Tag Archives: #betul #lockdown

स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही तब सामने आ रही, जीवित मरीज को मरा बताया, किसी की बॉडी किसी परिवार को दी, मरीजो की संख्या बढ़ी


स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही तब सामने आई, जब एक मरीज को 2 बार मृत घोषित कर दिया गया। साथ ही किसी अन्य मरीज का शव परिजनों को बताने की कोशिश की गई। परिजनों ने जब शव को देखा तो वह हैरान रह गए, क्योंकि यह शव किसी और व्यक्ति का था । मामला सुल्तानिया के रहने वाले कोरोना पॉजिटिव गौरेलाल कौरी का है ।

अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कॉलेजकोरोना पॉजिटिव को दो बार मृत बताया।

दरअसल, गौरेलाल की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद इलाज के लिए उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान एक दिन पहले जहां रात के समय रोगी की स्थिति गंभीर बताई। फिर इसके बाद 13 अप्रैल की देर रात गौरेलाल को मरा हुआ बताया गया। गौरेलाल की मौत की खबर लगते ही हड़बड़ाहट में जब परिजन अस्पताल पहुंचे तो बताया गया कि उनके मरीज की सांसे चल रही हैं। परिजनों ने डाक्टरों से मरीज के अच्छे इलाज की मांग की, लेकिन 14 अप्रैल बुधवार की सुबह साढ़े 8 बजे डाक्टर का एक बार फिर फोन आया। इस बार भी डाक्टर ने मरीज की मौत की खबर परिजनों को सुनाई।

शव देखा तो नहीं और कोई निकला

मरीज के बेटे ने जब शव देखने की जिद की तो पता चला कि यह किसी और का शव था। जांच पड़ताल की गई तो उनके मरीज की हालत गंभीर थी और वह आइसोलेशन वार्ड में भर्ती थे, जबकि मंगलवार की रात में ही स्वास्थ्य मंत्री ने मरीजों के अच्छे इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग को

चेस्ट किया था। इस मसले पर अब कई सारे सवाल खड़े हो

गौरेलाल के बेटे कैलाश ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने हमें काफी देर तक गफलत में डाल दिया, जब डेड बॉडी को देखा तब जाकर सच सामने आया। अभी उनके पिता की हालत गंभीर है, और वह संक्षेपण वार्ड में भर्ती हैं। कैलाश ने बताया कि इस मामले की शिकायत भी की गई लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ नहीं हो सका। कैलाश ने बताया कि उनके पिता गौरेलाल भोपाल में रेलवे डाक विभाग में पोस्टमैन हैं।

मेडिकल कॉलेज के डॉ। । गंभीर आरोप लगे

मरीज के बेटे ने बताया कि दो दिन पहले उनका तबीयत बहुत बुरा बता रहा था। इसके बाद हमें बताया गया कि हमारे पिता की मृत्यु हो गई है, और नर्स ने 10 मिनट बाद कहा कि रोगी की सांस चल रही है। मैंने कहा कि डॉ से आप अच्छे से इलाज करते हैं, लेकिन डॉक्टरों की यही लापरवाही चल रही है और फिर शाम को बताया जा रहा है। कि मरीज के गले का ऑपरेशन किया जाएगा। फिर बाद में शाम 6 बजे ऑपरेशन के दौरान अपडेट आता है कि उनका ऑपरेशन करते-करते मौत हो गई है। जब हमने आकर देखा की मृत्यु प्रमाण पत्र घोषित कर दिया गया है। हमारे परिजन मरीज को देखने गए तो मरीज वेंटिलेटर पर भर्ती था। हमें डेड बॉडी भी दी जाने लगी । जब हमने कहा कि डेड बॉडी का चेहरा देख लें। चेहरा देखने के लिए गए, तो हमारे मरीज का नहीं था, जबकि हमारा मरीज जीवित है।

लड़खड़ाते बोले डीन

सुनील नंदेश्वर मेडिकल कॉलेज के डीन का कहना है कि कोरोना के चलते आपाधापी बढ़ गई है। कहीं रोगी वेंटिलेटर पर हैं, तो दूसरे की सांस फूल रही है, तीसरे का यह हो रहा है, तो थोड़ा सा हो जाता है। डीन ने कहा कि मरीज वेंटिलेटर पर ही थे। उनके हृदय की गति रुक गई थी, तो इस बार किसी नर्स ने बताया कि उनकी मृत्यु हो गई है, लेकिन हृदय की गति रूकती है तो उसके बाद में डॉ। हृदय को दोनों हाथों से दबाकर हृदय को पुनः चालू करने की कोशिश करता है। जिसमें एक से दो घंटे लगभग लग जाते हैं।

डीन ने कहा,

हमारे यहां के डॉक्टरों ने उन्हें रिवाइज किया और फिर रिवाइज करने के बाद ब्लने वापस आई। और उन्हें फिर हमने वेंटिलेटर पर रखा था। इस कारण से यह थोड़ा सा कन्फ्यूजन हो गया। हमने उनके परिजनों को बता दिया है कि मरीज वेंटिलेटर पर है ।

बैतूल जिले में आज कोरोना ने लगाई डबल सेन्चुरी


बैतूल जिले में आज कोरोना ने लगाई डबल सेन्चुरी

कलेक्टर के आग्रह पर प्रशासन की मदद के लिए पूर्व सैनिक संघ भी उतरा मैदान में,

बैतूल जिले में 9 दिनों का संपूर्ण लॉकडाउन जारी किया गया जिसे बाद में जनता कर्फ्यू में बदल दिया गया। कोरोना के कहर को देखते हुए पुलिस बल के सैनिक चौक चौराहों पर तैनात है। और आवश्यक कार्य के लिए आने जाने वाली जनता से कर्फ्यू का पालन करवाने के निर्देश दे रही है। जिले में पिछले पाँच दिनों में रिकॉर्ड 766 कोरोना मरीज मिले है जबकि आज कोरोना ने डबल सेन्चुरी करते हुए 208 मरीज मिले है। जिलें में अब तक कोरोना से 92 लोगों की मौत हो चुकी है।

ऐसे में जिले के कलेक्टर अमनबीर सिंह बैस द्वारा पूर्व सैनिकों को विशेष पुलिस अधिकारी के रूप में बैतूल जिले में नियुक्त किया गया है ताकि लोगों को कोरोना गाईडलाईन का पालन करवाने में मदद मिल सके।

जिसमें पूर्व सैनिकों ने नगर के कारगिल चौक एसपी ऑफिस चौराहा गेंदा चौक ऐसे कई चौराहों पर प्रशासन की मदद करने के लिए तैनात हो चुके हैं पूर्व सैनिक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष हरिशंकर सावनेर जी बताते हैं कि हमारे सैनिक जब सेवा में होते हैं तब भी देश के लिए मर मिटने को तैयार होते हैं तथा सेवानिवृत्ति के बाद भी उनके अंदर देश भावना हमेशा रहती है जब भी देश पर कोई आपत्ति आती है तब हम लोग ऐसे ही एकजुट होकर एकता का प्रतीक बन जाते हैं

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल

बैतूल जिले में आज शाम से 10 दिन का टोटल लॉक डाउन


बैतूल।। ब्रेकिंग।।

मुलतापी समाचार

जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण देखते हुए कलेक्टर अमनबीर सिंह बैस ने लॉकडाउन के आदेश जारी किए।।

बैतूल जिले में 9 अप्रेल शुक्रवार को शाम 6 बजे से 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक जिले के समस्त नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में लॉकडाउन।।

जिले के सभी सरकारी कार्यालयों के कार्यदिवस सप्ताह में 5 दिन ( सोमवार से शुक्रवार ) निर्धारित।।

जिले के धार्मिक स्थलों पर आमजन का आना – जाना प्रतिबंधित रहेगा।।

लॉकडाउन के दौरान ये रहेंगे बंधनमुक्त अन्य राज्यों से माल , सेवाओं का आवागमन, कैमिस्ट , अस्पताल , पेट्रोल पंप , बैंक एवं एटीएम। एम्बुलेंस एवं फायर ब्रिगेड सेवाएं ।टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिक एवं कर्मी । ” रेल्वे स्टेशन से आने एवं जाने वाले नागरिक ।

खाद्य एवं अत्यावश्यक सामग्री की दुकानें से होम डिलेवरी के माध्यम से सामग्री घर तक पहुंचाई जाएगी।।

औद्योगिक मजदूरों , उद्योगों हेतु कच्चा / तैयार माल , उद्योगों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवागमन की छूट , परिचय पत्र दिखाने पर दी जावेगी।।

बिग ब्रेकिंग न्यूज़ 1 तारीख शाम 7:00 बजे से 4 तारीख सोमवार सुबह 6:00 बजे तक स्वैच्छिक बंद रखने की घोषणा 3 दिन रहेगा बैतूल जिला बंद जिला क्राइसेस मेनेजमेंट का फैसला,तीन दिन के लिये स्वेच्छा से बाजार होंगे बन्द व्यापारी संगठनों ने दि सहमति


1 तारीख शाम 7:00 बजे से 4 तारीख सोमवार सुबह 6:00 बजे तक  स्वेच्छा से बंद रखने की घोषित 3 दिन रहेगा बैतूल जिला बंद जिला क्राइसेस मेनेजमेंट का फैसला,तीन दिन के लिये स्वेच्छा से बाजार होंगे बन्द  व्यापारी संगठनों ने दि सहमति

दो, तीन एवं चार अप्रैल को स्वेच्छा से रखा जाएगा बाजार बंद
सामान्य दिनों में सायं 7 बजे के पूर्व करना होगी दुकानें बंद
धार्मिक स्थलों पर पूजा-अर्चना की जाएगी, परन्तु भीड़-भाड़ नहीं
सब्जी बाजार के स्थान पर होम डिलेवरी होगी
जिला क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में लिये निर्णय
बैतूल, 31 मार्च 2021
जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए मामलों के दृष्टिगत बुधवार को आयोजित जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में व्यापारी संगठनों की सहमति से आगामी दो, तीन एवं चार अप्रैल अर्थात् शुक्रवार, शनिवार एवं रविवार को बाजार बंद करने का निर्णय लिया गया है। रविवार का लॉकडाउन यथावत् प्रभावी रहेगा। ग्रुप द्वारा यह भी निर्णय लिया गया है कि आगामी दिनों में सायं 7 बजे के पूर्व बाजार की सभी दुकानें बंद कर ली जाएंगीं। धार्मिक स्थलों पर आगामी दस दिन पूजा-अर्चना होगी, परन्तु बड़ी संख्या में लोग इकट्ठे नहीं हो सकेंगे। ग्रुप की बैठक में विधायक आमला डॉ. योगेश पण्डाग्रे, पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद, पूर्व विधायक श्री हेमन्त खण्डेलवाल, ग्रुप सदस्य श्री अरूण गोठी, श्री ब्रजआशीष पाण्डे, डॉ. अरूण जयसिंह सहित व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधि एवं निजी चिकित्सालयों के संचालक मौजूद थे।
बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जिले में लगने वाले साप्ताहिक सब्जी हाट बाजार आगामी एक सप्ताह तक स्थगित रखे जाएंगे। इसके स्थान पर सब्जी की होम डिलेवरी की व्यवस्था की जाएगी। जिला अस्पताल में अनावश्यक भीड़ न हो, इस बात के दृष्टिगत निर्णय लिया गया कि वहां समय-समय पर निगरानी रखकर मरीज के साथ सिर्फ एक सहायक को जाने की अनुमति दी जाए। बुजुर्गों को भी यह सलाह दी गई कि वे अनावश्यक बाजार में न जाएं एवं भीड़ का हिस्सा न बने। विवाह समारोहों एवं अन्य समारोहों में 50 से अधिक लोगों की उपस्थिति की अनुमति नहीं होगी। अंतिम संस्कार में 20 लोग से अधिक नहीं जा सकेंगे।

ब्रेकिंग न्यूज़ कोविद 19- 1 और महिला की पॉजिटिव रिपोर्ट आयी “नहीं थम रहा बेतूल में कोरोना का कहर कोयलारी गांव ब्लाक घोड़ाडोगंरी की निवासी हे उक्त महिला


अब जिले में टोटल कोरोना पॉजिटिव की संख्या हुई 35 जिसमें से 5  कोरोना ठीक होकर लौटे घर अब जिले में कुल एक्टिव पॉजिटिव पेशेंटओं की संख्या हो गई 30

बैतूल ।कोयलारी गांव,( रानीपुर)  घोड़ाडोंगरी  तहसील में  मुबई से आई महिला निकली कोरोना पॉजिटिव  निरंतर बेतूल जिले में  कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या के इजाफे को देखते हुए जिला प्रशासन एवं जिले वासी चिंतित होते नजर आ रहे हैं बैतूल जिले में निरंतर बढ़ते हुए जितने भी पेशेंट है उन सब की हिस्ट्री मुंबई से जुड़ी है अधिकतर पॉजिटिव निकलने वाले पेशेंट मुंबई से वापस बेतूल आए थे इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि मुंबई से बैतूल  आने वाले ग्रामीणों को ही कोरोना ने अपने शिकंजे में लिया है 

बैतूल में कोरोना की दस्तक


भैंसदेही में इलाका सील

बैतूल : स्वास्थय विभाग बैतूल द्वारा भोपाल भेजी गई 34 रिपोर्ट में से एक मरीज की रिपोर्ट पाजिटिव आने से हड़कम्प मच गया। स्वास्थय विभाग बैतूल अधिकारीयो द्वारा बताया गया

थाना भैंसदेही निवासी आरिफ पिता हमीद अंसारी निवासी वार्ड क्रमांक 15 जाम मोहल्ला भैंसदेही की मेडिकल रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो नागपुर से अपने मामा के घर से आया था।

भैंसदेही के जाम मोहल्ला निवासी आरिफ अंसारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आइ है जो नागपुर से अपने मामा के घर से आया था।आने के बाद भैंसदेही प्रशासन अलर्ट पर,भैंसदेही कें आसपास बैरिकेट्स लगाकर के रास्तों को सील किया गया, प्रशासन के आला अधिकारी आरिफ के निवास पहुंचे थोड़ी देर में कलेक्टर और एसपी भी भैसदेही पहुंचने वाले हैं।

  • कुल  संदिग्ध भर्ती मरीज- 08
  • अब तक सैम्पल लिए मरीजो की संख्या – 34
  • रिपोर्ट- 06
  • रिपोर्ट परिणाम – 05 निगेटिव,28 अप्राप्त
  • रिपोर्ट परिणाम पाजिटिव – 01
  • जिले मे विदेश से यात्रा करके आए यात्रियों की संख्या – 245
  • विभाग द्वारा स्वास्थय परीक्षण किए गये नागरिकों की संख्या -200
  • इन्ही  मे से होम आइसोलेशन में रखें गये नागरिकों की संख्या -97
  • होम आइसोलेशन के 14 दिन पूर्ण किए नागरिकों की संख्या -103
  • ट्रेसिंग किये जा रहे यात्रियों की संख्या -05

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

एटीएम कम्पनियों के कर्मचारीयों को मिले सम्मान


मुलतापी समाचार

भोपाल: एटीएम कम्पनी से जुड़े लोगो को जो मुख्यतः 5 से 6 कम्पनियों के लाखो कर्मचारी हैं। इनकी मेहनत,लगन और असीमित घंटो तक के काम को भी सम्मान देने कि जरुरत हैं।
जब भी कोई त्यौहार हो महत्वपूर्ण कार्य हो नोटबंदी के समय या #COVID19 कोरोना जैसी महामारी के चलते भी कम्पनी के लाखो कर्मचारी अपने घर परिवार की चिंता छोड़कर अपनी सेवाएं निरंतर दे रहे हैं।पुलिस,सेना,अस्पताल और बैंक जैसा ही, एटीएम मे काम करने वाले सभी
कैश आफीसर,एटीएम इन्जीनियर,एमएसपी के कर्मचारी,काल सेन्टर,गनमैन,ड्राइवर समेत मेनेजमेन्ट निरन्तर 24 घंटे सेवा मे लगे हुये हैं
भारत सरकार से निवेदन है कि एटीएम कम्पनियों के कर्मचारियों को भी सम्मान दे और आर्थिक पैकेज की घोषणा करें।

मुलतापी समाचार बैतूल एटीएम कम्पनी से जुड़े सभी कर्मचारियो का दिल से आभार और धन्यवाद् जो आपातकाल में अपनी सेवाएं निरंतर दे रहे हैं।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

Shiva pawar

किराना, फल एवं सब्जी की सप्लाई हेतु दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक प्रदत्त छूट समाप्त- ये होगे नये आदेश


लॉक-डाउन

अनाज एवं किराना सामग्री की डोर-टू-डोर डिलेवरी लोडिंग ऑटो के माध्यम से की जा सकेगी

Multapi Samachar

बैतूल: कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राकेश सिंह ने कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव के दृष्टिगत 23 मार्च 2020 को जारी आदेशों में संशोधन कर आदेश जारी किए हैं।

जारी संशोधित आदेश के अनुसार किराना, फल एवं सब्जी की सप्लाई हेतु दोपहर 12 बजे से दोपहर 3 बजे तक प्रदत्त छूट समाप्त कर दी गई है। अनाज एवं किराना सामग्री की भी डोर-टू-डोर डिलेवरी लोडिंग ऑटो के माध्यम से की जा सकेगी। जिन वाहनों से डोर-टू-डोर डिलेवरी का कार्य किया जाएगा, उन वाहनों को पास जारी किए जाएंगे। ऐसे पास संबंधित क्षेत्र के कार्यपालिक दण्डाधिकारी के हस्ताक्षर से जारी किए जाएंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में डिलेवरी वाहनों के पास उस क्षेत्र की जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं शहरी क्षेत्र के लिए मुख्य नगरपालिका अधिकारी द्वारा तैयार किए जाकर संबंधित कार्यपालिक दण्डाधिकारी के हस्ताक्षर लेकर जारी किए जाएंगे। जारी किए जाने वाले पास की अद्यतन जानकारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी, मुख्य नगर पालिका अधिकारी द्वारा विधिवत् संधारित की जाएगी।

समाचार पत्र एवं दूध की डोर-टू-डोर डिलेवरी प्रात: 6 बजे से प्रात: 8 बजे तक होगी।

मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे, परन्तु एक समय में पांच से अधिक व्यक्ति एकत्रित नहीं होंगे और उनके मध्य परस्पर दूरी एक मीटर हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाएगा।

विभिन्न हॉस्पिटल, नर्सिंग होम के कर्मचारी उनके लिए निर्धारित पाली के अनुसार समय पर ड्यूटी पर पहुंचेंगे, परन्तु सभी को अपने पास परिचय पत्र रखना अनिवार्य होगा। इन कर्मचारियों को कार्यालय प्रमुख/नियोक्ता तत्काल परिचय पत्र जारी करने के निर्देश दिए गए हैं।

सभी दुकानें (शॉप) एवं प्रतिष्ठान पूर्वानुसार यथावत् पूर्णत: बन्द रहेंगे।

अन्य तरह की अत्यावश्यक सेवा के व्यक्तियों/वाहनों हेतु पास संबंधित कार्यपालिक मजिस्टे्रट से लेना होगा।

अत्यावश्यक/आकस्मिक व्यक्तिगत कार्य हेतु जिले से बाहर जाने एवं जिले में प्रवेश करने के लिए संबंधित थाना प्रभारी अनुमति/पास जारी करेंगे।

शेष सभी नागरिक लॉक डाउन की अवधि में अपने घरों के अन्दर ही रहेंगे। लॉक डाउन आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति पर नियमानुसार भारतीय दण्ड विधान की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी।

अन्य अत्यावश्यक सेवा के व्यक्ति/वाहन यथा नगरपालिका/नगर परिषद्, बिजली कंपनी, राजस्व विभाग, दूरसंचार कंपनी के अधिकारी/कर्मचारी एवं मध्यप्रदेश दुग्ध संघ वाहन एवं अधिकारी/कर्मचारी और गैस कंपनी के वाहन जो घरेलू गैस सिलेण्डर की होम डिलेवरी तथा परिवहन करते हैं, इस प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। ऐसे कर्मचारी अपना परिचय पत्र एवं वाहन की पहचान कराकर आना-जाना कर सकेंगे।

एम्बुलेंस एवं गंभीर रूप से बीमार व्यक्तियों को लेकर आने-जाने वाले वाहनों पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।

यह आदेश आम जनता को संबोधित है। चूंकि वर्तमान में ऐसी परिस्थितियां नहीं है और न ही यह सम्भव है कि इस आदेश की पूर्व सूचना प्रत्येक व्यक्ति को दी जाए। अत: यह आदेश एक पक्षीय पारित किया जाता है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। एपीदेमिक डिसिस एक्ट 1897 के तहत मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी किए गए नियम 23.03.2020 की कंडिका 10 के अंतर्गत भारतीय दण्ड संहिता की धारा 187, 188, 269, 270, 271 के अंतर्गत दंडनीय है एवं उल्लंघन कर्ता के विरूद्ध इन धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जा सकती है।

यह आदेश 24 मार्च 2020 की सायं 6 बजे से 31 मार्च 2020 तक लागू रहेगा।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल