Tag Archives: #betul News

पुरुष प्रधान संस्कृति को पीछे छोड़ते हुए छह बेटियों और एक बेटे ने दिया पिता की अर्थी को कंधा


बैतूल – पुरुष प्रधान संस्कृति को पीछे छोड़ते हुए छह बेटियों एवं एक बेटे ने अपने पिता की अर्थी को कंधा दिया। कहते हैं कि बेटी कभी पिता पर बोझ नहीं होती इसी का जीता जागता उदाहरण आज हमें ग्राम सांडिया में देखने को मिला जहां ग्राम सांडिया के सेवानिवृत्त प्राचार्य श्री निंबाजी नागले जी का 76 वर्ष की उम्र में अस्थमा के अटैक से 18 अप्रैल को देहांत हो गया था, कोरोना काल की आपदा को ध्यान में रखते हुए हैं परिवारवालों ने ना ही परिजनों को बुलाया और ना ही गांव वासियों को बुलाया। ऐसी परिस्थिति में 19 अप्रैल को अन्त्येष्टि छ: बेटियों निरुपमा, करुणा, ममता, हेमलता, बबली, बाली और बेटे बुद्धिशंकर नागले ने अपने पिता को कंधा देकर गांव के मोक्ष धाम में अंतिम क्रिया कर्म के सभी संस्कार पूरे किए। सभी छह बहनों एवं एक भाई ने एक साथ मृत पिता को मुखाग्नि भी दी।

इतनी सारी उलझन है और पप्पा तुम भी पास नहीं
ये बिटिया तो टूट चुकी है, अब तो कोई आस नहीं, पर पप्पा ! तुम घबराना मत, मैं फिर भी जीत के आउंगी
मेरे पास जो आपकी सीख है, मैं उससे ही तर जाऊंगी

रोंढा में 92 वर्षीय पुरुष और भोगीतेढ़ा में 90 महिला ने लगाई कोरोना वैक्सीन


रोंढा निवासी 92 वर्षीय किशन पंवार ने लगवाया कोरोना का टीका

जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम रोंढा निवासी 92 वर्षीय श्री किशन पंवार ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रोंढ़ा में कोरोना बीमारी से बचाव हेतु कोविड-19 का पहला टीका लगवाया।

खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. उदय प्रताप सिंह तोमर के निर्देशन में एएनएम श्रीमती आभा डिगरसे ने उन्हें टीका लगाया। श्री किशन ने कहा कि जैसे बच्चों को अन्य बीमारियों का टीका लगवाने में कोई नुकसान नहीं है, उसी तरह बड़ों को, बुजुर्गों को, पात्र नागरिकों को आगे आना चाहिए और कोविड टीकाकरण अवश्य कराना चाहिए। कोरोना बीमारी के खतरे का सामना करने में कोविड का टीका सुरक्षा का एक बेहतर विकल्प है।

90 वर्षीय सुगंतीबाई परिहार ने कराया कोविड टीकाकरण

जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम भोगीतेड़ा निवासी 90 वर्षीय श्रीमती सुगंती बाई परिहार ने हेल्थ एन्ड वैलनेस सेंटर भोगीतेड़ा में कोरोना बीमारी से बचाव हेतु कोविड-19 का पहला टीका लगवाया।

खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. उदय प्रताप सिंह तोमर ने बताया कि उन्होंने यह टीका सहर्ष लगवाया और कहा कि टीका लगवाने में कोई नुकसान नहीं है, ग्राम के सभी पात्र नागरिक आगे आएं और कोविड टीकाकरण अवश्य कराएं। कोरोना बीमारी से हर उम्र के लोगों को बचना है और कोविड का टीका बचाव का एक बेहतर तरीका है।

आज 170 पार कोरोना पॉजिटिव News बुलेटिन- बैतूल


मुलतापी समाचार

प्रशासन नही दिख रहा गम्भीर

राज्य शासन क्या कर रहा है , जनता हो रही परेशान

लोकडॉन के बावजूद भी दिन पे दिन बढ़ते जा रही संक्रमित मरीजों की संख्या

आज की लिस्ट में बैतूल , मुलताई के लोगो ने 1 सेन्चुरी, ओर 1 हाफ सेंचुरी पार की है

Betul मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि आई.डी.एस.पी.से प्राप्त जानकारी के अनुसार 170 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की जानकारी इस प्रकार है- चूडि़या निवासी 29 वर्षीय युवती, चिचोलीढ़़ाना भैंसदेही 38 वर्षीय पुरूष, बासनेर कलॉ भैंसदेही निवासी 32 वर्षीय पुरूष, हिडली आठनेर निवासी 9 वर्षीय बालिका, सातनेर आठनेर निवासी 7 वर्षीय बालिका, हिडली आठनेर निवासी 9 वर्षीय बालक, वार्ड नं. 8 आठनेर निवासी 38 वर्षीय पुरूष, काजली प्रभात पट्टन निवासी 24 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 8 आठनेर निवासी 26 वर्षीय युवती एवं 32 वर्षीय पुरूष, निरगुड डेम आठनेर निवासी 36 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 8 आठनेर निवासी 5 वर्षीय बालिका, लेहदाथावड़ी भीमपुर निवासी 30 वर्षीय पुरूष, भीमपुर निवासी 52 वर्षीय पुरूष, गुल्लरढ़ाना चूनालोमा भीमपुर निवासी 55 वर्षीय पुरूष, रेलवे कालोनी आमला निवासी 48 वर्षीय महिला, वार्ड नं. 9 आमला निवासी 55 वर्षीय महिला, रेलवे कालोनी आमला निवासी 53 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 6 आमला निवासी 40 वर्षीय पुरूष, बोरदेही आमला निवासी 21 वर्षीय पुरूष, हसलपुर आमला निवासी 38 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 6 आमला निवासी 36 वर्षीय पुरूष, बडगांव आमला निवासी 30 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 10 आमला निवासी 26 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 13 आमला निवासी 11 वर्षीय बालिका, सालईढाना आमला निवासी 44 वर्षीय पुरूष, रेलवे कालोनी आमला निवासी 35 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 17 आमला निवासी 35 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 7 आमला निवासी 32 वर्षीय पुरूष, गोवाढाना सेहरा निवासी 33 वर्षीय महिला, 36 वर्षीय महिला, 32 वर्षीय पुरूष, 65 वर्षीय पुरूष एवं 15 वर्षीय बालक, सोनाघाटी सेहरा निवासी 30 वर्षीय युवक एवं 8 वर्षीय बालिका, जामठी सेहरा निवासी 50 वर्षीय महिला एवं 30 वर्षीय पुरूष, लिंक रोड सदर बैतूल निवासी 45 वर्षीय पुरूष, कृष्णपुरा वार्ड टिकारी बैतूल निवासी 45 वर्षीय पुरूष, प्रभात पट्टन निवासी 35 वर्षीय महिला, प्रताप वार्ड भाग-2 टिकारी बैतूल निवासी 22 वर्षीय युवक, घाटबिरोली प्रभात पट्टन निवासी 55 वर्षीय महिला, शांति वार्ड सदर बैतूल निवासी 31 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 17 पाथाखेड़ा निवासी 53 वर्षीय पुरूष, बजरंग कॉलोनी घोड़ाडोंगरी निवासी 32 वर्षीय पुरूष, भौंरा निवासी 23 वर्षीय युवती, दौंडी शाहपुर निवासी 25 वर्षीय युवती, बरबटपुर शाहपुर निवासी 25 वर्षीय युवती, बस स्टेण्ड शाहपुर निवासी 23 वर्षीय युवती एवं 22 वर्षीय युवती, परसाई मोहल्ला शाहपुर निवासी 63 वर्षीय महिला, भगतसिंह वार्ड मुलताई निवासी 36 वर्षीय महिला, घोड़ाडोंगरी निवासी 65 वर्षीय महिला, जाडीढाना स्कूल के पास चिचोली निवासी 48 वर्षीय महिला, कुम्हार मोहल्ला चिचोली निवासी 90 वर्षीय महिला, उदय मोहल्ला वैल्लौर चिचोली निवासी 40 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 13 नीमिया निवासी 32 वर्षीय पुरूष, शाहपुर निवासी 18 वर्षीय बालिका एवं 49 वर्षीय पुरूष, भौंरा शाहपुर निवासी 53 वर्षीय पुरूष, बाडेगांव मुलताई निवासी 48 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 13 आमला निवासी 55 वर्षीय महिला, सोनतलाई आमला निवासी 70 वर्षीय पुरूष, ससाबड आमला निवासी 35 वर्षीय पुरूष, मुलताई निवासी 56 वर्षीय पुरूष, मांझी नगर हमलापुर निवासी 55 वर्षीय पुरूष, मिशन कम्पाउण्ड कोठी बाजार बैतूल निवासी 63 वर्षीय महिला, कोतीवाली बैतूल का 32 वर्षीय पुरूष, विकास नगर बैतूल निवासी 45 वर्षीय पुरूष, मिशन कम्पाउण्ड कोठी बाजार बैतूल निवासी 53 वर्षीय महिला, पटेल वार्ड मानस नगर सदर बैतूल निवासी 35 वर्षीय महिला, कृष्णपुरा टिकारी बैतूल निवासी 60 वर्षीय महिला, डहरगांव बैतूल निवासी 32 वर्षीय पुरूष, शंकर वार्ड भग्गूढ़ाना बैतूल निवासी 50 वर्षीय पुरूष एवं 60 वर्षीय पुरूष, सुभाष नगर फारेस्ट बेरियर इटारसी निवासी 43 वर्षीय पुरूष, थाना कोतवाली बैतूल का 52 वर्षीय पुरूष, खंजनपुर बैतूल निवासी 46 वर्षीय पुरूष, सिविल लाईन गंज बैतूल निवासी 57 वर्षीय पुरूष, चंदौरा मुलताई निवासी 49 वर्षीय पुरूष, चक्कर रोड बैतूल निवासी 48 वर्षीय महिला, कृष्णपुरा वार्ड टिकारी बैतूल निवासी 25 वर्षीय युवती, गेंदा चौक बैतूल निवासी 29 वर्षीय पुरूष, अम्बेडकर वार्ड टिकारी बैतूल निवासी 45 वर्षीय पुरूष, चन्दशेखर वार्ड सदर बैतूल निवासी 58 वर्षीय पुरूष, मोरखा आमला निवासी 57 वर्षीय पुरूष एवं 26 वर्षीय युवक, चन्द्रशेखर वार्ड बैतूल निवासी 35 वर्षीय पुरूष, शिवाजी वार्ड बैतूल निवासी 52 वर्षीय पुरूष, बैतूल बाजार निवासी 22 वर्षीय महिला, विवेकानंद वार्ड चिचोली निवासी 40 वर्षीय महिला, बीजेपी कार्यालय के पास बैतूल निवासी 12 वर्षीय बालक, अर्जुन वार्ड कालापाठा बैतूल निवासी 45 वर्षीय पुरूष एवं 15 वर्षीय बालिका, गजपुर बैतूल निवासी 35 वर्षीय पुरूष, पुराना बच्चा जेल महावीर वार्ड बैतूल निवासी 18 वर्षीय युवक, विनोवा वार्ड बैतूल निवासी 40 वर्षीय महिला, गंगौत्री कालोनी बैतूल निवासी 16 वर्षीय बालक, 45 वर्षीय पुरूष एवं 42 वर्षीय महिला, सतपाल आश्रम के पास प्रताप वार्ड बैतूल निवासी 54 वर्षीय पुरूष,

प्रभात पट्टन निवासी 65 वर्षीय महिला, अम्बेडकर वार्ड टिकारी बैतूल निवासी 39 वर्षीय पुरूष, सड़क मोहल्ला चिचोली निवासी 49 वर्षीय महिला, काजली शाहपुर निवासी 30 वर्षीय युवक, बघोडा निवासी 22 वर्षीय युवक, मालेगांव निवासी 64 वर्षीय पुरूष एवं 36 वर्षीय पुरूष, हिवरखेड निवासी 62 वर्षीय पुरूष, 45 वर्षीय पुरूष एवं 12 वर्षीय बालिका, ताईखेड़ा प्रभात पट्टन निवासी 30 वर्षीय युवती, डहुआ मुलताई निवासी 31 वर्षीय पुरूष, देवरी मुलताई निवासी 50 वर्षीय पुरूष एवं 20 वर्षीय युवक, बीरपुर चिचोली निवासी 27 वर्षीय युवक,

सर्रा मुलताई निवासी 50 वर्षीय महिला, सोनोरा मुलताई निवासी 38 वर्षीय पुरूष एवं 64 वर्षीय पुरूष, भगतसिंह वार्ड मुलताई निवासी 29 वर्षीय युवती, नेहरू वार्ड मुलताई निवासी 30 वर्षीय पुरूष, अम्बेडकर वार्ड मुलताई निवासी 43 वर्षीय पुरूष, सिलादेही मुलताई निवासी 55 वर्षीय महिला, 35 वर्षीय पुरूष एवं 60 वर्षीय पुरूष, अम्बेडकर वार्ड मुलताई निवासी 62 वर्षीय पुरूष, भगतसिंह वार्ड मुलताई निवासी 61 वर्षीय पुरूष, नागपुर रोड कामथ मुलताई निवासी 48 वर्षीय पुरूष, आमाडोह मुलताई निवासी 40 वर्षीय पुरूष, वार्ड 2 सारणी निवासी 33 वर्षीय पुरूष, ताप्ती वार्ड मुलताई निवासी 67 वर्षीय पुरूष, खैरवानी मुलताई निवासी 45 वर्षीय पुरूष, देहगुड मुलताई निवासी 35 वर्षीय महिला, प्रभात पट्टन निवासी 51 वर्षीय पुरूष, हिवरखेड प्रभात पट्टन निवासी 38 वर्षीय पुरूष, झिलपा प्रभात पट्टन निवासी 45 वर्षीय पुरूष, नांदकुडी प्रभात पट्टन निवासी 21 वर्षीय युवती, छिंदवाड आठनेर निवासी 42 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. 9 आठनेर निवासी 19 वर्षीय युवती एवं 27 वर्षीय युवक, मांडवी प्रभात पट्टन निवासी 60 वर्षीय पुरूष, सिराडी प्रभात पट्टन निवासी 32 वर्षीय पुरूष, 34 वर्षीय महिला एवं 7 वर्षीय बालिका, गंगोत्री कॉलोनी सारणी रोड बैतूल निवासी 12 वर्षीय बालिका, बच्चा जेल के पास टिकारी बैतूल निवासी 44 वर्षीय पुरूष, बैतूल रोड मुलताई निवासी 40 वर्षीय पुरूष, वार्ड नं. सारणी निवासी 52 वर्षीय पुरूष, चंदौरा मुलताई निवासी 72 वर्षीय पुरूष, महावीर वार्ड सदर बैतूल निवासी 43 वर्षीय महिला, पटेल वार्ड मुलताई निवासी 42 वर्षीय पुरूष, हनुमान चौक प्रभात पट्टन निवासी 48 वर्षीय महिला, जाम मुलताई निवासी 37 वर्षीय पुरूष,

बारस्कर कॉलोनी मोती वार्ड बैतूल निवासी 63 वर्षीय पुरूष, बारस्कर कॉलोनी तरंग मैरिज लॉन के पास बैतूल निवासी 26 वर्षीय महिला, अम्बेडकर वार्ड टिकारी बैतूल निवासी 47 वर्षीय महिला, 60 वर्षीय पुरूष, विवेकानंद वार्ड ग्रीन सिटी बैतूल निवासी 35 वर्षीय पुरूष, मानस नगर बैतूल निवासी 45 वर्षीय महिला, जूनावानी सापना बैतूल निवासी 26 वर्षीय युवक, मालवीय वार्ड खंजनपुर बैतूल निवासी 40 वर्षीय पुरूष, प्रताप वार्ड टिकारी बैतूल निवासी 17 वर्षीय युवक, कढाई बैतूल निवासी 31 वर्षीय पुरूष, अर्जुन वार्ड कालापाठा बैतूल निवासी 11 वर्षीय बालिका, वार्ड नं. 19 पाथाखेड़ा सारणी निवासी 23 वर्षीय महिला, पुलिस लाईन बैतूल निवासी 29 वर्षीय युवती, पटेल स्कूल के पास खंजनपुर बैतूल निवासी 56 वर्षीय पुरूष, विनोवा नगर गंज बैतूल निवासी 49 वर्षीय महिला एवं चन्द्रशेखर वार्ड सदर बैतूल निवासी 66 वर्षीय पुरूष

घर पर रहें और सुरक्षित रहें।
घर से बाहर निकलने की लापरवाही नही करे ओर नही करने दे ।
45 साल आयु तक के टीका आवश्य लगवाये ओर अधिक से अधिक से लोगों प्रेरित करें-
मनमोहन पवार😷
मुलतापी समाचार
शारदा राम मनमोहन शेक्षणिक एवं समाज सेवा समिति का कुटुंब एप्प आ गया है ।

सभी पदाधिकारी और सदस्य नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके एप्प इंस्टॉल करें और अपना पहचान पत्र डाउनलोड करें 👇👇
https://kutumb.app/sharada-ram-manamohan-shaikshanik-evam-samaj-seva-samiti?ref=XAMTE

स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही तब सामने आ रही, जीवित मरीज को मरा बताया, किसी की बॉडी किसी परिवार को दी, मरीजो की संख्या बढ़ी


स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही तब सामने आई, जब एक मरीज को 2 बार मृत घोषित कर दिया गया। साथ ही किसी अन्य मरीज का शव परिजनों को बताने की कोशिश की गई। परिजनों ने जब शव को देखा तो वह हैरान रह गए, क्योंकि यह शव किसी और व्यक्ति का था । मामला सुल्तानिया के रहने वाले कोरोना पॉजिटिव गौरेलाल कौरी का है ।

अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कॉलेजकोरोना पॉजिटिव को दो बार मृत बताया।

दरअसल, गौरेलाल की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद इलाज के लिए उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान एक दिन पहले जहां रात के समय रोगी की स्थिति गंभीर बताई। फिर इसके बाद 13 अप्रैल की देर रात गौरेलाल को मरा हुआ बताया गया। गौरेलाल की मौत की खबर लगते ही हड़बड़ाहट में जब परिजन अस्पताल पहुंचे तो बताया गया कि उनके मरीज की सांसे चल रही हैं। परिजनों ने डाक्टरों से मरीज के अच्छे इलाज की मांग की, लेकिन 14 अप्रैल बुधवार की सुबह साढ़े 8 बजे डाक्टर का एक बार फिर फोन आया। इस बार भी डाक्टर ने मरीज की मौत की खबर परिजनों को सुनाई।

शव देखा तो नहीं और कोई निकला

मरीज के बेटे ने जब शव देखने की जिद की तो पता चला कि यह किसी और का शव था। जांच पड़ताल की गई तो उनके मरीज की हालत गंभीर थी और वह आइसोलेशन वार्ड में भर्ती थे, जबकि मंगलवार की रात में ही स्वास्थ्य मंत्री ने मरीजों के अच्छे इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग को

चेस्ट किया था। इस मसले पर अब कई सारे सवाल खड़े हो

गौरेलाल के बेटे कैलाश ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने हमें काफी देर तक गफलत में डाल दिया, जब डेड बॉडी को देखा तब जाकर सच सामने आया। अभी उनके पिता की हालत गंभीर है, और वह संक्षेपण वार्ड में भर्ती हैं। कैलाश ने बताया कि इस मामले की शिकायत भी की गई लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ नहीं हो सका। कैलाश ने बताया कि उनके पिता गौरेलाल भोपाल में रेलवे डाक विभाग में पोस्टमैन हैं।

मेडिकल कॉलेज के डॉ। । गंभीर आरोप लगे

मरीज के बेटे ने बताया कि दो दिन पहले उनका तबीयत बहुत बुरा बता रहा था। इसके बाद हमें बताया गया कि हमारे पिता की मृत्यु हो गई है, और नर्स ने 10 मिनट बाद कहा कि रोगी की सांस चल रही है। मैंने कहा कि डॉ से आप अच्छे से इलाज करते हैं, लेकिन डॉक्टरों की यही लापरवाही चल रही है और फिर शाम को बताया जा रहा है। कि मरीज के गले का ऑपरेशन किया जाएगा। फिर बाद में शाम 6 बजे ऑपरेशन के दौरान अपडेट आता है कि उनका ऑपरेशन करते-करते मौत हो गई है। जब हमने आकर देखा की मृत्यु प्रमाण पत्र घोषित कर दिया गया है। हमारे परिजन मरीज को देखने गए तो मरीज वेंटिलेटर पर भर्ती था। हमें डेड बॉडी भी दी जाने लगी । जब हमने कहा कि डेड बॉडी का चेहरा देख लें। चेहरा देखने के लिए गए, तो हमारे मरीज का नहीं था, जबकि हमारा मरीज जीवित है।

लड़खड़ाते बोले डीन

सुनील नंदेश्वर मेडिकल कॉलेज के डीन का कहना है कि कोरोना के चलते आपाधापी बढ़ गई है। कहीं रोगी वेंटिलेटर पर हैं, तो दूसरे की सांस फूल रही है, तीसरे का यह हो रहा है, तो थोड़ा सा हो जाता है। डीन ने कहा कि मरीज वेंटिलेटर पर ही थे। उनके हृदय की गति रुक गई थी, तो इस बार किसी नर्स ने बताया कि उनकी मृत्यु हो गई है, लेकिन हृदय की गति रूकती है तो उसके बाद में डॉ। हृदय को दोनों हाथों से दबाकर हृदय को पुनः चालू करने की कोशिश करता है। जिसमें एक से दो घंटे लगभग लग जाते हैं।

डीन ने कहा,

हमारे यहां के डॉक्टरों ने उन्हें रिवाइज किया और फिर रिवाइज करने के बाद ब्लने वापस आई। और उन्हें फिर हमने वेंटिलेटर पर रखा था। इस कारण से यह थोड़ा सा कन्फ्यूजन हो गया। हमने उनके परिजनों को बता दिया है कि मरीज वेंटिलेटर पर है ।

कोरोना हेल्थ सेंटर के 3 मरीजों की मौत-मुलताई


मुलताई बना हॉट स्पॉट

स्वास्थ्य विभाग नहीं है अलर्ट

आये दिन बढ़ते जा रही हैं संक्रमितों की संख्या

मुलतापी समाचार

मुलताई। क्षेत्र में लगातार कोरोना का प्रकोप बढ़ते जा रहा है। इस बार तो न सिर्फ कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या ज्यादा है बल्कि इस बार कोरोना के कारण मरने वालो की संख्या भी अब धीरे धीरे बढ़ते जा रही है को अब चिंता बढ़ा रही है।        

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार 10 अप्रेल 2021 को राजीव गांधी वार्ड निवासी 30 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव जो कोविड सेंटर मुलताई भाग कर गया था आज शाम करीब 6 बजे के आस पास उसकी भी मौत हो गयी है।

मुलताई बीएमओ डॉ पल्लव अमृतफुले ने इस बात की पुष्टि की है        

वही आज मंगलवार को मुलताई की ताप्ती वार्ड  से 67 वर्षीय एक मरीज को कोविड सेंटर लाया गया जिस की स्थिति अत्यंत खराब थी जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। वही मुलताई से लगा हुआ ग्राम देवरी से 50 वर्षीय एक कोरोना पॉजिटिव मरीज को कल सोमवार को कोविड सेंटर मुलताई में भर्ती किया गया था उसकी भी स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उसे रेफर कर दिया गया लेकिन उसने यही दम तोड़ दिया।         

कोरोना मरीज की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार के मस्य स्थिति ऐसी हो गयी कि नगर पालिका के कोई कर्मचारी पहुचे न ही उनके परिजन उन्हें हाथ लगाने को तैयार हुए ऐसे में समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कमर्चारियों के साथ मिलकर बीएमओ डॉक्टर पल्लव ने उनका अंतिम संस्कार करवाया। 

प्रशासन की मदद के लिए पूर्व सैनिक संघ  फिर आया आगे


बैतूल- देश में चल रहे हैं कोरोना महामारी के संकट में बैतूल कलेक्टर द्वारा पूर्व सैनिको से मदद की गुहार लगाई गई जिसके अंतर्गत कलेक्ट्रेट  द्वारा जिला सैनिक कार्यालय से ऐसे वॉलिंटियर्स के नाम मांगे गए थे जो कि इस कोरोना की महामारी में विशेष पुलिस अधिकारी के रूप में पुलिस प्रशासन की मदद करना चाहते हैं जिसके अंतर्गत पूर्व सैनिक संघ बैतूल के सचिव  सुदामा सूर्यवंशी और मीडिया प्रभारी विजय नरवरे ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर एसडीएम को सैनिकों के नाम सौंपे जो संकट की इस घड़ी में प्रशासन की मदद के लिए वॉलिंटियर्स के रूप में आगे आए हैं।

हमारे देश के सिपाही हमेशा हमारे देश की सेवा में 24 घंटे तैनात रहते हैं ऐसे ही इस संकट की घड़ी में फिर हमें बैतूल के पूर्व सैनिकों के अंदर वह जज्बा दोबारा देखने को मिल रहा है जो कि सेवानिवृत्त होने के बावजूद भी निस्वार्थ सेवा करने के लिए तत्पर तैयार रहते हैं।

इन सैनिकों ने गत वर्ष भी कोरोना काल में प्रशासन की मदद की थी और लॉकडाउन में बिना किसी स्वार्थ के प्रशासन की मदद किए थी।

रिपोर्टर – प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल 9584390839

बैतूल जिले में आज शाम से 10 दिन का टोटल लॉक डाउन


बैतूल।। ब्रेकिंग।।

मुलतापी समाचार

जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण देखते हुए कलेक्टर अमनबीर सिंह बैस ने लॉकडाउन के आदेश जारी किए।।

बैतूल जिले में 9 अप्रेल शुक्रवार को शाम 6 बजे से 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक जिले के समस्त नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में लॉकडाउन।।

जिले के सभी सरकारी कार्यालयों के कार्यदिवस सप्ताह में 5 दिन ( सोमवार से शुक्रवार ) निर्धारित।।

जिले के धार्मिक स्थलों पर आमजन का आना – जाना प्रतिबंधित रहेगा।।

लॉकडाउन के दौरान ये रहेंगे बंधनमुक्त अन्य राज्यों से माल , सेवाओं का आवागमन, कैमिस्ट , अस्पताल , पेट्रोल पंप , बैंक एवं एटीएम। एम्बुलेंस एवं फायर ब्रिगेड सेवाएं ।टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिक एवं कर्मी । ” रेल्वे स्टेशन से आने एवं जाने वाले नागरिक ।

खाद्य एवं अत्यावश्यक सामग्री की दुकानें से होम डिलेवरी के माध्यम से सामग्री घर तक पहुंचाई जाएगी।।

औद्योगिक मजदूरों , उद्योगों हेतु कच्चा / तैयार माल , उद्योगों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवागमन की छूट , परिचय पत्र दिखाने पर दी जावेगी।।

रिटायर सैनिक का कारगिल चौक पर हुआ भव्य स्वागत


बैतूल- मध्यप्रदेश के बैतूल में सेना से रिटायर सैनिक का कारगिल चौक पर पूर्व सैनिक संगठन बैतूल एवं परिवार के सदस्यों के द्वारा भव्य स्वागत किया गया।इस दौरान कोविड-19 के नियमों का भी ध्यान रखा गया, सभी लोगों ने मास्क पहने हुए रखे एवं सोशल डिस्टेंस के नियमों का भी पालन क्या गया। उल्लेखनीय है कि नायक प्रवीण कुमार सिसोदिया भारतीय सेना की राजरीफ रेजीमेंट में पदस्थ थे, वे अपनी 17 साल की सर्विस समाप्त करके गंगानगर से अपनी जन्मभूमी पर वापस लौटे। जिनका पूर्व सैनिक संगठन बैतूल और परिवार के सदस्यों के द्वारा कारगिल चौक पर भव्य स्वागत किया गया।

दृष्टि एजुकेशन पॉइंट बैतूल के छात्र-छात्राएं पहुंचे बाचा गांव


बैतूल- मध्यप्रदेश के बैतूल जिले की घोड़ाडोंगरी ब्लॉक के बाचा ग्राम को किसी नाम और शोहरत की आवश्यकता नहीं है बैतूल जिले का बाचा ग्राम एक आदर्श ग्राम है और पूरे भारत में सोलर विलेज के नाम से जाना जाता है, भारत सहित विश्व के करीब 10 देशों से ज्यादा के छात्र छात्राएँ यहाँ पर आ चुके है जिसमें जापान, सिंगापुर, मलेशिया, कजाकिस्तान, दक्षिण कोरिया के छात्र छात्राएँ शामिल है। जिनके द्वारा इस गांव का भ्रमण किया जा चुका है।

इसी क्रम में आज बैतूल जिले के प्राइवेट संस्थान दृष्टि एजुकेशन प्वाइंट बैतूल के शिक्षक और छात्र छात्राओं के द्वारा भी बाचा ग्राम का भ्रमण किया गया।बाचा ग्राम हर तरह से जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण, स्वच्छता, ऊर्जा संरक्षण के मामले में देश में नंबर वन बना हुआ है।

बाचा गांव के सरपंच राजेन्द्र जी और गाँव के जागरुक युवाओं के द्वारा सभी का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया।

बचा ग्राम के सभी 74 घरों में सोलर पैनल से चलने वाले चूल्हों पर ग्राम की महिलाएं खाना पका रही है अब उनके घर धुएँ और प्रदूषण से मुक्त है। उन्हें अब जंगलों से लकडियां भी लाने नहीं जाना पड़ रहा है। पर्यावरण संरक्षण का जीता जागता नमूना मध्यप्रदेश के बैतूल जिले का बाचा ग्राम पूरे विश्व में ख्याति प्राप्त कर रहा है।

यहां प्रतिवर्ष जल महोत्सव का आयोजन भी किया जाता है जिसमें देश और विदेश के मेहमान शामिल होते हैं।

गांव के जागरूक युवा देवसु कवड़े और अनिल उईके बताते हैं कि उन्हें गांव में जल, ऊर्जा, स्वच्छता सहित सभी कार्यों को करने के लिए गांव के सभी परिवारों का खूब सहयोग मिलता है उन्हीं के सहयोग के कारण आज हम देश सहित विदेश में भी बाचा गांव का नाम रोशन कर पाए हैं।

दृष्टि एजुकेशन पॉइंट के संचालक कमलेश निरापुरे बताते हैं की बाचा सोलर पैनल से खाना पकाने, स्वच्छता, जल संरक्षण में वास्तविकता में अग्रणी है। बाचा ग्राम से सभी को एक सीख लेनी चाहिए और आने वाले भविष्य में देश के सभी ग्रामों में इस प्रकार की योजनाओं का लाभ लेकर गाँव के विकास को करना चाहिए।

ग्राम के सरपंच राजेन्द्रजी बताते हैं कि इस कार्य को करने के लिए भारतभारती शिक्षा समिति और आईआईटी मुंबई के छात्रों का सराहनीय योगदान है साथ ही गांव के सभी परिवारों का भी इस कार्य में बराबर का सहयोग है बाचा गांव आज 100% सोलर विलेज बन गया है

दृष्टि एजुकेशन पाईट के शिक्षक कमलेश निरापुरे, विजय नरवरे फिजिकल ट्रेनर ( पूर्व सैनिक), संजय नरवरे फिजिकल ट्रेनर (पूर्व सैनिक), प्रदीप कुशवाह , प्रखर खंडागरे, रूपेश पवार, सुनील पवार, रीता बिहारिया, प्रदीप डिगरसे, अलकेश चडोकार सहित संस्था के आधा सैकड़ा से ज्यादा बच्चे शामिल थे।

विश्व महिला दिवस पर खेलकूद प्रतियोगिता का किया गया आयोजन


बैतूल जिले के समीपस्थ ग्राम रोंढा में विश्व महिला दिवस के अवसर पर महिला,बालिका और बालिक के लिए खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया, साथ ही सभी प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया।

विश्व महिला दिवस के अवसर पर ग्राम के समाजसेवी जागरुक युवा प्रदीप डिगरसे के नेतृत्व में खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें 100 मीटर दौड़, चम्मच दौड़, सुई धागा दौड़, बालक बालिकाओं के बीच क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में ग्राम के वरिष्ठ समाजसेवी गुलाबराव जी कालभोर, विशिष्ट अतिथि जिला क्षत्रिय पवार समाज संगठन बैतूल के अध्यक्ष बाबूलाल जी कालभोर, उपाध्यक्ष अशोक बारंगे, कोषाध्यक्ष मुन्ना लाल जी डहारे, प्रचारमंत्री हरिराम जी कालभोर, पवार साख समिति के अध्यक्ष जगदीश जी पवार, श्रीमती नीलम कौशिक, श्रीमती रेखा पवार, श्रीमती ज्योति देशमुख, श्रीमती गीता हजारे, हरिशंकर जी पवार, बोन्दरू जी गिल्हारे, धनराज जी कालभोर, रमेश जी डिगरसे, नरेन्द्र देवासे, शारदाप्रसाद कालभोर।

साथ ही सुनीता पवार, आशा पवार, रुकमणी शिवनकर, कविता डिगरसे, मीना देवासे, हेमलता बारंगे, पूजा बारंगे, अनिता फरकाड़े, सोमती बाई, इन्दु बाई, लता देशमुख, बबली कवडे, संगीता ओमकार, कविता साहू सहित बड़ी संख्या में खेलकूद प्रतिभागी सम्मिलित हुए।

100 मीटर दौड़ में भाग्यश्री ओंकार प्रथम, उमा हजारे द्वितीय, अंजलि हजारे तृतीय स्थान पर रही। सुई धागा दौड़ में रिंकी प्रथम, प्रतिभा द्वितीय, पलक ढोबारे तृतीय, चम्मच दौड़ प्रतियोगिता में अंजली हजारे प्रथम, निकिता ओमकार द्वितीय, आरती कालभोर तृतीय स्थान पर रही।

200 मीटर दौड़ में बालक वर्ग में रोहित डोंगरे प्रथम, दीपांशु डिगरसे द्वितीय, विनीत खवसे तृतीय स्थान पर रहे। क्रिकेट प्रतियोगिता में बालिका और बालक दोनों वर्ग को सामूहिक रूप से विजेता घोषित किया गया।

विश्व महिला दिवस पर महिलाओं के द्वारा भी जमकर बेट-बल्ले पर हाथ आजमाये। सभी अतिथियों के द्वारा खेलकूद में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की सरासना की।

कार्यक्रम के अन्त में प्रदीप डिगरसे द्वारा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी का आभार व्यक्त किया गया।