्ट में 3 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं। इस तरह दमोह जिले में कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या 21 पहुंच गई है।

मध्य प्रदेश में सबसे बड़े वार्ड सिविल वार्ड नंबर 6 दमोह में रिहायशी इलाके के बीच में क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया गया है। इसी क्वॉरेंटाइन सेंटर में काम करने वाली महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।दमोह शहर में कोरोनावायरस का पहला मामला सामने आने के बाद लोगों में दहशत का माहौल व्याप्त है। वहीं सिविल वार्ड के निवासियों ने क्वॉरेंटाइन सेंटर को अन्य जगह शिफ्ट करने की मांग उठाई है।

आज आई रिपोर्ट में एक मामला दमोह शहर का दूसरा हिंडोरिया का एवं तीसरा पथरिया का है। ऐसे में शहर में संक्रमण फैलने की उम्मीद ज्यादा है।फिलहाल प्रशासन ने पूरे इलाके को कंटेनमेंट एरिया में तब्दील कर दिया है।वही इस महिला के पति एवं बच्चों को भी क्वॉरेंटाइन सेंटर में भर्ती करवा दिया गया है।

मुलतापी समाचार

ग्रीन जोन से यलो में पहुंचा दमोह


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: कोरोना संक्रमण से अब तक अछूता रहा दमोह मैं पहला कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला है। सिविल सर्जन डॉक्टर ममता तिमोरे ने इसकी पुष्टि की है । तेंदूखेड़ा के ग्राम सर्रा के एक युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

यह खबर दमोह जिले में हवा की तरह फैल गई, और एक दहशत का माहौल बन गया है। कलेक्टर तरुण राठी पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान सहित आला अधिकारी मौके पर रवाना हो चुके हैं। इस क्षेत्र को कंटोनमेंट क्षेत्र घोषित करने की कार्यवाही की जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सर्रा निवासी यशवंत पिता फूलचंद कुर्मी उम्र 24 वर्ष कुछ ही दिन पहले महाराष्ट्र से आया था जिसे क्वॉरेंटाइन किया गया था।

डॉ ममता तिमोरी ने बताया कि अभी और भी सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं इनकी रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ बताया जा सकेगा। इस खबर के बाद ग्रीन जोन में रहने वाला दमोह जिला अब आरेंज जोन में आ गया है। इसमें संदेह नहीं है कि दूसरे प्रदेशों से आए हजारों मजदूरों और उनके परिजनों से जिले को अब सुरक्षित नहीं कहा जा सकता।

मुलतापी समाचार

दमोह में शराबी युवक का आतंक


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल हटा

दमोह: दमोह में आज एक शराबी युवक ने दूसरे युवक को चाकू मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। युवक को गंभीर हालत में जबलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार को लगभग 2:30 बजे नगर के मध्य सिटी कोतवाली क्षेत्र के पथरिया फाटक के पास एक युवक खून से लथपथ अवस्था में पड़ा था। इसे तुरंत स्थानीय लोगों ने युवक को गंभीर हालत में इलाज के लिए दमोह जिला अस्पताल लाया गया। घटना की जानकारी लगते ही अस्पताल पहुंची पुलिस ने युवक से पूछताछ की, लेकिन गंभीर हालत होने के कारण युवक के बयान दर्ज नहीं हो पाये और उसे जबलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। सूत्र बताते हैं कि घटना के पीछे शराब खोरी की संभावना है। पुलिस पूरे मामले की तहकीकात कर रही है।

मुलतापी समाचार

MP Damoh News : छह वर्षीय मासूम को अगवा कर किया दुष्कर्म, आंख फोड़ने की कोशिश, एक आरोपित गिरफ्तार


MP News : Damoh : Multapi Samachar

बनवार-दमोह । दमोह के जबेरा थाना के एक गांव में छह वर्षीय मासूम से दुष्कर्म किया गया है। गुरुवार सुबह यह बच्ची बेहोशी की हालत में अपने घर से करीब 50 फीट दूर एक जर्जर मकान में मिली। बच्ची की आंखों में गंभीर चोटें थीं। इससे शक है कि आरोपितों ने उसकी आंखें फोड़ने का भी प्रयास किया। मामले में एक आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने बताया कि बच्ची बुधवार शाम को लापता हुई थी। स्वजनों ने उसकी काफी तलाश की और बाद में पुलिस को सूचित किया। गुरुवार सुबह मासूम बेहोशी की हालत में अपने घर के पास एक जर्जर मकान में मिली। उसकी आंखों में गंभीर चोटें होने से अंदेशा है कि आरोपितों ने उसकी आंखें फोड़ने का भी प्रयास किया है। उसका गला भी दबाया गया था।

पुलिस ने बच्ची को जबेरा स्वास्थ्य केंद्र भेजा, लेकि न हालत गंभीर होने पर उसे जबलपुर रेफर कि या गया। जबलपुर मेडिकल कॉलेज में मासूम की आंखों की सर्जरी की गई है। संभावना है कि उसकी आंखों की रोशनी वापस आ जाएगी। पुलिस ने आरोपितों पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था।

मुख्यमंत्री ने घटना को बताया निंदनीय

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना को लेकर ट्वीट किया और इसे निंदनीय बताया। जबेरा विधायक धर्मेंद्र सिंह भी गांव पहुंचे और घटना की जानकारी ली।

कमल नाथ ने उठाया कानून व्यवस्था का सवाल

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान बढ़ती आपराधिक घटनाओं को लेकर कानून व्यवस्था का सवाल उठाया है। बच्ची के साथ दरिंदगी पर उन्होंने मुख्यमंत्री से दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। नाथ ने कहा कि प्रदेश में यह क्या हो रहा है? इतनी नृशंस,दरिंदगी भरी घटना वह भी लॉकडाउन के दौरान, आमजन आवश्यक वस्तुओं के लिए भी घर से बाहर तक नहीं जा पा रहा है और अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं। प्रदेश में दुष्कर्म, हत्या, गोलीबारी और चाकूबाजी की घटनाएं जारी हैं। एक माह की आपकी सरकार प्रदेश को किस ओर लेकर जा रही है। भोपाल में थाने के सामने एक नाबालिग ज्यादती की शिकार हो गई, मासूम बालिकाएं भी सुरक्षित नहीं? उन्होंने कहा कि सरकार बालिका का इलाज कराए और परिवार की हरसंभव मदद की जाए।

घर के अंदर पड़ गए सात फेरे


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: lockdown पर सोमवार की दोपहर प्रशासनिक अनुमति के बाद एक विवाह संपन्न हुआ! जिसमें न बराती थे न बैंड बाजे थे! सिर्फ कुछ लोगों की मौजूदगी में घर के एक कमरे में विवाह की रस्में निभाते हुए, वर वधु ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई!

दमोह के जटाशंकर कॉलोनी स्थित वधु के घर पर वैवाहिक रस्में पूरी की गई! वर भी दमोह के निवासी हैं, जिससे इन दोनों परिवारों को आने जाने में कोई दिक्कत नहीं हुई!

.. lockdown में शहर का ऐसा पहला विवाह हुआ जिसमें घर के दरवाजे बंद थे! घर के अंदर वर व वधू पक्ष के चुनिंदा लोगों की मौजूदगी रही! घर के अंदर बगैर हो हल्ला के प्रशासनिक दायरे में विवाह की रश्में पूरी हुई! यह विवाह पंडित रामचंद्र जैन द्वारा जैन धर्म की परंपराओं के अनुसार संपन्न कराया गया!

मुलतापी समाचार

भगवान महावीर स्वामी ने 12 वर्षों तक की थी कठोर तपस्या


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

महावीर जयंती 2020; राज परिवार में जन्म लेकर राजकुमार से सन्यासी बने महावीर स्वामी को छोटी सी उम्र में ही भोग विलास से विरक्ति हो गई थी! उनके पिता महाराज सिद्धार्थ ने उनको राजसी जीवन जीने के लिए सभी तरह की सुख सुविधाएं और ऐश्वर्य उनको प्रदान किए, लेकिन इसके बावजूद उनका मन सांसारिक सुखों में नहीं लगा, और विवाह के पश्चात उन्होंने सब कुछ त्याग कर संन्यास ले लिया! कठोर तपस्या के बाद जब उनको ज्ञान की प्राप्ति हुई तो उनके अनमोल वचनों से दुनिया बड़ी प्रभावित हुई और बड़ी संख्या में लोगों ने जैन धर्म को अंगीकार किया! भगवान महावीर स्वामी के अनमोल वचन

महावीर स्वामी ने संसार को अहिंसा, त्याग और संयम का संदेश दिया! उन्होंने यज्ञ में दी जाने वाली बली का विरोध किया और जाति के भेद को मिटाने की दशा में बड़ा काम किया! जैन धर्म को मानने वालों के लिए उन्होंने पांच व्रत दिए, जो अहिंसा, सत्य, अस्तेय ,ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह है! महावीर स्वामी ने हर तरह की हिंसा का विरोध करते हुए’ जियो और जीने दो’का सिद्धांत दिया! उन्होंने अपने तप से सभी इंद्रियों पर विजय प्राप्त कर ली थी इसलिए उनको “जितेंद्रय ‘कहा गया!

जैन धर्म के गुरुओं ने भगवान महावीर के कुल 11 गणधर बताए थे! जिनमें गौतम स्वामी पहले गणधर थे! महावीर जी की मृत्यु के 200 वर्षों के पश्चात जैन धर्म श्वेतांबर और दिगंबर दो संप्रदायों में विभक्त हो गया! दिगंबर संप्रदाय को मानने वाले अनुयाई या संत अपने वस्त्रों का त्याग कर देते हैं, जबकि श्वेतांबर संप्रदाय को मानने वाले संत श्वेत वस्त्र धारण करते हैं! उन्होंने बिहार के पावापुरी में देह त्याग किया था इसलिए इस स्थान को जैन धर्मावलंबी पावन स्थली मानते हैं! भगवान महावीर स्वामी ने 12 साल तक निर्वस्त्र रहकर और मौन व्रत धारण कर कठोर तपस्या की थी उसके बाद उनको ज्ञान की प्राप्ति हुई थी!

मुलतापी समाचार

घर से बाहर निकले तो सरकारी योजनाओं के लाभ से किया जाएगा वंचित


मुलतापी समाचार. मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: लगातार समझाइस के बावजूद भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने ग्रामीणों में जागरूकता नहीं आ रही है! लोग अभी भी बेवजह सड़कों पर घूमते नजर आते हैं! जिसे देखते हुए दमोह जिले के कुम्हारी ग्राम पंचायत ने अनावश्यक और फालतू घूमते पाए जाने वालों पर सभी सरकारी योजनाओं से वंचित करने का फैसला लिया है!

दमोह जिले के पटेरा जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत कुम्हारी पंचायत ने एक फरमान सुनाया! सचिव विजय खंपरिया द्वारा आदेश दिया गया है कि यदि ग्राम पंचायत में कोई फालतू घूमते हुए या बैठे हुए पाया जाता है तो उसकी फोटो सार्वजनिक करके उसकी बीपीएल पर्ची या किसी भी सरकारी योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा! उसे सभी सरकारी योजनाओं से वंचित कर दिया जाएगा! वही ग्राम पंचायत के इस फैसले की ग्रामीणों ने सराहना भी की है!

मुलतापी समाचार

कल से फ्री मिलेंगे उज्जवला के रसोई गैस सिलेंडर


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

दमोह: उज्जवला योजना में फ्री रसोई गैस सिलेंडर 5 अप्रैल से मिलना शुरू हो जाएगा! इसके लिए लोगों को पहले रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से ही टंकी की बुकिंग करना जरूरी है! खाते में पैसा आने के बाद ही मुफ्त सिलेंडर लिया जा सकेगा! उज्जवला योजना के तहत सिलेंडर की होम डिलीवरी होगी! सिलेंडर घर आने पर उसका चार्ज देना होगा! उज्जवला योजना के सभी उपभोक्ताओं को 3 महीने अप्रैल मई-जून तक गैस सिलेंडर की रिफिलिंग पूरी तरह से फ्री होगी! गैस सिलेंडर बुक कराने के बाद घर पर सिलेंडर लेते समय उपभोक्ता के पास डायरी व रजिस्टर्ड मोबाइल होना जरूरी है! डायरी में सिलेंडर डिलीवरी की एंट्री अनिवार्य रूप से की जाएगी! उपभोक्ता को इसकी रसीद भी लेना होगी, जिस पर उपभोक्ता के हस्ताक्षर लिए जाएंगे!

lockdown के दौरान एलपीजी गैस उपभोक्ताओं को गैस के दाम कम होने से राहत मिली है! इस माह रसोई गैस सिलेंडर 61 रुपए और व्यवसायिक सिलेंडर के दाम 87 रुपए कम कर दिए गए हैं!

मुलतापी समाचार