Tag Archives: #betul

पारसडोह से आज बैतूल बैराज के लिए छोड़ा जाएगा पानी


पारसडोह डेम बेराज

आमजन से नदी के बहाव से दूर रहने की अपील

नल जल योजनाएं,

जल आपूर्ति हेतू पारसडोह का पानी छोड़ेंगे,

बैतूल के लिये पानी आएगा पारसडोह से,

जल संसाधन विभाग द्वारा बैतूल शहर के पेयजल की आपूर्ति हेतु पारसडोह जलाशय से निर्माणाधीन घोघरी एवं मेंढा मध्यम परियोजना पार कर ताप्ती नदी पर पारसडोह परियोजना से लगभग 55 कि.मी. नीचे नगरपालिका के बैराज में पानी भरा जाना है।

जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री अशोक देहरिया ने बताया कि नगरपालिका अधिकारी बैतूल द्वारा अवगत कराया गया कि क्षतिग्रस्त बैराज में वर्तमान लगभग 4.00 मि.घ.मी. जल भराव क्षमता उपलब्ध है। इस हेतु 10 अप्रैल 2021 को प्रात: 7.00 बजे से पारसडोह परियोजना के एनवारमेन्टल स्लूस के माध्यम से 5.43 क्यूमेक्स जल लगातार (रात एवं दिन) छोड़ा जाएगा, जो प्रतिदिन लगभग 0.47 मि.घ.मी. होगा। पानी को 55 किमी की दूरी तय करने में लगभग 10 दिवस का समय लगेगा। पानी पहुंचने के 04 दिवस बाद ही क्षतिग्रस्त बैराज अपनी उपलब्ध पूर्ण जलभराव क्षमता में भर जाएगा। पानी छोडऩे के दौरान 10 अप्रैल 2021 से लेकर 24 अप्रैल 2021 तक आमजन से अनुरोध किया जाता है कि नदी के बहाव से दूर रहे एवं मवेशियों को भी नदी में जाने से रोके, जिससे की जनधन की हानि से बचाव हो सके।

देश के 3 बड़े पत्रकार संघ ने बैतूल जिले में पत्रकारों को सुरक्षा प्रदान करने एवं पत्रकारों पर हमलौ के मामले में निष्पक्ष कार्यवाही करने की मांग


मुलताई में पत्रकार के साथ हुई घटना को लेकर देश के 3 बड़े पत्रकार संगठनों ने जिला कलेक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन।

बैतूल जिले में पत्रकारों की सुरक्षा प्रदान करने एवं पत्रकारों के हमले के मामले में कार्रवाई करने बाबत आज भारतीय श्रमजीवी पत्रकार महासंघ मध्य प्रदेश इकाई एवं मध्य भारत वर्किंग जर्नलिस्ट भोपाल एवं जर्नलिस्ट यूनियन आफॕ मध्यप्रदेश ईकाई बैतूल के बैनर तले जिले के पत्रकारों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि बैतूल जिले में कोविड-19 के समय जिला प्रशासन के साथ खड़े रहे जिले में पत्रकारों द्वारा उजागर कालाबाजारी और विभागीय अनियमितताओं के समाचारों के प्रकाशन के बाद कुछ पत्रकारों पर दबाव एवं पत्रकारों के विरुद्ध 20 शिकायतें दर्ज किए जा रहे हैं मामले के साथ-साथ पत्रकारों पर हो रहे प्राणघातक हमले की घटनाओं से पत्रकारों में गहरा असंतोष एवं असुरक्षा की भावना के चलते जिले पर के पत्रकार आपसे उनकी जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाते है।

साथ ही उन्होंने जिला कलेक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक को बताया कि हाल ही में मुलताई के पत्रकार राजेंद्र भार्गव सहित अन्य पत्रकारों के साथ गठित घटनाओं को ध्यान में रखकर आप पत्रकार प्रोटेक्शन के लिए जिला स्तर पर उचित निर्णायक पहल करें साथ ही पत्रकारों के उत्पीड़न के मामलों पर भी रोक लगाने की कठोर कार्यवाही करें।

बैतूल जिला कलेक्टर ने कहा जिला कलेक्टर अमरवीर सिंह बैस ने सभी पत्रकार संगठनों के पदाधिकारियों को विश्वास दिलाया कि मुलताई में हुई घटना पर वह खुद संज्ञान लेकर निष्पक्ष कार्यवाही का भरोसा दिलाते हैं।

जिला पुलिस अधीक्षक ने कहाबैतूल पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद ने पत्रकार संगठनों के पदाधिकारियों को आश्वासन दिया कि मुलताई में हुई घटना की वे खुद निष्पक्ष कार्यवाही करवा रही है तथा  किसी भी प्रकार से किसी को भी झूठे प्रकरण में नहीं फसाने दिया जाएगा पूरे मामले की निष्पक्ष जांच  करने के पश्चात ही दोषी पाये जाने पर किसी पर कार्यवाही की जाएगी।

पाबल में हुए अंधे कत्‍ल का खुलासा


आरोपी ने साक्ष्य छुपाने की नियत से मृतक का शव साइकिल पर रखकर घटना स्थल से कुछ 1 कि.मी. स्थित डोडा के जंगल में ले जाकर शव खाई में फेक कर फरार हो गया था

मुलतापी समाचार

मुलताई थाना क्षेत्र के प्रभातपटटन ब्‍लाक ग्राम पाबल निवासी लापता ग्रामीण का शव जंगल की गहरी खाई में  मिलने की घटना मे ग्रामीण की हत्या ग्राम पाबल के ही निवासी मृतक   के  पड़ोसी किसान द्वारा किए जाने का खुलासा पुलिस ने किया है  शुक्रवार को एसडीओपी नम्रता सोंधिया थाना प्रभारी सुरेश सोलंकी ने पत्रकार वार्ता में बताया कि
 ग्राम पाबल निवासी चंद्रु पिता सुकलू सलामें 50 साल बीते 28 फरवरी से लापता था। परिजन चंद्रु की खोजबीन कर रहे थे।

खोजबीन के दौरान परिजन जंगल में पहुंचे तो ग्राम पाबल के पास स्थित डोडा के जंगल में 200 फीट गहरी खाई में चंद्रु का शव पडा दिखा। परिजनों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के शव को गहरी खाई से बाहर निकाला।

थाना प्रभारी श्रीसोलंकी ने बताया मृतक के सिर पर चोट के निशान थे घटना की सूचना पर  मर्ग कायम किया और मर्ग की जांच में हत्या का मामला सामने आने पर  3 मार्च को अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच प्रारंभ की थी विवेचना के दौरान यह खुलासा हुआ कि  ग्राम पाबल निवासी  संदेही वासुदेव पिता दामू मरकाम 46 साल का चंद्रू सलामें से पुराना विवाद चल रहा था  वासुदेव को यह संदेह था कि चंद्रु के द्वारा जादू टोना करने से उसकी पत्नी की मौत हो गई थी इस बात को लेकर  28 फरवरी को रात 10 बजे के दरमियान खेत में चंद्रु और वासुदेव के बीच विवाद  हुआ   विवाद के दौरान वासुदेव ने कुल्हाड़ी से  चंद्रु के सिर और छाती पर वार कर दिए  जिससे चंद्रु की मौत हो गई वासुदेव ने साक्ष्य छुपाने की नियत से चंद्रु की साइकिल पर ही  चंद्रु का शव  रखकर घटना स्थल से कुछ दूर स्थित डोडा के जंगल में ले जाकर शव खाई में फेक दिया 

एसडीओपी सुश्री सोंधिया ने बताया कि प्रकरण कायम होने के 24 घंटे के भीतर ही मामले की विवेचना कर आरोपी वासुदेव मरकाम को गिरफ्तार किया गया है प्रकरण की विवेचना में थाना प्रभारी सुरेश सोलंकी के नेतृत्व में उप निरीक्षक अनिल राहोरिया प्रधान आरक्षक अशोक आठोले रविंद्र नागले आरक्षक सुरेंद्र नितेश तिलक और बलवंत की महत्वपूर्ण भूमिका रही है

मुलताई में थाने के पास मिठाई की दुकान में चल रहा था अफीम का धंधा, केडबरी डेरी मिल के रैपर सहित पकड़ा


मुलतापी समचार

मिठाई की आड़ में अफीम बेचने वाले को पुलिस ने दबोचा,केडबरी चाकलेट के रैपर में चला रहा था नशे का कारोबार,30 हजार में बिकती है एक केडबरी चॉकलेट


बैतूल ।मुलताई में राजस्थान के फेमस ब्रांड बीकानेर मिस्ठान भण्डार की आड़ में नशे का कारोबार करने वाले एक कारोबारी को अफीम की  चाकलेट के साथ पकड़ा है ।केडबरी चाकलेट के रैपर में पैक कर बेचने का काम किया करता था जिसे मुखबिर की सूचना पर अफीम के साथ पकड़ा है ।
पुलिस कंट्रोल रूम में पत्रकारों से रूबरू होते हुए एसपी सिमाला प्रसाद ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर मुलताई निवासी मगसिंह  राजपुरोहित सफेद रंग की इनोवा कार MP48/BC /3001 मुलताई से परसोडी रोड बैतूल बाजार की तरफ निकला है एडिशनल एसपी श्रद्धा जोशी, एसडीओपी नीतेश पटेल मार्गदर्शन में  एक टीम बनाकर चैकिंग लगाई इस गाड़ी को रोक कर चैक किया गया तो उसमें सीट के नीचे एक कार्टून रखा हुआ था जिसमे बहुत अधिक मात्रा में केडबरी चाकलेट के रैपर के अंदर मादक पदार्थ अफीम रखा हुआ था ।
कार ड्राइवर सुरेश पवार ओर मगसिंह राजपुरोहित से पूछ ताछ पर दुकान ओर मिठाई कारखाने से भी पुलिस ने बड़ी मात्रा में अफीम बरामद की है ।अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में अफीम कीमत 2 करोड़ रुपये आंकी गई है ।
 
ऐसे होती थी पैकिंग ।
एसपी सिमाला प्रसाद ने बताया कि पूछताछ में बताया कि केडबरी चाकलेट से बिना रैपर फाड़े पिन की मदद से रैपर खोलते थे और फिर उस मे अफीम भरकर दोबारा पैक कर के बेचा करते थे ।
30 हजार की एक चाकलेट
पुलिस को पूछताछ में मगसिंह राजपुरोहित ने बताया कि 10 से 13 ग्राम की इस चॉकलेट को दुकान से तीस हजार ओर जगह पर पहुंचा कर देने पर रिसक फेक्टर के हिसाब से कीमत वसूली जाती थी ।
मुखबिर तंत्र हुआ मजबूत ।
बैतूल पुलिस अधीक्षक ने माना कि लगातार हो रही कार्यवाही के पीछे मुखबिर तंत्र का मजबूत होना है ।पहले सूचनाएं नही मिलती थी अब छोटी छोटी सूचनाएं हमे प्राप्त हो रही है जिससे जिले में बड़ी बड़ी कार्यवाहियां हो रही है ।

पुलिस टीम होगी पुरुस्कृत 
एसपी सिमाला प्रसाद में अफीम पकड़ने वाली टीम को रिवार्ड दिलाये जाने पर कहा कि निश्चित ही टीम में शामिल टीआई आदित्य सेन,टीआई संतोष पन्द्रे, टीआई अनुराग प्रकाश,टीआई सुरेश सोलंकी,टीआई एस एन मुकाती,एसआई राहुल रघुवंशी,एसआई बीएस तोमर,एसआई बीएल उइके ,आरक्षक अंकित,आरक्षक मयूर तावरे, आरक्षक नीलेश सोनी,आरक्षक नितिन, आरक्षक जितेंद्र ,आरक्षक आशुतोष, आरक्षक सुरेंद्र, आरक्षक मनोज,आरक्षक योगेश, समेत हर्षवर्धन को आईजी नर्मदा पुरम से रिवार्ड दिलवाया जाएगा ।

बैतूल जिले के 200 वी वर्षगांठ की पूर्व बेला पर बैतूल में जन्मी बेटी तो नाम रखा बैतूल


बैतूल। अजब – गजब बेतूल में हाल ही में एक ऐसी घटना ने सबको चौंका दिया। दर असल हुआ यूं कि जिले के राजा भोज नर्सिंग कालेज में नर्सींग की परीक्षा देने आई महिला श्रीमति कुसमा मनोज बघेलको प्रसव पीड़ा होने पर उसे कालेज की प्राचार्य एवं पूरे स्टाफ ने जिला चिकित्सालय भर्ती करवाया जहां पर उसे नार्मल डिलीवरी में एक बेटी हुई। प्रसव उपरांत महिला ने बकायदा दुसरे दिन राजा भोज नर्सींग कालेज में जाकर परीक्षा दी। उसके बाद स्वस्थ महिला अपनी स्वस्थ बेटी को बैतूल का नाम देकर 26 फरवरी 2021 की मध्यरात्री 1 बजे अपने गृह जिला रवाना हो गई।
लड़की का नाम बैतूल
इतिहास के पन्नो में दर्ज लोककथाओं एवं जानकारी के अनुसार बैतूल (क्चड्डह्लह्वद्य) का अर्थ तपस्वी कुंवारी युवती के लिए है जिसका धर्म इस्लाम है। बैतूल नाम से मिलते – जुलते नामो में बालाजी, बीबी, बिनू, बाबी, बावन्या, बव्येश बोडिल, बिदेलिया, बेदेलिया बोडिला, बाटौल, बेथली, बोडिले, बैतूल है। मून रूप से बेतूल अफ्रीकी नाम है। बेतूल नाम महिला का है। अंक ज्योतिषी में बैतूल का अंक 11 है।
जन्मांक 9 नामांक 11
बैतूल जिला चिकित्सालय में दिनांक गुरूवार 18 फरवरी 2021 को दोपहर 2.55 को एक बेटी को जन्म दिया। प्री टर्म डिलीवरी होने के कारण महिला को एसएनसीयू वार्ड में भर्ती करवाया गया। महिला ने जिस बेटी को जन्म दिया उसका वजन कम होने के कारण उसे डाक्टरो ने अपनी निगरानी में रखा। जहां एक ओर 18 तारीख को जन्म होने के कारण इस बिटिया का जन्मांक 9 निकलता है। वही दुसरी ओर उसकी माँ ने उसका नाम जब बैतूल रखा तब उसका नामांक 11 निकलता है।
बसंत पंचमी को बैतूल आई कुसमा
उतर प्रदेश के आगरा जिले के लखनपुर से मंगलवार 16 फरवरी 2021 को बैतूल पहुंची श्रीमति कुसमा गर्भवति थी। उसे डाक्टरो ने डिलीवरी की तारीख गुरूवार 4 मार्च 2021 दी थी लेकिन दिनांक महिला ने 16 दिन पूर्व ही बेटी को जन्म दे दिया। अपनी डिलेवरी में 16 दिन बाकी है यह जानकर श्रीमति कुसमा बैतूल नर्सींग परीक्षा देने अपनी बड़ी बहन श्रीमति कविता मुनेशचन्द्र बघेल के संग आगरा से बैतूल आ थी। श्रीमति कुसमा मनोज बघेल ने बुधवार 17 फरवरी 2021 को अपना पहला पेपर भी दिया लेकिन 18 फरवरी गुरूवार को उसे जब अचानक प्रसव पीड़ा हुई तो उसे कालेज की प्राचार्य ने अपने स्टाफ के साथ जिला चिकित्सालय में भर्ती करवाया। प्री टर्म डिलीवरी वाली महिला श्रीमति कुसमा मनोज बघेल की हिम्मत की दाद देनी चाहिए उसने स्वस्थ बेटी को जन्म देने के बाद दुसरे दिन 19 फरवरी को दुसरा पेपर दिया। 20 फरवरी को तीसरा पेपर दिया और 24 फरवरी को श्रीमति कुसमा मनोज बघेल ने पेक्टीकल भी दिया।

200 वी वर्षगांठ की पूर्व बेला पर


उल्लेखनीय है कि श्रीमति कुसमा मनोज बघेल ने बैतूल की यादों को अपनी बेटी को बैतून नाम दिया। दर असल में श्रीमति कुसमा मनोज बघेल ने जिस बेतूल जिले में अपनी बेटी को जन्म दिया उस बेतूल का जन्म 200 साल पूर्व 15 मई 1822 को हुआ था। बदनूर से बेतूल बने इस जिले की आने वाले वर्ष की 15 मई 2022 को 200 वी वर्षगांव है। वर्षगांठ के पूर्व वर्ष में 200 साल में पहली बार बैतूल किसी लड़की का नाम इस जिले के चिकित्सालय में पंजीकृत हुआ है। पूरे देश – दुनिया में अभी तक किसी भी लड़की का नाम बैतूल या बेतूल पढऩे या सुनने में नहीं आया है।
श्रीमति कुसमा मनोज बघेल के मुताबिक उसने बेटी का नाम इसलिए बैतूल रखा है कि जब वह बड़ी हो जाए तो वह उसे बता सके कि किन हालातों में उसका जन्म हुआ है। कुसमा की बहन कविता के मुताबिक वह बेहद गर्व महसूस कर रही है कि बालिका का जन्म बैतूल में हुआ है । यही नहीं प्रसूति के बावजूद उसकी बहन ने जिस तरह से हौसला दिखाते हुए पूरी परीक्षा दी वह हिम्मत वाला काम है। जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ अशोक बारंगा ने बताया कि जितने समय कुसमा परीक्षा देने गई उसकी बालिका की जिला अस्पताल के एसएनसीयू में अच्छी तरह से देखरेख की गई। यही वजह रही कि कुसमा को बैतूल बहुत पसंद आ गया और उसने स्मृति स्वरूप अपनी बच्ची का नाम बैतूल रख दिया। यह बैतूल वासियों के लिए भी गर्व की बात है।
200 वर्षगांठ पर मेहमान होगी बेटी
बैतूल जिले की 200 वर्षगांठ की तैयारी में जूटे पत्रकार लेखक रामकिशोर पंवार ने बताया कि बेतूल पर उनकी एक पुस्तक आ रही है जिसमें बेतूल का इतिहास वर्तमान और भविष्य को सचित्र प्रकाशित किया जा रहा है। श्री पंवार के अनुसार जब बैतूल जिला अपनी 200 वी वर्षगांठ मनायेगा उस समय यह बेतूल में जन्मी बेटी हमारी मेहमान होगी। श्री पंवार के अनुसार जिले इस वर्ष 15 मई 2021 से बेतूल जिले की 200 वी वर्षगांठ मनाए जाने की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। 15 मई 2021 से 15 मई 2023 तक दो वर्षो तक जिले की चार उप अखण्डो, 10 तहसीलो, 10 विकासखण्डो, 10 जनपदो, 556 ग्राम पंचायतो के 1334 गांवो में दो वर्षिय जन्मोत्सव कार्यक्रम होगा। 365 दिनो के कार्यक्रम में जिले की आस पडौस की दो ग्राम पंचायतो को मिला कर हर रोज एक जन्मोत्सव कार्यक्रम होगा। देश दुनिया का बेतूल पहला जिला होगा जो अपनी 200 वी वर्षगांव को यूं इस तरह मनाएगा। 15 मई 2021 से 14 मई 2021 तक पूरे एक साल कार्यक्रम को लेकर गांव – गांव में जागरूकता लाई जाएगी। जन्मशताब्दी वर्ष के मुख्य कार्यक्रम 15 मई 2022 को श्रीगणेश होगा तथा समापन 15 मई 2023 को होगा।

ब्रैकिंग News: बैतूल नागपुर हाईवे के ससुन्द्रा जोड़ पर गन्ने से भरी ट्राली बाइक सवार तीन युवकों पर पलटी, हुई मौत


Nh 47 पर गन्ने से भरी ट्राली पलटी बाइक सवार तीन युवकों की हुई मौत

मुलतापी समाचार

बैतूल मप्र- बैतूल मुलताई फोरलेन पर ससुन्दरा के पास गन्ने से भरी ट्राली पलटने से बाइक सवार तीन युवकों की मौत हो गई है आमला थाना क्षेत्र की घटना है| आमला थाना टी आई सुनील लाटा ने बताया कि गन्ने से भरी ट्रेक्टर ट्राली फोरलेन से जा रही थी और ट्राली पलट गई जिसमें मोटरसाइकिल से जा रहे तीनो युवक मोटरसाइकिल सहित दब गए और तीनों की मौके पर ही मौत हो गई तीनो युवक सांडिया गांव के बताए जा रहे है| गन्ने से भरी ट्राली को मौके से उठाया गया उसके बाद तीनों युवकों के शव बाहर निकाले जा सके है ।

जन आंदोलन मंच का धरना प्रारंभ, भाजपा नेताओं की सद्बुद्धि के लिए की प्रार्थना


✍️ राहुल सारोडे

मुलताई (मुलतापी न्यजू)। जन आंदोलन मंच ने पूर्व घोषणा के अनुसार शुक्रवार से शहीद स्तंभ परिसर बस स्टैंड पर ट्रेनों के स्टापेज को लेकर धरना प्रदर्शन प्रारंभ कर दिया है।

उपजन मंच के सदस्यों ने शुक्रवार अटल जयंती होने से उनका धरना स्थल पर ही जन्मदिन मनाते हुए भाजपा नेताओं के लिए सद्बुद्धि की प्रार्थना भी की ताकि वे नगर की समस्याओं को समझकर उसके निराकरण का प्रयास कर सकें। प्रथम दिन धरने पर राजरानी परिहार, मोहनसिंह परिहार, अनिल सोनी, महेश शर्मा, टीकाराम मंडले, विनोद बेले, श्रवण वाघमारे, आनंद पांसे, संपतराव, सुदर्शन बर्डे, यादोराव निंबालकर, गुलाब राऊत, संतोष बंगाली, राजेश तायवाड़े, गुड्डु पंवार, अमन बोबड़े, हाजी शमीम खान, विजय पारधे, रजनीश गिरे तथा विजय बारंगे सहित बड़ी संख्या में लोग बैठे। जनमंच के अनिल सोनी सहित अन्य सदस्यों ने बताया कि विगत वर्षों से मुलताई क्षेत्र की जनता भाजपा का सांसद चुन कर भेज रही है, लेकिन पूर्व एवं वर्तमान सांसदों द्वारा नगर की समस्याओं को नजर अंदाज किया गया है। पवित्र नगरी होने के बावजूद यहां प्रमुख ट्रेनों का स्टापेज कराने के लिए सांसदों द्वारा कोई प्रयास नहीं किए गए जिससे पूरे क्षेत्रवासियों को आवागमन के लिए समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का किया पुतला दहन, कोरोना वारियर्स पर लाठीचार्ज के विरोध में यूथ कांग्रेस द्वारा



बैतूल। मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस ने शनिवार को कोरोना वारियर्स पर हुए लाठी चार्ज के विरोध में कोठी बाजार लल्ली चौक पर मुख्यमंत्री शिवराज चौहान का पुतला फूंक कर विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस के कार्यकारी जिलाध्यक्ष सरफराज खान के नेतृत्व में महामहिम राष्ट्रपति के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि भोपाल के नीलम पार्क में अपनी जायज मांगो को लेकर प्रदर्शन कर रहे कोरोना वारियर्स पर लाठीचार्ज किया गया, कोरोना वारियर्स पर इस तरह का दबाव उचित नहीं है। पहले इन पर फूल से वर्षा की गई और आज लाठी की वर्षा की जा रही है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए एवं दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जानी चाहिए। ऐसा न होने पर विरोध स्वरूप युवा कांग्रेस जगह-जगह सरकार के खिलाफ उग्र प्रदर्शन करने को मजबूर होगी। पुतला दहन एवं ज्ञापन सौंपने के दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनील शर्मा, अनिल मगरकार, रजनीश सोनी, राजू गावंडे, ऋषि दीक्षित, नितिन देशमुख, अतुल शर्मा, प्रतीक देशमुख, आबिद खान, मोहसिन पटेल, सिद्धार्थ चौरसिया, मन पांडे, मनोज देशमुख, आशीष देशमुख, राजू शाह, सुशील बारस्कर, राजू शाह, नावेद खान, इनायत खान आदि युवा कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

बैतूल के पूर्व विधायक एवं पूर्व कांग्रेस कोषाध्यक्ष विनोद डागा का दुखद निधन


बैतूल ।। बैतूल विधान सभा के पूर्व विधायक एवं पूर्व कांग्रेस कोषाध्यक्ष विनोद डागा का आज सुबह ह्रदय घात के चलते दुखद निधन हो गया । मिलनसार स्वभाव के धनी , हँसमुख श्री डागा के निधन के समाचार मिलते ही समूची कांग्रेस पार्टी सहित राजनीतिक गलियारों और बैतूल की जनता में शोक की लहर व्याप्त हो गयी । श्री डागा ने पूर्व कांग्रेस विधायक रहते हुए बैतुल के विकास में जहां अमिट छाप छोड़ी तो वहीं उन्होंने प्रदेश कांग्रेस कोषाध्यक्ष के पद पर रहते हुए अपने कर्तव्यों का सफल निर्वहन भी किया था । श्री डागा राजनीतिक क्षेत्र में एक जाना माना नाम था । जिनके अनायास परलोक गमन से हुई क्षति की शायद ही भरपाई हो । आज सुबह वे हमेशा की तरह पूजन करने दादा वाड़ी मंदिर गए हुए थे । जहां अचानक तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें उपचार के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया था । लेकिन उपचार के दौरान ही उन्होंने अंतिम सांस ली । खबर मिलते ही डागा हाउस एवम् चिकित्सालय में लोगो के आने जाने का सिलसिला शुरू हो गया । श्री डागा के आसामयिक निधन को एक राजनैतिक क्षति के रूप में देखा जा रहा है । क्योंकि अपने सफल राजनैतिक जीवन मे उनका लोगो से हमेशा जीवंत संपर्क रहा । इस व्यक्तित्व में ये खासियत थी कि वे कितने भी व्यस्त हो आम लोगो के सुख दुख में वे सबसे सामने खड़े होकर अपनी जिम्मेदारी निभाते थे । ऐसे सफल , जिम्मेदार , गंभीर , मिलनसार व्यक्तित्व को शत शत नमन है ।

इलेक्ट्रॉनिक की दुकान में लगी आग


बैतूल — बैतूल जिले के गंज क्षेत्र के सबसे व्यस्ततम इलाके में इलेक्ट्रॉनिक की दुकान में अचानक आग लग गई जिससे पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। यह आग गुप्ता बर्तन भंडार के सामने दूसरी मंजिल पर अग्निहोत्री इलेक्ट्रॉनिक्स में लगी। सूचना मिलते ही दमकल विभाग द्वारा आग पर काबू पा लिया है। प्रथम दृष्टया में अनुमान लगाया है कि आग सार्ट सर्किट के कारण लगी है और लाखों रुपये के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है।